UP चुनाव: प्रियंका के सिपहसालार अखिलेश की साइकिल पर सवार, कांग्रेस की नैया कैसे होगी पार?

हरेंद्र मलिक-पंकज मलिक ने कांग्रेस छोड़ा

20-10-2021 09:53:00

हरेंद्र मलिक-पंकज मलिक ने कांग्रेस छोड़ा

उत्तर प्रदेश में कांग्रेस के दिग्गज नेता प्रियंका गांधी के 'हाथ' को पकड़कर आगे बढ़ने की बजाय छोड़कर सपा प्रमुख अखिलेश यादव की साइकिल पर सवार होते जा रहे हैं. चुनाव से ऐन पहले एक के बाद एक बड़े नेता कांग्रेस छोड़ते जा रहे हैं, जिसके चलते प्रियंका गांधी के लिए यूपी की चुनावी राह और भी मुश्किल होती जा रही है.

स्टोरी हाइलाइट्सहरेंद्र मलिक-पंकज मलिक ने कांग्रेस छोड़ाकांग्रेस नेताओं की पहली पसंद बन रही सपाप्रियंका का साथ छोड़ रहे कांग्रेस के दिग्गज नेताकांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी उत्तर प्रदेश में अपने जिन मजबूत सिपहसालारों के सहारे 2022 की चुनावी बिसात बिछाने में जुटी थीं. वो टीम ताश के पत्ते की तरह बिखरती जा रही है. सूबे में कांग्रेस के दिग्गज नेता प्रियंका गांधी के 'हाथ' को पकड़कर आगे बढ़ने की बजाय छोड़कर सपा प्रमुख अखिलेश यादव की साइकिल पर सवार होते जा रहे हैं. चुनाव से ऐन पहले एक के बाद एक बड़े नेता कांग्रेस छोड़ते जा रहे हैं, जिसके चलते प्रियंका गांधी के लिए यूपी की चुनावी राह और भी मुश्किल होती जा रही है.

वसीम रिज़वी अब हैं जितेंद्र त्यागी, इस्लाम छोड़ने के बाद बोले-मंदिर से मिली ऊर्जा - BBC News हिंदी Katrina Kaif Vicky Kaushal Wedding: सलमान खान के बॉडीगार्ड शेरा देंगे कटरीना-विक्की की शादी में सिक्योरिटी, फोन ले जाने पर भी लगाई गई है पाबंदी ओमिक्रॉन की दहशत : न्यूयॉर्क में सभी निजी कंपनियों के कर्मचारियों के लिए वैक्सीन अनिवार्य

पश्चिमी यूपी में कांग्रेस के दिग्गज नेता और जाट समुदाय का चेहरा माने जाने वाले पूर्व सांसद हरेंद्र मलिक और उनके बेटे पूर्व विधायक पंकज मलिक ने मंगलवार को पार्टी से इस्तीफा दे दिया. हरेंद्र मलिक यूपी में प्रियंका गांधी की सलाहकार कमेटी में शामिल थे तो पंकज मलिक कांग्रेस के प्रदेश उपाध्यक्ष थे और पश्चिम यूपी की जिम्मेदारी संभाल रहे थे. लेकिन, अब दोनों ही नेताओं ने कांग्रेस को अलविदा कह दिया है. माना जा रहा है कि 22 अक्टूबर को मुजफ्फरनगर में अखिलेश यादव की रैली में वे सपा का दामन थामेंगे.

बता दें कि उत्तर प्रदेश में कांग्रेस तीन दशक से सत्ता का वनवास काट रही है. ऐसे में प्रियंका गांधी कांग्रेस के लिए उम्मीद की किरण बनकर आई थीं. 2017 के विधानसभा चुनाव के बाद जब 2019 के लोकसभा चुनाव में भी पार्टी को करारी हार मिली तो प्रदेश प्रभारी प्रियंका ने खुद समीक्षा की थी. उन्होंने माना कि संगठन की कमजोरी की वजह से ही कांग्रेस यहां खड़ी नहीं हो पा रही. headtopics.com

सूबे में प्रियंका गांधी संगठन की मजबूती के मिशन में जुटीं और प्रदेश स्तर से लेकर जिला स्तर और ब्लॉक तक अपनी मर्जी के मुताबिक पदाधिकारी बनाए. प्रियंका गांधी ने लगातार योगी सरकार के खिलाफ मोर्चा भी खोल रखा है. सोशल मीडिया से लेकर सड़क तक संघर्ष कर रही हैं. इसके बावजूद कांग्रेस नेताओं को 2022 के चुनाव में अपनी जीत का विश्वास नहीं हो पा रहा है, जिसके चलते अब वे प्रियंका का हाथ झटककर साइकिल की सवारी कर रहे हैं.

