एनडीए और महागठबंधन के बीच सीधी टक्कर की ओर बढ़ता बिहार चुनाव - BBC News हिंदी

बिहार चुनाव: एनडीए और महागठबंधन के बीच सीधी टक्कर की ओर बढ़ता चुनाव

27-10-2020 05:32:00

बिहार चुनाव: एनडीए और महागठबंधन के बीच सीधी टक्कर की ओर बढ़ता चुनाव

बीजेपी-जदयू का गठबंधन शुरुआती बेहतर स्थिति से फिसल कर कड़ी चुनौती में फँसा है.

सत्ता के ख़िलाफ़ बने स्वाभाविक माहौलतेजस्वी यादव की सभाओं में लालू यादव के बनाए मुस्लिम- यादव समीकरण से जुड़ी भीड़ के अलावा वे तमाम श्रमिक भी जुटते हैं, जो आरंभिक कोरोना लॉकडाउन में भारी मुसीबतें उठा कर अन्य प्रदेशों से अपने घर तो आए, पर बेरोज़गारी झेलने को विवश हुए.

BBC 100 Women 2020: जानिए कौन भारतीय महिलाएँ हैं लिस्ट में - BBC News हिंदी कोरोना पर पीएम मोदी से केजरीवाल की मांग- केंद्र दे 1000 अतिरिक्त आईसीयू बेड्स कोरोना के हालात पर मुख्यमंत्रियों के साथ PM मोदी की बैठक जारी, केजरीवाल बोले- दिल्ली में दिखी तीसरी लहर

हालाँकि पिछड़े-दलित वर्ग के उनलोगों का रुझान जेडीयू-बीजेपी की तरफ़ ही दिखता है, जिन्हें केंद्र और बिहार सरकार से मदद के रूप में नक़द राशि के अलावा मुफ़्त अनाज मिले हैं. अति पिछड़ों और महादलित वर्ग से जुड़े मतदाताओं, ख़ासकर महिला वोटरों के बीच नीतीश कुमार का असर अभी भी है.

आरजेडी और वामपंथी दलों द्वारा अबतक के नीतीश और बीजेपी विरोधी आक्रामक प्रचार ने 15 वर्षों की सत्ता के ख़िलाफ़ बने स्वाभाविक माहौल को और ताक़त दे दी है. महागठबंधन की घटक कांग्रेस यहाँ थोड़ी कमज़ोर पड़ी है, क्योंकि टिकट बँटवारे में गड़बड़ी से लेकर सांगठनिक स्तर पर लचर तैयारी को लेकर पार्टी में ही कलह या विवाद जैसी स्थिति बनी.

आप सोच सकते हैं कि काफ़ी दबाव बना कर महागठबंधन में सत्तर सीटों की साझेदारी ले लेने वाली कांग्रेस अगर ठीक-ठीक सीटें जीत पाने में पिछड़ जाएगी, तो सत्ता तक पहुँचने में महागठबंधन को कितनी मुश्किल पेश आएगी! यह आशंका राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (एनडीए) के लिए एक बड़ी राहत वाली बात मानी जा रही है.

चिराग़ के निशाने पर नीतीशअब ज़िक्र लोक जनशक्ति पार्टी (एलजेपी) से जुड़े उस बड़े विवाद का, जिसने एनडीए को सबसे बड़ी अंदरूनी मुश्किल में डाला है.एलजेपी के अध्यक्ष चिराग़ पासवान ने मुख्यमंत्री नीतीश के ख़िलाफ़ जो तीखी मुहिम छेड़ी, उसे पहले तो परोक्ष रूप से बीजेपी द्वारा प्रेरित कहा जाने लगा लेकिन, बाद में नीतीश कुमार के रोषपूर्ण दबाव में बीजेपी को सार्वजनिक घोषणा करनी पड़ी कि एलजेपी अब एनडीए का अंग नहीं है.

उधर, चिराग़ पासवान ने प्रधानमंत्री के प्रति अपना अटूट समर्थन ज़ाहिर करते हुए भी नीतीश कुमार की पार्टी जेडीयू के विरुद्ध डटे रहने और बिना किसी गठबंधन के चुनाव लड़ने की अपनी ज़िद क़ायम रखी. साथ ही चिराग़ यह भी कह रहे हैं कि नीतीश कुमार को छोड़, किसी अन्य को अगर बीजेपी मुख्यमंत्री बनाना चाहेगी, तो एलजेपी पूरा सहयोग करेगी.

