Loksabhaelections 2019, Lok Sabha Election 2019, Purvanchal, Seventh Phase Voting, Rebel, Candidate, Sp, Bsp, Congress

Loksabhaelections 2019, Lok Sabha Election 2019

अंतिम चरण में पूर्वांचल की 13 सीटों में से 6 पर मैदान में हैं दलबदलू

दलबदलू के ताल ठोकने से बिगड़ेगा राजनीतिक दलों के समीकरण #LokSabhaElections2019

15.5.2019

दलबदलू के ताल ठोकने से बिगड़ेगा राजनीतिक दलों के समीकरण LokSabhaElections2019

लोकसभा चुनाव 2019 के अंतिम चरण में यूपी 13 सीटों पर 19 मई को वोटिंग है. ये सभी सीटें पूर्वांचल इलाके की हैं. यूपी की जिन 13 सीटों में से आधी सीटें ऐसी हैं जहां दलबदलू के ताल ठोकने से राजनीतिक दलों के समीकरण बिड़ते हुए नजर आ रहे हैं.

घोसी लोकसभा सीट पर भी ऐसा ही कुछ नजारा है. इस सीट पर कांग्रेस से उतरे बालकृष्ण चौहान गठबंधन के लिए सिरदर्द बन हुए हैं. बालकृष्ण चौहान ने पिछला लोकसभा चुनाव बसपा से मैदान में उतरे थे, इस बार पार्टी ने अतुल राय को प्रत्याशी बनाया है. इसी के चलते बालकृष्ण चौहान ने बसपा से बगावत कर कांग्रेस का दामन थामकर चुनावी रणभूमि में उतरने से गठबंधन की राह मुश्किलों भरी हो गई है.

ऐसे ही चंदौली लोकसभा सीट पर गठबंधन का खेल कांग्रेस उम्मीदवार शिवकन्या कुशवाहा बिगाड़ती हुई नजर आ रही हैं. शिवकन्या ने 2014 में गाजीपुर लोकसभा सीट से सपा उम्मीदवार थी, लेकिन मनोज सिन्हा से जीत नहीं सकी थी. शिवकन्या बसपा के दिग्गज नेता रहे बाबू सिंह कुशवाहा की पत्नी हैं. उनके उतरने से गठबंधन के समीकरण बिगड़ सकते हैं.

और पढो: आज तक

अभी ही पुछ लो इस बंधु से २०२४ का election किस पार्टी से लड़ेगा ? सबसे बड़े दलबदलू तो मीडिया वाले हैं। जहाँ हड्डी देखी वही लार टपकाते पहुँच गए। Kindly also coverage this news तू तो गयो

गुलज़ार की कविता 'मकां की ऊपरी मंजिल'मकां की ऊपरी मंज़िल पर अब कोई नहीं रहता वो कमरे बंद हैं कबसे जो 24 सीढियां जो उन तक पहुँचती थी, अब ऊपर नहीं जाती मकां की ऊपरी मंज़िल पर अब कोई नहीं रहता वहाँ कमरों में, इतना याद है मुझको खिलौने एक पुरानी टोकरी में भर के रखे थे बहुत से तो उठाने, फेंकने, रखने में चूरा हो गए वहाँ एक बालकनी भी थी, जहां एक बेंत का झूला लटकता था. मेरा एक दोस्त था, तोता, वो रोज़ आता था उसको एक हरी मिर्ची खिलाता था उसी के सामने एक छत थी, जहाँ पर एक मोर बैठा आसमां पर रात भर मीठे सितारे चुगता रहता था मेरे बच्चों ने वो देखा नहीं, वो नीचे की मंजिल पे रहते हैं जहाँ पर पियानो रखा है, पुराने पारसी स्टाइल का फ्रेज़र से ख़रीदा था, मगर कुछ बेसुरी आवाजें करता है के उसकी रीड्स सारी हिल गयी हैं, सुरों के ऊपर दूसरे सुर चढ़ गए हैं उसी मंज़िल पे एक पुश्तैनी बैठक थी जहाँ पुरखों की तसवीरें लटकती थी मैं सीधा करता रहता था, हवा फिर टेढा कर जाती बहू को मूछों वाले सारे पुरखे क्लीशे [Cliche] लगते थे मेरे बच्चों ने आखिर उनको कीलों से उतारा, पुराने न्यूज़ पेपर में उन्हें महफूज़ कर के रख दिया था मेरा भांजा ले जाता है फिल्मो में कभी सेट पर लगाता है, किराया मिलता है उनसे मेरी मंज़िल पे मेरे सामने मेहमानखाना है, मेरे पोते कभी अमरीका से आये तो रुकते हैं अलग साइज़ में आते हैं वो जितनी बार आते हैं, ख़ुदा जाने वही आते हैं या हर बार कोई दूसरा आता है वो एक कमरा जो पीछे की तरफ बंद है, जहाँ बत्ती नहीं जलती, वहाँ एक रोज़री रखी है, वो उससे महकता है, वहां वो दाई रहती थी कि जिसने तीनों बच्चों को बड़ा करने में अपनी उम्र दे दी थी, मरी तो मैंने दफनाया नहीं, महफूज़ करके रख दिया उसको. और उसके बाद एक दो सीढिया हैं, नीचे तहखाने में जाती हैं, जहाँ ख़ामोशी रोशन है, सुकून सोया हुआ है, बस इतनी सी पहलू में जगह रख कर, के जब मैं सीढियों से नीचे आऊँ तो उसी के पहलू में बाज़ू पे सर रख कर सो जाऊँ मकां की ऊपरी मंज़िल पर कोई नहीं रहता...

