चीन के सामने आबादी बढ़ाने की चुनौती, क्या थ्री चाइल्ड पॉलिसी से मिलेगी मदद? - BBC News हिंदी

चीन के सामने आबादी बढ़ाने की चुनौती, क्या थ्री चाइल्ड पॉलिसी से मिलेगी मदद?- दुनिया जहान

30-07-2021 10:10:00

चीन के सामने आबादी बढ़ाने की चुनौती, क्या थ्री चाइल्ड पॉलिसी से मिलेगी मदद?- दुनिया जहान

दशकों पहले जनसंख्या नियंत्रण का फ़ैसला ले चुका चीन अब आबादी बढ़ाने की कोशिशों में लगा है. लेकिन क्या वहां का समाज इसके लिए तैयार है?

विक्टर ऑर्बन सरकार के विरोध में प्रदर्शनसरकार की नीति के चलते बीते सालों में यहां जन्म दर बढ़ कर 1.5 हुई है, लेकिन आबादी बढ़ने के लिहाज़ से ये अभी कम है.एंड्रिया पेटो कहती हैं, "सतही तौर पर ये कामयाबी की मिसाल दिखती है, लेकिन असल में ये दुनिया की सबसे महंगी कल्याणकारी योजना है."

कार्टून: इस ड्रग्स में वो बॉलीवुड वाली बात कहाँ? - BBC News हिंदी झारखंड: नाबालिग दलित किशोरी से सामूहिक बलात्कार, तीन आरोपी गिरफ़्तार गौरी लंकेश हत्या: हाईकोर्ट के आदेश का एक हिस्सा रद्द करना चाहता है सुप्रीम कोर्ट

जनसंख्या बढ़ाने के लिए चीन ने अब तक लोगों को आर्थिक मदद की पेशकश नहीं की है. क्या होगा अगर सरकार लोगों को नहीं मना पाई.वीडियो कैप्शन,चीन, चमगादड़ और वुहान लैब, कहां से आया कोरोना? Duniya Jahanअब, आगे क्याये स्पष्ट है कि जन्म दर बढ़ाने के लिएथ्री चाइल्ड पॉलिसी

लागू करने की चीन की कोशिशों का अब तक कोई ठोस परिणाम देखने को नहीं मिला है.ज्यू वांग नीदरलैंड्स केलाइडन यूनिवर्सिटीमें असिस्टेन्ट प्रोफ़ेसर हैं. वो कहती हैं कि जन्म दर बढ़ाने की कोशिशों में नाकामी का मतलब है आने वाले वक्त में काम करने की उम्र के लोगों की कमी. चीनी सरकार के ख़ुद के आंकड़े बताते हैं कि पांच सालों में देश की एक चौथाई आबादी रिटायमेन्ट की उम्र तक पहुंच जाएगी. headtopics.com

वो कहती हैं, "इसका असर पेंशन, स्वास्थ्य व्यवस्था और सामाजिक कल्याण की योजनाओं पर पड़ेगा. कामगारों की कमी होगी तो असर आर्थिक विकास पर भी पड़ेगा, ख़ासकर तब जब बीते चार दशकों में चीन की रिकॉर्ड तरक्क़ी में श्रम आधारित उत्पादन की बड़ी भूमिका रही है. लेकिन अकेला चीन ही नहीं, कई दूसरे पूर्व एशियाई देशों के लिए भी बूढ़ी होती आबादी परेशानी का कारण बनी हुई है."

कामगारों की संख्या कम होने का मतलब ये भी है कि टैक्स देने वालों की संख्या भी कम हो जाएगी. स्पष्ट है कि अगर करदाताओं की संख्या घटती गई तो देश ग़रीबी की तरफ़ बढ़ जाएगा.ज्यू वांग कहती हैं, "बूढ़ी होती आबादी के कारण भविष्य में लेबर की कमी होगी और सरकार को कल्याणकारी योजनाओं और स्वास्थ्य सेवा में अधिक निवेश करना होगा. इन सबका सीधा असर विकास की गति पर पड़ेगा. और तो और वृद्ध आबादी पर युवाओं को भी अधिक ख़र्च करना होगा."

