Pakistan, Fatfgreylist, Pakistan Fatf, Pakistan Fatf Blacklist News, Pakistan Fatf News, Pakistan Fatf Member, Pakistan Fatf Grey List, Pakistan Fatf Blacklist News

Pakistan, Fatfgreylist

इमरान की मुश्किल: FATF की ग्रे लिस्ट में रहेगा पाकिस्तान, अप्रैल 2022 में होगी अगली मीटिंग; पूरी नहीं कीं शर्तें

इमरान की मुश्किल: FATF की ग्रे लिस्ट में रहेगा पाकिस्तान, अप्रैल 2022 में होगी अगली मीटिंग; पूरी नहीं कीं शर्तें #Pakistan #FATFGreyList @ImranKhanPTI

19-10-2021 18:10:00

इमरान की मुश्किल: FATF की ग्रे लिस्ट में रहेगा पाकिस्तान, अप्रैल 2022 में होगी अगली मीटिंग; पूरी नहीं कीं शर्तें Pakistan FATFGreyList ImranKhanPTI

दिवालिया होने की कगार पर खड़े पाकिस्तान की मुश्किलों में फिर इजाफा होता दिखाई दे रहा है। माना जा रहा है कि पाकिस्तान को इस बार भी फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (FATF) की तरफ से कोई राहत नहीं मिलने जा रही और वो एक बार फिर ग्रे लिस्ट में ही रहेगा। मंगलवार से शुरू हुई FATF की मीटिंग गुरुवार तक जारी रहेगी और माना जा रहा है कि पाकिस्तान को अगले साल अप्रैल तक ग्रे लिस्ट में रखा जाएगा। | Pakistan FATF Grey List; Will Be Decided In April 2022? Imran Khan Government On Blacklist

दिवालिया होने की कगार पर खड़े पाकिस्तान की मुश्किलों में फिर इजाफा होता दिखाई दे रहा है। माना जा रहा है कि पाकिस्तान को इस बार भी फाइनेंशियल एक्शन टास्क फोर्स (FATF) की तरफ से कोई राहत नहीं मिलने जा रही और वो एक बार फिर ग्रे लिस्ट में ही रहेगा। मंगलवार से शुरू हुई FATF की मीटिंग गुरुवार तक जारी रहेगी और माना जा रहा है कि पाकिस्तान को अगले साल अप्रैल तक ग्रे लिस्ट में रखा जाएगा।

लखनऊ में बेरोजगारी के मुद्दे पर छात्र संगठनों ने निकाला मार्च, पुलिस ने NDTV के कैमरे को बंद करने के लिए कहा सरकारी दावों के बावजूद यूपी के गन्‍ना मंत्री के क्षेत्र में ही किसानों का 300 करोड़ रुपए अभी तक बकाया घबराएं नहीं, भारत में ओमिक्रॉन के मामले सामने आने के बाद केंद्र की अपील : 5 बातें

FATF की अगली मीटिंग अगले साल अप्रैल में होने वाली है। यानी पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट से बाहर आने के लिए 6 महीने और इंतजार करना पड़ेगा। हालांकि, इमरान सरकार के लिए राहत की बात सिर्फ इतनी है कि उसे ग्रे से ब्लैक लिस्ट में डाले जाने की आशंका कम ही है। इसका मतलब यह हुआ कि FATF पाकिस्तान की इमरान सरकार को आतंकियों के खिलाफ कार्रवाई का एक मौका और देने जा रहा है।

एक हफ्ते में दूसरा झटकासिर्फ दो दिन पहले IMF ने साफ कर दिया था कि अगर पाकिस्तान उसकी शर्तें पूरी नहीं करता तो उसे 6 बिलियन डॉलर का लोन नहीं दिया जाएगा। इतना ही नहीं आईएमएफ ने पाकिस्तान को इस लोन की पहली किश्त तक देने से इनकार कर दिया था। वॉशिंगटन में 11 दिन चली बातचीत के बाद पाकिस्तान का दल खाली हाथ लौटा था। अब न्यूज एजेंसी ने सूत्रों के हवाले से खबर दी है कि अगले साल अप्रैल में होने वाली FATF की मीटिंग में भी पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट से बाहर नहीं निकाला जाएगा। यानी पाकिस्तान को महज एक हफ्ते के भीतर दूसरा झटका लगा है। headtopics.com

