Jammukashmir, Article 370, Kashmir, Poverty, Insecurity Poverty İn Kashmir, Article 370, Jammu And Kashmir, Kashmir Overcome After Change, Change İn Kashmir, Taslima Nasrin, Kashmir Issue, Smile Come On People Faces, जम्मू कश्मीर, कश्मीरियों के चेहरों पर मुस्कान, बदलाव के बाद कश्मीर का भविष्य

Jammukashmir, Article 370

कश्मीर में बदलाव के बाद असुरक्षा, दरिद्रता होगी दूर; लोगों के चेहरों पर आएगी मुस्कान

अनुच्छेद 370 हटने से पहले क्या कश्मीर ऐसा स्वर्ग था जहां खूब सुख शांति थी और अब वह लुप्त हो गई है?

6.9.2019

Analysis: कश्मीर में बदलाव के बाद असुरक्षा, दरिद्रता होगी दूर; लोगों के चेहरों पर आएगी मुस्कान JammuKashmir Article370 Kashmir Poverty taslimanasreen

अनुच्छेद 370 हटने से पहले क्या कश्मीर ऐसा स्वर्ग था जहां खूब सुख शांति थी और अब वह लुप्त हो गई है?

[तसलीमा नसरीन]। मैं 1988 या 89 में कश्मीर घूमने गई थी। उस साल के अंत तक घाटी में हिंसा शुरू हो चुकी थी। तब कुछ दिन डल झील में एक हाउसबोट में बिताए थे। हाउसबोट में शमीम नाम का एक लड़का काम करता था। सर्दियों के दिन थे तब। ठंड से बचने के लिए शमीम फिरन के अंदर छोटी अंगीठी-कांगड़ी लेकर चलता था। बख्शीश मिलने से शमीम खूब खुश होता था। तब मैंने शमीम जैसे कई कश्मीरी युवकों को देखा जो गरीबी में डूबे हुए थे। कश्मीर में प्राकृतिक सुंदरता थी, लेकिन अधिकतर घरों, दुकानों और रास्तों पर मलिनता देखी। हर तरफ सुंदर लड़कियों के चेहरे थे, लेकिन उनके चेहरों से मुस्कान गायब दिखती। माहौल में अशांति की गंध बढ़ रही थी। कश्मीर में अनगिनत धर्म, वर्ण और जाति के लोग देश देशांतर से आए और बसे। कश्मीर में इस्लाम का बढ़ा प्रभाव पांचवीं शताब्दी में कश्मीर पहले हिंदू धर्म, फिर बौद्ध धर्म का महत्वपूर्ण केंद्र रहा। यहीं से बौद्ध धर्म लद्दाख होते हुए चीन पहुंचा। नौवीं शताब्दी में यहां से दूरदूर तक शैववाद का विस्तार हुआ। 11वीं से 15वीं शताब्दी के बीच कश्मीर में इस्लाम का प्रभाव बढ़ा, हालांकि उससे पुराने धर्मों पर कोई प्रभाव नहीं पड़ा, बल्कि पुराने धर्मों ने नवीन इस्लाम के साथ समन्वय स्थापित किया। कई लोगों को मानना है कि कश्मीरी सूफीवाद का उद्भव इसी समन्वय का नतीजा था। आज कश्मीर का एक हिस्सा भारत के पास, एक हिस्सा पाकिस्तान के कब्जे में जबकि बाकी हिस्सा चीन के कब्जे में है। कश्मीर के लिए जो छीनाझपटी शुरू हुई, वह आज तक खत्म नहीं हुई। सर्वधर्म मिलन स्थल होने