फसल बीमा कंपनी, सरकारी योजना का लाभ, फसल बीमा कब मिलेगा, प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना, सरकारी योजना, फसल बीमा क्लेम, फसल बीमा योजना क्या है, फसल बीमा के बारे में जानकारी, Pmfby, Modi Government, कृषि मंत्रालय, Ministry Of Agriculture, किसानों को इस योजना से मिलता है पैसा, किसान कहां से करें कमाई, Business News In Hindi, किसानों की फसल का हुआ नुकसान तो सरकार देगी मुआवजा, Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana, Farmers, Damage Of Crops

फसल बीमा कंपनी, सरकारी योजना का लाभ

किसानों के लिए बड़ी खबर! आज रजिस्ट्रेशन कराने वालों को ही मिलेगा इस स्कीम का लाभ!

किसानों के लिए बड़ी खबर! आज रजिस्ट्रेशन कराने वालों को ही मिलेगा इस स्कीम का लाभ!

31.12.2019

किसानों के लिए बड़ी खबर! आज रजिस्ट्रेशन कराने वालों को ही मिलेगा इस स्कीम का लाभ!

pradhan mantri fasal bima yojana , आपको बता दें कि रबी फसल के लिए बीमा कराने की आखिरी तारीख 31 दिसंबर 2019 है. यदि आपको अपनी फसल का बीमा करवाना है तो आज ही अपने नजदीकी जनसेवा केंद्र, बीमा एजेंट या सीधे बीमा कंपनी से संपर्क करें. | business News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी

