Uttarakhand, Chamoli, Uttarakhand News, Chamoli News, Lake Build İn Chamoli, Rain İn Uttarakhand, Landslide İn Uttarakhand, Landslide, Chamoli News İn Hindi, Latest Chamoli News İn Hindi, Chamoli Hindi Samachar

Uttarakhand, Chamoli

उत्तराखंड: चमोली में दो गांवों के बीचों बीच गदेरे में बनी झील, मकानों में आई दरारें, ग्रामीण खौफजदा

उत्तराखंड के चमोली जिले में नारायणबगड़ के गड़कोट और अंगोठ गांवों के नीचे भूस्खलन होने से गडनी गदेरे (बरसाती नाले) में

23-07-2021 23:56:00

उत्तराखंड: चमोली में दो गांवों के बीचों बीच गदेरे में बनी झील, मकानों में आई दरारें, ग्रामीण खौफजदा Uttarakhand Chamoli

उत्तराखंड के चमोली जिले में नारायणबगड़ के गड़कोट और अंगोठ गांवों के नीचे भूस्खलन होने से गडनी गदेरे (बरसाती नाले) में

हालांकि गदेरे से काफी कम मात्रा में पानी की निकासी हो रही है, लेकिन ग्रामीण खतरे की आहट से खौफजदा हैं। ग्रामीणों का कहना है कि झील से भविष्य में बड़ा हादसा होने की आशंका पैदा हो गई है। ग्रामीणों ने प्रशासन को इसकी सूचना दे दी है।गड़कोट की ग्राम प्रधान बीना देवी ने कहा कि गड़कोट और अंगोठ गांव आमने-सामने हैं और इन दोनों गांवों की तलहटी से गडनी गदेरा बहता है। हाल ही में हुई बारिश से दोनों गांवों के नीचे भारी भूस्खलन हुआ और मिट्टी व पत्थर गदेरे के किनारे गिरे।

US दौरे पर PM मोदी, अब होगा आतंक पर वार! देखें हल्ला बोल आकाशवाणी के रामानुज प्रसाद सिंह का निधन, 86 साल की उम्र में ली आखिरी सांस कार्टून: इस ड्रग्स में वो बॉलीवुड वाली बात कहाँ? - BBC News हिंदी

ऐसे में दोनों तरफ से गदेरे का रास्ता बंद हो गया और तीन दिन पहले गदेरे में झील बन गई। दोनों गांवों के नीचे अभी भी जल स्तर बढ़ रहा है। इससे गड़कोट गांव में लोगों के मकानों में दरारें आ गई हैं और अंगोठ गांव की खेती की जमीन को नुकसान हुआ है।भूस्खलन से ग्रामीण भयभीत हैं और रात को डर के कारण सो नहीं पा रहे हैं। ग्रामीण धीरेंद्र सिंह ने कहा कि इसी सूचना प्रशासन को दे दी गई है। बताया कि गड़कोट और अंगोठ गांवों के नीचे वर्षों पुराना भूस्खलन क्षेत्र अब ग्रामीणों के लिए मुश्किलों का सबब बनने वाला है।

यहां पर बन रही झील को तत्काल प्रभाव से खोलने की जरूरत है। पहले भी भूस्खलन राकेने के लिए लोगों ने शासन प्रशासन से गुहार लगाई परंतु उनकी फरियाद अनसुनी कर दी गई। प्रशासन ने संज्ञान नहीं लिया तो घटगाड़ गांव और मींगगदेरा आदि बाजारों को भी बाढ़ जैसे हालात से गुजरना पड़ सकता है। headtopics.com

पहले आ चुकी है बाढ़वर्ष 1992 में भी इसी गदेरे में पानी बढ़ने से बाढ़ आई थी और गढीनी का भरा-पूरा बाजार रातों रात उजड़ गया था और 14 लोगों की मौत हो गई थी। हर बरसात में यह गदेरा विकराल रूप ले लेता है।तहसीलदार सुरेंद्र सिंह देव ने कहा कि ग्रामीणों की ओर दोनों गांवों के नीचे भूस्खलन होने के बाद झील बनने की सूचना दी गई है। गदेरे से पानी का रिसाव जारी है। शनिवार (आज) को मौके पर झील का जायजा लेने के लिए टीम भेजी जाएगी। उसके बाद जो भी स्थिति बनेगी उस हिसाब से त्वरित कार्रवाई की जाएगी।

