Coronavirusoutbreak, Donaldtrump, विश्व स्वास्थ्य संगठन, डोनाल्ड ट्रंप, डब्लूएचओ की फंडिंग, World Health Organization Funding, Who Funding From Us, Who Funding From China, Who Funding, Us Who Relations, Donald Trump On Who, America News, America News İn Hindi, America Latest News, America Headlines, अमेरिका समाचार

Coronavirusoutbreak, Donaldtrump

WHO Funding: क्या कंगाल हो जाएगा WHO, जानिए कितना फंड देता है अमेरिका

क्या कंगाल हो जाएगा @WHO, जानिए कितना फंड देता है अमेरिका #CoronavirusOutbreak #DonaldTrump

30-05-2020 05:49:00

क्या कंगाल हो जाएगा WHO, जानिए कितना फंड देता है अमेरिका CoronavirusOutbreak DonaldTrump

अमेरिका न्यूज़: Donald Trump WHO डोनाल्ड ट्रंप ने ऐलान किया है कि WHO से अमेरिका (US ends who relations) ने अपने सारे संबंध तोड़ लिए हैं। ट्रंप ने संगठन को पूरी तरह से चीन (China) के नियंत्रण में बताया है। Coronavirus कोरोना महामारी (Covid-19 Outbreak) को लेकर ट्रंप ने इससे पहले भी WHO को कई बार घेरा था। जानिए अमेरिका के विश्व स्वास्थ्य संगठन से अलग हो जाने पर UN की इस वैश्विक संस्था पर क्या असर पड़ेगा...

हाइलाइट्सअमेरिका ने डब्ल्यूएचओ से संबंध तोड़ने का किया ऐलान, ट्रंप ने बताया चीन परस्तराष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने मीडिया से बातचीत में की घोषणा, अब कोई फंडिंग नहीं देगा अमेरिकाडब्लूएचओ को सबसे ज्यादा फंडिंग देता है अमेरिकी, आर्थिक संकट में फंस सकता है विश्व स्वास्थ्य संगठन

PM CARES फंड की जांच नहीं करेगी लोक लेखा समिति, BJP ने रोका रास्ता वॉरेन बफे से ज्यादा दौलतमंद हुए मुकेश अंबानी, Jio में निवेश का मिला फायदा ये हैं उत्तर प्रदेश के टॉप 5 अपराधी, ऑपरेशन क्लीन में जुटी योगी सरकार

वाशिंगटनविश्व स्वास्थ्य संगठनसे अमेरिका के अलग होने के ऐलान के बाद से ही संयुक्त राष्ट्र की इस संस्था के कंगाल होने की कयासबाजियां शुरू हो गई हैं। बता दें कि इस संस्था को सबसे ज्यादा फंड अमेरिका से ही मिलता था। राष्ट्रपतिडोनाल्ड ट्रंपकई बार डब्लूएचओ को सार्वजनिक तौर पर खरी-खरी सुना चुके हैं। इतना ही नहीं, उन्होंने यह भी आरोप लगाया कि विश्व स्वास्थ्य संगठन चीन के हित में फैसले ले रहा है।

'कोरोना के कहर के लिए चीन-WHO दोषी'ट्रंप ने WHO और चीन को दुनियाभर में कोरोना से हुई मौतों का जिम्मेदार ठहराया। ट्रंप ने कहा, 'सालाना सिर्फ 40 मिलियन डॉलर (4 करोड़ डॉलर) की मदद देने के बावजूद चीन का WHO पर पूरी तरह नियंत्रण है। दूसरी ओर अमेरिका इसके मुकाबले सालाना 45 करोड़ डॉलर की मदद दे रहा था। चूंकि वे जरूरी सुधार करने में नाकाम रहे हैं, इसलिए आज से हम WHO से अपना संबंध खत्म करने जा रहे हैं।'

चीन के प्रयासों से टैड्रोस बने WHO चीफविश्व स्वास्थ्य संगठन के प्रमुख टैड्रोस ऐडरेनॉम गैबरेयेसस ने 2017 में डब्लूएचओ की कमान संभाली थी। कहा जाता है कि उन्हें यह पद चीन के पैरवी करने के कारण मिला था। इसलिए वह चीन परस्त फैसले ले रहे हैं। बता दें कि टैड्रोस पहले अफ्रीकी हैं जो WHO के चीफ बने हैं।

क्या कंगाल हो जाएगा WHO?अब जब अमेरिका ने यूएन की इस वैश्विक संस्था से अपने सभी संबंधों को खत्म कर दिया है तो कयास यह लगाए जा रहे हैं कि क्या WHO कंगाल हो जाएगा। जानिए विश्व स्वास्थ्य संगठन के बजट में अमेरिका का कितना हिस्सा होता है और इसका संगठन के ऊपर क्या प्रभाव पड़ेगा?