आखिर यूपी के सीएम योगी आदित्यनाथ को क्यों आता है गुस्सा?– News18 हिंदीउत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ आज-कल गुस्से में हैं. सीएम योगी के गुस्से का ताजा शिकार हुए हैं गोरखपुर बीजेपी के कार्यकर्ता. खबरों की माने तो गोरखपुर शहर में आयोजित कार्यकर्ता सम्मेलन में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ कार्यकर्ताओं से नाराज हो गए. योगी जी शहर के 115 बूथ में 15 बूथ के अध्यक्षों के सम्मेलन में नहीं आने से नाराज थे, सीएम योगी कार्यकर्ताओं से इतने नाराज थे कि उन्‍होंने कार्यकर्ताओं से यहां तक कहा कि आवाज नहीं निकलती है क्‍या. भाड़े पर आएं हैं या कार्यकर्ता ही हैं. Up yogi Ji ka apna ghar hai apno per hi gussaya ka Sakta hai सही कारण तो है

मध्य प्रदेश: क्यों आरक्षित सीटें प्रदेश में लोकसभा चुनावों के नतीजों के लिहाज़ से अहम हैंमध्य प्रदेश की कुल 29 लोकसभा सीटों में से 10 अनसूचित जाति और जनजाति के लिए आरक्षित हैं. 2014 में भाजपा ने इन सभी सीटों पर जीत दर्ज की थी. लेकिन इस बार उसकी हालत पतली है. इसलिए आरक्षित सीटों पर 75 फीसदी सांसदों के टिकट काट दिए हैं, जबकि अनारक्षित सीटों पर केवल 33 फीसदी ही टिकट काटे गए हैं. हिन्दू-मुस्लिम का चश्मा हटाकर तो देखो दोस्तों... भाजपा बिल्कुल जाहिल और बेशर्मो की पार्टी नज़र आयेगी !! 🤷

टीम इंडिया से कहीं ज्यादा फिट है वर्ल्ड कप खेलने वाली PAK क्रिकेट टीम - Sports AajTakइंग्लैंड में होने वाले आईसीसी क्रिकेट वर्ल्ड कप 2019 के लिए टीम इंडिया को सबसे प्रबल दावेदारों में से एक माना जा रहा है. टीम Lekin khelne me ishant shrma se bhi khrab khelte he uska kya😀😀 Ab yeh news Aajtak walo ne baki rah gayi thi 👊 Sabse fit imVkohli msdhoni and no other ..ok..

हरियाणाः क्यों सोनीपत, रोहतक और भिवानी में मोदी के अच्छे दिन सवालों के घेरे में हैंहरियाणाः क्यों सोनीपत, रोहतक और भिवानी में मोदी के अच्छे दिन सवालों के घेरे में हैं Haryana LoksabhaElections2019 BhupendraSinghHuda NarendraModi हरियाणा लोकसभाचुनाव2019 भूपेंद्रसिंहहुड्डा नरेंद्रमोदी Ban triple talak Vote for Modi