विस्तार 25 मीटर लंबी और 10 मीटर चौड़ी झील बन गई है।विज्ञापनहालांकि गदेरे से काफी कम मात्रा में पानी की निकासी हो रही है, लेकिन ग्रामीण खतरे की आहट से खौफजदा हैं। ग्रामीणों का कहना है कि झील से भविष्य में बड़ा हादसा होने की आशंका पैदा हो गई है। ग्रामीणों ने प्रशासन को इसकी सूचना दे दी है।

गड़कोट की ग्राम प्रधान बीना देवी ने कहा कि गड़कोट और अंगोठ गांव आमने-सामने हैं और इन दोनों गांवों की तलहटी से गडनी गदेरा बहता है। हाल ही में हुई बारिश से दोनों गांवों के नीचे भारी भूस्खलन हुआ और मिट्टी व पत्थर गदेरे के किनारे गिरे।ऐसे में दोनों तरफ से गदेरे का रास्ता बंद हो गया और तीन दिन पहले गदेरे में झील बन गई। दोनों गांवों के नीचे अभी भी जल स्तर बढ़ रहा है। इससे गड़कोट गांव में लोगों के मकानों में दरारें आ गई हैं और अंगोठ गांव की खेती की जमीन को नुकसान हुआ है।

झील को तत्काल प्रभाव से खोलने की जरूरतभूस्खलन से ग्रामीण भयभीत हैं और रात को डर के कारण सो नहीं पा रहे हैं। ग्रामीण धीरेंद्र सिंह ने कहा कि इसी सूचना प्रशासन को दे दी गई है। बताया कि गड़कोट और अंगोठ गांवों के नीचे वर्षों पुराना भूस्खलन क्षेत्र अब ग्रामीणों के लिए मुश्किलों का सबब बनने वाला है। headtopics.com

मीडिया में उत्कृष्ट योगदान के लिए कली पुरी को AIMA का प्रतिष्ठित अवॉर्ड IPL 2021 DC Vs SRH LIVE: दिल्ली के आगे घुटनों पर हैदराबाद, 10 ओवर में ही 4 विकेट गिरे IPL 2021, DC Vs SRH: चोट के बाद लौटे अय्यर का कमाल, Delhi को छक्का जड़ दिलाई जीत

यहां पर बन रही झील को तत्काल प्रभाव से खोलने की जरूरत है। पहले भी भूस्खलन राकेने के लिए लोगों ने शासन प्रशासन से गुहार लगाई परंतु उनकी फरियाद अनसुनी कर दी गई। प्रशासन ने संज्ञान नहीं लिया तो घटगाड़ गांव और मींगगदेरा आदि बाजारों को भी बाढ़ जैसे हालात से गुजरना पड़ सकता है।

पहले आ चुकी है बाढ़वर्ष 1992 में भी इसी गदेरे में पानी बढ़ने से बाढ़ आई थी और गढीनी का भरा-पूरा बाजार रातों रात उजड़ गया था और 14 लोगों की मौत हो गई थी। हर बरसात में यह गदेरा विकराल रूप ले लेता है।तहसीलदार सुरेंद्र सिंह देव ने कहा कि ग्रामीणों की ओर दोनों गांवों के नीचे भूस्खलन होने के बाद झील बनने की सूचना दी गई है। गदेरे से पानी का रिसाव जारी है। शनिवार (आज) को मौके पर झील का जायजा लेने के लिए टीम भेजी जाएगी। उसके बाद जो भी स्थिति बनेगी उस हिसाब से त्वरित कार्रवाई की जाएगी।

विज्ञापनझील को तत्काल प्रभाव से खोलने की जरूरतविज्ञापनआपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?

हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है? और पढो: Amar Ujala »

गुजरात में सियासी भूचाल, कौन होगा अगला मुख्यमंत्री? देखें दंगल में बड़ी बहस

गुजरात में शनिवार को बड़ा सियासी उलटफेर हुआ है. विजय रुपाणी (Vijay Rupani) ने मुख्यमंत्री (Chief Minister) के पद से इस्तीफा (Resign) दे दिया. उन्होंने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, गृह मंत्री अमित शाह और पार्टी आलाकमान को आभार प्रकट किया. कुछ देर पहले ही रुपाणी ने राज्यपाल आचार्य देवव्रत से मुलाकात करते हुए उन्हें इस्तीफा सौंप दिया. गुजरात के मुख्यमंत्री पद से विजय रुपाणी के इस्तीफा देने के बाद अब यह सवाल उठने लगा है कि राज्य का अगला मुख्यमंत्री कौन होगा? देखें दंगल में बड़ी बहस.