गुरुवार को औपचारिक फैसलान्यूज एजेंसी के मुताबिक, पेरिस में FATF की बैठक जारी है और गुरुवार को औपचारिक तौर पर यह ऐलान किया जाएगा कि पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट में ही रखा जा रहा है और अगला फैसला अप्रैल 2022 में किया जाएगा। कहा जा रहा है कि पाकिस्तान ने FATF की जरूरी शर्तें अब भी पूरी नहीं की हैं।

इसके पहले जून में संगठन की बैठक हुई थी और तब पाकिस्तान को ग्रे लिस्ट में रखने का फैसला किया गया था। पाकिस्तान सरकार पर दुनिया के तमाम संगठन दबाव डाल रहे हैं कि वो तमाम आतंकी संगठनों के खिलाफ पुख्ता कार्रवाई करे और फिर इसके सबूत भी पेश करे। इनमें हाफिज सईद और मसूद अजहर के नाम सा‌फ तौर पर लिए गए हैं।

मुश्किल ही मुश्किलपाकिस्तान को जून 2018 में ग्रे लिस्ट में रखा गया था। उसे एक एक्शन प्लान पर अमल के लिए कहा गया था। पाकिस्तान 28 में से 26 शर्तें पूरी कर चुका है, लेकिन बकाया दो शर्तें ही सबसे अहम हैं और पाकिस्तान इन्हें ही पूरा नहीं कर पा रहा है। इसकी वजह से ही उसे IMF, वर्ल्ड बैंक, एशियन डेवलपमेंट बैंक और यूरोपियन यूनियन से किसी तरह का कर्ज नहीं मिल पा रहा है। इमरान सरकार चीन, तुर्की और मलेशिया की मदद से ग्रे लिस्ट से बाहर आना चाहती हैं, लेकिन भारत, अमेरिका और फ्रांस के आगे इन देशों की चलती नहीं है।

FATF की ग्रे और ब्लैक लिस्ट: इसमें आने के नुकसानग्रे लिस्ट : इस लिस्ट में उन देशों को रखा जाता है, जिन पर टेरर फाइनेंसिंग और मनी लॉन्ड्रिंग में शामिल होने या इनकी अनदेखी का शक होता है। इन देशों को कार्रवाई करने की सशर्त मोहलत दी जाती है। इसकी मॉनिटरिंग की जाती है। कुल मिलाकर आप इसे ‘वॉर्निंग विद मॉनिटरिंग’ कह सकते हैं। headtopics.com

CM चेहरे पर सिद्धू ने उड़ाया AAP का मजाक: कहा- अरविंद केजरीवाल को पंजाब में दूल्हा नहीं मिल रहा, बारात अकेले ही नाच रही चन्नी साहब मुझे गंदी-गंदी गालियां दे रहे हैं: केजरीवाल - BBC Hindi भारत में भी ओमिक्रॉन की दस्तक, पहली बार मिले दो मामले - BBC News हिंदी

नुकसान : ग्रे लिस्ट वाले देशों को किसी भी इंटरनेशनल मॉनेटरी बॉडी या देश से कर्ज लेने के पहले बेहद सख्त शर्तों को पूरा करना पड़ता है। ज्यादातर संस्थाएं कर्ज देने में आनाकानी करती हैं। ट्रेड में भी दिक्कत होती है।ब्लैक लिस्ट : जब सबूतों से ये साबित हो जाता है कि किसी देश से टेरर फाइनेंसिंग और मनी लॉन्ड्रिंग हो रही है, और वो इन पर लगाम नहीं कस रहा तो उसे ब्लैक लिस्ट में डाल दिया जाता है।

नुकसान : IMF, वर्ल्ड बैंक या कोई भी फाइनेंशियल बॉडी आर्थिक मदद नहीं देती। मल्टी नेशनल कंपनियां कारोबार समेट लेती हैं। रेटिंग एजेंसीज निगेटिव लिस्ट में डाल देती हैं। कुल मिलाकर अर्थव्यवस्था तबाही के कगार पर पहुंच जाती है। और पढो: Dainik Bhaskar »

