SP प्रवक्ता का कोरोनाकाल में Central Vista Project पर खर्च पर सवाल, देखें राजनीत‍िक व‍िश्लेषक का जवाब

प्रधानमंत्री #PMModi ने रक्षा विभाग के नए दफ्तर डिफेंस ऑफिस कॉम्प्लेक्स का उद्घाटन के दौरान सेंट्रल व‍िस्टा के आलोचकों पर निशाना पर लिया | #CentralVistaProject

Pmmodi, Centralvistaproject

16-09-2021 20:37:00

प्रधानमंत्री PMModi ने रक्षा विभाग के नए दफ्तर डिफेंस ऑफिस कॉम्प्लेक्स का उद्घाटन के दौरान सेंट्रल व‍िस्टा के आलोचकों पर निशाना पर लिया | CentralVistaProject

सेंट्रल व‍िस्टा प्रोजेक्ट एक बार फिर से चर्चा के केंद्र में आ गया है. गुरुवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रक्षा विभाग के नए दफ्तर डिफेंस ऑफिस कॉम्प्लेक्स का उद्घाटन के दौरान सेंट्रल व‍िस्टा के आलोचकों पर निशाना पर लिया. पीएम ने कहा- सच सामने आते ही विरोधी चुप हो गए हैं. जो लोग सेंट्रल व‍िस्टा प्रोजेक्ट के पीछे डंडा लेकर पड़े थे, वे डिफेंस कॉम्प्लेक्स पर चुप हैं. तो दूसरी ओर विपक्ष सरकार पर आरोप लगा रही है कि कोरोनाकाल में 33 हजार करोड़ रुपये इस परियोजना पर खर्च करना कितना लाजिम है. आज तक के शो दंगल में समाजवादी पार्टी के प्रवक्ता सुनील सिंह और राजनीतिक विश्लेषक विशाल मिश्रा में इस मामले में विस्तार से चर्चा हुई. देखें वीडियो.

आजतक के नए ऐप से अपने फोन पर पाएं रियल टाइम अलर्ट और सभी खबरें डाउनलोड करें

और पढो: AajTak »
RRB-NTPC रिजल्टः आंदोलनरत छात्रों के समर्थन में उतरे राहुल और प्रियंका गांधी, कहा- गिरफ्तार छात्रों को रिहा किया जाए CM बघेल का छत्तीसगढ़ के सरकारी कर्मचारियों को बड़ा तोहफा, अब सप्ताह में सिर्फ पांच दिन करने होंगे काम Delhi School Reopen News: ...तो क्या जल्द ही खुल जाएंगे दिल्ली के स्कूल, पैरेंट्स की डिमांड पर डेप्युटी सीएम मनीष सिसोदिया ने दिए संकेत सूरज संग मौनी रॉय की हल्दी सेरेमनी का वीडियो हुआ वायरल, पीले लहंगे में नजर आईं एक्ट्रेस लोकल मैकेनिक से करवाते हैं गाड़ी की सर्विसिंग? इन टिप्स को फॉलो करें नहीं तो हो सकता है भारी नुकसान UP Election 2022: अमित शाह ने की पश्चिमी यूपी के जाट नेताओं से मुलाकात, चौधरी चरण सिंह को भारत रत्न देने की उठी मांग

Uttar Pradesh Election: सपा की उम्मीदवार लिस्ट पर हंगामा! बीजेपी ने बताया दंगे की बंद फैक्ट्री शुरु करने की साजिश

यूपी में समाजवादी पार्टी की पहली लिस्ट आते ही चुनावी चढ़ाई शुरु हो चुकी है. लिस्ट में नाहिद हसन जैसों के नाम हैं और बीजेपी इसे अंपराध और दंगा की बंद फैक्ट्री शुरु करने की साजिश बता रही है . सपा की लिस्ट में 159 लोगों के नाम हैं और इसके विश्लेषण से साफ है कि अखिलेश ने ओबीसी और मुस्लिम कार्ड चला है. इसमें यादव उम्मीदवारों के नाम कम हैं. वहीं केशव प्रसाद मौर्य ने कहा है कि ये लिस्ट अपराध दंगा भ्रष्टाचार की बंद फैक्ट्री शुरू करने का संदेश है, समाप्त पार्टी की लिस्ट बनाने के लिए धन्यवाद. वहीं उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए भारतीय जनता पार्टी अंतिम तीन चरणों के उम्मीदवारों के लिए नामों पर मुहर लगा सकती है. फिलहाल दिल्ली में इसके लिए बैठकों का दौर जारी है और बीजेपी मंगलवार या बुधवार तक कुल 172 टिकटों की घोषणा कर सकती है. देखें ये एपिसोड. और पढो >>

सोनू सूद के दफ्तर पर IT का छापा: अकाउंट बुक में गड़बड़ी के आरोपों के बाद इनकम टैक्स की टीम एक्टर के मुंबई दफ्तर पहुंची, 5 अन्य लोकेशन पर भी सर्वे कियाबॉलीवुड एक्टर सोनू सूद के दफ्तर पर इनकम टैक्स विभाग का छापा पड़ा है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, IT टीम अभी सोनू के मुंबई स्थित दफ्तर पर मौजूद है। उनकी एक प्रॉपर्टी की अकाउंट बुक में गड़बड़ी के आरोपों के बाद टीम प्रॉपर्टी का सर्वे कर रही है। IT की टीमों ने सोनू सूद और उनकी कंपनियों से जुड़ी 6 जगहों पर सर्वे किया है। | Sonu Sood Mumbai Update | Sonu Sood Mumbai House Raided By Income Tax Department SonuSood इससे शर्मनाक कुछ हो नहीं सकता ,जिस बंदे ने दिन-रात निस्वार्थ भाव से गरीब, मजदूर ,बेसहारा लोगों की उस भयंकर कोरोना काल में मदद की उसके यहां रेड 😠😠 SonuSood SonuSood Expected. How could anyone steal so much limelight from govt during covid crisis ? Kisi ek ko bhi achha kaam mat karne dena. How Adani could multiply his wealth would never come under IT scanner. SonuSood Good