मतलब, मतदान का पहला दौर आते-आते नीतीश कुमार के सामने बिहार के दो युवा नेताओं की चुनौती, पुराने पार्टनर बीजेपी पर भरोसे का संकट और 15 वर्षों के सत्ता-नेतृत्व से उपजे कई तरह के स्वाभाविक जन-असंतोष वाली विकट स्थितियाँ उपस्थित हैं.बीजेपी भी इस मुश्किल लपेट से प्रभावित तो है लेकिन, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के प्रचार अभियान और बिहार के लिए दी गयी कुछ केंद्रीय विशेष सहायता के बूते चुनावी नैया पार लगा लेने की उम्मीद भी उसे है.

रेलवे की जमीन पर बसी 48 हजार झुग्गियों को नहीं हटाया जाएगा, केंद्र ने SC से कहा- विचार कर रहे हैं क्या उद्धव सरकार के 'The End' की स्क्रिप्ट लिख रही है BJP? रोशनी घोटाले पर फारूक अब्दुल्ला की सफाई- मुझे परेशान करने की हो रही कोशिश

तेजस्वी की सभाओं में उमड़ती भीड़इमेज स्रोत,@yadavtejashwiदूसरी तरफ़ जो 'महागठबंधन' का हौसला बुलंद होने लगा है, उसके पीछे नीतीश-विरोध की बनती जा रह परिस्थितियाँ और तेजस्वी की सभाओं में उमड़ती भीड़ को ही मुख्य कारण माना जा रहा है. जबकि प्रमुख टेलीविजन चैनलों के सर्वे या ओपिनियन पोल यहाँ एनडीए के सत्ता में बरक़रार रहने की संभावना बता रहे हैं.

यहाँ एक बात की चर्चा ज़रूरी है कि इस चुनाव में यहाँ एनडीए के साथ जुड़े हिंदुस्तानी अवाम मोर्चा के जीतनराम माँझी और विकासशील इंसान पार्टी के मुकेश सहनी से एनडीए को कुछ सीटों पर मदद मिल सकती है.उधर, राष्ट्रीय लोक समता पार्टी के उपेंद्र कुशवाहा के साथ बहुजन समाज पार्टी और एआईएमआईएम के असदुद्दीन ओवैसी का गठबंधन कुछ सीटों पर 'महागठबंधन' के वोट काटने और कुछ सीटों पर जीत भी दर्ज करने जैसा असर दिखा सकता है.

राजेश रंजन उर्फ़ पप्पू यादव बिहार के ऐसे नेताओं में शुमार हैं, जो लोगों की मदद में सक्रिय दिखने और हर मुद्दे पर ख़ूब बोलने के बावजूद अपनी अस्थिर और विवादास्पद छवि से छुटकारा पाने में कामयाब नहीं हो पा रहे हैं. इसलिए यह चुनाव भी उन्हें निराश कर दे, तो आश्चर्य नहीं.

सीधी टक्कर वाली चुनावी तस्वीरइमेज स्रोत,@NitishKumarपहले चरण के मतदान तक यहाँ कुल मिलाकर एनडीए और 'महागठबंधन' के बीच कश्मकश से भरी हुई सीधी टक्कर वाली चुनावी तस्वीर उभरती दिखी है.यह भी लगता है कि पहले दौर का मतदान जो संकेत लेकर आएगा, उससे बाक़ी दो चरणों में दोनों मुख्य प्रतिद्वंद्वी गठबंधनों के लिए संभावनाओं या आशंकाओं के कुछ और इशारे मिल सकते हैं.

पहले दौर का मतदान जिन विधानसभा क्षेत्रों में होने जा रहा है, वहाँ 2015 के विधानसभा चुनाव में जेडीयू-आरजेडी वाले तत्कालीन 'महागठबंधन' को 48 सीटों पर जीत हासिल हुई थी.इनमें 25 पर आरजेडी और 19 पर जेडीयू के उम्मीदवार विजयी हुए थे.इस बार भी बदले हुए समीकरण के बावजूद 'महागठबंधन' ने उन सीटों पर काफ़ी उम्मीदें लगा रखी हैं. सीपीआई-एमएल के तीन प्रत्याशी इन्हीं इलाक़ों (भोजपुर) में जीते थे.

