Vikasdubeyencounter, Viralvideo, Vikas Dubey, Kanpur Encounter News, Gangster Vikas Dubey - उत्तरप्रदेश न्यूज़, उत्तरप्रदेश समाचार

Vikasdubeyencounter, Viralvideo

अपने ना आगे पीछे, ना कोई रोने वाला, आप का क्या होगा... जब इस गाने थिरका गैंगस्टर, सामने आया वीडियो

विकास दुबे का साथियों के साथ डांस / अपने ना आगे पीछे, ना कोई रोने वाला, आप का क्या होगा... जब इस गाने थिरका गैंगस्टर, सामने आया वीडियो #VikasDubeyEncounter #ViralVideo

11-07-2020 14:23:00

विकास दुबे का साथियों के साथ डांस / अपने ना आगे पीछे, ना कोई रोने वाला, आप का क्या होगा... जब इस गाने थिरका गैंगस्टर, सामने आया वीडियो VikasDubeyEncounter ViralVideo

अपने राइट हैंड शॉर्प शूटर अमर दुबे और अतुल के साथ डांस करता नजर आया गैंगस्टर विकास दुबेअतुल दुबे की शादी का वीडियो बताया जा रहा, तीनों का यूपी एसटीएफ एनकाउंटर कर चुकी है | Old Video Of Gangster Vikas Dubey Dance Video Goes Viral On Social Media:अपने आगे न पीछे न ऊपर नीचे कोई रोने वाला आप का क्या होगा... जब इस गाने थिरका था गैंगस्टर, सामने आया वीडियो

Xअपने राइट हैंड शॉर्प शूटर अमर दुबे और अतुल के साथ डांस करता नजर आया गैंगस्टर विकास दुबेअतुल दुबे की शादी का वीडियो बताया जा रहा, तीनों का यूपी एसटीएफ एनकाउंटर कर चुकी हैदैनिक भास्करJul 11, 2020, 04:31 PM ISTलखनऊ.कानपुर में 8 पुलिसवालों की हत्या करने वाला और गैंगस्टर विकास दुबे को यूपी एसटीएफ ने एनकाउंटर में मारा गिराया है। उसे उज्जैन में पकड़े जाने पर शुक्रवार को कानपुर लाया जा रहा था। एनकाउंटर के एक दिन बाद उसका एक नया वीडियो सामने आया है। इसमें वह अपने राइट हैंड और गैंग के शॉर्प शूटर अमर दुबे के साथ एक शादी में फिल्म लावारिस के गाने ‘अपने आगे न पीछे, न ऊपर नीचे न कोई रोने वाला, आप का क्या होगा... अपनी तो जैसे तैसे कट जाएगी, आपका क्या होगा जनाबे अली’ पर डांस कर रहा है। बताया जा रहा है कि यह वीडियो खास सहयोगी अतुल दुबे की शादी का है।

कांग्रेस प्रवक्ता राजीव त्यागी का आकस्मिक निधन रूस ने कोरोना वैक्सीन पर शक करने वालों को दिया जवाब राजीव त्यागी: कांग्रेस का 'बब्‍बर शेर', जो वाजपेयी को काला झंडा दिखाकर हुए चर्चित

डीजे पर डांस कर रहे विकास और उसके दोनों साथी ढेर हो चुकेबिकरु गांव का रहने वाला अमर दुबे रिश्ते में गैंगस्टर विकास दुबे का भतीजा था। वह उसका राइट हैंड था। कानपुर शूटआउट में विकास के अपराध में अमर और उसका सगा चाचा अतुल दुबे बराबर शरीक थे। अतुल को पुलिस ने शूटआउट की अगली सुबह 3 जुलाई को ढेर कर दिया था। जबकि 8 जुलाई की सुबह हमीरपुर में अमर दुबे को एसटीएफ ने मुठभेड़ में मार गिराया। अमर की 29 जून को शादी हुई थी।

कानपुर शूटआउट केस में अब तक क्या हुआ?2 जुलाई: विकास दुबे को गिरफ्तार करने 3 थानों की पुलिस ने बिकरू गांव में दबिश दी, विकास की गैंग ने 8 पुलिसकर्मियों की हत्या कर दी।3 जुलाई: पुलिस ने सुबह 7 बजे विकास के मामा प्रेमप्रकाश पांडे और सहयोगी अतुल दुबे का एनकाउंटर कर दिया। 20-22 नामजद समेत 60 लोगों के खिलाफ एफआईआर दर्ज की गई।

5 जुलाई: पुलिस ने विकास के नौकर और खास सहयोगी दयाशंकर उर्फ कल्लू अग्निहोत्री को घेर लिया। पुलिस की गोली लगने से दयाशंकर जख्मी हो गया। उसने खुलासा किया कि विकास ने पहले से प्लानिंग कर पुलिसकर्मियों पर हमला किया था।6 जुलाई: पुलिस ने अमर की मां क्षमा दुबे और दयाशंकर की पत्नी रेखा समेत 3 को गिरफ्तार किया। शूटआउट की घटना के वक्त पुलिस ने बदमाशों से बचने के लिए क्षमा दुबे का दरवाजा खटखटाया था, लेकिन क्षमा ने मदद करने की बजाय बदमाशों को पुलिस की लोकेशन बता दी। रेखा भी बदमाशों की मदद कर रही थी।