यूपी में दो महीने पहले करीब 50 कांग्रेसी दिग्गज नेताओं को प्रियंका गांधी ने खुद फोन करके चुनाव लड़ने की हरी झंडी दी थी, उनसे कहा था कि आप चुनाव तैयारी में जुटे और आपका टिकट कन्फर्म है. प्रियंका गांधी की इस लिस्ट में पंकज मलिक भी शामिल थे, जिन्होंने aajtak.in से यह बात स्वीकार की थी. लेकिन, अब चुनाव से पहले कांग्रेस का साथ छोड़ दिया है. ऐसे ही प्रियंका गांधी के करीबी रहे ललितेशपति त्रिपाठी को भी चुनाव लड़ने की हरी झंडी मिल चुकी थी, जिन्होंने हाल ही में कांग्रेस को अलविदा कह दिया है.

प्रियंका गांधी बुंदेलखंड में जिन कांग्रेस नेताओं के दम पर पार्टी को मजबूत करने के लिए मशक्कत कर रही थीं, वो सभी नेताओं ने पार्टी छोड़ दी है. पूर्व विधायक व प्रियंका की सलाहकार समिति के सदस्य विनोद चतुर्वेदी, पूर्व विधायक गयादीन अनुरागी, महोबा के पुराने कांग्रेसी खानदान के मनोज तिवारी सपा में शामिल हो गए. कांग्रेस ने इन तीनों ही नेताओं को चुनावी मैदान में उतारने की तैयारी की थी. ऐसे ही कानपुर देहात में कांग्रेस के मजबूत चेहरा माने जाने वाले पूर्व सांसद राजााम पाल भी पार्टी छोड़कर साइकिल पर सवार हो गए हैं.

कांग्रेस सरकार में केंद्रीय मंत्री रहे जितिन प्रसाद (अब योगी सरकार में प्राविधिक शिक्षा मंत्री), जिन्होंने बीजेपी का दामन थामा है. पूर्व केंद्रीय मंत्री व बदायू से पूर्व सांसद सलीम शेरवानी, उन्नाव की पूर्व सांसद अन्नू टंडन, मिर्जापुर के पूर्व सांसद बाल कुमार पटेल, सीतापुर की पूर्व सांसद कैसर जहां, अलीगढ़ के पूर्व सांसद विजेन्द्र सिंह, पूर्व मंत्री चौधरी लियाकत, पूर्व विधायक राम सिंह पटेल, पूर्व विधायक जासमीन अंसारी, अंकित परिहार और सोनभद्र के रमेश राही जैसे नेताओं ने कांग्रेस छोड़कर सपा का दामन थाम लिया है. headtopics.com

धर्म परिवर्तन के बाद रिजवी बोले: इस्लाम का दूसरा नाम ही आतंक है, जिसकी शुरुआत 1400 साल पहले अरब के रेगिस्तान में हुई मुंबई में ओमिक्रॉन के दो और नए मामले, महाराष्‍ट्र में अब तक मिले कुल 10 संक्रमित Over 127 crore 93 lakh doses of COVID vaccine administered in India so far

इसके अलावा आरके चौधरी भी कांग्रेस छोड़कर सपा में शामिल हो चुके हैं. पूर्व सांसद डॉ. संजय सिंह तो लोकसभा चुनाव के बाद ही कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल हो गए थे. रायबरेली से विधायक अदिति सिंह, विधायक राकेश सिंह भी बागी रुख अपनाए हुए हैं, जो बीजेपी के साथ जाने की तैयारी में हैं. वहीं, पश्चिम यूपी में इमरान मसूद का भी कांग्रेस से मोहभंग हो रहा है और वो सपा का राग अलाप रहे हैं. इमरान मसूद के साथ-साथ सहारनपुर के दोनों विधायकों के भी कांग्रेस छोड़ने की चर्चाएं हैं, जो सपा में शामिल हो सकते हैं.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें और पढो: आज तक »

SP कार्यकर्ताओं से लेकर प्रशिक्षित शिक्षकों तक, UP में लाठीमार लड़ाई! देखें शंखनाद

उत्तर प्रदेश के चंदौली से लखनऊ तक आज जमकर लाठियां चली हैं. चंदौली में समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ता पुलिस से भिड़े तो लखनऊ में पुलिसवालों ने नौकरी की मांग कर रहे प्रशिक्षित शिक्षकों को दौड़ा-दौड़ा कर पीटा. बता दें कि चंदौली में सीएम योगी से मिलने जा रहे समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं का पुलिस से टकराव हो गया. झड़प के दौरान सकलडीहा से समाजवादी पार्टी के विधायक प्रभु नारायण यादव ने डिप्टी एसपी अनिरुद्ध सिंह के साथ हाथापाई की और डिप्टी एसपी के सिर में अपने सिर से टक्कर भी मारी. देखिए शंखनाद का ये एपिसोड.

Fir kya hua jane do I love you congress Keya baat hai 😄 नमस्कार आप देख रहे हैं AajTak, इस वक्त की सबसे बड़ी खबर राम नगरी अयोध्या से, बीजेपी विधायक को फर्जी डिग्री के मामले में पांच साल की जेल, लगातार बीजेपी नेताओं की शिक्षा पर उठ रहे सवालों से मीडिया हो रही नाराज, खबरों में बने रहने के लिए धन्यवाद!!!!