और पढो: BBC News Hindi »

स्पेशल रिपोर्ट: Delhi में Coronavirus बेलगाम! संक्रमितों की तादाद 5 लाख पार

दिल्ली में कोरोना संक्रमण अपने विकराल रूप में आ चुका है. कुल संक्रमितों की तादाद 5 लाख पार कर गई है. दिल्ली सरकार ने बिना मास्क पाए जाने पर जुर्माना बढ़ाकर 2 हजार रुपये कर दिया है. दिल्ली सरकार ने कोरोना से निपटने के उपायों को लेकर आज सर्वदलीय बैठक भी बुलाई. कोरोना मरीजों के लिए इंतजाम में दिल्ली सरकार हांफ रही है. जगह जगह टेस्टिंग की जा रही है. दिल्ली के बाजार बंद कराए जाने के कयास लगाए जा रहा हैं. देखें स्पेशल रिपोर्ट.

I am Muslim and will always support the Muslim and will always punish anyone who speaks ill about our community and our religion. So I sincerely support this hastag फ्रांस_माफी_मांग फ्रांस_माफी_मांग Whoever wants to support this Hastag, Yahi तो मुख्यमंत्री का विकाश का प्रमाण है कि आज का लड़का नकोदम कर रखा है

हा इसलिए पोस्टरों से नीतीश जी गायब है, भारत सरकार किसी कारण वश मानवीय संवेदनाओं के चलते या महामारी के समय या देश सुरक्षा मैं दूसरे देशों द्वारा की जा रही साजिश व विपक्ष के निरर्थक मुद्दे देश अर्थव्यवस्था के दबाव से किसी व्यक्ति या समूह को कोई सुविधा नहीं दिला पातीतो भी सरकार का देश हित समर्पण याद किया जा सकता है

अबकी बार तेजस्वी सरकार,, एनडीए ( जदयू भाजपा ) को अपने पन्द्रह साल में किए गए कार्यों को बताना चाहिए अब एक जुमला कह रहा है उन्नीस लाख रोजगार देगा , दुसरा मौन है ये पिछले कार्यकाल में रोजगार के लिए क्या किया बताना चाहिए था कश्मीर बीजेपी के परिवर्तन दिवस समारोह में शामिल होता है लेकिन यह नहीं पता कि तिरंगा क्या होता है जिससे तिरंगा नहीं संभल रहा वह देश खाक संभालेगा भाजपा_हटाओ_देश_बचाओ

Mt ro BBC NDA jeet gya jaake Kah de apne chaapluso se😂😂💯🔥💯 Tejashvi tay hai बिहारी ब्राम्हणों, जातिवादी भाजपा और नितीश से बदला लेने का वक्त है और इस वक्त कांग्रेस को वोट देने का है जिसने पांच ब्राम्हण मुख्यमंत्री बिहार को दिये। Tragic part is agenda set by political parties is endorsed by media of promises being made - 10to15 Lakhani of Jobs in one day as promised not possible at all but media stand with no question against it - Media love to be stake holders in defeat & victory

Have a look on Munger (Bihar). 7 people are shot dead by Police in the mid night yesterday. बीबीसी अब एक्सपोज हो चुकी है भाई, कुत्ता भी ना सुनता बीबीसी को Those who attack, neglect poor ... Will learn a lesson in this election. अच्छा ये सर्वे NDTV ने निकाला है क्या? टक्कर मे महागठबंधन गब्बर First Phase polling, 10 VIP Candidates. BiharElections BiharElections2020 BIhar BiharPolls

FATF के फैसले पर पाकिस्तान में संग्राम, विपक्ष और इमरान सरकार के बीच 'जंग'पाकिस्तान न्यूज़: Pakistan FATF Report Card: फाइनेंशियल ऐक्शन टास्क फोर्स के हालिया फैसले को लेकर पाकिस्तान में इमरान खान सरकार और विपक्ष के बीच जुबानी जंग जारी है। विपक्षी पार्टियां इमरान खान पर विदेशी मोर्चे पर फेल होने का आरोप लगा रही हैं, वहीं सरकार इसे अपनी जीत के रूप में प्रस्तुत कर रही है। यार घर के भेदी लंका ढाए हैं

