Uttarpradesh, Coronavirus, Uttar Pradesh, Gonda, 5 Members From The Same Family Died, Coronavirus Gonda, Coronavirus İn Uttar Pradesh

Uttarpradesh, Coronavirus

UP: 22 दिन में परिवार के 5 लोगों की मौत, परिजन तब भी नहीं मान रहे कि उन्हें कोरोना था

एक ही परिवार के 5 लोगों की मौत से गांव में दहशत #UttarPradesh #coronavirus (@abhishek6164)

05-05-2021 20:46:00

एक ही परिवार के 5 लोगों की मौत से गांव में दहशत UttarPradesh coronavirus (abhishek6164)

यूपी के गोंडा के चकरौत गांव का है, जहां अप्रैल का महीना अंजनी श्रीवास्तव परिवार पर कहर बनकर टूट पड़ा. सिर्फ 5 दिन में ही परिवार के पांच सदस्यों की मौत हो गई. उसके बावजूद परिजन ये मानने को तैयार नहीं हैं कि उनकी मौत कोरोना की वजह से हुई. जबकि लक्षण उनमें कोरोना के ही थे.

स्टोरी हाइलाइट्सअप्रैल के 22 दिनों में 5 लोगों की मौतमासूमों ने मां-बाप और भाई खो दियाकोरोना अब गांव की तरफ अपने पांव तेजी से पसार रहा है और कम जानकारी और मेडिकल सुविधाओं के अभाव में लोग गांव में दम तोड़ रहे हैं. कोई करोना को मानने को तैयार ही नहीं है. 5 मौतों के बाद भी इस श्रीवास्तव परिवार के लोग नहीं मान रहे कि इस परिवार में किसी को कोरोना हुआ भी था. कुछ लोगों ने एंटीजन टेस्ट कराया जो निगेटिव आया तो परिवार का कहना है कि ये प्राकृतिक मौत है. हालांकि, उनमें सारे लक्षण कोरोना के ही थे.

कैटरीना कैफ और विक्की कौशल की 'शाही शादी' की तैयारी में जुटा राजस्थान - BBC News हिंदी पंजाबी गायक सिद्धू मूसेवाला हुए कांग्रेस में शामिल, लड़ सकते हैं विधानसभा चुनाव पाकिस्तान में श्रीलंकाई नागरिक को भीड़ ने जलाया, इस्लाम की कथित तौहीन का मामला - BBC News हिंदी

घर के ड्योढ़ी पर अमन और अदिति बैठे हैं. गुमसुम बैठे इन दोनों भाई बहनों के आंखों के आंसू सूख चुके हैं क्योंकि इनके परिवार में अब कोई बचा ही नहीं. अदिति और अमन के भाई सौरभ की सबसे पहले मौत हुई और उसके बाद मां और पिता ने भी दम तोड़ दिया. 11 साल की अदिति उर्फ कली और 16 साल का अमन देखते-देखते अनाथ हो गए. माता-पिता का साया सिर से उठ गया और बड़ा भाई भी चला गया. इन दोनों का दर्द यहीं नहीं खत्म होता. भाई और मां-बाप के पहले चाचा और दादी ने भी दम तोड़ दिया था और ये सब हुआ 3 हफ्तों के भीतर.

मामला यूपी के गोंडा के चकरौत गांव का है, जहां अप्रैल का महीना अंजनी श्रीवास्तव परिवार पर कहर बनकर टूट पड़ा. सिर्फ 5 दिन में ही परिवार के पांच सदस्यों की मौत हो गई. अंजनी के मुताबिक, उनके बड़े भाई हनुमान प्रसाद का निधन 2 अप्रैल को हो गया. वो 56 साल के थे और हार्ट पेशेंट थे. अचानक उनकी सास फूली और उनका निधन हो गया. बेटे की मौत को हनुमान की 75 साल की मां माधुरी देवी बर्दाश्त नहीं कर पाई और 14 अप्रैल को चल बसीं. दादी के निधन पर इलाहाबाद में पढ़ाई कर रहा जॉन्डिस से पीड़ित 21 वर्षीय सौरभ जब घर आया तो इसकी भी तबीयत बिगड़ गयी और गोंडा के एक नर्सिंग होम में 15-16 अप्रैल को सौरभ की भी मौत हो गयी. headtopics.com

अंजनी बताती हैं कि बेटे की मौत होने से बाद में सौरभ के मां-बाप की भी तबीयत बिगड़ गई. उनकी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद गोंडा के एक नर्सिंग होम में एडमिट करवाया गया. दोनों ऑक्सीजन पर थे. जहां बुखार से पीड़ित सौरभ की मां 41 वर्षीय उषा श्रीवास्तव का 22 अप्रैल और 24 अप्रैल को 45 वर्षीय अश्वनी श्रीवास्तव का निधन हो गया.

