Ruralındia, Coronapandemic, Village Connection, Lockdown İn India, Coronavirus, Covid-19 Epidemic, 74% Villagers Satisfied With Modi Government, Government Steps To Tackle Covid-19 Epidemic, Center For Study Of Developing Societies

Ruralındia, Coronapandemic

Survey: कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए मोदी सरकार के कदमों से 74 फीसद ग्रामीण संतुष्ट

सर्वे के मुताबिक लॉकडाउन के दौरान करीब 23 फीसद ग्रामीण भारतीयों को कर्ज लेना पड़ा।

10-08-2020 22:24:00

Survey: कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए मोदी सरकार के कदमों से 74 फीसद ग्रामीण संतुष्ट narendramodi RuralIndia CoronaPandemic

सर्वे के मुताबिक लॉकडाउन के दौरान करीब 23 फीसद ग्रामीण भारतीयों को कर्ज लेना पड़ा।

कोविड-19 महामारी से निपटने के लिए प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी सरकार द्वारा उठाए गए कदमों से 74 फीसद ग्रामीण भारतीय संतुष्ट हैं। वहीं 78 फीसद ग्रामीण भारतीय संबंधित राज्य सरकारों द्वारा उठाए गए कदमों से संतुष्ट हैं। हालांकि उन्हें कठिनाइयों का सामना करना पड़ा और कुछ को अपनी जमीनें, फोन और घड़ियां बेचनी पड़ीं या कर्ज लेना पड़ा।

बाबरी मस्जिद को गिराना एक षड्यंत्र था, मेरी जाँच बिलकुल सही थी: जस्टिस लिब्राहन - BBC News हिंदी आज तक @aajtak Hathras Gangrape पर बोले Sachin Pilot- सबूतों को मिटाने की कोशिश हुई

'गांव कनेक्शन': सर्वे 23 राज्यों के 179 जिलों में कराया गया; 25,371 लोगों से पूछे सवालमीडिया प्लेटफॉर्म 'गांव कनेक्शन' द्वारा 30 मई से 16 जुलाई के बीच कराए गए सर्वे में कुल 25,371 लोगों से शारीरिक दूरी का पालन करते हुए आमने-सामने सवाल पूछे गए। इसे 23 राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के 179 जिलों में कराया गया। इसका डिजाइन और विश्लेषण लोकनीति और सेंटर फॉर स्टडी ऑफ डेवलेपिंग सोसायटीज (सीएसडीएस) ने किया।

37 फीसद लोगों ने मोदी सरकार के कदमों का किया समर्थनसीएसडीएस में प्रोफेसर संजय कुमार ने सर्वे के हवाले से बताया, मोदी सरकार के कदमों का समर्थन करने वाले 37 फीसद लोगों ने कहा कि वे बेहद संतुष्ट हैं, जबकि अन्य 37 फीसद ने कहा कि वे काफी हद तक संतुष्ट हैं।

14 फीसद लोग मोदी सरकार के कामों से असंतुष्ट हैं14 फीसद ने कहा कि वे कुछ हद तक असंतुष्ट हैं, जबकि सात फीसद ने कहा कि वे बहुत असंतुष्ट हैं। खास बात यह रही है कि भाजपा शासित राज्यों के लोग मोदी सरकार और राज्य सरकार के कदमों से कम प्रभावित थे।यह भी पढ़ें

73 फीसद लोगों ने लॉकडाउन के दौरान प्रवासी कामगारों के प्रति सरकार के रुख को अच्छा बतायालॉकडाउन के दौरान प्रवासी कामगारों के प्रति मोदी सरकार के रुख के बारे में 73 फीसद ने इसे अच्छा बताया जबकि 23 फीसद ने इसे खराब बताया। लॉकडाउन की सख्ती के बाबत पूछे जाने पर 40 फीसद ने इसे बेहद सख्त करार दिया, 38 फीसद ने इसे पर्याप्त सख्त बताया जबकि 11 फीसद ने कहा कि इसे और सख्त होना चाहिए था। सिर्फ चार फीसद ने कहा कि लॉकडाउन होना ही नहीं चाहिए था।

यह भी पढ़ेंलॉकडाउन के दौरान 23 फीसद ग्रामीण भारतीयों को कर्ज लेना पड़ासर्वे के मुताबिक, लॉकडाउन के दौरान करीब 23 फीसद ग्रामीण भारतीयों को कर्ज लेना पड़ा। 71 फीसद राशन कार्ड धारकों ने कहा कि लॉकडाउन के दौरान उन्हें सरकार से गेहूं और चावल मिला था। और पढो: Dainik jagran »

Sushant Singh Rajput की डायरी के ये 11 पन्ने खोलेंगे कौन से राज?

