Corona, Isro

Corona, Isro

कोरोना ने चलाई ISRO के बजट पर कैंची, लॉकडाउन से लटकेंगे अंतरिक्ष मिशन

#Corona ने दिया #ISRO को बड़ा झटका !

09-04-2020 09:05:00

Corona ने दिया ISRO को बड़ा झटका !

कोरोना ने भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन यानी इसरो के बजट पर कैंची चला दी है. इस कटौती से इसरो को अब अपने खर्च सीमित करने होंगे. उधर, कोरोना की वजह से लगाए गए लॉकडाउन की वजह से कई अंतरिक्ष मिशन अब देरी से पूरे होंगे.

इस कटौती की वजह से इसरो की कार्यप्रणाली पर कितना असर पड़ेगा यह कह पाना तो मुश्किल है. लेकिन लॉकडाउन और पैसे की सीमित पहुंच की वजह से इसरो के कई प्रोजेक्ट्स देर हो सकते हैं. यानी कई मिशन इस साल देरी से होंगे. या फिर उन्हें टाला जा सकता है अगले साल तक के लिए.

'2021 की शुरुआत में मिलेगा कोविड-19 का टीका', राहुल गांधी से चर्चा में हार्वर्ड यूनिवर्सिटी के प्रोफ़ेसर का दावा - BBC Hindi संकट में प्रवासी मजदूर: भूख-प्यास से बेहाल मां की स्टेशन पर ही मौत, जगाने की कोशिश करता रहा बच्चा 'नरेंद्र मोदी के भारत को कोई आंख नहीं दिखा सकता', राहुल पर बीजेपी का पलटवार

कोरोना ने रोका गगनयान मिशन, रूस में एस्ट्रोनॉट्स की ट्रेनिंग थमीवित्त मंत्रालय का निर्देश- सीमित करें खर्चवित्त मंत्रालय के अधीन आने वाले इकोनॉमिक अफेयर्स विभाग के बजट डिविजन ने एक ऑफिस मेमोरेंडम जारी कर अंतरिक्ष विभाग (Department of Space) को कहा है कि आपके वित्त वर्ष 2020-21 की पहली तिमाही में 15 फीसदी की कटौती की जा रही है. आपको दिए गए निर्देशानुसार ही अपना खर्च चलाना होगा.

ISRO के जिस सेंटर से छूटते हैं रॉकेट, अब वहां बन रहे हैंड सैनिटाइजरलॉकडाउन में क्या कर रहे हैं इसरो वैज्ञानिक?इसरो के ज्यादातर वैज्ञानिक लॉकडाउन के दौरान अपने-अपने घरों से काम कर रहे हैं. सभी मिशन होल्ड पर हैं. कुछ मिशन के काम पूरे हो चुके थे. लेकिन सभी प्रोजेक्टस और मिशन को यथास्थिति में रखने को कहा गया है. इसरो के सेंटर्स में लगे करीब 17 हजार वैज्ञानिक और टेक्नीशियन अपने घरों से डेवलपमेंट वर्क पर काम कर रहे हैं. ये सारे डेवलपमेंट वर्क अगले मिशन के लिए हैं.

कोरोना कमांडोज़ का हौसला बढ़ाएं और उन्हें शुक्रिया कहें...बजट कम करने से नहीं पड़ेगा मिशन पर असरइसरो के पूर्व वैज्ञानिक विनोद कुमार श्रीवास्तव ने बताया कि इसरो के पास हर मिशन का अलग बजट होता है. आमतौर पर इसरो के पास इतने पैसे होते हैं कि इमरजेंसी में किसी मिशन को रोकना न पड़े. पहली तिमाही की बजट में की गई 15 फीसदी की कटौती से मिशन पर असर नहीं पड़ेगा. क्योंकि हर मिशन का अलग बजट है. जो बजट पहले से रिलीज किया जा चुका है, उसमें कोई कटौती नहीं होती. ये कटौती उन खर्चों की है, जो पैसे अभी लॉकडाउन में खर्च नहीं होंगे.

मोतियों का ये शहर बनेगा ISRO का 'लॉन्चपैड', क्यों है खास?लॉकडाउन की वजह से होगी मिशन में देरीविनोद कुमार श्रीवास्तव ने कहा कि इसरो के सारे मिशन का एक शेड्यूल बनाया जाता है. उसी शेड्यूल के मुताबिक काम किया जाता है. अगर किसी वजह से किसी मिशन में देरी होती है तो अगले मिशन को शुरू किया जाता है. इस साल अगर इसरो के मिशन में देरी होगी तो वह लॉकडाउन की वजह से होगी. इसके लिए बजट में कटौती से कोई फर्क नहीं पड़ेगा.

