VIDEO: मजदूर खो रहे आपा, कहीं मारपीट, कहीं ट्रेन रुकने पर बवाल

जगह-जगह से मजदूरों में लड़ाई झगड़े की तस्वीरें आ रही सामने

23-05-2020 09:38:00

जगह-जगह से मजदूरों में लड़ाई झगड़े की तस्वीरें आ रही सामने

लॉकडाउन में फंसे मजदूरों को लंबी मुसीबतों के बाद बस और ट्रेन का सहारा तो मिल गया है लेकिन परेशानी का लंबा दौर उनके जेहन पर अब भी सवार है. इसी के चलते जगह मजदूरों में लड़ाई झगड़े के तस्वीरे आ रही हैं. देखिए ये रिपोर्ट.

और पढो: आज तक »

Tum kebal sarkar ki tarif karo Majdur ka chinta aaj tak Wale ko kaise ane lag gaya Modi ji ke achche din Zeejamat tak corona ne per pasardye hen dekhte hen ab kiska number aae, nafrati chintuon ko kudrat bardasht krne k mood me nai he shayad Media k bachon pr bhi mazduron jesi aafat aae aur govt. Media ki tarah bartav kare

Abhi to ye angarai hai Aage puri larai hai. Is bar saheb ko pata chal jayega Pariyog ka natija kitna khatarnak hota hai. Bjp balo desh chorne ki tayyar kar lo. एक भी बंगलादेशी घुसपेठिया या रोहिग्या पैदल चलकर बंगलादेश जाता दिखा क्या दिल्ली से..? या किसी भी राज्य से....? Its called Praja Bidroh when King don't care about the welfare of poor workers.

वो थोड़ी आप की तरह पागल हे के ताली ओर थाली बजाली बहुत होगया। इनको पता है ताली और थाली से पेट नहीं भरता क्या यह देश प्रेम हैं। देश रहे न रहे किसको इसकी चिन्ता , बस मैं रहूँ मैं रहूँ। कहीं स्वाभिमान कहीं राजनीति तो कहीं मजबूरी , देखो कहीं इस उन्माद में मेरा देश न पीछे छूट जाए। यूँही पागलपन बिखरा तो मेरा भारत जल जाएगा। देशप्रेमी का प्रेम कहा है जो भारत माँ को सींचा करता है।क्या यही..

GOBACKNRI ये सब VIP NRI लोगों की देन है Sarkar so rhi hai हर जगह ट्रेनों को घंटो रोक रोक कर चलाया जा रहा है।रेल मंत्री ने जवाब देना चाहिए।गरीब पहले ही सरकारों से छला जा रहा है।अब रेलवे भी पीछे नही है। इस कोरॉना काल के समय में जो राजनीती चरम सीमा पर है इस बात को लेकर बड़ा दुख हो रहा है कोई वीडियो दिखा कर कोई बस भड़ा वसूल कर कोई घर पोहचाने की बात कर अपनी अपनी राजनीति कर रहा है और बिचारा आम इंसान जो बिना कोई शर्त आपको वोट देते है वो आज अपने ही देश में रिफ्यूजी की तरह भटक रहा है

Sir. Bara dukh hota hai jab kisi ko taklif hota hai Bare log ghar me aor rod par majdur hota hai Welldon they are doing well if the government gonna failure they shout leave the chairs. Dieing people's on road why the fucking leaders are in this country and made government with a lots of promises. And the people started beating media it's also good because aur media shit

सरकार पुछना मत किर्तन करो बैठ कर स्टुडियो मे मरो सब स्टुडियो से निकल कर मज़दूरों के पास चतुकारिता कीजिए न .... तबियत से कूट देंगे अभी तो शुरुआत है साहब, आगे आगे देखिए होता है क्या। देर से लिया गया फैसला और बिना तैयारी के साथ किया गया लॉक डाउन , मजदूरों के लिए अभिशाप साबित हो रहा है। boycottgodimedia IndiaTVHindi news24tvchannel ashutosh83B indiatvnews ArvindKejriwal