के बावजूद कश्मीर में 1990 में मुसलमानों ने सैकड़ों हिंदुओं (कश्मीरी पंडितों) का कत्लेआम किया। लाखों को भगा दिया। मुसलमान अब कश्मीर में अकेले रहना चाहते हैं। क्या कश्मीर कभी अकेले मुसलमानों का रहा है? कश्मीर को पूरी तरह से अपने में समाहित किया गया इस साल अमरनाथ तीर्थयात्रा को सरकार ने अचानक स्थगित करने की घोषणा कर दी और फिर कश्मीर से अनुच्छेद 370 खत्म कर दिया। देश बंटवारे के बाद भारतीय हिस्से वाले कश्मीर को मिले कुछ विशेषाधिकारों को हटाकर कश्मीर को पूरी तरह से अपने में समाहित कर लिया गया। अनुच्छेद 370 अस्थाई था, लेकिन यह अस्थाई व्यवस्था 70 साल तक टिक गई। इस बीच यहां पाकिस्तान से आतंकियों का आना जारी रहा। वे अलगाववादी युवाओं के दिमाग में भारत विरोध का विचार भरते रहे और और उन्हें आतंकी बनाते रहे। मोदी सरकार की लोकप्रियता फिलहाल शिखर पर अब तो कश्मीर में ही आतंकी पैदा हो रहे हैं। पुलवामा में हुए आतंकी हमले में कश्मीरी युवक का ही हाथ था। अनुच्छेद 370 हटने के बाद मोदी सरकार की लोकप्रियता फिलहाल शिखर पर है, किंतु कश्मीर के मुसलमान इससे चिंतित हैं कि अब कश्मीर कश्मीरी मुसलमानों का नहीं रहेगा। कश्मीर को भारत में मिलाने के फैसले के बाद मानवाधिकारों के लिए संघर्षरत लोग बहुत नाराज हैं। कश्मीर में नेताओं को नजरबंद करना, इंटरनेट एवं फोन बंद रखना, कर्फ्यू लगाना, स्कूल-कालेज, बाजार सब बंद कर देना... क्या इस तरह से कोई नियम बदलता है? चर्चा करने से अनुच्छेद 370 हटाना संभव नहीं था कश्मीर का एक-एक नेता कश्मीर को बेचकर खा रहा था, सभी आलीशान जिंदगी जीते थे। वे कभी नहीं चाहते थे कि कश्मीर को मिला यह अस्थाई विशेषाधिकार हटे। कश्मीरी पंडितों में से कई का मानना है कि स्थानीय लोगों से बातचीत किए बिना केंद्र सरकार ने जिस तरह जम्मू-कश्मीर के संवैधानिक अधिकारों में एकतरफा हस्तक्षेप किया वह ठीक नहीं, लेकिन शायद चर्चा करने से इस अस्थाई अनुच्छेद 370 को हटाना कभी संभव नहीं होता। पहले ही तीन तलाक को प्रतिबंधित किया गया भारत में सती प्रथा का समापन हुआ, विधवा विवाह की शुरुआत हुई, इसके लिए किसी का समर्थन नहीं लिया गया। कुछ अच्छे काम ऐसे होते हैं, जिन्हें बस कर देना चाहिए। कुछ दिन पहले ही तीन तलाक को प्रतिबंधित किया गया। दुनिया के लगभग सभी मुस्लिम देशों में इस कानून पर रोक है, लेकिन मुसलमानों के वोट के लिए अधिकांश लोग तीन तलाक के पक्ष में थे। बड़े-बड़े शिक्षित मुसलमान नेता भी तीन तलाक पर प्रतिबंध नहीं चाहते थे। वे समान नागरिक कानून भी नहीं चाहते। कश्मीर में नया कानून आने से कश्मीर की क्या क्षति हुई?