Coronaviruspandemic, Covıd 19, Hotspots, Coronavirus İn İndia, Coronavirus İndia News, Coronavirus Latest News, Coronavirus News, Coronavirus News Today, Coronavirus Update, Coronavirus, Coronavirus Hotspots, Hotspots, Rajiv Gauba, Bihar, West Bengal, Odisha, Eastern İndia, Maharashtra, Tamil Nadu, Gujarat, Delhi, Rajasthan, Madhya Pradesh, Health Ministry, Andhra Pradesh, Karnataka, Assam, Chhattisgarh, Jharkhand, Uttar Pradesh, कोरोना वायरस, हॉटस्पॉट

Coronaviruspandemic, Covıd 19

केंद्र ने 145 जिलों को संभावित कोविड-19 हॉटस्पॉट बताया, कहा- यहां रोकथाम उपाय अपनाना जरूरी

केंद्र सरकार ने 145 नए जिलों की पहचान की है, जहां पिछले तीन हफ्तों में कोविड-19 के नए मामले सामने आए हैं। सरकार ने चेतावनी

30-05-2020 06:25:00

केंद्र ने 145 जिलों को संभावित कोविड-19 हॉटस्पॉट बताया, कहा- यहां रोकथाम उपाय अपनाना जरूरी CoronavirusPandemic COVID19 Hotspots

केंद्र सरकार ने 145 नए जिलों की पहचान की है, जहां पिछले तीन हफ्तों में कोविड-19 के नए मामले सामने आए हैं। सरकार ने चेतावनी

राज्य के प्रतिनिधियों को गुरुवार को दिए गए एक प्रस्तुतीकरण में कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने रेखांकित किया कि पूर्वी भारत कोरोना वायरस के एक नए हॉटस्पॉट के रूप में उभर सकता है क्योंकि कोविड-19 से बुरी तरह प्रभावित विभिन्न राज्यों से अधिकतर प्रवासी पूर्वी भारत के राज्यों में पलायन कर रहे हैं।

राजस्थान के 'जादूगर' का मायाजाल, पायलट न घर के रहे न घाट के सचिन पायलट और उनके समर्थक विधायक जिस रिसॉर्ट में ठहरे उसे बताया जा रहा 'क्वारंटीन सेंटर' ईरान में फिर रहस्यमयी घटना, बुशेहर बंदरगाह पर सात जहाज़ों में लगी आग

कैबिनेट सचिव ने कहा कि पूर्वी भारत के बिहार, पश्चिम बंगाल और ओडिशा समेत 12 राज्यों में पहले कोरोना के ज्यादा मामले दर्ज नहीं किए गए थे, लेकिन 25 मई तक तीन सप्ताह में तेजी से संक्रमण के मामले सामने आए हैं। अन्य राज्यों जैसे कि त्रिपुरा और मणिपुर में भी पहले संक्रमण के मामले इकाई में थे, लेकिन अब कोविड-19 के मामलों में बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है।

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि गुरुवार तक देश के 1,65,000 मामलों में से अधिकतर मामले महाराष्ट्र, तमिलनाडु, गुजरात, दिल्ली, राजस्थान, मध्यप्रदेश और आंध्र प्रदेश जैसे बड़े राज्यों में सामने आए हैं। पिछले एक पखवाड़े में मामलों में तेजी से वृद्धि हुई है।मंत्रालय ने कहा कि भारत में 13 मई तक 75,000 मामले सामने आए थे। कोरोना के बढ़ते मामलों में बड़े राज्यों का मुख्य योगदान रहा, लेकिन बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश और ओडिशा जैसे राज्यों में मामलों में वृद्धि देखी गई है।

एक अधिकारी ने नाम न बताने की शर्त पर कहा कि मुख्य रूप से महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक और आंध्र प्रदेश जैसे कोविड-19 हॉटस्पॉट राज्यों से प्रवासी श्रमिकों की वापसी के कारण ही पूर्वी भारत में मामले बढ़े हैं। उन्होंने कहा कि चूंकि प्रवासी श्रमिकों की भीड़ बहुत बड़ी थी, इसलिए रेलवे और बस स्टेशनों पर यात्रियों की उचित स्क्रीनिंग नहीं की गई। इसलिए, कई प्रवासी मजदूरों से संक्रमण एक राज्य से दूसरे राज्य में पहुंच गया।