मध्यप्रदेश उपचुनाव: भाजपा के कैलाश विजयवर्गीय और कांग्रेस के सज्जन सिंह को चुनाव आयोग का नोटिसमध्यप्रदेश उपचुनाव: भाजपा के कैलाश विजयवर्गीय और कांग्रेस के सज्जन सिंह को चुनाव आयोग का नोटिस MadhyaPradesh KailashOnline SajjanSingh

पहला क्वालिफायर और फाइनल दुबई में, एलिमिनेटर और दूसरा क्वालिफायर अबु धाबी में होगाबीसीसीआई ने रविवार को आईपीएल 2020 के प्लेऑफ का शेड्यूल जारी कर दिया। लीग का फाइनल 10 नवंबर को दुबई में खेला जाएगा। पहला क्वालिफायर 5 नवंबर को दुबई में होगा। एलिमिनेटर 6 और दूसरा क्वालिफायर 8 नवंबर को अबु धाबी में खेला जाएगा। वहीं, वुमंस चैम्पियनशिप के सभी मैच शारजाह में होंगे। | IPL 2020 Playoffs Schedule in IPL Final Dubai Women's T20 Challenger Trophy News Updates IPL IPL

इंजीनियरिंग करके फिल्मों में गए और कंगना के हीरो बने; फिर राजनीति में आए और मोदी के हनुमान बनेबात 2015 के विधानसभा चुनाव से कुछ समय पहले की है। पटना में अपने घर श्रीकृष्ण पुरी में बैठे रामविलास पासवान लोगों से मिल रहे थे। उसी घर के दूसरे कमरे में बेटे चिराग लोजपा के कार्यकर्ताओं के साथ मीटिंग कर रहे थे। तब वहां मौजूद लोगों से रामविलास ने बड़े गर्व से कहा- ‘चिराग ने सब संभाल लिया है।’ जब लोगों ने रामविलास से कहा कि आपका बेटा बहुत ज्यादा शहरी दिखता है, जबकि आप जमीनी नेता दिखते हैं। तब मुस्कु... | Chirag Paswan Bihar Assembly Election 2020 Latest News Update, LJP president Chirag Paswan Political Career News खून में राजनीति, सपनों में बॉलीवुड, राजनीति में आए, 12 साल बाद लोजपा को एनडीए में लेकर आए, चिराग के पास दो गाड़ियां हैं। पहली है जिप्सी, जिसकी कीमत 5 लाख रुपए है। और दूसरी है 30 लाख रुपए की फॉर्च्युनर। iChiragPaswan LJP4India narendramodi वोट कटवा जितना वोट काटेगा उतना गठबंधन को मदद होगी । और दैनिक भास्कर के माई बाप तो गठबंधन में ही हैं iChiragPaswan LJP4India narendramodi Ish tarah toh garib ke bacche ko rajneeti mei jane ka moka hi nahi milega iChiragPaswan LJP4India narendramodi चिराग पासवान पढ़ाई के बाद न तो राजनीति में आए और न ही किसी टेक कंपनी में नौकरी करने गए। उन्होंने बॉलीवुड का रुख किया। साल 2011 में कंगना रनोट के साथ उनकी फिल्म आई थी, ‘मिले न मिले हम’। 13 करोड़ में बनी ये फिल्म बुरी तरह फ्लॉप हुई थी। इसका बॉक्स ऑफिस कलेक्शन सिर्फ 97 लाख रुपए था।

साबरमती रिवर फ्रंट और स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के बीच उड़ान भरने वाला सीप्लेन पहुंचा कोच्चिसाबरमती रिवर फ्रंट और स्टैच्यू ऑफ यूनिटी के बीच उड़ान भरने वाला सीप्लेन पहुंचा कोच्चि mansukhmandviya PMOIndia vijayrupanibjp seaplane

इस दिन बंद होंगे बदरीनाथ-केदारनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के कपाटविजयदशमी के पावन पर्व पर आज बदरीनाथ, गंगोत्री और यमुनोत्री धाम के कपाट बंद होने की तिथि और समय तय किया गया।