ईरान का राष्ट्रपति चुनावः मुक़ाबले में कौन-कौन हैं? - BBC News हिंदी

ईरान का राष्ट्रपति चुनावः मुकाबले में कौन-कौन हैं?

16-06-2021 07:45:00

ईरान का राष्ट्रपति चुनावः मुकाबले में कौन-कौन हैं?

ईरान में 18 जून को राष्ट्रपति पद के लिए चुनाव होने हैं. इन चुनावों में सात उम्मीदवारों को भाग लेने की इजाजत दी गई है.

इमेज कैप्शन,साल 2019 में अमेरिका ने इब्राहिम राइसी पर प्रतिबंध लगा दिया थाइब्राहिम राइसी: निज़ाम के पसंदीदादा उम्मीदवारबहुत से लोगों का ये मानना है कि ईरान में अगर किसी एक उम्मीदवार की जीत का रास्ता साफ़ है तो उनका नाम इब्राहिम राइसी है. इब्राहिम ईरान की न्यायपालिका के प्रमुख हैं. उन्हें कट्टरपंथी माना जाता है.

राकेश अस्थाना: गुजरात कैडर के IPS, जो मोदी-शाह के रहे 'भरोसेमंद' - BBC News हिंदी भारत के विकास में कोरोना ने लगाया ब्रेक: GDP ग्रोथ का अनुमान घटाने पर IMF चीफ इकोनॉमिस्ट ने NDTV से कहा.. सोनिया गांधी से मिलने के बाद क्या बोलीं ममता बनर्जी - BBC Hindi

उन्हें न केवल मौजूदा राष्ट्रपति हसन रूहानी के उत्तराधिकार की रेस में सबसे आगे देखा जा रहा है बल्कि कुछ लोग तो ये भी कहते हैं कि सुप्रीम लीडर अयातुल्लाह अली खामनेई के वारिस भी शायद वही हों.ईरान के चुनाव में भाग ले रहे बाक़ी छह उम्मीदवारों के पास इब्राहिम राइसी जैसा रसूख और रुतबा हासिल नहीं है.

इब्राहिम राइसी ने अपने चुनाव अभियान की शुरुआत इस वादे से की थी कि वो मुल्क के सामने खड़ी आर्थिक चुनौतियों के कारण बनी 'निराशा और नाउम्मीदगी' के माहौल से लोगों को उबारेंगे.रूढ़ीवादी खेमे में राइसी को खासा समर्थन हासिल है. अन्य प्रभावशाली उम्मीदवारों की दावेदारी खारिज कर दिए जाने के बाद माना जा रहा है कि इब्राहिम राइसी की राह आसान हो गई है. साल 1979 की क्रांति के बाद इब्राहिम राइसी ज्यूडीशियल सर्विस में आए थे. headtopics.com

अपने करियर के ज्यादातर समय वे सरकारी वकील रहे और उनके इस दौर को विवादों से परे नहीं कहा जा सकता है. साल 1988 में राजनीतिक कैदियों और असंतुष्टों को सामूहिक रूप से मृत्युदंड का फैसला सुनाने वाले विशेष आयोग का वे हिस्सा रहे थे.तब वे तेहरान के इस्लामिक रिवॉल्यूशन कोर्ट में डिप्टी प्रॉसिक्यूटर के ओहदे पर थे. वे ईरान के सबसे समृद्ध सामाजिक संस्था और मशहाद शहर में मौजूद आठवें शिया इमाम रेज़ा की पवित्र दरगाह अस्तान-ए-क़ोद्स के संरक्षक भी रह चुके हैं.

और पढो: BBC News Hindi »

10तक: किसानों की औसत आय इंटरनेट बिल के बराबर! क्या है कृषि कानूनों का सच

लोकसभा में चुनकर आने वाले 39 सांसद अपना पेशा खेती-बाड़ी बताते हैं. संसद में 206 सांसद अपना पेशा कृषि बताते हैं. यानी लोकसभा में कुल 245 सांसदों का प्रोफेशन खेती-किसानी है. वहां किसानों के साथ ऐसा सलूक? खुद को किसान बताने वाले लोकसभा सांसदों की औसत संपत्ति जहां 18 करोड़ रुपए है. वहीं देश में किसानों की महीने की आय शहरों के कई परिवारों के महीने के मोबाइल, लैंडलाइन, इंटरनेट बिल के बराबर है यानी 30 दिन की कमाई औसत 8931 रुपए. देखें 10तक.