गैर-कश्मीरी अब कश्मीरियों से जमीन खरीद सकेंगे, इसे छोड़ मुझे कुछ भी आपत्तिजनक नहीं लगता। कश्मीरियों के विशेषाधिकार कश्मीरियों का कश्मीर में ही रहना जरूरी क्यों है? क्या कश्मीर के लोग भारत के अन्य इलाकों में नहीं रहते? रहते हैं। भारत के किसी भी स्कूल या कालेज में कश्मीर के बच्चों को पढ़ने का अधिकार है, किसी भी जगह नौकरी करने और कारोबार करने का अधिकार है। अनुच्छेद 370 हटने से पहले क्या कश्मीर ऐसा स्वर्ग था, जहां खूब सुखशांति थी और अब वह लुप्त हो गई है? भारतीय कश्मीर में कई लोग भारत में रहना चाहते हैं, कुछ पाकिस्तान के साथ जाना चाहते हैं जबकि कुछ स्वतंत्र कश्मीर का सपना देख रहे हैं। इन तीन इच्छाओं में से एक को प्राथमिकता देना ही इस समस्या का हल है। भारत क्यों अपने कश्मीर को पाकिस्तान के साथ जाने देगा? अन्य सीमावर्ती राज्यों में उठ सकती थी मांग कश्मीर के अलग होने से संभवत: भारत के अन्य सीमावर्ती राज्य मिजोरम, नगालैंड, मणिपुर, त्रिपुरा, मेघालय और असम भी अलग होने की चेष्टा कर सकते हैं। एक बड़े देश को एक सूत्र में बांधे रखने के लिए जो करना चाहिए, भारत वही कर रहा है। 1947 की भूल भारत फिर नहीं दोहराना चाहता। क्या भारत 1947 के टुकड़े-टुकड़े गैंग को हावी होने देगा? कभी नहीं। पाकिस्तान आगबबूला है। वह मुस्लिम-मुस्लिम भाई-भाई की राजनीति को आगे बढ़ाने की कुचेष्टा में लगा है। कश्मीर सिर्फ पाकिस्तान का है, पाकिस्तान के आम लोग आज तक यही मानते आए हैं। वह अब यह दुष्प्रचार कर रहा है कि भारत अब पीओके की तरफ कदम बढ़ा रहा है, लेकिन चीन को छोड़कर उसका यह राग कौन सुनेगा? कश्मीरियों के चेहरों पर फिर से मुस्कान बिखरेगी आर्थिक और राजनीतिक स्वार्थ से इतर कौन किसकी मदद करता है? कश्मीर में कुछ भी अप्रिय घटने से मेरे जेहन में अक्सर शमीम का ख्याल आता है। कैसा होगा वह? आशा करती हूं कि कश्मीर को लेकर भारत-पाक में विवाद खत्म होगा। दोनों देश मित्रवत होंगे और कश्मीर से अनिश्चितता, असुरक्षा, दरिद्रता दूर होगी। कश्मीरी लड़कियों के चेहरे पर फिर से मुस्कान बिखरेगी। शांति स्थापित करने की क्षमता मनुष्यों में ही होती है। (लेखिका प्रख्यात साहित्यकार हैं) इसे भी पढ़ें: लाल चौक में बजी फोन की घंटी; व्यापारियों को मिली बड़ी राहत, जानें- घाटी के मौजूदा हालात इसे भी पढ़ें: Posted By: Dhyanendra Singh और पढो: Dainik jagran

