Tokyoolympics, Tokyo Olympics, Olympic News, Algeria Judo Player, Algeria Fethi Nourine, Fethi Nourine Suspend, Algeria Israeli, Palestine, Israeli Palestine, Olympic News, Olympic Judo, Fethi Nourine Israeli

Tokyoolympics, Tokyo Olympics

Tokyo Olympic से ये खिलाड़ी किया गया बाहर, फिलिस्तीन-इजरायल है वजह

अल्जीरिया के एक खिलाड़ी ने इजरायल के प्लेयर के सामने खेलने से मना कर दिया था | #TokyoOlympics

24-07-2021 18:47:00

अल्जीरिया के एक खिलाड़ी ने इजरायल के प्लेयर के सामने खेलने से मना कर दिया था | TokyoOlympics

टोक्यो ओलंपिक में अल्जीरिया (Algeria) के एक खिलाड़ी को सस्पेंड कर दिया गया. खिलाड़ी ने इजरायल (Israel) के प्लेयर के सामने खेलने से मना कर दिया था. ऐसा उसने फिलिस्तीन ( Palestine ) को समर्थन देने के लिए किया था.

1/8जापान के टोक्यो में चल रहे ओलंपिक (Tokyo Olympics) खेलों में अल्जीरिया (Algeria) के एक खिलाड़ी को सस्पेंड कर दिया गया. खिलाड़ी ने इजरायल (Israel) के प्लेयर के सामने खेलने से मना कर दिया था. ऐसा उसने फिलिस्तीन (Palestine) को समर्थन देने के लिए किया था.

Canada election result: कनाडा चुनाव में जस्टिन ट्रूडो की लिबरल पार्टी को जीत, बहुमत से दूर भारत की पहली हाइब्रिड फ्लाइंग कार का मॉडल तैयार, मेडिकल इमरजेंसी में आएगी काम, देखें तस्वीर अमेरिकी रेस्तरां में नहीं मिली ब्राजील के राष्ट्रपति को एंट्री, फुटपाथ पर खाया खाना

(फोटो- Fethi Nourine ट्विटर) 2/8आपको बता दें कि शनिवार को अल्जीरिया के जूडो (Judo) खिलाड़ी फेथी नूरिन (Fethi Nourine) ने इस्राइली खिलाड़ी तोहर बुटबुल (Tohar Butbul) का सामना करने के बजाय ओलंपिक से हटने का फैसला किया. (फोटो- Fethi Nourine ट्विटर) 

3/8नूरिन के इस फैसले के बाद उन्हें टोक्यो ओलंपिक से उनके देश वापस जाने के लिए बोल दिया गया, साथ ही उन्हें खेल से सस्पेंड कर दिया गया. यानी कि अब अल्जीरिया के नूरिन को जापान से अपने देश लौटना होगा.(फोटो- Fethi Nourine ट्विटर) 4/8फेथी नूरिन को 73 किग्रा वर्ग के दूसरे दौर में इजरायल के तोहर बुटबुल से खेलना था, लेकिन फिलिस्तीन के समर्थन के कारण उन्होंने इसे छोड़ दिया. फिलिस्तीन के सपोर्ट में उन्होंने इजरायल के खिलाड़ी के साथ खेलने से मना कर दिया.   headtopics.com

(फोटो- Fethi Nourine ट्विटर) 5/8अल्जीरिया के नूरिन ने कहा, 'हमने ओलंपिक तक पहुंचने के लिए बहुत मेहनत की. लेकिन फिलीस्तीनी मकसद इन सब से बड़ा है.' उधर, इंटरनेशनल जूडो फेडरेशन ने नूरिन के साथ उनके कोच अमर बेनिखलेफ को भी सस्पेंड कर दिया है. कोच ने बीते दीं कहा था, 'हमें एक इजरायली अपोनेंट मिला और इसलिए हमें खेल छोड़ना पड़ा. हमने सही फैसला किया.'

(फोटो- Fethi Nourine ट्विटर) 6/8फेडरेशन ने एक बयान में कहा, 'हमारी सख्त गैर-भेदभाव नीति है, जो एक प्रमुख सिद्धांत के रूप में एकजुटता को बढ़ावा देती है, जो जूडो में लागू होती है.' नूरिन का फैसला 'इंटरनेशनल जूडो फेडरेशन के पूर्ण विरोध में' था. 

(फोटो- Getty Images) 7/8फेडरेशन ने कहा, अल्जीरियाई ओलंपिक समिति ने एथलीट और कोच दोनों के लिए मान्यता वापस ले ली और उन्हें घर भेज देगी. इसके बाद प्रतिबंधों को लागू किया जाएगा. (फोटो- Getty Images) 8/8शुक्रवार को, नूरिन ने अल्जीरियाई मीडिया को बताया कि फ़िलिस्तीनी कारणों के लिए उनके राजनीतिक समर्थन ने उनके लिए बुटबुल के खिलाफ खेलना असंभव बना दिया. हालांकि, यह पहली बार नहीं है जब नूरीन किसी इजरायली प्रतिद्वंद्वी का सामना करने से बचने के लिए प्रतियोगिता से हटे हैं. उन्होंने इसी कारण से टोक्यो में 2019 विश्व चैंपियनशिप से नाम वापस ले लिया था.  

