Space, Pslvc 48, Pslv, Isro, Pslv, Pslv 50Th Launch, इसरो, पीएसएलवी, Satellite, Risat, Pslv C48, आरआईसैट

Space, Pslvc 48

आज ‘अर्द्धशतक’ लगाएगा पीएसएलवी, अंतरिक्ष में पहुंचाएगा देश की दूसरी ‘खुफिया आंख’

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) के लिए बुधवार का दिन बेहद खास होने जा रहा है। इसरो आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा

11.12.2019

आज ‘अर्द्धशतक’ लगाएगा पीएसएलवी , अंतरिक्ष में पहुंचाएगा देश की दूसरी ‘खुफिया आंख’ Space esa isro NASA PSLV C48 PSLV PMOIndia HMOIndia DefenceMinIndia BJP4India INCIndia

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन ( इसरो ) के लिए बुधवार का दिन बेहद खास होने जा रहा है। इसरो आंध्र प्रदेश के श्रीहरिकोटा

ये सभी इंटरनेशनल कस्टमर सैटेलाइट एक नए कमर्शियल सिस्टम न्यूस्पेस इंडिया लिमिटेड (एनएसआईएल) के तहत लांच किया जा रहा है। इन सभी सैटेलाइट को पीएसएलवी के उड़ान भरने के 21 मिनट के अंदर बल्बनुमा पेलोड फायरिंग तकनीक के जरिये एक के बाद एक अंतरिक्ष में स्थापित किया जाएगा। इस उड़ान के लिए मंगलवार को सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र पर तैयारियों को अंतिम रूप दिया गया। इस ऐतिहासिक उड़ान का दीदार करने के लिए पांच हजार दर्शकों के बैठने की व्यवस्था भी की गई है।

एक्स बैंड एसएआर कैपेबिल्टी के चलते हर मौसम में साफ तस्वीर देगी

पीएसएलवी सी-48 के बुधवार को उड़ान भरने से पहले इसरो चीफ डा. के सिवन मंगलवार को यहां तिरुपति बालाजी मंदिर पहुंचे। सिवन ने भगवान के दर्शन करने के साथ ही पूजा भी की। इस दौरान उन्होंने मीडिया से वार्ता में कहा कि पीएसएलवी सी-48 की लांचिंग इसरो के लिए ऐतिहासिक पल होगा, क्योंकि यह इस रॉकेट की 50वीं और श्रीहरिकोटा लांचिंग स्टेशन से किसी रॉकेट की 75वीं उड़ान होगी।

उपग्रह की योजना, अंतरिक्ष में उसकी कार्यप्रणाली और जमीन से सॉफ्टवेयरों के जरिए उससे संपर्क आदि को छात्रों ने ही तैयार किया। यह केवल 2.3 किलो का है। इसे तैयार करने में करीब ढाई वर्ष लगे। कुल 60 विद्यार्थियों ने मिलकर इसे तैयार किया है। सभी निर्णय इन्होंने ही मिलकर लिए। उनसे संबंधित वरिष्ठ लोग केवल सुझावदाता की भूमिका में रहे। छात्रों ने कम बजट के बावजूद उपग्रह से डाटा ट्रांसफर सुनिश्चित करने के लिए उपग्रह द्वारा ली जाने वाली तस्वीरों को कंप्रेस करके पृथ्वी पर भेजने की तकनीक का उपयोग किया है।

पीएसएलवी के जरिये इस बार एक साथ 10 सैटेलाइट आसमान में रवाना करने जा रहा है इसरो

इस बार इसरो पीएसएलवी के जरिये एक साथ 10 सैटेलाइट को आसमान में रवाना करने जा रहा है। इनमें देश की दूसरी खुफिया आंख कही जा रही रडार इमेजिंग अर्थ ऑब्जर्वेशन सैटेलाइट आरआईसैट-2बीआर1 भी शामिल है। इसरो के मुताबिक, इस सैटेलाइट को अंतरिक्ष में 576 किलोमीटर की ऊंचाई वाली कक्षा में 37 डिग्री झुकाव पर स्थापित किया जाएगा। इस सैटेलाइट के अंतरिक्ष में स्थापित होने के साथ देश की सीमाओं पर घुसपैठ की कोशिश लगभग नामुमकिन हो जाएंगी।

ये सभी इंटरनेशनल कस्टमर सैटेलाइट एक नए कमर्शियल सिस्टम न्यूस्पेस इंडिया लिमिटेड (एनएसआईएल) के तहत लांच किया जा रहा है। इन सभी सैटेलाइट को पीएसएलवी के उड़ान भरने के 21 मिनट के अंदर बल्बनुमा पेलोड फायरिंग तकनीक के जरिये एक के बाद एक अंतरिक्ष में स्थापित किया जाएगा। इस उड़ान के लिए मंगलवार को सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र पर तैयारियों को अंतिम रूप दिया गया। इस ऐतिहासिक उड़ान का दीदार करने के लिए पांच हजार दर्शकों के बैठने की व्यवस्था भी की गई है।

