Odisha, Mushroommaa, Re, Mushroom, Mushroom Farming, Farming News, Odisha News

Odisha, Mushroommaa

ओडिशा में 'मशरूम मां' बनीं आदिवासी महिला, अपने इस कदम से बदली गांव की तस्वीर

ओडिशा में 'मशरूम मां' बनीं आदिवासी महिला, अपने इस कदम से बदली गांव की तस्वीर #Odisha #mushroommaa #RE

04-08-2021 23:00:00

ओडिशा में 'मशरूम मां' बनीं आदिवासी महिला, अपने इस कदम से बदली गांव की तस्वीर Odisha mushroommaa RE

कालाहांडी जिलापाल ने नाबार्ड के 40वां स्थापना दिवस पर मशरुम की खेती में योगदान और महिला सशक्तीकरण के सम्मान में बनदेई मांक्षी को सम्मानित किया गया. साथ ही जिलापाल ने कहा कि यह एक आदिवासी महिला की प्रतिबद्धता और समपर्ण की कहानी है. वह महिला सशक्तीकरण की असली मॉडल हैं.

स्टोरी हाइलाइट्समशरूम ने बदली मांक्षी की जिंदगीगांव ने भी पकड़ी मशरूम मां की राहओडिशा में 1980 के दशक में भुखमरी और इससे होने वाली मौत के लिए कुख्यात कालाहांडी जिले के कतेनपाडर गांव ने एक नई तस्वीर पेश की है. यह गांव आज मशरूम की खेती कर जिले का 'मॉडल गांव' बन चुका है. साथ ही महिला सशक्तीकरण का उदाहरण भी साबित हो रहा है.

फ्रांस ने अमेरिका,ऑस्ट्रेलिया से राजदूत वापस बुलाने के बाद ब्रिटेन को भी दिया झटका - BBC News हिंदी दिल्ली दंगे: दिल्ली पुलिस बार-बार कोर्ट के सामने शर्मसार क्यों हो रही है? - BBC News हिंदी पंजाब के नए CM को PM नरेंद्र मोदी ने दी बधाई, बोले- राज्य के विकास के लिए मिलकर करेंगे काम

दरअसल, जिले के मॉडल गांव की कहानी उस वक्त शुरू हुई जब कतेनपाडर गांव की 45 वर्षीय महिला बनदेई मांक्षी ने 2007-08 में नाबार्ड शिविर में प्रशिक्षण लेने के बाद अपने परिवार की आर्थिक स्थिति बदलने के लिए धान के पुआल से मशरूम की खेती की शुरुआत की.गांव के अधिकर लोग पहले जीवन यापन के लिए वन उत्पाद पर निर्भर थे, लेकिन कुछ ही दिनों के बाद उन्होंने भी मांक्षी के रास्ते पर चलना शुरू कर दिया. गांव वालों को इस कार्य से आर्थिक राहत मिलने के बाद मांक्षी को 'मशरूम मां' के नाम से बुलाना शुरू कर दिया. मशरूम मां की इच्छाशक्ति ने कुछ ही सालों में गांव के गरीबी की तपिश से बाहर निकलने में मदद की.

बनदेई के परिवार में पति और चार बच्चें हैं. वह एक गरीब परिवार से आती हैं. जिन्हें दो एकड़ सरकारी जमीन मिली थी, जो सिर्फ बाजरे के फसल के लिए उपयुक्त थी. दशकों पहले अन्य ग्रामीणों की तरह उनका परिवार भी दो वक्त की रोटी के लिए वन और मजदूरी पर निर्भर था. गांव के लोगों के लिए उदाहरण बन चुकीं 'मशरूम मां' मशरूम की खेती से आज सालाना लाख रुपये कमाती हैं. headtopics.com

बनदेई मांक्षी ने कहा कि मूलभूत प्रशिक्षण और दो साल तक प्रायोगिक खेती के बाद उन्होंने व्यक्तिगत रुप से मशरूम की खेती शुरु की और जल्द ही रोल मॉडल बन गईं. मांक्षी का कहना है कि मशरूम की खेती से जून से अक्टूबर के दौरान मुझे एक लाख रुपये का शुद्ध लाभ हुआ. इसके अलावा सब्जियों, दाल और तिलहान की खेती से भी 50 से 60 हजार रुपये की आमदनी हुई. उन्होंने कहा कि पिछले कुछ सालों में जो भी बचत की है उससे वह अपने बच्चों के लिए पक्का घर बनवा रही हैं.