जानें- Gaganyaan मिशन में क्या करेगी हाफ ह्यूमोनाइड महिला रोबोट व्योममित्र?इसरो के ये मिशन हो सकते हैं लेटइस वित्त वर्ष में इसरो के करीब 10 मिशन प्रस्तावित थे. ये सारे अब देरी से होंगे. इनमें प्रमुख थे - सूर्य के लिए जाने वाला मिशन आदित्य-एल 1, चंद्रयान-3 और गगनयान. इनके अलावा जीसैट-2, रिसोर्ससैट-3 और 3एस, ओशनसैट-3, स्पेडएक्स, आईआरएनएसएस आदि. इसरो ने मानव मिशन गगनयान की इस साल अंत में अनमैन्ड फ्लाइट तय की थी.

कोरोना पर फुल कवरेज के लि‍ए यहां क्ल‍िक करें और पढो: आज तक »

🌍कोरोना के बाद की दुनिया 🌍: विज्ञान की सभी खोजों, चंद्रमा, मंगल आदि पर पहुंचने की सभी तैयारियां रोक दी जानी चाहिए। पृथ्वी पर जीवन के बारे में सोचना होगा, बजाय किसी अन्य ग्रह पर जीवन की खोज के। सभी परमाणु बमों को उन स्थानों पर गिरा देना चाहिए जहाँ घातक वायरस की प्रयोगशालाएँ है. Sad. Let us think about human lives first.

Jamatio ne kaha kaha par choot mari hai..Abi age dekhne ko milega..Fir bhi besharmi se boolne me sabse aage hai.. Instead of this lower down budgets to entertainment industry they r not real heroes आज पूरा संसार कोरोना महामारी से परेशान है , हम मनुष्यों ने पृथ्वी पर बहुत अत्याचार किया । अब समय है हम अपनी बढी हुई इच्छाओं को खत्म करें । कृपया मेरा यह गीत सुनें ...

Earth's own planetary position is at stake taking into view it's human life struggling for survival amidst CoronavirusFight to have become a prior most priority of d day to all small and big Nations, d inter terrestrial projects certainly deserve to be postponed till d normalcy. As expected move....But parliament ko baad me banaya ja sakta hai

उचित तो यही होगा बाहरी जिग्याशा ओ को छोड़कर हमे अपने वर्तमान भुस्थल को प्राथमिकता देना चाहिए। धरती तबाह हो रहा है और हम चांद और मंगल ग्रह पे ध्यान केन्द्रित कर रहे है। हमें पहले अपने इस सुंदर धरती को सजाने में ज्यादा ध्यान देना चाहिए। isro NASA PM relief fund se du na 😥😥😥 Duniya ko pehle samjo phir universe ki khoj karo.

सकल विश्व में ही छिड़ी, कोरोना से जंग / इस भीषणतम रोग से, सभी आ चुके तंग // .. निज भविष्य को ले जगत, भारी चिन्ताग्रस्त / बच्चे, बूढ़े, सब युवा, मन ही मन सन्त्रस्त // . मूकों पर प्रतिदिन किया, मारक अत्याचार / उसका दुष्परिणाम ही, भोग रहा संसार // ... ‘विश्वकीर्तिमानक’ डॉ. ओम् जोशी यह उपकरण मानवता के हित के लिए बनाए जा रहे हैं जब मानव ही नहीं रहेगा तो किसका हित इसलिए पहले मानव को बचा लें उसके बाद में इन उपकरणों का निर्माण कर देंगे कौन सा मुहूर्त छूटा जा रहे हैं जो जमानती रो रहे हैं उनसे जमाती ऊपर तो रोया नहीं जाता हर जगह बेतुकी बातें करते हैं

लेकिन कोरोना ने तो मीडिया को अकूत दौलत दिलाई.. ऐसे में सभी ऐंकर अपने मीडिया मालिकों से अच्छे पैकेजों की बारगेन करलें हैं अच्छे दिन फिर नसीब नहीं होने वाले.. 4BHK flat को शानदार विला बंगले में बदलने का और करोड़ों की गाड़ी,हीरे का नौलखा हार..!! प्रेक्टिकल तो हैं ही थोड़ा सा और ..? इससे अच्छा होगा भूतपूर्व विधायक और सांसदों को मिलने वाली सुविधाएं और पेंशन बंद कर दी जाए इससे देश को करोड़ों रुपए की बचत होगी

Let's save country. Our first Prarioty is to save people. कोरोना की दवाई 😢 हम फिर लौटेंगे Then Chandrayan-3 ?🥺🥺🥺 इससे भी उबर आयेंगे।