ट्रंप के भारत दौरे के दौरान हिंसा फैलाने की रची गई थी साजिश, खुफिया सूत्रों ने किया बड़ा खुलासा



डोनाल्ड ट्रंप के लिए आयोजित डिनर का कांग्रेस ने किया बायकॉट, मनमोहन सिंह भी नहीं जाएंगे

जाफराबाद में CAA को लेकर हुई हिंसा की राहुल गांधी ने की निंदा, दिल्ली के लोगों से की यह अपील...



CAA और NRC पर भारत का समर्थन कर गए ट्रंप! BJP ने किया दावा

भारत के दौरे पर डोनाल्ड ट्रंप लेकिन पाकिस्तान में मनाई जा रही खुशी, जानिए क्या है वजह



सफर कर रही छात्रा के ट्वीट पर एक्शन में आया CM योगी का ऑफिस, रुकवा दी बस, फिर...

ट्रंप के लिए आयोजित बैंक्वेट में राष्ट्रपति भवन ने सोनिया गांधी को क्यों नहीं दिया न्योता? सूत्रों ने NDTV को बताई यह वजह...



taslimanasreen

रिसॉर्ट बनाने के लिए जम्मू कश्मीर में जमीन खरीदेंगे: महाराष्ट्र पर्यटन मंत्रीरिसॉर्ट बनाने के लिए जम्मू कश्मीर में जमीन खरीदेंगे: महाराष्ट्र पर्यटन मंत्री MaharashtraGovt KarnatakaGovt JammuKashmir resort KashmirTourism महराष्ट्रसरकार कर्नाटकसरकार जम्मूकश्मीर रिसॉर्ट कश्मीरपर्यटन

कश्मीर: सुरक्षाबलों के साथ झड़प में घायल हुआ था युवक, एक महीने बाद तोड़ा दमकश्मीर में पिछले महीने सुरक्षा बलों के साथ झड़प में घायल हुए एक किशोर की इलाज के दौरान मौत हो गई है. इसके बाद से इलाके में तनाव का माहौल है, जिसके चलते पाबंदी फिर से बढ़ा दी गई है. वहीं, पुलिस का कहना है कि मामले की जांच की जा रही है. ShujaUH ग़लत हुआ। पर इस बात से 370 का कोई लेना देना नही है। ShujaUH ShujaUH 😳😳😳

कश्मीर के ज्यादातर इलाकों में आज रात से चालू हो जाएंगे टेलीफोनजम्मू-कश्मीर (Jammu- Kashmir ) में आर्टिकल-370 ( Article 370 ) हटाए जाने के बाद से टेलीफोन सेवाओं (Telephone Services) पर रोक लगा दी गई थी. पिछले कुछ दिनों से दावा किया जा रहा था कि जल्द ही इसे बहाल कर दिया जाएगा. | nation News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी seveKashmir loveforKashmir ye photo hi kyo chalate rahte ho bhai Sir help us🙏

कश्मीर मुद्दे पर लंदन में विरोध प्रदर्शन हुआ हिंसक, भारतीय उच्चायोग में तोड़फोड़कश्मीर मुद्दे पर लंदन में विरोध प्रदर्शन हुआ हिंसक, भारतीय उच्चायोग में तोड़फोड़ JammuKashmir Article370 IndianHighCommission Protests London जम्मूकश्मीर अनुच्छेद370 भारतीयउच्चायोग विरोधप्रदर्शन लंदन आप सब तो खुश हो गए होंगे

कश्मीर में पैलेट गन से युवक की मौत, पुराने श्रीनगर में फिर लगी पाबंदियांघाटी में आर्टिकल 370 ( Article 370 0 हटाये जाने के बाद किसी आम नागरिक की ये पहली मौत है. हालांकि अधिकारिक तौर पर पुलिस ने मौत की पुष्टि नहीं की है. | nation News in Hindi - हिंदी न्यूज़, समाचार, लेटेस्ट-ब्रेकिंग न्यूज़ इन हिंदी कश्मीर में 2 जिंदा पाकिस्तानी आतंकी गिरफ्तार👌👌 adgpi BSF_India crpfindia inki galti Nahi h its people fault kyu unke so called aatankiyo ko banchane aate h proved not guilty we told preciously 'whosoever comes between us and terrorist will have to pay price for it by death or damage it was quit clear message by adgpi 72 hoor

अहमदाबाद के अस्पताल में भर्ती हुए अमित शाह, माइनर सर्जरी के बाद मिली छुट्टीकेंद्रीय गृहमंत्री अमित शाह आज अहमदाबाद के एक अस्पताल में भर्ती हुए. डॉक्टरों ने एक माइनर सर्जरी के बाद उन्हें छुट्टी दे दी. अमित शाह इलाज के बाद घर चले गए हैं. Kaaash



सालभर पुरानी ड्रेस पहनकर भारत आईं इवांका, जानें कितनी है कीमत - lifestyle AajTak

ट्रंप भारत के लिए उड़ान भरने से पहले क्या बोले

दिल्ली के जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के पास 200 से ज्यादा महिलाओं ने जाम की सड़क, भीम आर्मी के 'भारत बंद' का दिया हवाला

कपिल मिश्रा का अल्टीमेटम- 3 दिन में सड़कें खाली हों, वरना हम किसी की नहीं सुनेंगे

मोदी सरकार के उलट नीतीश कुमार का बड़ा बयान- बिहार में लागू नहीं होगा NRC, CAA पर साधी चुप्पी- NPR को लेकर...