जरूरत की खबर: मोबाइल पर ज्यादा समय बिताने से बच्चे हो रहे ओवर डेवलपमेंट का शिकार ; जानिए क्या हैं इससे बचने के तरीके

आजकल बच्चे क्लास के अलावा असाइनमेंट, रिसर्च और एंटरटेनमेंट के लिए मोबाइल या लैपटॉप का इस्तेमाल करते हैं। इससे उनका स्क्रीन टाइम कहीं ज्यादा बढ़ गया है। बच्चों का मोबाइल के साथ ज्यादा वक्त बिताने से उन पर नेगेटिव असर हो रहा है। | Children are becoming victims of over development due to spending more time on mobile. Know what are the ways to avoid it

ImranKhanPTI postpone_ras_pre_2021 postpone_raspre2021

पूर्व क्रिकेटर की भविष्यवाणी, कहा- T20 वर्ल्ड कप के सेमीफाइनल में भी नहीं पहुंच पाएगा पाकिस्तानICC T20 World Cup 2021 के सेमीफाइनल में पहुंचने का मौका पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पास नहीं है। ये कहना है पाकिस्तान की ही टीम के पूर्व तेज गेंदबाज जलालुद्दीन का। उनका कहना है कि जब तक दूसरी टीमें गलती नहीं करती पाकिस्तान के पास कोई मौका नहीं है।

पाकिस्तान का नया झूठ: कहा- भारतीय पनडुब्बी ने की घुसपैठ की कोशिश, पहचान के बाद रोकापाकिस्तान का नया झूठ: कहा- भारतीय पनडुब्बी ने की घुसपैठ की कोशिश, पहचान के बाद रोका Pakistan India Submarine chut bole kauwa kate घुसता वही है जिसके मे जिगरा होता है 💪🏼💪🏼💪🏼 जब अकेला एक भारतीय सैनिक आप पर भारी तो आपकी कूबत भी नही कि जहाज को रोक सके!! अब ये काँग्रेस का भारत नही बल्कि भजपा का भारत है भूलना नही!!

सूरत की फैक्ट्री में लगी आग, 2 मजदूरों की मौत, सैकड़ों बचाए गएसूरत में कड़ोदरा के गुजरात औद्योगिक विकास निगम (GIDC) पैकेजिंग फैक्ट्री में आग लगने से बड़ा हादसा हो गया। हादसे में दो मजदूरों के मारे जाने की खबर है। वहीं करीब 125 लोगों को सुरक्षित बचा लिया गया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक कई मजदूरों ने जान बचाने के लिए पांचवीं मंजिल से छलांग लगा दी। फायर टेंडर्स आग बुझाने में लगे हुए हैं।

सूरत की पैकेजिंग फैक्टरी में भीषण आग, 5वीं मंजिल से कूदे कई मजदूर, 2 की मौतसूरत। सूरत में GIDC एरिया में पैकेजिंग फैक्टरी में लगी आग लग गई। इसमें 1 की मौत हो गई। 100 लोगों को बचाया गया। दमकल की 9 गाड़ियां आग बुझाने में जुटीं।

MP: डॉक्टर्स की पार्टी में थिरकते फॉरेंसिक एक्सपर्ट की कार्डियक अरेस्ट से मौत, Videoडॉक्टर सीएस जैन को डांस करते-करते ही कार्डियक अरेस्ट आया और उनकी मौत हो गई. जानकारी के मुताबिक डॉक्टर सीएस जैन ने साल 1975 में अपनी एमबीबीएस की पढ़ाई पूरी की थी.

शाहरुख खान को मिला शिवसेना का साथ, सुप्रीम कोर्ट में अर्जी देकर की जांच की मांगअपनी याचिका में शिवसेना नेता ने एनसीबी पर गलत भावना के साथ काम करने का आरोप लगाया है। उन्होंने कहा कि, बीते दो सालों से एनसीबी के अधिकारी चुनिंदा फिल्मी हस्तियों को अपना निशाना बना रहे हैं।