अफगानिस्तान: काबुल में बंदूक की नोक पर भारतीय नागरिक का अपहरण, दिल्ली में रहता है परिवारअफगानिस्तान: काबुल में बंदूक की नोक पर भारतीय नागरिक का अपहरण, दिल्ली में रहता है परिवार Afganistan Taliban PMOIndia MEAIndia PMOIndia MEAIndia Freind ab telbun Ko money ke jurath key key apni old thinks ke survath ker de bus chinia Mey yey loge es peker ke herkth n in deshio key negrike Ko pereysion nhi kerthey ok PMOIndia MEAIndia दुनिया ने आतंकवादियों के सामने आत्मसमर्पण किया है। तालिबान, चीन और पाकिस्तान का अमानवीय हथियार है जिसे शांतिप्रिय देशों के खिलाफ क्रूर कम्युनिस्ट और इस्लामिक कट्टरपंथी द्वारा अशांत करने का प्रयास है। फिर भी दुनिया खामोश है। ऐसे देशों का बहिष्कार क्यों नहीं

NCRB 2020: लॉकडाउन के दौरान क्राइम ग्राफ में गिरावट, कोरोना नियमों के उल्लंघन में वृद्धिफेक करेंसी के मामलों पर अगर नजर डाली जाए तो साल 2020 के दौरान नकली भारतीय मुद्रा नोटों (FICN) के तहत 92,17,80,480 मूल्य के कुल 8,34,947 नोट जब्त किए गए, जबकि वर्ष 2019 में ₹ 25,39,09,130 ​​मूल्य के 2,87,404 नोट जब्त किए गए थे.

दिल्ली में पकड़े गए आतंकी का UP कनेक्शन: बहराइच के अबु बकर की शुरुआती पढ़ाई सऊदी अरब में हुई; 2013 में देवबंद में दाखिला लिया, जमात के लिए गया था दिल्लीदिल्ली में पकड़ा गया आतंकी मोहम्मद अबु बकर बहराइच का रहने वाला है। एक हफ्ते पहले वह दिल्ली जमात में गया था। वहीं ATS ने उसे गिरफ्तार कर लिया। अबु बकर के पकड़े जाने के बाद स्थानीय लोगों का कहना है कि उन्हें कभी इस बात की भनक तक नहीं लगी कि अबु बकर किसी आतंकी संगठन से जुड़ा है। वहीं, परिवार का कहना है कि अबु बकर निर्दोष है। पुलिस को मामले की ठीक से छानबीन करनी चाहिए। | bahraich hindi news, bahraich terrorist abu bakkar, bahraich police, delhi ats, terrorist abu bakkar, दिल्ली में पकड़ा गया आतंकी मोहम्मद अबु बक्कर बहराइच का रहने वाला है। एक हफ्ते पहले आतंकी दिल्ली जमात में गया हुआ था। वहीं से एटीएस ने उसको गिरफ्तार किया है। Ab ghar wale kahenge ki mujhe to kuch bhi pata nahi chala ki beta is raah par chal para he.... Tum log agar bachcho ko pahle se hi achchi siksa dete to beta bam ki jagah school beg lekar jata... Sawaaliya nishan to tumhari siksa par he Devban atankiyo ka adda hai

दीवाली पर दिल्ली में पटाखों पर इस साल भी रहेगा प्रतिबंध : अरविंद केजरीवालसीएम केजरीवाल ने कहा कि पिछले साल व्यापारियों द्वारा पटाखों के भंडारण के पश्चात प्रदूषण की गंभीरता को देखत हुए देर से पूर्ण प्रतिबंध लगाया गया जिससे व्यापारियों का नुकसान हुआ था. सभी व्यापारियों से अपील है कि इस बार पूर्ण प्रतिबंध को देखते हुए किसी भी तरह का भंडारण न करें. Seedha bol do ab kabhi bhi diwali pe patakhe nahi chalenge aur kuch saalon ad diyon par bhi ban ho jayega. Ghanta, diwali to dhoom dham se hi manayenge लेकिन क्या जनता सरकार का आदेश मानेगी,

Taliban की ज्यादतियों पर फूटा गुस्सा, Kandahar में सड़कों पर महिलाएंअफगानिस्तान में तालिबान राज के तीस दिन पूरे हो गए हैं. आज से एक महीने पहले 15 अगस्त को तालिबान ने काबुल पर कब्जा कर लिया था. तालिबान के खौफ से पूर्व राष्ट्रपति अशरफ गनी अफगानिस्तान छोड़कर भाग गए. लेकिन, तीस दिन के भीतर ही अफगानिस्तान के लोग तालिबान से बेखौफ हो गए है. तालिबान के खिलाफ लगातार प्रदर्शन हो रहा है. ताजा प्रदर्शन कंधार में हुआ है. देखें वीडियो. हिंदुत्व विरोधी सभा क्वालिटीज करने का मकसद हिंदुस्तान को बर्बाद और बदनाम करना है PakistanIsTaliban