अफ़ग़ानिस्तानः काबुल में राष्ट्रपति भवन के पास ज़बरदस्त धमाका - BBC Hindi

टीएमसी सांसद के ‘क़ानून...या पापड़ी चाट’ वाले बयान पर नाराज़ हुए पीएम मोदी आज की प्रमुख ख़बरें:

03-08-2021 19:35:00

टीएमसी सांसद के ‘क़ानून...या पापड़ी चाट’ वाले बयान पर नाराज़ हुए पीएम मोदी आज की प्रमुख ख़बरें:

शहर के व्यस्त इलाके में जिस जगह पर ये धमाका हुआ है, वहां पास में ही विदेशी राजनयिकों की रिहाइशी कॉलनी थी. इस हमले की अभी तक किसी भी समूह ने जिम्मेदारी नहीं ली है.

5:07फ़लस्तीनियों ने ठुकराया इसराइली सुप्रीम कोर्ट का प्रस्ताव, शेख़ जर्रा में मांगा संपत्ति का अधिकारABBAS MOMANI/AFP via Getty ImagesCopyright: ABBAS MOMANI/AFP via Getty Imagesफ़लस्तीनियों ने शेख़ जर्रा में उनके घर खाली कराए जाने की धमकी और यहूदी बस्तियों को बसाने के मामले में इसराइली सुप्रीम कोर्ट के सुलह के प्रस्ताव को ठुकरा दिया है.

भजन सुनने को पद्यश्री अनवर खान के घर पहुंचे RSS प्रमुख भागवत, दिलचस्प है इसके पीछे की कहानी! UP सरकार में मंत्री बनने के बाद देखें क्या बोले Jitin Prasada तालिबान का हज्जामों को हुक़्म- 'ना शेव करें और ना ही दाढ़ी काटें' - BBC News हिंदी

इसराइली सुप्रीम कोर्ट ने पूर्वी येरुशलम के शेख़ जर्रा में रहने वाले फ़लस्तीनी लोगों और यहूदी लोगों के बीच चली आर रही लंबी क़ानूनी लड़ाई को ख़त्म करने का प्रस्ताव दिया.अदालत ने फ़लस्तीनी परिवारों से कहा कि वो अगर यह स्वीकार कर लें कि शेख़ जर्रा की ज़मीन यहूदी कंपनी की और वो घरों का किराया दें तो वो वहाँ रह सकते हैं. लेकिन फ़लस्तीनी पक्ष ने इससे इनकार कर दिया.

कोर्ट ने जो रास्ता सुझाया था उसके तहत शेख जर्रा में रहने वाले दर्जनों परिवारों को ‘सुरक्षित किराएदार’ का दर्जा मिल सकता था.प्रस्ताव के मुताबिक़ फ़लस्तीनियों से निकट भविष्य में जबरन घर खाली नहीं कराए जा सकते थे जब तक कि वो उस यहूदी कंपनी को किराया देते रहें, जिसकी यह ज़मीन मानी जाती है. headtopics.com

हालाँकि फ़लस्तीनियों ने अदालत का यह सुझाव मानने से इनकार कर दिया और कहा कि वो संपत्ति का अधिकार चाहते हैं.AHMAD GHARABLI/AFP via Getty ImagesCopyright: AHMAD GHARABLI/AFP via Getty Imagesइसी विवाद के कारण इसराइल और हमास में छिड़ी थी जंगशेख़ जर्रा के इस मुद्दे के कारण ही पिछले कुछ महीने इसराइली और फ़लस्तीनियों में भारी तनाव और हिंसा हुई थी.

इस साल मई में पूर्वी यरुशलम के शेख़ जर्रा इलाक़े से फ़लस्तीनी परिवारों को निकालने की धमकी के बाद इसराइली पुलिस और फ़लस्तीनियों में हिंसा शुरू हो गई थी.इस हिंसा की शुरुआत के बाद फ़लस्तीनी चरमपंथी संगठ हमास और इसराइल में जंग छिड़ गई थी जो करीब 11 दिनों तक जारी रही.

