Upcabinetexpansion, योगी कैबिनेट विस्‍तार, योगी कैबिनेट एक्‍सपैंशन, यूपी मंत्रिमंडल विस्‍तार, यूपी चुनाव 2022, उत्‍तर प्रदेश मंत्रिमंडल विस्‍तार, Yogi Cabinet Reshuffle, Yogi Cabinet Expansion, Uttar Pradesh Cabinet Expansion, Up Election 2022, Up Cabinet Expansion, Metro News, Metro News İn Hindi, Latest Metro News, Metro Headlines, मेट्रो Samachar

Upcabinetexpansion, योगी कैबिनेट विस्‍तार

UP Cabinet Expansion: ब्राह्मण-दलित समीकरण पर योगी ने दूसरी पार्टियों को छोड़ा पीछे, कैबिनेट विस्तार के साथ चुनावी रोड मैप तैयार

#UPCabinetExpansion ब्राह्मण-दलित समीकरण पर योगी ने दूसरी पार्टियों को छोड़ा पीछे, कैबिनेट विस्तार के साथ चुनावी रोड मैप तैयार

26-09-2021 17:49:00

UPCabinetExpansion ब्राह्मण-दलित समीकरण पर योगी ने दूसरी पार्टियों को छोड़ा पीछे, कैबिनेट विस्तार के साथ चुनावी रोड मैप तैयार

भाजपा ने बड़ी चतुराई के साथ यूपी में कैबिनेट एक्‍सपैंशन किया है। उसने सवर्ण से लेकर ओबीसी और एससी-एटी तक साधने की कोशिश की है। इस कदम के बाद विरोधियों को अपनी इलेक्‍शन स्‍ट्रैटेजी पर दोबारा मंथन करना होगा।

उत्‍तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव से कुछ महीने पहले रविवार को योगी सरकार के मंत्रिमंडल का विस्‍तार हुआ। राजभवन में नए मंत्रियों को शपथ दिलाई गई। जितिन प्रसाद सहित सात मंत्रियों ने शपथ ली। इस मंत्रिमंडल विस्‍तार को देखकर साफ कहा जा सकता है कि जातियों के साथ इलाकों को भी साधने की पूरी कोशिश की गई है। इसके जरिये सीएम योगी आदित्‍यनाथ ने चुनावी रोडमैप पेश कर दिया है। राज्‍यपाल आनंदी बेन पटेल ने नए मंत्रियों को शपथ दिलाई।

सुब्रमण्यम स्वामी बोले, चीन के हाथ जाती लद्दाख-अरुणाचल की ज़मीन, मोदी सरकार चुप - BBC Hindi 'आर्यन खान मामले में ऐसी कोई चीज नहीं कि बेल से इनकार किया जा सके' : NDTV से मशहूर वकील प्रशांत भूषण सूडान में तख़्तापलट: प्रधानमंत्री हिरासत में, टीवी चैनल पर सेना का क़ब्ज़ा - BBC News हिंदी

नए मंत्रियों में सवर्ण, ओबीसी और एसी-एसटी सभी का प्रतिनिधित्‍व है। यहां खास बात यह है कि मंत्रियों के चयन में इलाकों का भी बड़ी सावधानी से सेलेक्‍शन किया गया है। प्रदेश के हर कोने को समेट लेने की कोशिश की गई है। योगी के मंत्रिमंडल में शामिल नए चेहरों में कोई चौंकाने वाला नहीं है। रविवार को जिन्‍होंने शपथ ली, उन सभी के बारे में पहले से चर्चा थी।

Yogi Ministry Expansion: यूपी चुनाव से सिर्फ 5 महीने पहले योगी कैबिनेट का विस्‍तार, जितिन प्रसाद समेत 7 मंत्रियों ने ली शपथयूपी मंत्रिमंडल विस्‍तार में शामिल चेहरेमंत्रिमंडल विस्‍तार से पहले तक योगी कैबिनेट में 53 मंत्री थे। इनमें 23 कैबिनेट मंत्री थे। 9 के पास स्‍वतंत्र प्रभार था। 21 राज्‍यमंत्री थे। अब इसमें सात और मंत्री शामिल हो गए हैं। कैबिनेट विस्‍तार से संकेत मिलता है कि चुनाव से पहले भाजपा कोई फ्रंट छोड़ना नहीं चाहती है। सीएम योगी ने अपनी चुनावी स्‍ट्रैटेजी में सभी को शामिल कर लिया है। ब्राह्मण, दलित और ओबीसी सभी को साधा गया है। headtopics.com

सात नए मंत्रियों में तीन SC/ST समुदाय से आते हैं। यानी नए मंत्रियों में करीब 50 फीसदी प्रतिनिधित्‍व इन्‍हें मिला है। तीन ही अन्‍य पिछड़ा वर्ग के हैं। जितिन प्रसाद के रूप में एक ब्राह्मण चेहरे को शामिल किया गया है। इस तरह कहा जाए तो किसी भी वर्ग को छोड़ा नहीं गया है। यह भाजपा के राजनीतिक प्रतिद्वंद्वियों को बड़ी चोट है। यह मंत्रिमंडल विस्‍तार चुनावी गुणा-गणित को देखकर किया गया है। इसके जरिये यह भी संदेश देने की कोशिश की गई है कि भाजपा किसी एक या दो वर्ग या समुदायों के तुष्टिकरण की राजनीति नहीं करेगी। उसका विजन व्‍यापक है और वह इसी को साथ लेकर चुनावी मैदान में उतरेगी।

