Rajasthanpoliticalcrisis, Rajasthancrisis, राजस्थान में सियासी संकट, राजस्थान में कांग्रेस के संकट मोचक, अशोक गहलोत सरकार पर संकट, Sachin Pilot Vs Ashok Gehlot, Sachin Pilot, Randeep Surjewala, Rajasthan Political Drama, Rajasthan News, Gehlot Government Out Of Danger, Gehlot Government İn Crisis

Rajasthanpoliticalcrisis, Rajasthancrisis

Rajasthan Political Crisis: गहलोत सरकार के संकट मोचक बने ये चेहरे

गहलोत सरकार के संकट मोचक बने ये चेहरे via @NavbharatTimes #RajasthanPoliticalCrisis #RajasthanCrisis

13-07-2020 14:31:00

गहलोत सरकार के संकट मोचक बने ये चेहरे via NavbharatTimes RajasthanPoliticalCrisis RajasthanCrisis

सचिन पायलट की नाराजगी की खबरें जैसे ही बाहर आईं कांग्रेस आलाकमान सक्रिय हो गया। पार्टी नहीं चाहती थी कि राजस्थान भी मध्य प्रदेश बने। अब पार्टी राहत की सांस ले सकती है क्योंकि सोमवार को उसने दावा किया कि गहलोत सरकार को अभी भी 109 विधायकों का समर्थन हासिल है। गहलोत सरकार के लिए कुछ चेहरे संकट मोचक बनकर उभरे। आइए देखते हैं कौन हैं ये कांग्रेस के संकट मोचक।

रविवार को शाम होते-होते जब संकट ज्यादा गहरा गया तब कांग्रेस आलाकमान ने अपने तेज तर्रार प्रवक्ता रणदीप सुरजेवाला को तत्काल जयपुर रवाना होने का संदेश भेजा। एक-एक पल महत्वपूर्ण था लिहाजा वह चार्टर्ड प्लेन से जयपुर पहुंचे। जाते ही सुरजेवाला ने ताबड़तोड़ विधायकों से संपर्क कर उन्हें साधे रखने की कवायद शुरू की। अगले दिन विधायक दल की बैठक बुलाने का ऐलान किया गया और विप जारी कर रात ढाई बजे विधायकों को दो टूक चेतावनी दी गई कि मीटिंग में नदारद रहे तो पार्टी की प्राथमिक सदस्यता से भी हाथ धोना पड़ेगा। कभी सख्त कभी नरम की रणनीति के तहत सोमवार को सुरजेवाला जब मीडिया से मुखातिब हुए तो उनके सुर बदले थे। सुलह की गुंजाइश को रखते हुए उन्होंने पायलट का नाम लेकर कहा कि उनके सहित सभी विधायकों के लिए पार्टी के दरवाजे खुले थे, खुले हैं और खुले ही रहेंगे। सुरजेवाला दिल्ली से गए अन्य नेताओं के साथ मिल विधायकों को साधने में कामयाब हुए।

शाह फ़ैसल बोले- मेरी राजनीति शुरू होने से पहले ही ख़त्म बेटे शादी तक, लेकिन बेटियां हमेशा बेटियां रहती हैं, संपत्ति पर बराबर हकः SC बिहार: नाराज चिराग पासवान ने उठाई NDA में न्यूनतम साझा कार्यक्रम बनाने की मांग

अविनाश पांडेगहलोत सरकार पर छाए संकट के बादल को हटाने में राजस्थान के कांग्रेस प्रभारी अविनाश पांडे की बहुत ही अहम भूमिका रही। संकट का अंदाजा लगते ही वह जयपुर में डट गए और विधायकों को एकजुट बनाए रखने की रणनीतियों पर काम और उन्हें अमलीजामा पहनाने में मशगूल रहे।