इस अभियान में इसरो पीएसएलवी सी-48 के जरिये इस्राइल के तीन छात्रों की तरफ से डिजाइन की गई ‘डूचीफैट-3’ सैटेलाइट को भी लांच करेगा। दक्षिण इस्राइल के अशांत गाजा पट्टी क्षेत्र से महज एक किमी दूर स्थित शा हनेगेव हाईस्कूल के इन तीनों छात्रों एलोन अब्रामोविच, मीतेव असुलिन और शमुएल अविव लेवी की उम्र 17 से 18 वर्ष के बीच है। इन्होंने इस सैटेलाइट को हर्जलिया साइंस सेंटर और अपने स्कूल के साथ मिलकर बनाया है। छात्रों के मुताबिक, इस रिमोट सेन्सिंग फोटो सैटेलाइट से देश भर के बच्चों को पृथ्वी को देखने और विश्लेषण करने की सुविधा मिलेगा। साथ ही किसानों को भी इसका लाभ होगा।

भारत की अंतरिक्ष विज्ञान में हासिल सफलताओं से प्रभावित हैं छात्र

सेंसर देंगे सीमापार आतंकियों के जमावड़े की भी सूचना

और पढो: Amar Ujala

नागरिकता संशोधन बिल पर आजम खान का बयान, 'यह मुस्लिमों को देशभक्ति की सजा दी गई है'CitizenshipAmendmentBill पर AzamKhan का बयान- 'यह मुस्लिमों को देशभक्ति की सजा दी गई है' samajwadiparty CitizenshipAmendmentBill2019 samajwadiparty तेरे को तड़ीपार करना चहिए samajwadiparty साहब पाकिस्तान से आने वालों के लिए है आप को उनपे इतनी दया क्यों आ रही । जो भारत मे है वह भारतीय मुसलमान को कुछ नही होगा । samajwadiparty तू तेरे पाकिस्तान जा

डीलरशिप के पहले माले से गिरी Kia Seltos, एसयूवी के उड़े परखच्चे! देखें VideoKia Seltos देश भर में शानदार प्रदर्शन कर रही है। अपने सेग्मेंट की बेस्ट सेलिंग एसयूवी बन चुकी Seltos ने नवंबर महीने में कुल 14,005 यूनिट्स की बिक्री दर्ज की है।

Tech Wrap: यहां जानें आज की 5 बड़ी खबरेंयहां जानें आज टेक की दुनिया में दिनभर क्या-क्या हुआ...

दुनिया में सबसे तेज दौड़ती हैं ये पांच ट्रेनें, जानें कहां और कितनी होती है स्पीडदुनिया में सबसे तेज दौड़ती हैं ये पांच ट्रेनें, जानें कहां और कितनी होती है स्पीड trains highspeedrail bullettrain interesting currentaffairs edutwitter Education माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेंद्र मोदी जी रेलवे मंत्री श्री पीयूष गोयल जी उत्तर प्रदेश के संत कबीर नगर से मेहदावल तहसील होते हुए नेपाल बॉर्डर की बलरामपुर रोड का सिलेक्शन हुआ था 2007 में कई बार वह चिन्हित भी हुआ काम नहीं शुरू हुआ काम शुरू करें पूर्वांचल का विकास हो

जैसे भारत के झंडे का नाम 'तिरंगा', वैसे क्या है पाकिस्तान समेत 15 देशों के झंडों का नामजैसे भारत के झंडे का नाम 'तिरंगा', वैसे क्या है पाकिस्तान समेत 15 देशों के झंडों का नाम flags India Pakistan currentaffairs interesting Facts edutwitter Education

SC ST जनप्रतिनिधियों के आरक्षण को लोकसभा से मंजूरी, एंग्लो इंडियन के बारे में कानून मंत्री बोले, हम विचार करेंगेSC ST जनप्रतिनिधियों के आरक्षण को लोकसभा से मंजूरी, एंग्लो इंडियन के बारे में कानून मंत्री बोले, हम विचार करेंगे WinterSession ParliamentWinterSession SCSTreservation RaviShanakrPrasad AngloIndian Sir karte raho vichar itna time janta ke kam me thode n lagate h

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

11 दिसम्बर 2019, बुधवार समाचार

पिछली खबर

नित्यानंद के आश्रम से लापता हुई बहनों ने कहा, अमेरिका या वेस्टइंडीज में पेश हो सकती हैं

अगली खबर

राज्यसभा में नागरिकता विधेयक की अग्नि परीक्षा आज, यहां पारित हुआ तो बदलेगा कानून