वीडियो कैप्शन,क्या रोबोट ले लेंगे आपकी नौकरी? दुनिया जहानलेकिन क्या इस समस्या से जूझने के लिए चीन तकनीक का सहारा नहीं ले सकता?वो कहती हैं, "सरकार तकनीक के इस्तेमाल को प्रोत्साहित करती है, लेकिन ये काफ़ी नहीं है. यहां की अर्थव्यवस्था अभी भी लेबर इंटेन्सिव है. इस सेक्टर को आप रातोंरात आर्टिफ़िशियल इंटेलीजेंस और रोबोट जैसे हाईटेक तरीकों से नहीं बदल सकते."

ज्यू वांग कहती हैं कि आबादी बढ़ाना समस्या का हल हो सकता है, लेकिन चीन इसके लिए बेहद संकीर्ण रास्ता अपना रहा है. उसे पहले इससे जुड़ी दूसरी मुश्किलों का हल तलाशना पड़ेगा.वो कहती हैं, "बच्चे पैदा करने से जुड़े अहम मुद्दे हैं, नौकरी में महिलाओं की सुरक्षा, महंगे घर और महंगी शिक्षा. इनका हल बिना तलाशे लोगों को दूसरे या तीसरे बच्चे के लिए प्रोत्साहित करना आसान नहीं होगा. लोग केवल इसलिए बच्चा पैदा नहीं करेंगे कि सरकार ने इसकी अनुमति दे दी है, ये पूरी तरह से परिवार का फ़ैसला होता है." headtopics.com

सम्राट मिहिरभोज कौन हैं, जिन्हें लेकर आमने-सामने हैं राजपूत और गुर्जर? - BBC News हिंदी ड्रग्स पर बड़ी कार्रवाई: साउथ अफ्रीका से आईं मां और बेटी 25 करोड़ रुपए की ड्रग्स के साथ मुंबई इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर गिरफ्तार; सूटकेस में खास कैविटी बनाकर बना कर छिपाया गया था पंजाब में मेयर का 'तालीबानी' फरमान: बठिंडा की मेयर ने कहा- चप्पल और निक्कर पहनकर नगर निगम में न आएं; लोग बोले- गरीब आदमी कहां से जूते लाए

लेकिन क्या थ्री चाइल्ड पॉलिसी लागू कर चीन वाकई अपनी आबादी बढ़ा सकेगा. कुछ साल पहले चीन ने टू चाइल्ड पॉलिसी लागू तो की, लेकिन जन्म दर पर इसका कोई बड़ा असर देखने को नहीं मिला.बच्चा पैदा करने की इजाज़त भर दे देने से आबादी बढ़ेगी, ऐसा नहीं है. समस्या का निदान खोजने के लिए सरकार को इससे कहीं अधिक करना होगा, यानी सस्ती शिक्षा, सस्ते घर और सस्ती और बेहतर स्वास्थ्य सेवा- मतलब ये कि सरकार को समाज के काम करने के तौर तरीकों में बड़ा बदलाव लाना होगा.

और पढो: BBC News Hindi »

गुजरात में सियासी भूचाल, कौन होगा अगला मुख्यमंत्री? देखें दंगल में बड़ी बहस

गुजरात में शनिवार को बड़ा सियासी उलटफेर हुआ है. विजय रुपाणी (Vijay Rupani) ने मुख्यमंत्री (Chief Minister) के पद से इस्तीफा (Resign) दे दिया. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और पार्टी आलाकमान को आभार प्रकट किया. कुछ देर पहले ही रुपाणी ने राज्यपाल आचार्य देवव्रत से मुलाकात करते हुए उन्हें इस्तीफा सौंप दिया. गुजरात के मुख्यमंत्री पद से विजय रुपाणी के इस्तीफा देने के बाद अब यह सवाल उठने लगा है कि राज्य का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा? देखें दंगल में बड़ी बहस.