December 31, 2019, 11:21 AM IST Share this: नई दिल्ली. नई दिल्ली. अगर आपको रबी फसलों के लिए बीमा करवाना है तो आज (31 दिसंबर 2019) आखिरी तारीख है. यदि आप इन फसलों पर रिस्क कम करना चाहते हैं तो आपको आज ही अपने नजदीकी जनसेवा केंद्र, बीमा एजेंट या सीधे बीमा कंपनी से संपर्क करना होगा. रबी फसलों में गेहूं, सरसों, अलसी, चना, मटर, मसूर आदि की खेती आती है. मोदी सरकार (Government of India) ने किसानों की एक बड़ी समस्या का समाधान कर लिया है. प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना (Pradhan Mantri Fasal Bima Yojana) में किसानों की फसल के नुकसान का आंकलन अब सैटेलाइट से किया जाएगा. कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर का कहना है कि रबी फसल वाले सीजन में कई फसलों को इसमें शामिल किया गया है. इस तकनीक से फसल उपज का सही अनुमान लगाया जा सकेगा. जिससे किसानों को बीमा दावों का भुगतान शीघ्र हो सकेगा. 96 जिलों में पायलट प्रोजेक्ट हालांकि प्रोजेक्ट को सही तरीके से लागू करने के लिए कृषि विभाग के कर्मचारी फील्ड में जाकर अवलोकन भी करेंगे. इसके जरिए स्मार्ट सैंपलिंग होगी. साथ ही, इससे किसानों (Farmers) को बीमा दावों (Insurance claim) का भुगतान पहले के मुकाबले जल्दी होगा. देश के 10 राज्यों के 96 जिलों में पायलट प्रोजेक्ट के तहत इसकी शुरुआत की गई है. केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने यह जानकारी दी है. रबी फसलों में गेहूं, सरसों, अलसी, चना, मटर, मसूर आदि की खेती आती है. फसल बीमा योजना में किन जोखिमों पर मिलता है भुगतान- कृषि मंत्री का कहना है कि योजना के अंतर्गत ओले पड़ना, जमीन धसना, जल भराव, बादल फटना और प्राकृतिक आग से नुकसान पर खेतवार नुकसान का आंकलन कर भुगतान किया जाता है. आपको बता दें कि प्राकृतिक आपदा में फसलों को नुकसान पहुंचने पर केंद्र सरकार ने किसानों को उसकी भरपाई के लिए फरवरी 2016 में अति महत्वाकांक्षी ‘प्रधानमंत्री फसल बीमा योजना’ की शुरुआत की थी. PMFBY में कैसे मिलता है लाभ >>बुआई के 10 दिन के अंदर किसान को PMFBY का अप्लीकेशन भरनी होगी.>>बीमा की रकम का लाभ तभी मिलेगा जब आपकी फसल किसी प्राकृतिक आपदा की वजह से ही खराब हुई हो. >>बुवाई से कटाई के बीच खड़ी फसलों को प्राकृतिक आपदाओं, रोगों व कीटों से हुए नुकसान की भरपाई. >>खड़ी फसलों को स्थानीय आपदाओं, ओलावृष्टि, भू-स्खलन, बादल फटने, आकाशीय बिजली से हुए नुकसान की भरपाई. >>फसल कटाई के बाद अगले 14 दिन तक खेत में सुखाने के लिए रखी गई फसलों को बेमौसम चक्रवाती बारिश, ओलावृष्टि और आंधी से हुई क्षति की स्थिति में व्यक्तिगत आधार पर क्षति का आकलन कर बीमा कंपनी भरपाई करेगी. >>प्रतिकूल मौसमी स्थितियों के कारण फसल की बुवाई न कर पाने पर भी लाभ मिलेगा. कितना देना पड़ता है प्रीमियम >>खरीफ की फसल के लिये 2 फीसदी प्रीमियम और रबी की फसल के लिये 1.5% प्रीमियम का भुगतान करना पड़ता है. >>PMFBY योजना में कॅमर्शियल और बागवानी फसलों के लिए भी बीमा सुरक्षा प्रदान करती है. इसमें किसानों को 5% प्रीमियम का भुगतान करना पड़ता है. फायदा लेने के लिए इन डॉक्यूमेंट की जरूरत >>किसान की एक फोटो, आईडी कार्ड, एड्रेस प्रूफ, खेत का >>खसरा नंबर, खेत में फसल का सबूत सरकारी आंकड़ों के मुताबिक वित्त वर्ष 2016-17 में खरीफ फसल में 404 लाख किसानों ने 382 लाख हेक्टेयर कृषि भूमि में लगी फसल का बीमा कराया था. फसलों को नुकसान के एवज में बीमा कंपनियों ने उन्हें 10525 करोड़ रुपये बतौर मुआवजा दिया था, जबकि केंद्र और राज्य सरकारों ने निजी व सरकारी बीमा कंपनियों को 131018 करोड़ रुपये प्रीमियम के रूप में भरे थे. 2017-18 में खरीफ फसलों का बीमा कराने वाले किसानों की संख्या घटकर 349 लाख और कृषि क्षेत्रफल 343 लाख हेक्टयर रह गया. उस साल फसल नुकसान पर बीमा कंपनियों ने 17707 करोड़ रुपये का मुआवजा दिया. वहीं, प्रीमियम के रूप में बीमा कंपनियों को 1,29,295 करोड़ रुपये की राशि मिली. साल 2018 में नवंबर तक बीमा कराने वालों किसानों की संख्या 343 लाख हो गई. कृषि क्षेत्रफल की बात करें तो यह 310 लाख हेक्टेयर पर सिकुड़ गया. इस अवधि में बीमा कंपनियों को केंद्र व राज्य सरकारों से 11,28,214 रुपये प्रीमियम मिला. ये भी पढ़ें: और पढो: News18 India

दिल्ली में हिंसा पर भारत के ख़िलाफ़ बोले कई विदेशी नेता



कन्हैया के समर्थन में चिदंबरम, कहा- दिल्ली सरकार को भी राजद्रोह कानून की समझ नहीं

बांग्लादेश में PM मोदी का बुलावा रद्द करने की माँग



Zomato का डिलीवरी बॉय 'सोनू' बना इंटरनेट सेंसेशन, कंपनी ने ट्विटर पर लगाई DP, लोग बोले- इसकी सैलरी बढ़ा दो प्लीज

मुर्गे से कोरोना वायरस का फैला डर, तो तेलंगाना के मंत्रियों ने स्टेज पर खाया चिकन



प्रयागराज में पीएम मोदी ने कहा- 5 साल में दिव्यांगों को बांटे 900 करोड़ से ज्यादा के उपकरण