8 जुलाई: एसटीएफ ने विकास के करीबी अमर दुबे को मार गिराया। प्रभात मिश्रा समेत 10 बदमाशों को गिरफ्तार कर लिया।9 जुलाई: मुख्य आरोपी गैंगस्टर विकास दुबे उज्जैन से गिरफ्तार। प्रभात मिश्रा और बऊआ दुबे एनकाउंटर में मारे गए।10 जुलाई: विकास दुबे एनकाउंटर में मारा गया।

11 जुलाई: एटीएस ने विकास दुबे के दो साथी सोनू तिवारी और गुड्डन त्रिवेदी को मुंबई से गिरफ्तार किया। और पढो: Dainik Bhaskar »

क्या हुतियपन्ति हैं ये, एक अपराधी का गुणगान क्यों कर रहे हैं मीडिया वाले? क्या तुम लोग इस हीरो बनाने वाले हो? शर्म आनी चाहिए

VIDEO: विकास दुबे का खेल खत्म, स्ट्रेचर पर दिखा गैंगस्टर का खून से लथपथ शवकानपुर में आठ पुलिसकर्मियों की हत्या के आरोपी विकास दुबे के एनकाउंटर की खबर है. विकास दुबे को एसटीएफ उज्जैन से कानपुर ला रही थी. इसी दौरान काफिले में की गाड़ी आज सुबह हादसा कानपुर टोल प्लाजा से 25 किलोमीटर दूर दुर्घटनाग्रस्त हो गई. हुआ. बताया जा रहा है कि जब गाड़ी दुर्घटनाग्रस्त हुई, उस समय विकास दुबे हथियार छीनकर भाग निकला. सूत्रों का दावा है इस एनकाउंटर में गंभीर रूप से घायल हुए विकास दुबे की मौत हो गई है. फिलहाल, आधिकारिक पुष्टि नहीं हुई है. विकास दुबे को स्ट्रेचर पर हॉस्पिटल में लाया गया है. भागने की कोशिश ☺️☺️☺️☺️ सबूत खत्म कई लोगों की नोकरी बची☺️☺️ आपकी टीम तो पूरे काफिले के पीछे पीछे थी उनकी इन्वेस्टिगेशन क्या है खेल हो गया और सिस्टम का खिलवाड़ कला के धनी , कानपुर पुलिस को दंडवत प्रणाम 🙏🙏 जय हिंद जय भारत🇮🇳 Kanpur KanpurShootout KanpurEncounter

'गैंगस्टर का एनकाउंटर न्यायिक प्रक्रिया का मजाक' विकास दुबे एनकाउंटर पर पत्रकारों ने उठाए सवाल'गैंगस्टर का एनकाउंटर करके यूपी पुलिस ने न्यायिक प्रक्रिया का मजाक उड़ाया है। बदले के लिए हत्याएं माफिया करते हैं पुलिस नहीं। सबसे बुरा तो ये है कि ऐसा होने की आशंका पहसे से ही थी।'

हागिया सोफ़िया म्यूज़ियम को मस्जिद बनाने का रास्ता साफ़, कोर्ट का आया फ़ैसलाएक अदालत ने इस्तांबुल के हागिया सोफ़िया म्यूज़ियम को मस्जिद में बदलने का रास्ता साफ़ कर दिया है. He fulfilled his promise Feel proud to be a Muslim.... Kemal pasha brought a revolutionary change in turkkey by making it a modern secular nation now the present ruler is hell bent on making it old khilafat nation ....

व‍िकास दुबे जैसे गैंगस्टर का एनकाउंटर करने वाली UP STF कैसे करती है काम?श्रीप्रकाश शुक्ला से लेकर व‍िकास दुबे तक उत्तर प्रदेश के बड़े-बड़े गैंगस्टर को उनके अंजाम तक पहुंचने वाली UP STF, जिसकी टीमें दो जुलाई से ही व‍िकास दुबे को तलाश कर रही थीं. STF की टीम व‍िकास दुबे को उज्जैन से लेकर कानपुर पहुंच रही थी, जहां गाड़ी पलटने के बाद विकास ने भागने की कोशिश की. इसी दौरान एनकाउंटर हुआ और व‍िकास दुबे मारा गया. आइए जानते हैं, क्या है STF, कब हुआ था गठन, कैसे काम करती है. सरकार की हो रही आलोचना को खत्म करने के लिए आए सरदाना भक्त जी। Kya sir abhi aap log directive & Cid ka bhi kam karoge I see

उज्जैन के महाकाल मंदिर से ही पकड़ा गया था दिल्ली का कुख्यात गैंगस्टर प्रवेश मानउत्तर प्रदेश के कानपुर जिले के बिकरू गांव में दो जुलाई की रात को दबिश देने गई पुलिस की टीम पर साथियों के साथ हमला कर आठ महाकाल के दरबार में चांडाल जाएंगे तो उनका भेद खुलेगा ही

गैंगस्टर विकास दुबे के साम्राज्य की ED करेगा जांच, विदेश में भी प्रॉपर्टी होने का शकईडी ने 7 जुलाई को कानपुर पुलिस को आदेश दिया था कि वह विकास दुबे से जुड़ी संपत्तियों और आपराधिक मामलों की जानकारी एजेंसी को भिजवाएं।