मंत्रालय ने उन 145 जिलों की पहचान की है, जहां राज्य सरकारों को सक्रिय रूप से कदम उठाने की आवश्यकता है ताकि यह सुनिश्चित किया जा सके कि नए उपकेंद्रों का उदय न हो। प्रस्तुतीकरण के अनुसार, इन जिलों में 2,147 सक्रिय मामले भारत में कुल मामलों का 2.5% हैं। इनमें से 26 जिलों में कोरोना के 20 से अधिक सक्रिय मामले हैं।

देते हुए कहा है कि यदि प्रभावी रोकथाम उपायों को नहीं अपनाया गया तो वे इस बीमारी के उपकेंद्र बनकर उभरेंगे। इन 145 जिलों में अधिकतर जिले ग्रामीण हैं।विज्ञापनराज्य के प्रतिनिधियों को गुरुवार को दिए गए एक प्रस्तुतीकरण में कैबिनेट सचिव राजीव गौबा ने रेखांकित किया कि पूर्वी भारत कोरोना वायरस के एक नए हॉटस्पॉट के रूप में उभर सकता है क्योंकि कोविड-19 से बुरी तरह प्रभावित विभिन्न राज्यों से अधिकतर प्रवासी पूर्वी भारत के राज्यों में पलायन कर रहे हैं।

कैबिनेट सचिव ने कहा कि पूर्वी भारत के बिहार, पश्चिम बंगाल और ओडिशा समेत 12 राज्यों में पहले कोरोना के ज्यादा मामले दर्ज नहीं किए गए थे, लेकिन 25 मई तक तीन सप्ताह में तेजी से संक्रमण के मामले सामने आए हैं। अन्य राज्यों जैसे कि त्रिपुरा और मणिपुर में भी पहले संक्रमण के मामले इकाई में थे, लेकिन अब कोविड-19 के मामलों में बढ़ोतरी दर्ज की जा रही है।

Air India अपने कुछ कर्मचारियों को 5 साल तक बिना वेतन के छुट्टी पर भेज सकती है अच्‍छी खबर... देश में दूसरे कोविड-19 वैक्‍सीन का ह्यूमन ट्रायल शुरू हुआ इतने वाद-विवाद के बाद भी कांग्रेस क्यों नहीं छोड़ना चाहते सचिन पायलट?

स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा कि गुरुवार तक देश के 1,65,000 मामलों में से अधिकतर मामले महाराष्ट्र, तमिलनाडु, गुजरात, दिल्ली, राजस्थान, मध्यप्रदेश और आंध्र प्रदेश जैसे बड़े राज्यों में सामने आए हैं। पिछले एक पखवाड़े में मामलों में तेजी से वृद्धि हुई है।मंत्रालय ने कहा कि भारत में 13 मई तक 75,000 मामले सामने आए थे। कोरोना के बढ़ते मामलों में बड़े राज्यों का मुख्य योगदान रहा, लेकिन बिहार, झारखंड, उत्तर प्रदेश और ओडिशा जैसे राज्यों में मामलों में वृद्धि देखी गई है।

एक अधिकारी ने नाम न बताने की शर्त पर कहा कि मुख्य रूप से महाराष्ट्र, गुजरात, कर्नाटक और आंध्र प्रदेश जैसे कोविड-19 हॉटस्पॉट राज्यों से प्रवासी श्रमिकों की वापसी के कारण ही पूर्वी भारत में मामले बढ़े हैं। उन्होंने कहा कि चूंकि प्रवासी श्रमिकों की भीड़ बहुत बड़ी थी, इसलिए रेलवे और बस स्टेशनों पर यात्रियों की उचित स्क्रीनिंग नहीं की गई। इसलिए, कई प्रवासी मजदूरों से संक्रमण एक राज्य से दूसरे राज्य में पहुंच गया।

और पढो: Amar Ujala »

भारत जब सोने की चिड़िया था तब भारत के राजा सेना , पुलिस और न्याय के अलावा कोई काम नहीं करते थे आज अमेरिका फ्रांस सोने की चिड़िया हैं वहां की सरकार भी सेना पुलिस के अलावा कोई काम नहीं करती भारत को दुबारा सोने की चिड़िया बनाने के लिए निजीकरण करना ही होगा

तलाकशुदा बेटी भी पेंशन की हकदार- सुप्रीम कोर्ट ने खारिज की केंद्र सरकार की अपीलकोर्ट ने पंजाब और हरियाणा हाई कोर्ट के फैसले को चुनौती देने वाली केंद्र सरकार की अपील को खारिज करते हुए ये फैसला दिया है।