बनदेई ने कहा कि मशरूम और सब्जियों की खेती ने उनका ग्रामीणों का जीवन बदल दिया. भवानीपटना के जिला मुख्यालय से 10 किलोमीटर दूर कुतेनपदार गांव आदिवासी बहुल है जहां करीब करीब परिवार हैं और इनमें से 40 परिवार आदिवासी हैं. बनदेई से प्रेरित होकर अब मुख्यत: गांव वाले मशरूम की खेती कर रहे हैं और सालाना करीब 50,000 रुपये कमा रहे हैं.

बनदेई ने विस्तार से कहा कि वर्ष 2010 में उन्होंने 500 रुपये में एक बकरी खरीदी थी और अब परिवार के पास 45 बकरियां हैं. मेरे पति जगबंधु और बेटी जज्ञेनसेनी दैनिक कामकाज में उनकी मदद करती है. एक बेटी की दो साल पहले शादी हुई थी और दो बेटे कॉलेज में पढ़ते हैं. बनदेई ने अपने पति के लिए बाजार जाने के उद्शेय से मोटरसाइकिल खरीदी है.

कालाहांडी जिलापाल ने नाबार्ड के 40वां स्थापना दिवस पर मशरुम की खेती में योगदान और महिला सशक्तीकरण के सम्मान में बनदेई मांक्षी को सम्मानित किया. साथ ही जिलापाल ने कहा कि यह एक आदिवासी महिला की प्रतिबद्धता और समपर्ण की कहानी है. वह महिला सशक्तीकरण की असली मॉडल हैं. headtopics.com

Exclusive : 'चार दिनों तक हुई पूछताछ, मैंने कोई कानून नहीं तोड़ा' NDTV से IT रेड पर बोले सोनू सूद रूस: पर्म शहर की यूनिवर्सिटी में गोलीबारी से 8 की मौत, देखें खौफनाक मंजर रूसी यूनिवर्सिटी में छात्र ने लोगों पर चलाईं अंधाधुंध गोलियां, 8 की मौत और पढो: आज तक »

Breaking News Live Updates: देश-दुनिया की ब्रेकिंग न्यूज

छत्‍तीसगढ़ के मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल के पिता नंद कुमार बघेल को गिरफ्तार किया गया है। रायपुर पुलिस ने विवादित बयान देने के सिलसिले में यह गिरफ्तारी की है। उधर उत्तर प्रदेश में आज बड़ी सियासी हलचल हो रही है। यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ (CM Yogi Adityanath), बीएसपी सुप्रीम मायावती (Mayawati) और AIMIM चीफ असदुद्दीन ओवैसी (Asaduddin Owaisi) एक साथ ऐक्टिव हैं। आज हरियाणा के करनाल में किसानों की महापंचायत (Kisan Mahapanchayat) है। इसको देखते हुए प्रशासन ने करनाल समेत 5 जिलों में इंटरनेट सेवा को बंद (Internet Ban) कर दिया और करनाल में धारा-144 लागू कर दिया है। अफगानिस्तान (Afghanistan) में सरकार बनाने जा रहे तालिबान ने चीन और पाकिस्तान के साथ CPEC परियोजना (CPEC Project) में शामिल होने की इच्छा जताई है। तमाम ब्रेकिंग न्यूज (Breaking News) और ताजा खबरें (Latest News in Hindi) आपको सबसे पहले नवभारत टाइम्स ऑनलाइन पर मिलेंगी। तो बने रहिए हमारे साथ...