ट्रंप ने ट्वीट किया China, एक शब्द में यूं मिला जवाबWHO को कैसे मिलता है फंडविश्व स्वास्थ्य संगठन को फंड दो तरीकों से मिलता है, पहला- असेस्ड कंट्रीब्यूशन और दूसरा- वॉलेंटरी कंट्रीब्यूशन। इन दोनों तरीकों से मिले फंड से ही विश्व स्वास्थ्य संगठन का खर्च चलता है।

असेस्ड कंट्रीब्यूशनइस फंड को विश्व स्वास्थ्य संगठन के सदस्य देश देते हैं। यह पहले से ही निश्चित होता है कि कौन सा देश कितना फंड देगा। इस फंड का निर्धारण उस देश की अर्थव्यवस्था और जनसंख्या के आंकड़ों के जरिए किया जाता है। असेस्ड कंट्रीब्यूशन के जरिए ही विश्व स्वास्थ्य संगठन को सबसे ज्यादा फंडिंग मिलती है। इससे WHO अपने खर्च और प्रोग्राम की फंडिंग करता है।

Video: सोमनाथ मंदिर में सीएम रुपाणी की पूजा, ध्वजपूजन भी किया Coronavirus पर WHO का बयान- कोरोना पर कर सकते हैं काबू, मुंबई के धारावी का दिया उदाहरण CISCE रिजल्ट: अखिलेश यादव की बेटी ने 12वीं में हासिल किए 98 प्रतिशत अंक

कोरोना से अमेरिका में 1 लाख से ज्यादा मौत, चीन पर फिर बरसे ट्रंपवॉलेंटरी कंट्रीब्यूशनयह फंड एक निश्चित प्रोग्राम को लेकर दिए जाते हैं। विश्व स्वास्थ्य संगठन इस फंड का इस्तेमाल केवल उन्हीं काम में करता है जिसके नाम पर यह फंड मिला होता है। जैसे कोरोना वायरस की दवा बनाने के लिए WHO को अगर किसी संस्था या देश से फंड मिला है तो वह केवल इस वैक्सीन को बनाने में ही इस फंड को खर्च कर सकता है।

विश्व स्वास्थ्य संगठन और अमेरिकी फंडिंगविश्व स्वास्थ्य संगठन को दुनिया में सबसे ज्यादा फंडिंग अमेरिका से मिलती है। अमेरिका इस संगठन को असेस्ड और वॉलेंटरी दोनों प्रकार के फंड उपलब्ध करवाता है। रिपोर्ट के अनुसार, WHO के असेस्ड फंड का 22 फीसदी हिस्सा अकेले अमेरिका देता है। इसी से अंदाजा लगाया जा सकता है कि अमेरिका के विश्व स्वास्थ्य संगठन से अपने संबंध तोड़ने पर यह संस्था आर्थिक रूप से मुश्किल में फंस सकती है।

Web Titlewho funding form us, know which countries fund how much to who और पढो: NBT Hindi News »

WHO चीन ही विश्व मे करोना वायरस फैलाने का एक मात्र दोषी देश है, उसे ही अमरीका द्वारा फंडिंग से हाथ खीच लेने का फंड पूरा करना चाहिये, यानि चीन को अब डब्ल्यू.एच.ओ. को 85 मिलियन डॉलर की मदद देना चाहिये . WHO यदि यह निष्पक्ष नहीं है तो इसके बने रहने का कोई औचित्य नहीं है।

भारत और अमेरिका में हवाई यात्रा करने पर क्या-क्या है गाइडलाइंस?भारत में सरकार ने राज्य सरकारों को यात्रा के बाद क्वारंटीन के नियम बनाने को कहा है जबकि अमेरिका में ऐसा प्रावधान नहीं

ईविद्या योजना: क्या हर स्कूली बच्चे को मिल सकेगा इसका फ़ायदासरकार ऑनलाइन पढ़ाई को बढ़ावा दे रही है लेकिन क्या ये कारगर हो पाएगी. ये सब क्या होता है? चुनाव 2024 में है तब उपयोग होगा सब शब्द । सब का साथ.....। अभी केवल अमीर का साथ ...… सरकार को सभी स्कूल बंद कर देने चाहिये जब ईविद्या को बढ़ावा देना है,स्कूलों की जरूरत ही नहीं|ना एडमिशन की मारामारी,ना रिश्वतखोरी,ना कालाबाज़ारी|भ्रष्ट्राचारी तंत्र समाप्त हर एक बराबर, सबकी फीस बराबर कर दो डाटासस्ता करके ना टेलीकॉम कम्पनियाँ की मनमानी ना बने बीमारी| Amir padhege Garib dekhege.