सुशांत की डायरी बोलेगी, मौत मिस्ट्री खोलेगी! आजतक को सुशांत सिंह राजपूत की डायरी के वो ग्यारह एक्सक्लूसिव पन्ने मिले हैं जो और किसी के पास नहीं हैं. उन पन्नों में छुपा है सुशांत के साथ हुई साजिश के तमाम राज. इन पन्नों में सुशांत की ज़िंदगी का उजाला है, निराशा का वो अंधेरा नहीं जिसकी तस्वीर रिया चक्रवर्ती अपने झूठ से पेश कर रही थी. आज सुशांत के हाथों से लिखे नोट्स उनकी गवाही दे रहे हैं. वो बता रहे हैं कि जिंदगी में रिया के आने से पहले उनका एक मकसद था और उस मकसद को लेकर उनमें जबरदस्त कमिटमेंट थी. देखें ये रिपोर्ट.

narendramodi Babaji narendramodi यहां केसेस 22 23 लाख पहुंच गए हैं टेस्टिंग पर्याप्त हो नहीं रही है अभी भी कई जगह और कह रहे हैं कि तुम्हारे पिताजी ने बहुत अच्छे से कंट्रोल किया है शर्म आनी चाहिए सबसे झूठा अखबार है दैनिक जागरण narendramodi दैनिक जागरण उसके पापा मोदी अपने मुंह मियां मिट्ठू बनना तुम लोग को बहुत अच्छे से आता है कहां से भी करा लिया तुम लोगों ने क्यों झूठ फैला रहे समाज में जहर घोल रहे हो

narendramodi Ese survey karne wale ko ulta latka ke uske gand pe garam garam loha ghusa dena chahiye.. narendramodi 🤣🤣🤣🤣 narendramodi लॉकडाउन बाबा.... कोरोना बाबा.... narendramodi Abe dalle narendramodi joke of the year narendramodi 74 pratisat me Kon se gav h modiji. List batao Me jakr jayka k r aata hu Ki sapna h ki hakikat

narendramodi कौन सा सर्वेयर था बुलाओ उसको मेरे गाओं में क्यों नहीं आया narendramodi ऐसे सर्वे दिखावगे तो लोगा का भरोसा उठ जाएगा दैनिक जागरण से narendramodi 100 फ़ीसद ही बोल देते। बोलने में क्या जाता है। narendramodi 🤣🤣😅😅 ग्रामीण संतुष्ट अरे भैया गाव m सर्वे करने कोn आया था तुम गए थे या तुम्हारा पापा मोदी गया था chutiya बना रहे हो लोगो का

narendramodi कितने लोग शामिल हुए थे कमीनो, या फिर ऐसे ही अपने वातानुकूलित कमरों में बैठ कर कुछ भी छाप देते हो। narendramodi भोले भाले अनपढ़ सीधे साधे गलत हरकतों से अनजान ग्रामीणों को बेवकूफ बनाना बहुत आसान होता है। उन्हें तो रोटी और कपड़ा देते रहो बाकी उनका सब कुछ लूट लो। narendramodi 🔔 salo konse gav me jake aaye ho tum log mere yaha gav ka sirf 1 ki rashta he aane jane ka yaha to hamne nato news vale ya kishibhi sarkari adhikari ko aate nahi dekha Benchodo kuchh shram karo kitna mume longe salo