दंगल: ममता का गढ़, शाह की हुंकार! Dangal: War between BJP and TMC over Amit Shah's roadshow - Dangal AajTakकोलकाता में बीजेपी के अध्यक्ष अमित शाह का रोड शो चल रहा है। ममता के गढ़ में ये बीजेपी का शक्ति प्रदर्शन है. बीजेपी और टीएमसी पहले से एकदूसरे के खिलाफ आर-पार की चुनावी लड़ाई लड़ रहे हैं, एक दूसरे के खिलाफ जोरदार बयानबाजियां हुई हैं, और इस सबके बीच इस रोड शो से बीजेपी ने बंगाल में अपनी लड़ाई और तेज कर दी है. लेकिन बीजेपी के बंगाल में सेंध लगाने की कोशिश से जमीन पर कैसे हालात बन गए हैं, इसे ऐसे समझिए कि अमित शाह के आज के रोड शो से पहले हंगामा हुआ. बीजेपी का आऱोप है कि प्रशासन ने बीजेपी के पोस्टर बैनर हटाए. उधर बंगाल सरकार ने चुनाव आयोग को चिट्ठी लिखकर कहा है कि बंगाल में जरूरत से ज्यादा केंद्रीय बल तैनात कर दिए गए हैं, इससे चुनाव प्रभावित होगा. AmitShah manogyaloiwal कीचड़ ख़ुद फैलाओ, और दोष दूसरों पर लगाओ? वाह टकले जी वाह! AmitShah manogyaloiwal बंगाल कमलमय हो चुका ' 23 को महकेगा ' AmitShah manogyaloiwal कमल ना खिला तो सोचा है की आपके चैनल का क्या हाल होगा संचार आ रहा है की भाजपा की पारी १५० से नीचे पे आल आउट हो ख़त्म हो रही है 😁😁

लोकसभा चुनाव 2019 : क्या तस्वीर हुई साफ? छठे चरण के मतदान की 11 बड़ी बातेंलोकसभा चुनाव के छठे चरण में रविवार को पश्चिम बंगाल में भाजपा उम्मीदवार भारती घोष पर हमला किया गया और उत्तरप्रदेश में भगवा दल के एक विधायक ने एक चुनाव अधिकारी की कथित तौर पर पिटाई की. इस चरण में राष्ट्रीय राजधानी दिल्ली और छह राज्यों की 59 सीटों पर 63 फीसदी से अधिक वोट पड़े. इस चरण में उत्तरप्रदेश में 14 सीटों, हरियाणा की दस सीटों, बिहार, मध्यप्रदेश और पश्चिम बंगाल में आठ - आठ सीटों, झारखंड में चार सीटों और दिल्ली में सात सीटों पर वोट डाले गए. दिल्ली में वोट डालने वाली प्रमुख हस्तियों में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, संप्रग अध्यक्ष सोनिया गांधी, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और विदेश मंत्री सुषमा स्वराज शामिल हैं. आज के मतदान के साथ ही 543 लोकसभा क्षेत्रों में से करीब 89 फीसदी सीटों पर चुनाव संपन्न हो गए जबकि शेष 59 सीटों पर 19 मई को चुनाव होंगे. चुनाव आयोग ने विभिन्न राज्यों और दिल्ली में 63.48 फीसदी मतदान की घोषणा की, वहीं पश्चिम बंगाल में 80 फीसदी से अधिक वोट पड़े जबकि राष्ट्रीय राजधानी में महज 60.21 फीसदी मतदान हुआ. 2014 में यह 63.37 प्रतिशत था. चुनाव आयोग ने कहा कि मतदान प्रतिशत रात नौ बजे दर्ज किया गया. यह आंकड़ा अंतिम नहीं है और इसमें वृद्धि हो सकती है क्योंकि कुछ स्थानों पर मतदान चल रहा है. खास बात यह है कि अब सिर्फ अंतिम चरण का चुनाव ही बचा है लेकिन अभी तक कोई भी दावे से नहीं कह सकता है कि केंद्र में किसकी सरकार बनने वाली है. हालांकि नेताओं को अपने-अपने दावे जरूर हैं. चुनाव की स्थिति स्पष्ट है बोया पेड़ बाबुल का तो आम कहां से खाए जो जग दी आपने वही तो जग लौट आई

NDA को 40 सीटें मिले तो आश्चर्य नहीं, एक-दूसरे को ही हराने में जुटे महागठबंधन के नेता: मोदी– News18 हिंदीबिहार के उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने विपक्ष पर हमला करते हुए कहा कि बिहार में 10 सीटें ऐसी हैं, जहां पर महागठबंधन के नेता ही एक-दूसरे को हराने में जुटे हुए हैं. सुशील मोदी शुक्रवार को गोपालगंज के पोस्ट ऑफिस चौक स्थित एक होटल में पत्रकारों को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने कहा कि राहुल गांधी के मंच पर एक बार ही आरजेडी के नेता गए हैं. आरा के अंदर रालोसपा के उपेंद्र कुशवाहा ने चुनाव प्रचार करने से मना कर दिया. इस तरह से विपक्ष पूरी तरह से बिखरा हुआ है. SushilModi INCIndia जनता सांसद चुनती है प्रधानमंत्री नहीं लोकतंत्र को तुम क्या जानो SushilModi INCIndia INCIndia जो लिया उच्च कोटि का था जो भी था🤣🤣🤣