इस इलाके को यहूदी अपनी ज़मीन बताते हैं और वहाँ बसना चाहते हैं. हमास ने इसराइल पर शेख़ जर्रा में लोगों के ‘उत्पीड़न’ का आरोप लगाया था और रॉकेट दागे थे.इसराइल और फ़लस्तीनियों के बीच विवाद का यह मुद्दा दुनिया भर की नज़र में आ गया था.संयुक्त राष्ट्र में मानवाधिकार प्रमुख ने इसराइल से कहा था कि वो शेख़ जर्रा से लोगों को न निकाले

संयुक्त राष्ट्र मानवाधिकार संस्था ने चेताया था कि अगर इसराइल ऐसा कुछ करता है तो अंतरराष्ट्रीय क़ानून के तहत इसे ‘युद्ध अपराध’ माना जा सकता है.Faiz Abu Rmeleh/Anadolu Agency via Getty ImagesCopyright: Faiz Abu Rmeleh/Anadolu Agency via Getty Imagesक्या है headtopics.com

100 बार रिजेक्ट हुई महिला कैसे बनी 400 अरब की मालकिन? दिल्ली के प्रतिष्ठित हिस्से में रहता हूं, PM मोदी मेरे घर के सामने रहते हैं: संजय राउत उत्तर प्रदेश: मैनपुरी के स्कूल में दलित बच्चे ख़ुद बर्तन धोकर उन्हें अलग रखने को मजबूर

यरुशलम का पूराविवाद?1967 के मध्य पूर्व युद्ध के बाद इसराइल ने पूर्वी यरुशलम को नियंत्रण में ले लिया था और वो पूरे शहर को अपनी राजधानी मानता है.हालांकि अंतरराष्ट्रीय समुदाय इसका समर्थन नहीं करता. फ़लस्तीनी पूर्वी यरुशलम को भविष्य के एक आज़ाद मुल्क़ की राजधानी के तौर पर देखते हैं.

पिछले कुछ महीने पढ़े इसी को लेकर फ़लस्तीनियों और इसराइल में तनाव बढ़ा था.आरोप थे कि ज़मीन के इस हिस्से पर हक़ जताने वाले यहूदी फलस्तीनियों को बेदख़ल करने की कोशिश कर रहे हैं जिसे लेकर विवाद है.अक्टूबर 2016 में संयुक्त राष्ट्र की सांस्कृतिक शाखा यूनेस्को की कार्यकारी बोर्ड ने एक विवादित प्रस्ताव को पारित करते हुए कहा था कि यरुशलम में मौजूद ऐतिहासिक अल-अक्सा मस्जिद पर यहूदियों का कोई दावा नहीं है.

यूनेस्को की कार्यकारी समिति ने यह प्रस्ताव पास किया था.इस प्रस्ताव में कहा गया था कि अल-अक्सा मस्जिद पर मुसलमानों का अधिकार है और यहूदियों से उसका कोई ऐतिहासिक संबंध नहीं है.वहीं, यहूदी इसे टेंपल माउंट कहते रहे हैं और उनके लिए यह एक महत्वपूर्ण धार्मिक स्थल माना जाता रहा है.

और पढो: BBC News Hindi »

भक्ति और धर्म के सहारे लगेगी UP Election 2022 की नैया पार, देखें हल्ला बोल

यूपी चुनाव में अब मुश्किल से छह महीने का वक्त बचा है और सत्ता की रेस जीतने के लिए तमाम पार्टियां अपने अपने दावं चल रही हैं, चाहे वो धर्म का हो या फिर जाति विशेष का. जेपी नड्डा ने राम के नाम का मुद्दा उठाया तो आज रायबरेली में प्रियंका ने भी हनुमान मंदिर में आशीर्वाद लिया. वहीं ओवैसी भी बार बार अपना मुस्लिम प्रेम लगातार अपने वोटरों के सामने बटोर रहे हैं. समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी भी ब्राह्मणों को लुभाने की कोशिश में हैं. सवाल है कि क्या भक्ति और धर्म के सहारे यूपी में सत्ता की शक्ति हासिल करने की कोशिश है? देखें हल्ला बोल.

Rape case se naraz kyun nahi Ye GODI media nahi hai 😐 Modiji ab jyada din log burbk na banane wale hai Aap ke karnamo janta naraaz h ठीक ही तो कहा😂 पूरा देश इनसे नाराज़ है उसका क्या? Are es feku ke naraz hone se kisi ko koyee farak nahi padta pehle khud pakode talwa rahaa Tha or papdi chat pr naraz ho gayaa bhad me jaane do saale ko

जिन्हें पकोड़े तलवाने का शौक है उन्हें चांट से शिकायत कैसी! एक घंटा ३७ मिनट में दस बिल पास होना चांट बनाने जैसा ही है। Pakoda chahiye Papdi chaat nhi सच कडवा होता है। Bilkul sahi baat hai, naraz hoke muhn pe mariye resignation sir 😂