मृतक परिवार के चाचा ये मानने को तैयार नहीं कि उनके परिवार में किसी को कोरोना हुआ था. यहां तक कि वो कोरोना के एंटीजन टेस्ट का हवाला देते हैं.इस पूरे मामले का पता तब चला जब गोंडा के सांसद ने अपने फेसबुक पोस्ट पर इस परिवार की व्यथा लिखी और बताया इस परिवार के पांच सदस्यों की मौत 20 दिनों में हो चुकी है. इस पर प्रशासन को संज्ञान लेना चाहिए, प्रशासन की तरफ से फोन भी आए लेकिन परिवार ने कहा कि कोरोना से नहीं बल्कि बीमारी से मौत हुई है.

आलम ये है कि गांव में कोरोना एक स्टिग्मा की तरह होता जा रहा है और अगर कोरोना के लक्षण हैं भी तो भी लोग मानने को तैयार तब तक नहीं हो रहे जब तक उनकी रिपोर्ट पॉजिटिव नहीं आती. यही वजह है कि मौतें हो रही हैं और लोग इसे प्राकृतिक मौत कह रहे हैं.Live TV और पढो: आज तक »

इतिहास में पहली बार ट्रेन से चला प्याज: 220 टन लाल प्याज किसान व्यापारियों ने सीधे असम भेजा, 1836km का सफर करेगा

राजस्थान के इतिहास में ऐसा पहली बार हुआ है जब यहां होने वाली प्याज को ट्रेन से किसी दूसरे राज्य में भेजा गया है। पहली बार अलवर की प्याज रेल से असम भेजा गया है। पूरे प्रदेश में इससे पहले कभी भी प्याज को मालगाड़ी से ट्रांसपोर्ट नहीं किया गया। किसान रेल के जरिए किसानों की उपज को भेजने की उत्तर पश्चिम रेलवे ने यह शुरुआत की है। | उत्तर पश्चिम रेलवे के क्षेत्र में किसान रेल की अलवर से शुरूआत, 220 टन प्याज अलवर से असम भेजी

abhishek6164 गाँव मे लोग कोरोना से हुई मौत को heart attack मानकर दाह संस्कार कर देते है ! प्रशासन को आवश्यक जाँच करवाकर इसे रोकना चाहिये नही तो संक्रमण भयावह रूप ले लेगा! abhishek6164 Ye na manne wali hi bimari hi logo ko le doob rhi log khud hi doctr bne hue hain abhishek6164 जब तक वास्तविकता को स्वीकार नहीं करेंगे ऐसे ही लोगों की जाने जाती रहेंगीं

abhishek6164 गांवों में तो यही हो रहा है abhishek6164 क्या दिक्कत है जब योगी बाबा मुफ्त में अंतिम संस्कार करवा रहें हैं

कोरोना का असर: अप्रैल में 22 प्रतिशत कर्जदार नहीं चुका सके बैंकों की ईएमआईकोरोना का असर: अप्रैल में 22 प्रतिशत कर्जदार नहीं चुका सके बैंकों की ईएमआई Coronavirus Lockdown EMI NPA Unemployment moratorium RBI nsitharaman RBI nsitharaman Please again start Moratorium for few months... because in current situation people have lost their job and business...hope so you will raise our voice RBI nsitharaman RBI nsitharaman narendramodi or nsitharaman ka financial management hai... Desh focus on VISTA PROJECT

MP में बढ़ रहे कोरोना के एक्टिव केस: प्रदेश में ठीक होने वालों की संख्या घटी, इसलिए 4 दिन में 22 हजार से ज्यादा एक्टिव केस बढ़ गएप्रदेश में अब नई तरह की चिंता सताने लगी है। 4 दिन से नए केस से ठीक होने वाले मरीजों की संख्या घटी है। इसकी वजह से एक्टिव केस बढ़े हैं। प्रदेश में रविवार को पूरे कोरोनाकाल के सर्वाधिक एक्टिव केस हो गए। सक्रिय मरीजों की संख्या 1 लाख 11 हजार 223 हो गई। 4 दिन पहले एक्टिव केस 88 हजार 614 हो गए थे। इस दौरान सक्रिय मरीजों की संख्या में 22 हजार 609 केस की बढ़ोतरी हुई है। | Coronavirus in India, MP Coronavirus Cases, Virus Cases in MP, COVID-19 Cases, Corona Virus Cases in Bhopal, Coronavirus Update in Madhya Pradesh, coronavirus MP, Coronavirus Outbreak In MP प्रदेश में 3 दिन से नए केस से ठीक होने वाले मरीजों की संख्या घटी है। इसकी वजह से एक्टिव केस बढ़े हैं। प्रदेश में रविवार को पूरे कोरोनाकाल के सर्वाधिक एक्टिव केस हो गए। सक्रिय मरीजों की संख्या 1,08,913 हो गई। तीन दिन पहले गुरुवार को एक्टिव केस 88 हजार 614 हो गए थे। कुछ खबरें भारत के सभी लोगों को देख-समझ लेनी चाहिये। राजनीतिक पहुंच🤔कोरोना का समय🥶 पैसे बालों की🥵 👇