लॉकडाउन 5.0 में कितनी बदलेगी आपकी जिंदगी? कहां छूट और कहां रह सकती है रोकलॉकडाउन 4.0 अगले तीन दिन में खत्म हो रहा है। ऐसे में यह अटकलें लगाई जा रही हैं कि क्या एक जून से लॉकडाउन 5.0 की शुरुआत हो जाएगी? Jab ISS lockdown me 69000 bharti ho sakti Hai to ye government ANTARJANPADEEY TRANSFER PROCEDURE ALMOST COMPLETE HAI LIST NIKAALE 🙏GHAR PARIWAAR SE SAIKDO KILOMETRES DOOR RAHNA BAHAUT BADI SAZAA HAI🙏69000SE PEHLE ANTARJANPADEEY TRANSFER KAR DE GOVERNMENT Teachers Bahaut dukhi niraash hain government Hamaare transfer nahi kar rahi Hai baaki saare kaam ho sakte hain bus transfer nahi kar rahi government 69000ke PEHLE ANTARJANPADEEY TRANSFER KAR DE GOVERNMENT Even whole picture is not decided by the director, how would audiences know!

आर्थिक राशिफल 28 मई 2020: सिंह राशि वालों को होगा धन लाभ, कम होंगे खर्चेआर्थिक राशिफल 28 मई 2020: सिंह राशि वालों का पूरा ध्यान धन की तरफ रहेगा. आपके कार्यों को सराहा जाएगा. आप धन लाभ प्राप्त करेंगे. आज के दिन आपके ख़र्चे भी पहले से कम रहेंगे.

मोदी सरकार में मध्यम वर्ग क्या ताली और थाली ही बजाएगा?मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का एक साल पूरा हो चुका है. इन कुल छह सालों में मध्यम वर्ग को क्या हासिल हुआ है? Modi government want this very much 😡😡😡😡😡😡 No BBCWorld BBCNewsAsia घंटा बजाने से किसने रोका है धुंआधाड़ बजाईये सुबह शाम

कोरोना: गांजे से क्या सचमुच संक्रमण का इलाज हो सकता है?-रियलिटी चेककनाडा, इसराइल और ब्रिटेन समेत कई देशों में ये पता लगाने के लिए ट्रायल चल रहा है कि क्या गांजा कोरोना वायरस संक्रमण के इलाज में फ़ायदेमंद हो सकता है. Jo man main aaue bak do ये जरूर किसी गंजहे की अफवाह है ?

विकास दुबे की मुठभेड़ में मौत, कानपुर लाते समय गाड़ी पलटने पर की थी भागने की कोशिशः उत्तर प्रदेश पुलिस न टायरों के निशान-न शीशों को नुकसान... कैसे पलटी विकास दुबे की गाड़ी? विकास दुबे: 'मुठभेड़' में इतने इत्तेफ़ाक़! ऐसा कैसे? विकास दुबे 'मुठभेड़': उत्तर प्रदेश पुलिस की 'ठोक देंगे' परंपरा में क़ानून की जगह कहाँ है? विकास दुबेः गिरफ्तारी हुई या आत्मसमर्पण, अखिलेश-प्रियंका ने पूछे सवाल VIDEO: आजतक की टीम से STF की बदसलूकी, कार से निकालकर फेंकी चाबी VIDEO: एनकाउंटर में विकास दुबे के मारे जाने की खबर कार नहीं पलटी, सरकार पलटने से बचाई गयी है: अखिलेश 12 घंटे तक कैमरे की जद में था STF का काफिला, 15 मिनट के लिए रोका और विकास दुबे खल्लास! विकास दुबे के अंतिम संस्कार के दौरान भड़की पत्नी रिचा, कहा- सबक जरूर सिखाऊंगी आज तक @aajtak