महिला T20 वर्ल्ड कप: भारतीय शेरनियों का जलवा, आखिरी ग्रुप मैच में श्रीलंका को हराया



Koi fayda nahi iska jab bank se beema ke pese lene jao tb bank wale khte h modi se le lo jake. Fasl ugane tak khrch hue 50k milte hai beema ke 5k ye kon sa beema hai. IndiaDoesNotSupportCAA postpone1gradeexam

भारतीय नौसेना ने बनाई परमाणु हमले के लिए छह पनडुब्बियों के निर्माण की योजनाभारतीय नौसेना पानी के नीचे के अपने बेड़े के लिए योजनाओं के हिस्से के रूप में 18 पारंपरिक और छह परमाणु हमले करने वाली पनडुब्बियों का एक बेड़ा बनाने की योजना बना रही है। Wah wah👌👌

मैच से ठीक पहले स्टेडियम के बाहर लगी आग, बुझाने के लिए कूद पड़े ग्लेन मैक्सवेलबिग बैश लीग में मेलबर्न स्टार्स (Melbourne Stars) की कप्तानी कर रहे मैक्सवेल (Glenn Maxwell) ने अचानक लगी आग को बुझाया | sports News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी

दिल्ली-एनसीआर में भीषण ठंड, नोएडा में दो दिन के लिए आठवीं तक के स्कूल बंदगौतमबुद्ध नगर (नोएडा) के जिलाधिकारी बृजेश नारायण सिंह ने नर्सरी से लेकर कक्षा आठवीं तक के छात्रों के लिए 31 दिसंबर और एक जनवरी को छुट्टी करने का आदेश स्कूलों को दिया है।

पंजाब में CAA के खिलाफ आज बड़ा विरोध-प्रदर्शन, CM अमरिंदर करेंगे अगुवाईपंजाब के लुधियाना में कांग्रेस पार्टी आज सोमवार को नागरिकता संशोधन कानून (सीएए) और राष्ट्रीय नागरिक रजिस्टर (एनआरसी) के खिलाफ बड़ा विरोध प्रदर्शन करेगी. सभी कांग्रेस कार्यकर्ताओं को बड़ी संख्या इसमें शामिल होने के लिए कहा गया है. मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह पहले ही ऐलान कर चुके हैं कि वे पंजाब में सीएए लागू नहीं करेंगे. Captain sayad khalistan ka support karrahwhe 🤔🤔यदि भारत मे धर्म के आधार पर कानून नही बन सकता तो फिर कांग्रेस ने मुस्लिम_पर्सनल_लॉ कैसे बना दिया कांग्रेस को जबाब देना होगा! To phir Saarey Rohingyas ko Punjab Mei Settle Kar diyaa jaayey .

कादर खान ने लिखे थे विलेन के ये ऐतिहासिक डायलॉग, आज भी हैं फेमसकादर खान ने न सिर्फ कैमरे के आगे कमाल का काम किया बल्कि कैमरे के पीछे भी अपना हुनर दिखाया. कादर खान को उनकी लेखनी के हुनर के चलते भी जाना जाता है. शानदार अभिनेता के साथ अच्छे इन्सान भी थे। Yes . He was perfect actor

भारत पर मलेशिया ने कहा- हम राय रखने के लिए स्वतंत्रदोनों देशों में तनातनी के बीच मलेशिया ने भारतीयों को दी अगले साल से विशेष छूट. Aise kaise....? Hmm...



दिल्ली हिंसा : राष्ट्रपति से मिले कांग्रेस के नेता, 'राजधर्म' बचाने की अपील, अमित शाह को हटाने की मांग

'जावेद अख्तर की बुद्धि पर पड़ा पर्दा, बुद्धिजीवी कहलाने लायक नहीं'

मनोज तिवारी का हमला- 'ताहिर हुसैन ने काफी पहले कर ली थी दिल्ली के दंगों के लिए तैयारी'

मुस्लिमों की गरीबी और बेरोजगारी की समस्या को खत्म कर रहे हैं पीएम मोदी : उमा भारती