और पढो: आज तक »

अमेठी में स्मृति ने पकौड़ी संग चाय पर की चर्चा: दुकानदार से पूछा- क्या हाल है, बोला- बेटे के दिल में छेद है, बोलीं- दिल्ली लेकर आइए, इलाज की चिंता मत करिए

स्मृति ईरानी अमेठी में हैं। केंद्रीय मंत्री गुरुवार सुबह अचानक नहर कोठी चौराहा पर राम नरेश की दुकान पर पहुंच गईं। वहां उन्होंने पकौड़ी खाई और चाय पी। दुकानदार से उसका हालचाल पूछा। साथ ही क्षेत्र की समस्याओं के बारे में जाना। रामनरेश ने केंद्रीय मंत्री को बताया कि क्षेत्र में सब ठीक चल रहा है, लेकिन वह निजी समस्या से परेशान हैं। उनके बच्चे के दिल में छेद है, जिसका इलाज कराने में वह असमर्थ है। | Discussion on Smriti Irani's tea in Amethi, After drinking tea at the shop, ate dumplings, asked - how are you; After hearing the problem of Ram Naresh called to Delhi, amethi news, political news, यूपी चुनाव से पहले गांधी परिवार अमेठी से दूर है, इसका फायदा स्मृति ईरानी बखूबी उठा रही हैं। बुधवार की रात अमेठी पहुंची केंद्रीय मंत्री गुरुवार सुबह अचानक नहर कोठी चौराहा पर राम नरेश की दुकान पर पहुंच गईं। यहां उन्होंने चाय पीकर और पकौड़ी खाकर चर्चा की। दुकानदार से उसका हालचाल पूछा। साथ ही क्षेत्र की समस्याओं के बारे में जाना। रामनरेश ने केंद्रीय मंत्री को बताया कि क्षेत्र में सब ठीक चल रहा है, लेकिन वह निजी समस्या से परेशान है। उसने बताया कि उसके बच्चे के दिल में छेद है। जिसका इलाज कराने में वह असमर्थ है।

Ye dar hona chahiye

VIDEO: मैच से पहले बवंडर का बवाल, 'उड़ने' से बाल-बाल बचे खिलाड़ीबारिश या खराब मौसम के चलते अक्सर खेल के मैदान में खलल पड़ते हुए देखा गया है पर ऐसा ही कम देखने को मिला है कि किसी बवंडर के चलते फुटबॉल मैच को रोकना पड़ा हो. ऐसा ही एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें बवंडर के बवाल के बीच खिलाड़ी अपने आपको बचाते हुए नजर आए. Oho

Tokyo Olympics 2020 में विश्व स्तर के ये 4 खिलाड़ी हैं स्वर्ण पदक के दावेदार Tokyo Olympics 2020 से पहले आपके लिए ये जानना जरूरी है कि कौन से वे चार खिलाड़ी हैं जो ओलंपिक खेलों में स्वर्ण पदक जीतने के दावेदार हैं। टोक्यो में आज से हो रहे ओलंपिक खेलों में वैसे तो एक दर्जन से ज्यादा खिलाड़ी पदक जीतने के दावेदार हैं।

प्रीति जिंटा के ऑलराउंडर ने 360 के स्ट्राइक रेट से ठोके रन, टॉप पर पहुंची टीमTamil Nadu Premier League 2021: लाइका कोवई किंग्स का टूर्नामेंट यह दूसरा मैच है। उसके 2 मैच में अब तीन अंक हैं। रूबी त्रिची वारियर्स तीसरे नंबर पर फिसल गई। उसके 2 मैच में 2 अंक हैं। टूर्नामेंट में 24 जुलाई 2021 को पहला डबल हेडर है।

आंध्र प्रदेश: कोरोना के डर से 15 महीने से बंद परिवार को पुलिस ने बचायाभारत समेत वैश्विक स्तर पर कोरोना का डर इस तरह हावी है कि आंध्र प्रदेश में एक पड़ोसी की कोविड-19 से मौत के बाद एक परिवार

Covid-19 से रिकवरी के बाद डाइट में जरूर शामिल करें प्रोटीन से भरपूर ये फूड्सशरीर को सेहतमंद रहने के लिए कई प्रकार के पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है। खासकर प्रोटीन से शरीर में ऊर्जा का संचार होता है। इसके लिए स्प्राउट्स बेहतर विकल्प है। इसमें प्रोटीन फोलेट मैग्नीशियम फॉस्फोरस मैंगनीज विटामिन-सी और के पाए जाते हैं। जरूरत नही उसे कहो जो दिन भर भासन देते है और गाड़ मरा लेते है

पाकिस्तानी एजेंसियों के दामन पर अफ़ग़ानों के ख़ून के धब्बे- अफ़ग़ान उपराष्ट्रपति - BBC Hindiअफ़ग़ानिस्तान के उपराष्ट्रपति और पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार के बीच जुबानी जंग का एक और दौर शुरू हो गया है. यह किसी के सगे नहीं हैं Chhattisgarh शासन कोरोना वॉरियर के परिवार पर नही दे रही है ध्यान, आकस्मिक निधन नियम के तहत दे रही है अनुकंपा, पुलिसकर्मी स्व. श्री_गोरेलाल_देवदास अपनी ड्यूटी करते हुए कोरोना_संक्रमित हुए, उनके निधन के 11महीने बाद भी उसका 27 साल का विकलांग_बेटे को अब तक नही_मिली_अनुकंपा Pakistan ek terrorist state hai