योगी की कमजोर कैबिनेट: 23 कैबिनेट मंत्री, 22 राज्यमंत्री और 9 स्वतंत्र प्रभार भी मिलकर नहीं दिला पाए UP में जिला पंचायत सदस्य की एक तिहाई सीटउत्तर प्रदेश पंचायत चुनाव में सत्ताधारी भाजपा तमाम तैयारियों के साथ मैदान में उतरी थी। इसके लिए 23 कैबिनेट मंत्री, 22 राज्यमंत्री, 9 राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) और सांसद-विधायकों को हर मोर्च पर लगाया गया था। ऐसे ही समाजवादी पार्टी से लेकर बसपा और कांग्रेस तक ने भी तैयारी की थी। वजह यह थी कि इसे राज्य में 2022 में होने वाले विधानसभा चुनाव का सेमी फाइनल माना जा रहा था। अब सभी परिणाम आ चुके हैं। यो... | Uttar Pradesh (UP) Panchayat Election Result 2021 Latest Update । UP CM Yogi Adityanath Akhilesh Yadav BJP Party Zila Panchayat Members Defeated: योगी सरकार के 23 कैबिनेट मंत्री, 22 राज्यमंत्री और 9 स्वतंत्र प्रभार भी मिलाकर नहीं दिला पाए DDC की एक तिहाई सीट myogiadityanath BJP4UP Bjp sansad aur vidhayak korona Mahamari me koi nhi dikh raha hai myogiadityanath BJP4UP इसलिए नहीं दिला पाए क्योंकि तुम्हारी सरकार में न्याय है नहीं लोगों के साथ अन्याय हो रहा है रिश्वतखोरी धड़क कैसे चल रही है और कोई जानकारी लेना हो ना तो कभी कार्यालय बुला लीजिएगा आ जाऊंगा myogiadityanath BJP4UP बाबा तो गयो रे भाया

वैक्सीन बर्बाद करने में लक्षद्वीप सबसे आगे, 22 फीसद डोज हुए खराब, जानें- बिहार, राजस्थान समेत अन्य राज्यों का हाललक्षद्वीप में अब तक 22 फीसद डोज खराब हुए हरियाणा और असम भी पीछे नहीं। स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय के ताजा आंकड़ों के अनुसार है इस सूची में राजस्थान चौथे स्थान पर है। यहां 5.5 फीसद वैक्सीन बर्बाद हुई है। Hello Everyone I will help the first 20 people earn ₹100,000RS within just 24hrs,but after your earning,you are to pay me 10% from it immediately, if interested kindly inbox or message on WhatsApp +447418324832 और जिसने देश बर्बाद किया वो तो आपका हरजाई लगता है, नाम मत लेना उसका। दिल्ली खान मार्किट के Restaurant से 96 oxygen Concentrators पकड़े गए। बहुत ही गंभीर बात है कि मालिक Navneet Kalra को मालूम था oxygen crisis आने वाला है इसलिए वह पिछ्ले अक्टूबर से Europe से oxygen मँगवा रहा था लेकिन सरकार को ये सब मालूम नहीं था।

अगले हफ्ते टीम इंडिया का ऐलान संभव: WTC फाइनल और इंग्लैंड दौरे के लिए सिलेक्टर्स 22 प्लेयर्स का स्क्वॉड चुन सकते हैं; BCCI को 35 संभावित खिलाड़ियों की लिस्ट सौंपीअगले महीने 18 जून से होने वाले पहले वर्ल्ड टेस्ट चैम्पियनशिप फाइनल और इंग्लैंड दौरे के लिए भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (BCCI) ने तैयारियां शुरू कर दी हैं। अगले कुछ दिनों में इंडियन टीम सिलेक्शन कमेटी 22 खिलाड़ियों के नाम का ऐलान कर सकती है। सूत्रों के मुताबिक कमेटी ने BCCI को 35 संभावित खिलाड़ियों के नाम सौंप दिए हैं। चीफ सिलेक्टर चेतन शर्मा के नेतृत्व में अगले हफ्ते WTC फाइनल के लिए टीम का ऐलान ... | World Test Championship Final India vs New Zealand 18 june in Southampton Team India Team New Zealand ; inaugural ICC World Test Championship trophy