दिल्ली हिंसा: नरेंद्र मोदी पर क्या कह रहा है विदेशी मीडिया

दिल्ली हिंसा: AAP पार्षद ताहिर पर हुआ एक्शन, तरफदारी में उतरे विधायक अमानतुल्लाह खान

रविशंकर प्रसाद की दो टूक- CAA पर हम पीछे नहीं हटेंगे, ये नरेंद्र मोदी की सरकार है

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

31 दिसम्बर 2019, मंगलवार समाचार

पिछली खबर

इस साल पेट्रोल 6.3 रुपये और डीज़ल हुआ 5.1 रुपये महंगा! फटाफट जानिए नए रेट्स

अगली खबर

महाराष्ट्र में मंत्री बने कांग्रेस MLAs ने राहुल-प्रियंका से की मुलाकात
दिल्ली में हिंसा पर भारत के ख़िलाफ़ बोले कई विदेशी नेता कन्हैया के समर्थन में चिदंबरम, कहा- दिल्ली सरकार को भी राजद्रोह कानून की समझ नहीं बांग्लादेश में PM मोदी का बुलावा रद्द करने की माँग Zomato का डिलीवरी बॉय 'सोनू' बना इंटरनेट सेंसेशन, कंपनी ने ट्विटर पर लगाई DP, लोग बोले- इसकी सैलरी बढ़ा दो प्लीज मुर्गे से कोरोना वायरस का फैला डर, तो तेलंगाना के मंत्रियों ने स्टेज पर खाया चिकन प्रयागराज में पीएम मोदी ने कहा- 5 साल में दिव्यांगों को बांटे 900 करोड़ से ज्यादा के उपकरण महिला T20 वर्ल्ड कप: भारतीय शेरनियों का जलवा, आखिरी ग्रुप मैच में श्रीलंका को हराया जातीय जनगणना का मुद्दा बिहार के बाद महाराष्ट्र में गर्म दिल्ली: ताहिर हुसैन के घर पहुंचकर पुलिस ने जुटाए सबूत, हिंसा में इस्तेमाल सामान जब्त रघुराम राजन बोले- सरकार का फोकस पॉलिटिक्‍स पर, इसलिए इकोनॉमी बदहाल पेशी के लिए रामपुर भेजे गए आजम खां, बोले- मेरे साथ आतंकी जैसा सलूक किया जा रहा PM मोदी आज बुंदेलखंड में करेंगे 296 KM लंबे एक्सप्रेस-वे का शिलान्यास
दिल्ली हिंसा : राष्ट्रपति से मिले कांग्रेस के नेता, 'राजधर्म' बचाने की अपील, अमित शाह को हटाने की मांग 'जावेद अख्तर की बुद्धि पर पड़ा पर्दा, बुद्धिजीवी कहलाने लायक नहीं' मनोज तिवारी का हमला- 'ताहिर हुसैन ने काफी पहले कर ली थी दिल्ली के दंगों के लिए तैयारी' मुस्लिमों की गरीबी और बेरोजगारी की समस्या को खत्म कर रहे हैं पीएम मोदी : उमा भारती दिल्ली हिंसा: नरेंद्र मोदी पर क्या कह रहा है विदेशी मीडिया दिल्ली हिंसा: AAP पार्षद ताहिर पर हुआ एक्शन, तरफदारी में उतरे विधायक अमानतुल्लाह खान रविशंकर प्रसाद की दो टूक- CAA पर हम पीछे नहीं हटेंगे, ये नरेंद्र मोदी की सरकार है राष्ट्रगान नहीं गा पाए कन्हैया कुमार, अंतिम दो लाइन में कर गए 'झोल' एक साल में रेलवे NTPC भर्ती परीक्षा की तारीख तय नहीं कर सकी आर्टिकल 370 हटाने और CAA लाने वाली सरकार पुलिस के जवानों पर गर्भवती महिला सहित छह की बेरहमी से पिटाई का आरोप, एक की हालत गंभीर घुसपैठियों की जानकारी दो और 5555 रुपया लो... औरंगाबाद में MNS ने लगाए पोस्टर दिल्ली दंगे: पुलिस की भूमिका की जाँच कैसे होगी?