narendramodi ये आंकड़े आपलोग कहां से जुगाड कर लेते हैं एकदम से कुछ भी छाप दिया narendramodi सर्वे से जीवन नहीं बचाया जा सकता है।सर्वे के स्थान पर कोरोनावायरस से कैसे बचें,इसका प्रसार करना चाहिए। लोगों का संतुष्ट होना और कोविड 19 से मुक्त होना दो अलग-अलग बातें हैं। narendramodi Survey karne wale ki maa ka .....sala kaun modi kam ko sarah raha hai.. 1. Kitne ventilator khareed kiye gaye 2. Kitne hospital ko upgrade kiya gaya 3. Kitne hospital men jaanch ki suvidha di gayi 4. Kitne covid centre par logon ko bhojan pani mila 5. Kitne ko ambulance service

narendramodi जयहिन्द😂ऐसे झूठे मक्कारी से भरे सर्वे सिर्फ़ ये दिखाते है कि जनता भाजपा नेतृत्व से बुरी तरह से असंतुष्ट है और ये भी बताती है कि आज कि प्रिंट मीडिया अपना पूरा हुनर भाजपा सरकार कि भारी अनदेखी निकम्मे पन को छुपाने में लगा रही है इसका क्या औचित्य है की सर्वो कि स्ट्राइक जनता पर कि narendramodi आजतक बन रहा है ये भी

narendramodi SplCPTrafficDel I request suspension termination of virender Singh and harsh punishment of Amit Mohit tarachand employees of j47 basement special Olympics Bharat India Ngo for harassing my family and threatening and some others from same society narendramodi कोविड में सर्वे हो गए? हाहाहा..

narendramodi hahahhaha. 94 % kah do narendramodi Fake survey. Is feku se koyi khush nahi hai. Faku fake Sarve karata hai narendramodi Boss bepari kitne Santosh hai..👎 narendramodi Impossible narendramodi तू भी आजा narendramodi गांव में भी संघ-भाजपा के कार्यकर्ता होते ही हैं। narendramodi मैं अखलाक रोहित पहलू की लाश हूँ, हाँ मैं ही विकास हूँ. दलितों का उत्पीड़न हूँ नजीब के माँ की तलाश हूँ, हाँ-हाँ मैं ही विकास हूँ। नजीब_कहां_है

narendramodi Hahahahah narendramodi अबे ये गुप्त रोग जैसा सर्वे किस्से करवा लिया ये देख दलाल जनता का सर्वे narendramodi wo jo mar gye raste me wo bhi?. narendramodi जो आपके मनमुताबिक हो उसी सर्वे पर हल्ला मचायेंगे और भी आपने सर्वे किये है पत्रकारिता गरिमा न गिराइये narendramodi फेक सर्वे है कोई संतुष्ट नहीं है

narendramodi Kabhi kisi gav me jakar dekha h ya frr vhaa prr puchha h ? Ve khush h ya nhi.... Hddd h drame baji ki.... Jameeni hakikat janni h to kabhi achank kisi gav me jakar pta kro...aur sahi report dikhao.... Dramebaji na kro.... narendramodi यह सर्वे कब किया गया? narendramodi aajtak के कॉमेडी के बाद दैनिक जागरण ने भी मजाक कर दिया। कुछ तो सरकार को बख्श दो।

इतना खुशहाल जमाना मैंने तो कभी नहीं देखा। देखा है तो बस बिकी हुई प्रिंट और इलेक्ट्रॉनिक्स मीडिया पर। यह 26 कहां रह गए , खेत तो नहीं निकल गए शौच के लिए क्यूंकि साहब द्वारा बनाए गए शौचालय तो सिर्फ कागजों पर रह गए। narendramodi narendramodi Ye khabar to CHAMCHON ki dhunwa nikal degi narendramodi 😉😀 narendramodi जब इतने सारे लोग खुश है तो कुछ करने कि जरुरत ही नहीं

narendramodi narendramodi LOL

जोधपुर में पाकिस्तान से आए विस्थापितों के एक परिवार के 11 लोगों के शव मिलेराजस्थान के जोधपुर में हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. यहां एक ही परिवार के 11 लोगों की मौत की खबर से पूरे इलाके में सनसनी फैल गई है. जानकारी के अनुसार जोधपुर के डेंचू इलाके में एक ही परिवार के 11 लोगों के शव मिले हैं. पूरा परिवार पाकिस्तान से विस्थापित बताया जा रहा है. जानकारी मिलने के बाद पुलिस अधिकारी मौके पर पहुंचे हैं.