दिल्ली में फिर खुले चिड़ियाघर के दरवाजे, कोरोना की दूसरी लहर के बाद लोगों में उत्साहकोरोना की भयानक लहर से जूझने के बाद रविवार को चिड़ियाघर के दरवाज़े लोगों के लिए फिर खोल दिए गए हैं. रविवार की सुबह रिमझिम बारिश, सुहावने मौसम के बीच पेरेंट्स और बच्चों के चेहरे पर अद्भुत मुस्कान देखने को मिली. PankajJainClick AajTak सोशल मीडिया के मेरे फेसबुक, इंस्टाग्राम और ट्विटर पेज को लाइक और फॉलो करे फेसबुक - इंस्टाग्राम - ट्विटर - व्हाट्सएप्प - समीर श्रीवास्तव PankajJainClick Reservations system must be removed for India Constitution...Its injustice to general category people and students..Those who are really capable for that position but unable to get it.... dpradhanbjp narendramodi RahulGandhi AdvMamtaSharma हम_आरक्षण_के_ख़िलाफ़_है PankajJainClick ससूरी स्कूलों को कोरोना छोड़ती ही नहीं.. अनपढ़ रहेगा इंडिया तभी मोदी की सल्तनत सुरक्षित हैं पढेंगे तो पैट्रोल डीजल की कीमतों पर सवाल उठायेंगे, पेगासस का हिसाब मांगेगा इंडिया तो बंद करो शूद्रों को ज्ञान देना

‘पापड़ी चाट बनाना’ भी रोज़गार है ..🙊 What wrong did derekobrienmp say. Almost all bills are being passed without discussion. That should be more of concern. Papdi -chaat was a perfect analogy. People of India is also disappointed and fade up of PMs false commitments and jumlebaji.... तुम्हारी नाराजगी से अब घंटा फर्क नही पड़ता किसी को।

मोदी जी tmc की बात पे नाराज़ मोत होइये tmc कुई पार्टी नही जिहादि दंगाई बलर्करि का एक संगठन हे चाय पकोड़ा बोलना था MAHAMURKH, ARROGANT, USELESS PM APNI NIKAMMAPAN KI WAJAH SE AGAR KISI OPPOSITION LEADER K BAATON SE NARAZ HOTE HAI TOH KISI KO KUCH FARK NAHI PADHTA. Jise chaat papari pasand nhi, wo pakisataan jaa skta hai🤣

साहेब आम 🥭 से खुश हैं और इहरानी केले🍌 से खुश हैं बाक़ी पापड़ी चाट जाये भाड़ में 😉 Mrs.narendra modhi ji you are not sad because all party are looser I respect your Jai Hind sir

अमेरिका: पेंटागन के बाहर बस प्लेटफॉर्म के पास गोलीबारी, पूरे इलाके में लॉकडाउनअमेरिका: पेंटागन के बाहर बस प्लेटफॉर्म के पास गोलीबारी, लॉकडाउन लगाया गया America Pentagon PentagonShooting Lockdown JoeBiden

अरे भई हमारी गली में भी फेमस 'चाट पापड़ी' वाला है, उसकी भी न्यूज़ दो ना pls!? मोदी जी ने काशी में उत्खनन फिर शुरू कर दिया। Raja naraj ho gai.... Ab praja pr atyachar hoga... TMC सांसद के तंज का जवाब सरकार को fact से देना चाहिए न की इससे इनका अपमान हो गया Street dogs are in habit of barking without any shame. Modiji should not take it seriously.

नाराज होके क्या कर लोगे Naraz hoke kya ukhadlega be RSSorg BJP4India ये बंदा खुद कुछ भी बोल सकता है लेकिन दूसरे कोई कुछ बोले तो छोटी बहू की तरह नाराज हो जाता हैं। 🏹🏹🤣🤣