1. Amish Devgan 2. Rubika liyaquat 3. Anjana Kashyap 4. Sudhir Chaudhary 5. Rajat Sharma 6. Navika Kumar 7. Aman Chopra 8. Sushant Sinha 9. Arnab Goswami 10. Pradip bhandari 11. Chitra Tripathi 12. Deepak Chaurasia Agar Ye log Journalists hai to Mai bhi America ka President hu

Tokyo Olympics Live: सेमीफाइनल में भारत की महिला हॉकी टीम की शानदार शुरुआत, दागा पहला गोलटोक्यो ओलंपिक के 13वें दिन (4 अगस्त) को महिला हॉकी टीम फाइनल में जगह बनाने के इरादे से उतरेगी. टीम पहले ही इतिहास रच चुकी है और अब उसका लक्ष्य टोक्यो ओलंपिक खेलों के सेमीफाइनल में अर्जेंटीना को हराकर अपनी उपलब्धियों को शिखर पर पहुंचाना होगा. गजब Indian team will be go final round ♥️ India lost

दिल्ली में विधायकों की सैलरी में बंपर बढ़ोतरी, 54 की जगह 90 हजार करने का प्रस्तावदिल्ली सरकार (Delhi Government) ने विधायकों की तनख्वाह में बंपर बढ़ोतरी का फैसला लिया है. नए फैसले के मुताबिक, अब दिल्ली के एक विधायक को प्रति माह 90 हज़ार रुपये मिलेंगे, जिसमें सैलरी (Salary) और भत्ता सभी शामिल होंगे. PankajJainClick Good 👏👏👏? PankajJainClick ArvindKejriwal INCIndia DelhiBJYM ZeeNews Kejriwal ji के कार्यकाल में दिल्ली में झुग्गी - झोंपड़ी का सड़क किनारे बहुत विस्तार हो गया है। MLA not work properly in their विधानसभा क्षेत्र… See- Rohini, पंजाबी BAGH MAYAPURI… All delhi look like a - कचरा घर😔 PankajJainClick लो भैया यह आम आदमी का खास पार्टी जिसका नाम है, आप पार्टी !

झारखंडः गुमला के सदर अस्पताल में महिला की मौत, परिजनों ने मचाया हंगामागुमला के सदर अस्पताल (Gumla sadar hospital) में महिला की मौत होने के बाद परिजनों ने डॉक्टर एवं अस्पताल प्रबंधक पर लापरवाही का आरोप लगाते हुए अस्पताल परिसर में जमकर हंगामा किया. यही नहीं कॉल सेंटर में बैठे कर्मचारी की पिटाई भी कर दी.

सोशल इंजीनियरिंग की आड़ में जातियों की गोलबंदी का राजनीतिक दांवउत्तर प्रदेश विधान सभा चुनाव की सियासी बिसात बिछ चुकी है। छोटी बड़ी सभी पार्टियों ने अपने मोहरे चलने भी शुरू कर दिए हैं।

बाजार में बहार: सेंसेक्स में लगातार तीसरे दिन उछाल, निफ्टी ने लगाई 128 अंकों की छलांगसेंसेक्स 546.41 अंकों (1.02 फीसदी) की तेजी के साथ 54,369.77 के स्तर पर बंद हुआ। वहीं निफ्टी 128.05 अंकों (0.79 फीसदी) की बढ़त के साथ 16,258.80 के स्तर ptshrikant महोदय, UPPCLLKO विभाग में SAI_ELECTRICALS के सानिध्य में Chief_SRE_Zone क्षेत्र में कार्यरत 152 कंप्यूटर ऑपरेटर का जून माह का वेतन आज 4/8/2021 तक भी नही दिया गया है। इन सभी ऑपरेटर की आर्थिक स्तिथि खराब हो रही है, कृपया वेतन आज ही दिलाये। MdPvvnl UPPCLChairman

जज हत्याकांड: पुलिस ने हाईकोर्ट में दाखिल की स्टेटस रिपोर्ट, आरोपियों की होगी ब्रेन मैपिंगझारखंड पुलिस (Jharkhand Police) ने जज उत्तम आनंद (Uttam Anand) के मौत मामले (Death Case) में हाईकोर्ट (High Court) में स्टेटस रिपोर्ट दाखिल की है. मंगलवार को हाईकोर्ट में मामले की सुनवाई हुई.