आज से मध्यप्रदेश के बाहर के श्रद्धालु भी कर सकेंगे महाकाल के दर्शनआज से मध्यप्रदेश के बाहर के श्रद्धालु भी कर सकेंगे महाकाल के दर्शन Ujjain ujjainkemahakal Mahakal ChouhanShivraj BJP4India

महानगरों से अब छोटे शहर और ग्रामीण इलाकों की तरफ पांव पसार रहा कोरोनातीन महीने पहले यानी 8 मई तक मुंबई, अहमदाबाद, चेन्नई, पुणे, ठाणे, इंदौर, जयपुर और जोधपुर भारत के सबसे प्रभावित जिलों में से थे. तीन महीने बाद यानी 8 अगस्त तक इस सूची में थोड़ा बदलाव आ चुका है. Hona hi tha.. Rahul gandhi ki koshish kamyab ho gyi पीएम-किसान योजना के तहत अगस्त-नवम्बर 2020 अवधि की दो हजार रूपये की सम्मान राशि सीधे आपके बैंक खाते में भेज दी गई है| आशा करता हूँ हर चार महीने पर मिलने वाली इस राशि से आपको खेती की जरूरतों में मदद मिलेगी| भगवान बलराम जयंती की शुभकामनाओं सहित आपका नरेन्द्र मोदी।।wellcom modi ji🙏 कोरोना इतना नहीं फेल रहा जितनी तुम लोगो ने न्यूज फेला दी ह। नोकरी छूटे 5 महीने हो गए है अब तो बंद करो - ना

रक्षा उपकरणों के आयात पर रोक से FICCI गदगद, मोदी सरकार से कही ये बातफिक्की ने कहा कि घरेलू कंपनियों से रक्षा उपकरणों की खरीदारी के लिए 52000 करोड़ रुपये आवंटित करना शानदार कदम है. फिक्की के एक लंबे समय से चल रही मांग पूरी हो गई है, अब कंपनियां रक्षा क्षेत्र में अपने उत्पादन और पूंजी की योजना बना सकती हैं. 0🤔🤔 FICCI gadgad ho gayi ki Dalali mil Jane ke karan Aaj tak news channel gadgad ho gaya भारतीय कंपनियों को सामान की गुणवत्ता पर विशेष ध्यान देना चाहिए। इस स्वर्णिम अवसर का लाभ लेते हुए स्वयं को इस स्तर तक उठाएं कि आगे चलकर विदेशों में भी निर्यात करें।

कर्नाटक के सीएम येदियुरप्पा ने कोरोना से जीती जंग, अस्पताल से मिली छुट्टीकर्नाटक के सीएम येदियुरप्पा ने कोरोना से जीती जंग, अस्पताल से मिली छुट्टी Coronavirus coronaupdate Yeduraappa BSYBJP BSYBJP कोरोना से बुजुर्ग बच्चे नेता नही सिर्फ गरीब मरते हैं BSYBJP कोरोना से सिर्फ देश की गरीब जनता मरती है नेता नहीं BSYBJP Corona fir har gaya paise aur power ke aage 😒

बिहार के मुजफ्फरपुर में बाढ़ से 240 पंचायतें प्रभावित, बागमति के जलस्तर में लगातार वृद्धिबिहार के मुजफ्फरपुर में बाढ़ से 240 पंचायतें प्रभावित, बागमति के जलस्तर में लगातार वृद्धि BiharFlood Bihar Flood Rain coronavirus PMOIndia WHO MoHFW_INDIA PMOIndia WHO MoHFW_INDIA बिहार की जमीन ने लालू राबड़ी और नीतीश एक जैसे ही पापी भ्रष्टाचारी और आतंकवादी पैदा किए हैं तो ईश्वर भी क्या करें। राजेंद्र प्रसाद और जगजीवन राम ने बिहार में पैदा होकर लाइन ही खराब कर दी। सुशील मोदी अकेले-अकेले मस्त मजा ले रहे हैं।