UP Cabinet Expansion 2021: चुनाव से पहले योगी का कैबिनेट विस्‍तार, यूपी में बीजेपी का 'कास्‍ट गेम' समझ‍िएकैबिनेट विस्‍तार में जितिन प्रसाद का शामिल होना लगभग तय था। इसके जरिये भाजपा ब्राह्मण वोटरों को साधने की कोशिश करेगी। कांग्रेस से सालों पुराना नाता तोड़ जितिन हाल ही में भाजपा में शामिल हुए थे। यूपीए सरकार में वह इस्पात राज्‍य मंत्री रह चुके हैं। राजनीति उन्‍हें विरासत में मिली है। वह सबसे पहले शाहजहांपुर से चुनाव जीते थे।

यहां जातियों के अलावा दूसरी गौर करने वाली बात मंत्रियों के इलाके हैं। बड़ी चतुराई के साथ प्रदेश के तकरीबन हर कोने को कवर किया गया है। मेरठ से गाजीपुर और आगरा से बलरामपुर तक राज्‍य के हर फ्रंट को घेरा गया है। इस तरह योगी ने अगले चुनावों के लिए अपना रोडमैप भी जाहिर कर दिया है। यह संकेत देता है कि राज्‍य का कोई इलाका अछूता नहीं रहने वाला है। भाजपा पूरी धमक के साथ चुनावी मैदान में उतरने वाली है।

और पढो: NBT Hindi News »

लालू के आते तेज प्रताप की बगावत: घर नहीं गए पिता तो कहा- मुझे अब RJD से मतलब नहीं, बहुत जल्द बड़ा स्टैंड लूंगा

राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव रविवार को तीन साल बाद पटना आए हैं। उन्हें पटना एयरपोर्ट पर लेने के लिए उनके बड़े बेटे तेज प्रताप यादव भी पहुंचे थे। लालू प्रसाद के राबड़ी आवास पहुंचने के साथ ही तेज प्रताप यादव ने बहुत बड़ी बात कह दी है। तेज प्रताप यादव ने एक न्यूज चैनल पर कहा है कि उन्हें राबड़ी आवास जाने से रोक दिया गया। वो पिता लालू प्रसाद को अपने आवास पर भी ले जाना चाहते थे, लेकिन उन्हें नहीं जाने दि... | Tej Pratap Yadav said he has no interest left in RJD after father Lalu Prasad Yadav went to Rabri House

पुरानी हरकतों पर उतरा तालिबान, हेरात में चार लोगों के शव को चौराहे पर लटकायातालिबान ने शनिवार को पश्चिम अफगानिस्तान के हेरात प्रांत में चार लोगों को गोली मार कर उसका शव चौराहे पर लटका दिया। शव काफी देर तक क्रेन से लटका रहा और घंटों तक हवा में झूलता रहा।

बिहार: सरकारी जमीनों पर कब्जे का मांगा ब्योरा पर मिली मौत, आरटीआई कार्यकर्ता को मारी गोलीबिहार में सरकारी जमीनों पर कब्जे का ब्योरा मांगने पर एक आरटीआई कार्यकर्ता को मौत दे दी गई। राज्य के पूर्वी चंपारण जिले

IPL: राजस्थान को हरा फिर टॉप पर काबिज दिल्ली, अब प्लेऑफ की दहलीज परआईपीएल-14 के 36वें मैच में राजस्थान रॉयल्स (RR) को दिल्ली कैपिटल्स (DC) के खिलाफ 33 रनों से हार का सामना करना पड़ा. कप्तान संजू सैमसन की 53 गेंदों में नाबाद 70 रनों की पारी राजस्थान को हार से बचाने में नाकाफी साबित हुई.

इमरान खान पर स्‍नेहा दूबे के पलटवार से लाल हुआ पाकिस्‍तान, भारत पर निकाली भड़ासSneha Dubey Vs Imran Khan UNGA: भारत की फर्स्ट सेक्रटरी स्‍नेहा दुबे के संयुक्‍त राष्‍ट्र महासभा में इमरान खान पर पलटवार से पाकिस्‍तान बौखला गया है। पाकिस्‍तान ने जम्‍मू-कश्‍मीर को अंतरराष्‍ट्रीय विवाद करार दिया है। हमने तो वीडियो देखा था उसमे स्नेहा दुबे उठ कर चली गई थी 🤔 यानी तुम भी मोदी की तरह सच बोलने लगे 😂😂 सच कड़वा होता है और अक्सर वे लोग जो सच से भागने की कोशिश करते है, इसी तरह प्रतिक्रिया देते हैं | सबूतों को कैसे झुठलाया जा सकता है? स्नेहा जी ने तो सिर्फ आईना दिखाने की कोशिश की है | जब शक्ल बुरी हो तो आईना देखने से डर तो लगेगा ही | यह कुछ नहीं, अपनी ही शक्ल पर भड़ास निकालना है |

राणा गुरजीत को मंत्री बनाने के विरोध में कांग्रेसी, सिद्धू समेत CM को लिखा खतयह पत्र पंजाब प्रदेश कांग्रेस कमेटी के पूर्व अध्यक्ष मोहिंदर सिंह कायपी, विधायक नवतेज सिंह चीमा, बलविंदर सिंह धालीवाल, बावा हेनरी, राज कुमार, शाम चौरसी, पवन आदिया और सुखपाल सिंह खैरा ने लिखा है।

IPL 2021- राजस्थान पर जीत के साथ दिल्ली फिर टॉप पर - BBC Hindiआईपीएल-2021 में शनिवार को दिल्ली कैपिटल ने राजस्थान रॉयल्स को 33 रनों के बड़े अंतर से हराते हुए टूर्नामेंट के प्ले ऑफ़ राउंड में अपनी जगह लगभग पक्की कर ली.