देश में तत्काल तीन तलाक के मामलों में आई 80 फीसद की कमी : मुख्तार अब्बास नकवीतत्काल तीन तलाक कुप्रथा के खिलाफ कानून लागू करने के दो साल पूरे होने पर रविवार को देशभर में विभिन्न संगठनों ने मुस्लिम महिला अधिकार दिवस के तौर पर मनाया और कानून बनाने के लिए केंद्र सरकार की सराहना की। naqvimukhtar लेकिन दैनिक भास्कर को टैक्स चोरी नहीं करनी चाहिए थी। naqvimukhtar स्विस बैंकों में कितना काला धन है आकड़ा नही, कोरोना से कितनी मौते हुई आकड़ा नही, विपक्ष की किसी भी बात का आकड़ा नही होता मगर बात जब अपनी पीठ थपथपाने की हो तो सारे आकड़े होते हैं झूठो के पास naqvimukhtar पंचायत सहायक भर्ती में CCC को अनिवार्य करें क्योंकि बिना कंप्यूटर के जानकार अगर भर्ती होंगे तो कैसे काम चलेगा कंप्यूटर में जो निर्पुण हो उसी का चयन करें क्योंकि आज के समय में 10th 12th के इतने नंबर आ जाते हैं की वो मेरिट में आ जाते है और योग्य का नही हो पाता है

😃😀😂🤣 👎👎👎 अफगानिस्तान ही क्यों? । सभी के हीत हें। रसीया। चीन। पाकिस्तान। ईरान। साउदी अरब। तुर्की सब अपना अधिपत्य चाहते हैं। 😢 पत्तकाल साहब शब्दों का चयन करना सही से सीख लो 'जबरदस्त' नहीं 'भयानक' SaveJauharUniversity Is that a country to live? Islamic terrorism is really distressing. Ilahi Khair 🥺🤲

Follow the twitter handles of 'All India Trinamool Congress' from all over India 👇👇👇 AITC4Assam AITC4Delhi AITC4Bihar AITC4Jharkhand AITC4Tripura AITC4UP इस्लामिक आतंकी दुनिया को शान्ती से रेहनै नही देंगे, Stone age

दिल्ली में विधायकों की सैलरी में बंपर बढ़ोतरी, 54 की जगह 90 हजार करने का प्रस्तावदिल्ली सरकार (Delhi Government) ने विधायकों की तनख्वाह में बंपर बढ़ोतरी का फैसला लिया है. नए फैसले के मुताबिक, अब दिल्ली के एक विधायक को प्रति माह 90 हज़ार रुपये मिलेंगे, जिसमें सैलरी (Salary) और भत्ता सभी शामिल होंगे. PankajJainClick Good 👏👏👏? PankajJainClick ArvindKejriwal INCIndia DelhiBJYM ZeeNews Kejriwal ji के कार्यकाल में दिल्ली में झुग्गी - झोंपड़ी का सड़क किनारे बहुत विस्तार हो गया है। MLA not work properly in their विधानसभा क्षेत्र… See- Rohini, पंजाबी BAGH MAYAPURI… All delhi look like a - कचरा घर😔 PankajJainClick लो भैया यह आम आदमी का खास पार्टी जिसका नाम है, आप पार्टी !

दुनिया के महान फुटबॉलर में से एक Neymar की देखें संघर्ष की कहानीब्राजील के फुटबॉलर नेमार दुनिया के महान खिलाड़ियों की फेहरिस्त में शामिल हैं. लेकिन नेमार का बचपन संघर्ष से भरा था. लेकिन तमाम मुश्किलों के बावजूद नेमार ने कभी हार नहीं मानी और अब नेमार पूरी दुनिया में मशहूर हैं. फुटब़ॉल की दुनिया में रोनाल्डो और मेसी के साथ अगर किसी महान खिलाड़ी का नाम गिना जाता है तो वो है नेमार. ब्राजील के इस फुटब़ॉल खिलाड़ी का पूरी दुनिया लोहा मानती है. साल 2017 में नेमार दुनिया के सबसे महंगे फुटबॉल खिलाड़ी बने थे. लेकिन नेमार के लिए ये मुकाम हासिल करना आसान नहीं था. उनकी जिंदगी संघर्ष से सफलता हासिल करने की कहानी है. देखिए.

जम्मू-कश्मीर : अब कठुआ में आईबी के पास दिखा ड्रोन, डीजीपी ने कहा- पाकिस्तान की साजिशजम्मू-कश्मीर : अब कठुआ में आईबी के पास दिखा ड्रोन, डीजीपी ने कहा- पाकिस्तान की साजिश JammuKashmir Kathua Drone Pakistan Amar Ujala सोशल मीडिया के मेरे फेसबुक, इंस्टाग्राम और ट्विटर पेज को लाइक और फॉलो करे फेसबुक - इंस्टाग्राम - ट्विटर - व्हाट्सएप्प - समीर श्रीवास्तव