सरकार क्या कर रही है सिर्फ तमाशा देखने के लिए है इतनी गर्मी है की कई news channel के AC room मे बैठे लोग लडाई कर रहें हैं ये तो फिर भी गर्मी में तपते मजदूर हैं.. पटवारी वेटिंग बहुत बड़ा घोटाला हुआ है मध्यप्रदेश में इनको भड़काने वाला कोई और नही। सड़क छाप कुछ V.I.P लोग है। Ye majdur nahi hai majdur ke bhesh me aur koi galat fayda utha raha hai sarkar ko badnaam karne ke liye.. Bhade ki bheed

इस चैनल को मजदूरों की बेबसी नही दिखती है बस केवल सरकार की गुलामी करनी होती है। इस मुश्किल वक़्त में लोगों की सेवा ही मानवता का परिचय है 😢😢😢😢 पटवारी वेटिंग का मुद्दा उठाईये Hmm.. Pata nahi kyu.. Ye Congress govt bhi na.. सरकार क्या कर रही है अंदर बैठकर नाच नाच रही है क्या

अमीरों के लिए हवाई जहाज तो गरीबों के लिए ट्रेन क्यों नहीं: संजय सिंहआम आदमी पार्टी के राज्यसभा सांसद संजय सिंह ने कहा कि केंद्र सरकार ने देश में लॉकडाउन लगाने से पहले राज्यों से कोई अनुमति SanjayAzadSln AamAadmiParty Sakshat bhagwan ho aap SanjayAzadSln AamAadmiParty Kyonki tum ameer ho garib nahi. SanjayAzadSln AamAadmiParty Jail warder and fireman merit base Bharti 2016 Puri karo manniya shri yogi Adityanath ji

श्रमिक ट्रेन में कई महिलाएं बनीं मां, ट्रेन के कोच में खिलीं किलकारियांएक से 21 मई तक श्रमिक ट्रेन में कम से कम 24 महिलाओं ने सफर किया है। भारतीय रेल के अधिकारियों ने बताया कि इन 24 महिलाओं में Kya baat hai, train me Maternity coach hona chae , डर तोह इस बात का हैं कहीं ये किलकारियां मुरझा ना जाए। मौजूदा हालत को देखते हुए गरीब का भविष्य सिर्फ अंधकार में डूबा हुआ है । ना रोजगार है, ना शिक्षा और देश की अर्थव्यवस्था ध्वस्त होते जा रही है । हर तरफ गरीबी छाई हुई है । इन 6 वर्षों में देश का काया पलट कर दिया इस सरकार ने ! 🙏🙏🙏🙏❤️❤️❤️

श्रमिक ट्रेन में कई महिलाएं बनी मां, ट्रेन के कोच में गूंजीं किलकारियांएक से 21 मई तक श्रमिक ट्रेन में कम से कम 24 महिलाओं ने सफर किया है। भारतीय रेल के अधिकारियों ने बताया कि इन 24 महिलाओं में Her jagah per bacche paida horhe h .footpath ,train ,bus ,car, sadak esi koi jagah nhi jahaper indian m bacche paida nhi horhe h .carona itna khatarnak nhi jitna y bacche paida hone ki raftar. God bless you

हवाई यात्रा के लिए Aarogya Setu ऐप अनिवार्य, 'ग्रीन' स्टेटस होने पर ही एयरपोर्ट पर एंट्रीआपको बता दें, घरेलू उड़ान 25 मई से दोबारा शुरू हो रही हैं, जिसका ऐलान सिविल एविएशन मिनिस्ट्री ने किया। ऐप के अलावा हवाई यात्रा करने से पहले मास्क, ग्लव्स और यात्री की थर्मल स्क्रीनिंग भी अनिवार्य होगी। ab yh kiya hrami pana h 😠😠😠😠 Lekin plane ke andar koi social distancing nahi middle seat vacant nahi Pahle air fare fix karo, badhna nahi chahiye