क्या धोनी से पार पा पाएंगे ऋषभ पंत, इन 5 खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर भी रहेगी नजरआईपीएल के दूसरे क्वालिफायर मुकाबले में बेहतरीन फॉर्म में चल रही दिल्ली कैपिटल्स का मुकाबला शुक्रवार को चेन्नई सुपरकिंग्स से होगा। जो टीम इस मुकाबले को जीतेगी, फाइनल में उसका सामना मुंबई इंडियंस से होगा। इस मैच में चेन्नई के कप्तान महेंद्र सिंह धोनी और दिल्ली के विकेटकीपर ऋषभ पंत के बीच कड़ा मुकाबला होने की उम्मीद है। ऋषभ पं‍त ने पिछले मैच में दिल्ली को जीत दिलाने में बड़ी महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी। वहीं धोनी भी इस समय बेहतरीन लय में हैं। इन दोनों के साथ ही इन 5 खिलाड़ियों के प्रदर्शन पर भी सभी की नजरें होगी...

आधी रोटी खाएंगे, इंदिरा को जिताएंगे...से सूबे के CM तक, जीतन राम मांझी में हैं ये खासियत– News18 हिंदीबिहार के पूर्व सीएम जीतन राम मांझी बिहार में महादलित राजनीति का बड़ा चेहरा हैं. उनकी छवि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार को सीधे टक्कर देने वाले नेताओं की भी है. कभी मोदी मुरीद रहे मांझी अब लालू के करीब हैं. इस लोकसभा चुनाव में बिहार के गया लोकसभा सीट से महागठबंधन की ओर से उम्मीदवार हैं. गया जिले के स्थानीय होने और बीजेपी के हरि मांझी की जगह जेडीयू से विजय मांझी से सीधा मुकाबला होने की वजह से वे सुर्खियों में हैं. Haha। Pure election me जोकर पर अभी प्रकाश डाले हो। आज के भ्रष्ट,कमीने और सत्तालोभी नेताओ का कोई स्तर है ही कहाँ? अवसरवादी राजनीती का प्रतीक जीतन राम मांझी। सिर्फ मलाई खाने का शौकीन ये अवसरवादी नेता राजनीती स्तर को नीचे के पायदान पर ले गया। जातिवाद की राजनीति ही इन सब नेताओं का राजनितिक भविष्य है।

भोजपुरी स्टार निरहुआ 1 फिल्म के लिए लेते हैं इतनी फीस, अब तक की 45 फिल्में| Lok sabha elections 2019 dinesh lal yadav nirahua movie fees azamgarh akhilesh yadav nodrk– News18 Hindiभोजपुरी के सुपरस्टार दिनेश लाल यादव निरहुआ इन दिनों राजनीतिक पारी की वजह से चर्चा में हैं. निरहुआ को बीजेपी ने आजमगढ़ से लोकसभा प्रत्याशी बनाया है. वह यूपी के पूर्व सीएम और सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव को टक्कर देंगे. भोजपुरी फिल्मों के निरहुआ सबसे ज्यादा फील लेने वाले भोजपुरी कलाकारों में गिने जाते हैं. वह भोजपुरी फिल्मों के सबसे पॉपुलर कलाकारों में से एक हैं जो कि एक्टिंग के साथ-साथ सिंगिंग भी करते हैं. मुकाबला एकतरफा है कोई टक्कर नहीं है yadavakhilesh जी की जीत सुनिश्चित है और जीत अप्रत्याशित होगी भारत की सबसे बड़ी जीत आजमगढ़ से होने जा रही है ये निरहुवा खुद को RandeepHooda रहा है क्या yadavakhilesh के सामने तो iamsunnydeol भी फेल है तुम लोग सक्रीन हीरो हो अखिलेश लोगों के दिलों के हीरो हैं!

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

15 मई 2019, बुधवार समाचार

पिछली खबर

सनी देओल के लिए कैंपेन कर रहे हैं बॉबी-धर्मेंद्र, कहां हैं हेमा मालिनी? - Entertainment AajTak

अगली खबर

MP Board Result 2019: जारी हुआ 10वीं और 12वीं का रिजल्ट, यहां करें चेक