अब होगा न्याय Ab boliye priyanka ji ab apka kya hoga aap ka mahilao ka 40 %vote ne aap ko khatre mai daal diya . Ab pahle ish dikkat ko sahi kijye fir bataye लगता है पास्सा उल्टा पड गया।

विभिन्न मानवाधिकार उल्लंघनों के बीच आयोग के अध्यक्ष द्वारा सरकार की तारीफ़ के क्या मायने हैंजिस राष्ट्रीय मानवाधिकार आयोग को देशवासियों के मानवाधिकारों की रक्षा करने, साथ ही उल्लंघन पर नज़र रखने के लिए गठित किया गया था, वह अपने स्थापना दिवस पर भी उनके उल्लंघन के विरुद्ध मुखर होने वालों पर बरसने से परहेज़ न कर पाए, तो इसके सिवा और क्या कहा जा सकता है कि अब मवेशियों के बजाय उन्हें रोकने के लिए लगाई गई बाड़ ही खेत खाने लगी है? ashoswai Inko b rajyasabha ya loksabha jana hoga tabhi to desh ko barbaad krne walo k gungaan kr the.. योगी और मोदी का एकी नारा.....! 'ना घर बसा हमारा' 'ना बसने देगे तुम्हारा'।

कर्नाटक कांग्रेस के पीएम मोदी को 'अंगूठाछाप' बताने संबंधी कमेंट के बाद छिड़ा राजनीतिक विवादकई लोगों ने इसे पीएम मोदी पर निजी हमला करार दिया है. कर्नाटक बीजेपी प्रवक्‍ता मालविकाअविनाश ने कहा, केवल कांग्रेस ही इतने निचले स्‍तर पर जा सकती है. उन्‍होंने कहा कि यह कमेंट, जवाब देने लायक भी नहीं है. आलोचना के बाद राज्‍य कांग्रेस प्रवक्‍ता लावण्‍य बल्‍लाल ने माना कि ट्वीट का स्‍वर दुर्भाग्‍यपूर्ण है और इसकी जांच कराएंगे. हालांकि उन्‍होंने कहा, इसे वापस लेने या इसके लिए माफी मांगने का कोइ कारण नहीं है. मोदी जी ने राजीव शुक्ला को दिये अपने एक इंटरव्यू में खुद कहा है कि वह ज्यादा पढ़े लिखे नहीं है , हाई स्कूल की शिक्षा ग्रहण की है , फिर इसमें विवाद कैसा ? क्योंकि आज चपरासी और झाड़ू लगाने के लिए 12 पास चाहिए , और मोदी जी तो प्रधानमंत्री है ? उस हिसाब से तो ...? वो डिग्री केस 2016 से SC में क्यों चल रहा है..? सच पे विवाद ही खड़ा होता है । जाहिल बेच रहा है सबकुछ।

पाकिस्तान का नया झूठ: कहा- भारतीय पनडुब्बी ने की घुसपैठ की कोशिश, पहचान के बाद रोकापाकिस्तान का नया झूठ: कहा- भारतीय पनडुब्बी ने की घुसपैठ की कोशिश, पहचान के बाद रोका Pakistan India Submarine chut bole kauwa kate घुसता वही है जिसके मे जिगरा होता है 💪🏼💪🏼💪🏼 जब अकेला एक भारतीय सैनिक आप पर भारी तो आपकी कूबत भी नही कि जहाज को रोक सके!! अब ये काँग्रेस का भारत नही बल्कि भजपा का भारत है भूलना नही!!

लखीमपुर हिंसाः क्राइम ब्रांच ने जारी की बीजेपी कार्यकर्ताओं के हत्यारोपियों की तस्वीरें, तलाश तेजलखीमपुर क्राइम ब्रांच ने मौके से मिले वीडियो और फोटोग्राफ के आधार पर बीजेपी कार्यकर्ताओं की पीट-पीटकर हत्या करने वाले आरोपियों की तस्वीरें भी जारी की हैं, ताकि उनकी पहचान करके उन्हें गिरफ्तार किया जा सके.

यूपी के शाहजहांपुर जिले के कोर्ट परिसर में वकील की गोली मारकर हत्याउत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर की एक जिला अदालत के परिसर के अंदर एक वकील की गोली मारकर हत्या कर दी गई है. वकील का शव कोर्ट की तीसरी मंजिल पर मिला है. साथ ही शव के पास से देसी पिस्टल भी मिली है. इस तरह यूपी में गुंडाराज खत्म हुआ YogikaJungleRaj Raamraaj ya ravanraaj ....

टीचर ने की 12वी के छात्र की बेरहमी से पिटाई, पत्रकार ने बताई हिंदू-ईसाई थ्योरीतमिलनाडु के चिदंबरम नंदनार बॉयज हाई स्कूल के एक फिजिक्स टीचर का वीडियो सामने आया है, जिसमें वो छात्र को बेरहमी से पीटते हुए वीडियो में दिख रहा है।