लॉकडाउन को लेकर केंद्र के ऐलान से पहले ममता ने खोला पश्चिम बंगाल, किए कई ऐलानकेंद्र सरकार लगातार मंथन कर रही है कि देश में लॉकडाउन को आगे बढ़ाना है या नहीं. लेकिन केंद्र सरकार किसी निर्णय पर पहुंचती उससे पहले ही पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने पश्चिम बंगाल को लगभग-लगभग पूरी तरह खोल देने का ऐलान कर दिया है. Great yr Wow 😍 kya bat... Kum se kum log pblm me ni aaege its good 😎👍 🚨मुबारक हो ममता दी आपके😷 घर में करोना पैदा होने वाला है😂😅

चीन ने ठुकरा दिया US का ऑफर, राष्ट्रपति ट्रंप ने कहा था...अमेरिका के इस प्रस्ताव पर पहली बार प्रतिक्रिया देते हुए चीन के विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता झाओ लिजियान ने कहा कि दोनों देश मौजूदा सैन्य गतिरोध सुलझाने के लिए तीसरे पक्ष का ‘‘हस्तक्षेप’’ नहीं चाहते हैं।

कोरोना के डर से घरवालों ने बनायी दूरी, एसडीओ ने किया बच्ची का अंतिम संस्कारसिंह के अनुसार, बच्ची डायरिया से पीड़ित थी और गांव वालों को लग रहा था कि वह कोरोना वायरस के कारण मरी है, इसलिए वह उसका अंतिम संस्कार करने से हिचक रहे थे।

अमरीका ने मैदान-ए-जंग में जितने सैनिक गंवाएं, अकेले कोरोना ने उतनी जानें ले लींबीते 44 सालों में अमरीका ने अलग-अलग युद्धों में जितने सैनिकों को गंवाया है, कोविड-19 की महामारी के कारण मरने वालों की संख्या उतनी ही है. बच्चे बच्चे तक को क़त्ल करने वाले सुकून से कैसे रह सकते हैं। फलस्तीन, सिरिया, इराक, यमन 😢😢😢 China ke upar attack karke use barbad karna hi vilalp hai nahi to fir koi virus failayega!! ट्रम्प बाबा चाइना का कोई इलाज करोगे या आर्थिक हितों के आगे घुटने टेक दोगे ? ChinesVirus

लॉकडाउन के अगले चरण में बढ़ेगी राज्यों की भूमिका, केंद्र की दखल सीमित होने के संकेतदेश में 31 मई के बाद लॉकडाउन जारी रखने के मुद्दे पर राज्यों के मुख्यमंत्रियों से हुई चर्चा के बाद गृहमंत्री अमित शाह ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के साथ बैठक की है। HMOIndia PMOIndia Kitne dino ke liye HMOIndia PMOIndia HMOIndia PMOIndia अब घंटा कब बजवाये प्रभु लोग बहुत मानसिक तनाव में हैं, कोई नया Event तो होना ही चाहिए...?

सचिन पायलट बोले- मैं बीजेपी में शामिल होने नहीं जा रहा WHO ने कहा- कोरोना अभी बद से बदतर होगा, वैक्सीन और इम्युनिटी से भी निराशा नेपाल के पीएम ओली अयोध्या और राम पर अपने ही देश में घिरे राजस्थान: सचिन पायलट को कांग्रेस ने उपमुख्यमंत्री पद से हटाया स्पेशल रिपोर्ट: कांग्रेस के युवा नेताओं को रास नहीं आया पायलट पर एक्शन प्रयागराज : विरोध करने के बाद भी घर पर जबरन की गई भगवा रंग से पुताई, योगी के मंत्री बोले- विरोध करने वाले विकास विरोधी पद से हटाए जाने के बाद समर्थन में उतरे कई नेता, पायलट बोले- सबका आभार सचिन पायलट के समर्थन में उतरीं प्रिया दत्त, बोलीं- पार्टी से एक और दोस्त चला गया राजस्‍थान में बागी खेमे का रुख नरम पड़ने के बाद 'बैकफुट' पर बीजेपी पायलट को सीएम बनाने की दी थी सलाह, पार्टी से निलंबित किए गए संजय झा ईरान ने भारत को दिया झटका, चार साल पहले मोदी ने किया था करार