लिपुलेख विवाद पर भारत के बारे में पर क्या लिख रहा है नेपाल का मीडियानेपाल ने अपने नए नक़्शे में लिपुलेख, लिम्पियाधुरा और कालापानी को नेपाल की सीमा में दिखाया है. गालियां दे रहा होगा और क्या भारत एक उदार देश है। यह मुद्दा शांति और अहिंसा से सुलझा लिया जायेगा। बाकी होइहे वही जो राम रची राखा। PMOIndia you are being blessed by Pashupati Nath & Mukti Nath.Stopped border encroachment,BIG Shame in Asia.We are not inferior in military might too and are inborn GORKHAs. Hope, you believe on mutual respect. We respect Indian without her hegemony.Backoffindian

ई-साहित्य आजतक के मंच पर जावेद अख्तर, लॉकडाउन से लेकर निजी जिंदगी पर खुलकर बोलेआजतक पर 22 मई से 24 मई तक चलने वाले e-साहित्य आजतक का आगाज हो चुका है. इस कार्यक्रम में प्रख्यात लेखक, गीतकार, शायर, चिंतक जावेद अख़्तर ने कोरोना वारियर्स को सलाम करते हुए कहा कि इस कठ‍िन समय समाज अपनी भूमिका निभा रहा है. आज इंसानियत काफी कुछ कर रही है. इस समय हमें घबराने की जरूरत नहीं है. अपने बेबाक बोल के लिए मशहूर जावेद अख़्तर ने अपने अनुभवों को साझा करते हुए बताया कि मैंने भी संघर्ष का दौर देखा है. उनका बचपन शेरो-शायरी के बीच बीता है. उन्हें अपने ज्यादातर साहित्य लेखन याद है. उन्होंने बताया कि फिल्म इंडस्ट्री में मैं निर्देशक बनने आया था. लेकिन वहां असिस्टेंट का काम करते हुए मेरे लेखन की तारीफ होने लगी और ऐसी स्थितियां बनी कि मैं डायरेक्टर बन गया. नही जानना, कितने ही बड़े ज्ञानी और सफल इंसान हों भले ही। परंतु बयान इनके सदैव अतरंगी ही रहे हैं। पहले से ही पलटीबाज था मतलब ? चीटर था सलीम खान जिसने इसे सिखाया था उसी को धोखा दिया ये देश का गद्दार

केंद्रीय मंत्री सदानंद गौड़ा ने क्वारंटाइन से किया किनारा, सफाई में बोले- छूट वाली कैटेगरी में आता हूं योगी आदित्यनाथ का वो बयान जिस पर मच रहा है सियासी घमासान दिल्ली के तुगलकाबाद में भीषण आग से 1500 झुग्गियां जलकर राख, सैकड़ों लोग बेघर आयुष मंत्रालय पर अखिलेश यादव का तंज- कोरोना से बचाता है काढ़ा और च्यवनप्राश, तो मुफ्त बांटे सरकार प्रियंका गांधी ने CM योगी आदित्यनाथ का Video शेयर कर पूछा- क्या यूपी में कोरोना वायरस के 10 लाख से ज्यादा मरीज हैं कांग्रेस के संजय निरुपम ने महाराष्‍ट्र में कोरोना संकट के लिए सीएम उद्धव ठाकरे को दोषी ठहराया, लगाया यह आरोप.. राहुल गांधी का वार- पीएम ने पहले फ्रंटफुट पर खेला, लेकिन अब बैकफुट पर हैं कोरोना अपटडेटः भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या डेढ़ लाख के क़रीब, अकेले महाराष्ट्र में 52 हज़ार से ज़्यादा मामले - BBC Hindi Ravish Kumars prime time: How much attention does the minister have on facilities in trains? - रवीश कुमार का प्राइम टाइम: ट्रेनों में सुविधाओं पर मंत्रीजी का कितना ध्यान? वीडियो - हिन्दी न्यूज़ वीडियो एनडीटीवी ख़बर प्रवासी मजदूरों के मामले पर यूपी के CM योगी के बयान पर MNS प्रमुख राज ठाकरे का पलटवार, कही यह बात... प्रियंका गांधी और कांग्रेस पर क्यों बरस रही हैं BSP सुप्रीमो मायावती, बीते साल फरवरी में ऐसा क्या हुआ था