झारखंड: नदी में अचानक आई बाढ़ में फंस गए तीन युवक, चट्टान पर चढ़ बचाई जानतीन युवक-अभिषेक कुमार, सिकंदर लोहरा और अविनाश सिंह रविवार की शाम को नदी में लकड़ी बीनने के लिए गए थे, तभी अचानक से नदी का जलस्तर बढ़ गया. इसके बाद तीनों नदी के बीच स्थित एक चट्टान पर चढ़ गए. बाद में जब जलस्तर कम हुआ, तब तीनों को बचाया गया. satyajeetAT फार्मासिस्ट_भर्ती_2007_पूरी_करो 2007 में आवेदन करने वाले 10750 में से शेष 3970 फार्मासिस्टों की भर्ती अभी तक लागू की गई नियमावली के अनुसार शीघ्र की जाये PMOIndia CMOfficeUP jpbansi MoHFW_INDIA priyankagandhi yadavakhilesh MhfwGoUP ChiefSecyUP WHO drharshvardhan 083

इटावा में सपा नेता धर्मेंद्र यादव गिरफ्तार, कोर्ट में सरेंडर करने से पहले पुलिस ने पकड़ासपा युवजन सभा के औरैया जिलाध्यक्ष जमानत पर जेल से छूटकर बाहर आए थे तो समर्थकों ने जिला पंचायत सदस्य निर्वाचित होने के चलते नेशनल हाईवे पर वाहन जुलूस निकालकर स्वागत किया था। इसपर पुलिस ने दो सौ लोगों पर मुकदमा दर्ज किया था। Gaadi palti😀😀😀 योगीजी_अनुदेशक_मांगे_नियमितीकरण Respected sir,we want justice बस अब इस बेचारे को किसी भी तरह से TUV पर घुमा लाए कोई।😁🤣😷

दिल्ली में 22 फरवरी के बाद एक दिन में सबसे कम कोरोना के नए मामलेDelhi Coronavirus Update: दिल्ली में कोरोना के नए मामले 22 फरवरी के बाद सबसे कम सामने आए. दिल्ली में सोमवार को समाप्त 24 घंटों में कोविड के 131 नए मामले सामने आए और 16 मरीजों की मौत हो गई. यह 22 फरवरी के बाद एक दिन में सबसे कम नए मामले हैं. मौतें 5 अप्रैल के बाद एक दिन में सबसे कम हुई हैं. दिल्ली में पॉजिटिविटी रेट 0.22% है जो कि 21 फरवरी के बाद सबसे कम है. 19 मार्च के बाद सबसे कम एक्टिव मामले हैं. यूपी में चुनाव होने वाले हैं न इसलिए कोविड 19 कम हो रहे है।।।

बड़ा झटका: मई में 6.3 फीसदी पर पहुंची खुदरा मुद्रास्फीति, अप्रैल में थी 4.23 प्रतिशतबड़ा झटका: मई में 6.3 फीसदी पर पहुंची खुदरा मुद्रास्फीति, अप्रैल में थी 4.23 प्रतिशत Inflation Economy RetailInflation FinMinIndia nsitharaman FinMinIndia nsitharaman

नागपुर में वारदात: सात साल की बच्ची के साथ स्कूल के शौचालय में दुष्कर्म, आरोपी गिरफ्तारमहाराष्ट्र के नागपुर जिले में स्कूल के शौचालय में सात साल की बच्ची के साथ कथित तौर पर दुष्कर्म करने के आरोप में एक व्यक्ति Kha gya knoon vyavstha kha gaye lagata hai aage bhi aisa hi hoga jab koi baat sunta nahi hai is des ka pradhanmantri modi khuch keh ta nahi kya desh ko sabhal raha hai apni apni bhan betiyo ko drindo se vachao veti hai to sab khuch hai

कुछ ही महीनों में बदला मोहम्मद आमिर का मन, इंटरनेशनल क्रिकेट में वापसी को तैयारपाकिस्तान के तेज गेंदबाज मोहम्मद आमिर ने इंटरनेशनल क्रिकेट में वापसी का मन बना लिया है. उन्होंने कहा कि वह फिर से अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलने को तैयार हैं.