अरे भारतीय युवाओं को बुला लें, बिना मुआवजा लिये आबादी बढ़ा देंगे। भारत के लिए यें गंभीर मुद्दा हैं क्योंकि हम बिल्कुल चीन के विपरीत कर रहें हैं..? तो क्या भारत के नीति निर्माताओं की सोंच गलत हैं ..? आखिरकार चीन तो सबसे ज्यादा आबादी वाला मुल्क हैं..!! भारत का जन्म दर भी निरंतर नीचे की ओर जा रहा है आँकड़े इसकी पुष्टि करती हैं, फिर योगी की योजना ?

चीन की अफ़ग़ानिस्तान में दिलचस्पी पर अमेरिका की भी नज़र - BBC Hindiअमेरिकी विदेश मंत्री एंटनी ब्लिंकन ने कहा है कि अफ़ग़ानिस्तान मामले में चीन का दिलचस्पी लेना “एक सकारात्मक बात” हो सकती है. 😝 Ha ha ha ha Uche log uchi backchodi... Juhi ko pata nai h tum sidhe sidhe ambani se panga kar rhe ho .... Us aadmi ne apne jio promotion ke liye pm hire kr rakha h ...

भारत की एक तिहाई आबादी में कोरोना एंटीबॉडी: सीरो सर्वे - BBC News हिंदीसीरो सर्वे में केरल में सबसे कम और मध्य प्रदेश में सबसे ज़्यादा आबादी में मिली एंटीबॉडी, पढ़ें आज की सुर्खियां लड़ रहे सूक्ष्म शरीर से.. जो .. मिलते खुद के वृहत भाव से☄️

SDG की रिपोर्ट के अनुसार सबसे निचले पायदान पर बिहार, आधी आबादी निर्धन : संसद में सरकारसंसद में दिए गए लिखित उत्तर के अनुसार, बिहार में पांच साल से कम उम्र के 42 प्रतिशत बच्चे छोटे कद के या अविकसित हैं और यह आंकड़ा देश में सर्वाधिक है. वहीं राज्य में 15 साल और उससे अधिक आयु के वर्ग में साक्षरता सबसे कम है. मंत्री ने ऐसे कुछ अन्य कारण भी गिनाये. VIP मौज में हैं, जनता को भर पेट खाने की चिंता हैं! नीचे से प्रथम है । Aadhi Abadi to Upar

जयशंकर-ब्लिंकेन की मुलाक़ातः तालिबान और चीन के लिए क्या हैं संकेत - BBC News हिंदीतालिबान नेता चीन में हैं और चीनी विदेश मंत्री से मुलाक़ात हुई है. दूसरी तरफ़ अमेरिकी विदेश मंत्री भारत में हैं और भारतीय विदेश मंत्री से मुलाक़ात की है. अफ़ग़ानिस्तान को लेकर दोतरफ़ा मुलाक़ातें जारी हैं. Now America will save India from China ? Good.

तालिबान और चीन की दोस्ती क्या रंग लाएगी | DW | 29.07.2021चीन के विदेश मंत्री वांग यी ने कहा है कि, 'तालिबान से अफगानिस्तान में शांतिपूर्ण सुलह की प्रक्रिया में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने और अफगानिस्तान में पुनर्निर्माण की उम्मीद की जा रही है. Taliban China Afghanistan America

एतराज: अमेरिकी विदेशमंत्री ब्लिंकन की दलाई लामा के प्रतिनिधि से मुलाकात पर भड़का चीनएतराज: अमेरिकी विदेशमंत्री ब्लिंकन की दलाईलामा के प्रतिनिधि से मुलाकात पर भड़का चीन USA China AntonyBlinken DalaiLama What is internal matter of china Tibet is free Democratic country And captured Tibet forcefully Your illegal occupation one day comes to end 🙏🙏🙏 SCMPNews