गुजरातः मोदी-शाह के गढ़ में ममता की एंट्री, पहली बार राज्य में बनाएंगी संगठनअब तक गुजरात की राजनीति के लिए कहा जाता था कि यहां सिर्फ दो ही पक्ष चलते हैं बीजेपी और कांग्रेस. लेकिन इस बार चुनाव से पहले आम आदमी पार्टी ने गुजरात की राजनीति में एंट्री कर दी है और अब टीएमसी भी एंट्री करने की तैयारी में है. gopimaniar एन्टरी तो आप। वाले भी कर रहे हैं। पर gopimaniar gopimaniar My mother UmaSarkar went missing frm KherwadiPoliceStation An elderly woman, with Dementia, BP, ANGINA, KNEE PAIN cannot just vanish. Why local cops r reluctant to show CCTV, DIARY ENTRY and file FIR. She had injuries on her hand. CPMumbaiPolice pls hlp

रिपोर्ट में खुलासा: इस वर्ष तकनीक के जरिये धोखाधड़ी के सबसे ज्यादा शिकार बने भारतीयमाइक्रोसॉफ्ट की ग्लोबल टेक सपोर्ट स्कैम रिसर्च की रिपोर्ट के अनुसार भारत में 2021 में ऐसे मामलों की संख्या 69 प्रतिशत के

विश्वविद्यालय समाचार : डीयू में स्नातकोत्तर में प्रवेश के लिए नहीं होंगे साक्षात्कारविश्वविद्यालय समाचार : डीयू में स्नातकोत्तर में प्रवेश के लिए नहीं होंगे साक्षात्कार DelhiUniversity Admission

Tokyo Olympics 2020: ये हैं भारत के होनहार जो हैं ओलंपिक में पदक जीतने के दावेदारTokyo Olympics 2020 के लिए 127 भारतीय एथलीटों ने क्वालीफाई किया है लेकिन ये भी सच है कि सभी खिलाड़ी पदक नहीं हासिल कर पाएंगे लेकिन जो खिलाड़ी पदक जीत सकते हैं उनके बारे में टूर्नामेंट से पहले जान लीजिए। दैनिक जागरण का लोग बहिष्कार कर रहे हैं क्योंकि यह आम जनता किसान बेरोजगार मजदूर आम आदमी से जुड़े सवाल नहीं दिखाता नहीं उठाता है और सरकार की झूठी प्रशंसा में लगा रहता है, खबरों को छुपाता है लगता है और जनता को भ्रमित करता है शुभकामनायें। Arrest_Ramkesh_Meena Arrest_Ramkesh_Meena Arrest_Ramkesh_Meena Arrest_Ramkesh_Meena Arrest_Ramkesh_Meena Arrest_Ramkesh_Meena Arrest_Ramkesh_Meena Arrest_Ramkesh_Meena Arrest_Ramkesh_Meena Arrest_Ramkesh_Meena Arrest_Ramkesh_Meena Arrest_Ramkesh_Meena

पंजाब में सिद्धू बने कांग्रेस के कप्तान, मंच पर दिखे अमरिंदर और नवजोत के 'तेवर'चंडीगढ़। पंजाब कांग्रेस अध्‍यक्ष पद पर सिद्धू की ताजपोशी के दौरान मंच पर मुख्‍यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह और नवजोतसिंह सिद्धू साथ-साथ तो दिखे, लेकिन दोनों के 'तेवर' कुछ और ही इशारा कर रहे थे। दोनों के ही भाषणों से ऐसा लग रहा है कि आने वाले समय में यह लड़ाई और तेज हो सकती है।

दैनिक भास्कर पर दबिश के विरोध में संसद ठप: राज्यसभा में विपक्ष ने भास्कर ग्रुप पर छापे के विरोध में नारेबाजी की, लोकसभा में भी हंगामा; दोनों सदन स्थगितमानसून सत्र में दैनिक भास्कर ग्रुप पर सरकारी दबिश का मुद्दा विपक्ष ने जोर-शोर से उठाया है। विपक्षी सदस्यों ने राज्यसभा में भास्कर ग्रुप पर इनकम टैक्स विभाग के छापों का विरोध किया और नारेबाजी की। इसके बाद सदन दोपहर 2 बजे तक स्थगित कर दिया गया। लोकसभा में भी हंगामा हुआ, यहां फोन टैपिंग और जासूसी का मुद्दा भी उठा। लोकसभा को भी 2 बजे तक स्थगित कर दिया गया है। | Parliament Monsoon Session Update; Dainik Bhaskar Tax Raids Rajya Sabha Adjourned As Members Raise Slogans, राज्यसभा में विपक्ष ने भास्कर ग्रुप पर छापे के विरोध में नारेबाजी की, लोकसभा में भी हंगामा; दोनों सदन स्थगित घटिया मोदी