COVID 19 in world: कोरोना वायरस से विश्व में अब तक 75 हजार से अधिक मौतदुनिया भर में मंगलवार तक 1322477 लाख से अधिक लोग संक्रमित हो चुके हैं जबकि यह महामारी 74 087 हजार लोगों की जान ले चुकी है। ट्रीटमेंट_में_असहयोग, अनिच्छा, अशिष्टता, अनुशासनहीनता, आपत्ति एवं अवरोध उत्पन्न करने_वाले_पाॅजिटिव कोरोना संक्रमित सिरफिरे लोगों को कैदखाने_में_रखकर इलाज करने की आवश्यकता है! Right...👍

Coronavirus: सुरक्षा कवच से कम नहीं है मास्क, जानें कैसे करता है कोरोना से बचाव Corona virus Outbreak आइए इससे पहले यह जान लेते हैं कि वायरस आखिर संक्रमित किस तरह करता है और किस स्तर तक हमें इसके संपर्क में आने का खतरा रहता है।

कोरोना वायरस: इस गेट से गुज़रिए, संक्रमण से बचिएकेरल के एक अस्पताल ने ऐसा गेट बनाया है जिससे गुज़रने पर लोग संक्रमण से मुक्त हो जाते हैं. एक तरफ करोना के डर मारे हालत खराब 😔 दूसरी तरफ TV में बार-बार LIC का विज्ञापन आ रहा पूंछ रहे आपने बीमा कराया नहीं तो जल्दी कराओ 🤔🤔 😜😜😀🤣🤣 lockdownextension COVID लोगों को लगता है मंजिल थम सा गया है । जिस रास्ता से गुजरते थे वो रुक सा गया है । अजनबियों की तरह सड़क पे करते सब ।। Corona ko हराना है तो यूहीं इस फासले को निभाना है।।

न्यू यॉर्क में कोरोना से 9/11 से भी अधिक मौतें | DW | 08.04.2020जॉन्स हॉपकिंस के ताजा आंकड़ों के मुताबिक अमेरिका में पिछले 24 घंटों में कोरोना से लगभग 2,000 लोगों की मौत हो गई है. इसी दौरान देश में 33,331 नए मामले सामने आए हैं. संक्रमितों की संख्या 4 लाख के आंकड़े के करीब पहुंच गई. corona virus corona newyork

कोरोना: पाक में भी तब्लीगी जमात की आलोचना, जमात से जुड़े 400 से ज्यादा लोग संक्रमितपाकिस्तान में अब तक कोरोना के चार हजार से ज्यादा संक्रमित मामले सामने आ चुके है जबकि 60 लोगों की मौत हो गई है। ये गद्दार है इनको इलाज की नहीं उपर भेजने की जरूरत है मानो चाहे ना मानो

ट्विटर के सीईओ ने खोला खजाना, कोरोना से लड़ाई में 76 अरब रुपये का दानमाइक्रोब्लॉगिंग वेबसाइट ट्विटर के सीईओ जैक डोर्सी Covid-19 से लड़ने के लिए 1 अरब डॉलर डोनेट कर रहे हैं. उन्होंने ट्वीट के जरिए ये जानकारी दी है. 🙏जय जय कार हो 🖋️ दान तो वेस्टर्न लोग ही करते है। हमारे यहां टैक्स सेविंग, और खाना पूर्ति होती है साथ ही सेल्फी कार्यक्रम बनकर रहे गया है। Great job sir

योगी आदित्यनाथ का वो बयान जिस पर मच रहा है सियासी घमासान राहुल गांधी का वार- पीएम ने पहले फ्रंटफुट पर खेला, लेकिन अब बैकफुट पर हैं कोरोना अपटडेटः भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या डेढ़ लाख के क़रीब, अकेले महाराष्ट्र में 52 हज़ार से ज़्यादा मामले - BBC Hindi ‘कोरोना आपदा को बदला लेने का अवसर मान रही मोदी सरकार’: छात्र नेताओं ने लगाया आरोप केंद्रीय मंत्री सदानंद गौड़ा ने क्वारंटाइन से किया किनारा, सफाई में बोले- छूट वाली कैटेगरी में आता हूं युद्ध की तैयारी में चीन! राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने सेना को तैयार रहने के दिए आदेश ट्विटर ने पहली बार राष्ट्रपति ट्रंप के ट्वीट को झूठा बताया दिल्ली के तुगलकाबाद में भीषण आग से 1500 झुग्गियां जलकर राख, सैकड़ों लोग बेघर यूपी, बिहार में क्यों घंटों की देरी से पहुंच रही श्रमिक स्पेशल ट्रेनें? कोविड-19: तीन ख़तरनाक चरमपंथी संगठनों पर कितना असर? नेपाल ने कहा, भारत के सेना प्रमुख ने हमारे इतिहास का अपमान किया