ट्रंप के भारत आने से पहले दिल्ली को 'बंधक' बनाने की साजिश, पत्थरबाजी संयोग या प्रयोग?

पति की पिटाई का दिया मेडल से जवाब, 8 साल बाद लिया पंगा; जीता देश के लिए मेडल

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

06 सितम्बर 2019, शुक्रवार समाचार

पिछली खबर

YouTube

अगली खबर

सांप्रदायिक एकता और सतत विकास के लिए उम्मीद जगाती भागवत और मदनी की मुलाकात
ट्रंप के भारत दौरे के दौरान हिंसा फैलाने की रची गई थी साजिश, खुफिया सूत्रों ने किया बड़ा खुलासा डोनाल्ड ट्रंप के लिए आयोजित डिनर का कांग्रेस ने किया बायकॉट, मनमोहन सिंह भी नहीं जाएंगे जाफराबाद में CAA को लेकर हुई हिंसा की राहुल गांधी ने की निंदा, दिल्ली के लोगों से की यह अपील... CAA और NRC पर भारत का समर्थन कर गए ट्रंप! BJP ने किया दावा भारत के दौरे पर डोनाल्ड ट्रंप लेकिन पाकिस्तान में मनाई जा रही खुशी, जानिए क्या है वजह सफर कर रही छात्रा के ट्वीट पर एक्शन में आया CM योगी का ऑफिस, रुकवा दी बस, फिर... ट्रंप के लिए आयोजित बैंक्वेट में राष्ट्रपति भवन ने सोनिया गांधी को क्यों नहीं दिया न्योता? सूत्रों ने NDTV को बताई यह वजह... डोनाल्ड ट्रंप के लिए आयोजित डिनर में शामिल नहीं होंगे पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह दिल्ली: मौजपुर में जिस शख्स ने की थी 8 राउंड फायरिंग, उसकी हुई पहचान ट्रंप के दौरे को ध्‍यान में रखकर दिल्‍ली में सुनियोजित तरीके से हिंसा की आशंका: गृह मंत्रालय CAA Protest Live Updates: Violence In Jafrabad, Maujpur, Seelampur, Chand Bagh & Shaheen Bagh - दिल्लीः नागरिकता कानून के खिलाफ आज हुई हिंसा में एक आम नागरिक के भी मारे जाने खबर। उस शख्‍स को जानिए, जिसने ट्रंप और मेलानिया को बताई ताज के मोहब्‍बत की दास्‍तान
सालभर पुरानी ड्रेस पहनकर भारत आईं इवांका, जानें कितनी है कीमत - lifestyle AajTak ट्रंप भारत के लिए उड़ान भरने से पहले क्या बोले दिल्ली के जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के पास 200 से ज्यादा महिलाओं ने जाम की सड़क, भीम आर्मी के 'भारत बंद' का दिया हवाला कपिल मिश्रा का अल्टीमेटम- 3 दिन में सड़कें खाली हों, वरना हम किसी की नहीं सुनेंगे मोदी सरकार के उलट नीतीश कुमार का बड़ा बयान- बिहार में लागू नहीं होगा NRC, CAA पर साधी चुप्पी- NPR को लेकर... ट्रंप के भारत आने से पहले दिल्ली को 'बंधक' बनाने की साजिश, पत्थरबाजी संयोग या प्रयोग? पति की पिटाई का दिया मेडल से जवाब, 8 साल बाद लिया पंगा; जीता देश के लिए मेडल मोदी के रहते भारत-पाक में सिरीज़ नहींः आफ़रीदी ट्रंप की भारत यात्रा पर कांग्रेस ने उठाए सवाल- जो भी विदेशी राष्ट्राध्यक्ष आता है, पहले गुजरात ले जाते हैं अमेरिका की दोस्ती से भारत बनेगा सुपरपॉवर! मोदी-ट्रंप की दोस्ती बदल देगी दुनिया लालू यादव के बड़े बेटे तेजप्रताप बोले- 'मेरा भाई तेजस्वी मुख्यमंत्री बन गया तो मैं...' अब्दुल्ला और मुफ़्ती की रिहाई की दुआ करता हूं: राजनाथ सिंह