अजय माकनकांग्रेस आलाकमान ने सुरजेवाला के साथ दिल्ली के पूर्व प्रदेश अध्यक्ष अजय माकन को भी जयपुर भेजा। माकन भी सुरजेवाला के साथ मिलकर मुख्यमंत्री अशोक गहलोत, राज्य सरकार के मंत्रियों और विधायकों के साथ लगातार संवाद बनाया। जिन भी विधायकों के सचिन पायलट कैंप में होने का थोड़ा भी संदेह हुआ, उन्हें एकजुटता की खास नसीहतें दी गईं।

के. सी. वेणुगोपालरविवार रात को ही सुरजेवाला और माकन जयपुर पहुंच गए और सरकार बचाने की कवायद में लग गए। राजस्थान के कांग्रेस प्रभारी अविनाश पांडे पहले से ही जयपुर में डटे हुए थे। सोमवार सुबह होते-होते कांग्रेस आलाकमान एक और भरोसेमंद चेहरे और पार्टी महासचिव के. सी. वेणुगोपाल भी जयपुर पहुंच गए। उन्होंने भी विधायकों को भरोसा दिलाया कि सरकार को कोई खतरा नहीं है और वे किसी की बातों में बिल्कुल न आएं।

प्रियंका गांधी वाड्राकांग्रेस किसी भी कीमत पर मध्य प्रदेश जैसी गलती नहीं दोहराना चाहती। इसे इस बात से समझ सकते हैं कि संकट को सुलझाने के लिए प्रियंका गांधी वाड्रा ने भी पर्दे के पीछे से मोर्चा संभाला हुआ है। प्रियंका मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और सचिन पायलट से संपर्क बनाई हुई हैं। शायद यही वजह है कि पायलट कैंप की तरफ से भी सुलह के संकेत मिलने लगे हैं।

Web Titlethese leaders of congress emerges as troubleshooters in rajasthan political crisis और पढो: NBT Hindi News »

काम की बात: LIC बंद हो चुकीं पॉलिसी को फिर से शुरू करने का दे रहा मौका, 9 अक्टूबर तक करा सकेंगे रिवाइव

पॉलिसीहोल्डर्स को लेट फीस पर 30 फीसदी तक की छूट मिलेगी,1 लाख तक की लेट फीस पर 20 फीसदी की छूट मिलेगी LIC is giving a chance to resume the policy which has been closed, it will be able to revive by 9 October

राजस्थान: सियासी संकट के बीच गहलोत के क़रीबियों पर आयकर और ईडी के छापेराजस्थान में कांग्रेस विधायक दल की बैठक के दौरान पार्टी की राज्य इकाई के उपाध्यक्ष राजीव अरोड़ा और धर्मेंद्र राठौड़ के ठिकानों पर आयकर विभाग ने छापेमारी की. वहीं ईडी ने एक ऐसे कारोबारी के ठिकानों पर छापेमारी जिस पर भाजपा मुख्यमंत्री के बेटे वैभव गहलोत के लिए मनी लॉन्ड्रिंग करने का आरोप लगा चुकी है. राजस्थान को दंगाई व वंचित तबका विरोधी पार्टी भाजपा से बचाना है। WeSupportAshokGehlot Wah...jo horse trading kar raha uske ghar nahi balke...jiski sarkaar gir rahi hai usko hi lootenge... Ye to hona hi tha 😂😂

राजस्थान में गहलोत सरकार पर संकट के बादल, सचिन पायलट, 10 विधायक दिल्ली पहुंचेशनिवार को अशोक गहलोत ने कैबिनेट की मीटिंग की थी। इस बैठक में भी सचिन पायलट शामिल नहीं हुए। बताया जा रहा है कि कांग्रेस के 10 विधायक अपनी पीड़ा कांग्रेस आलाकमान को बताने के लिए दिल्ली पहुंचे हैं। कांग्रेस को एक जुट रहने की जरूरत है इस बार बीजेपी कोई चुनाव नहीं जीत पायेगी थोड़ी सी तसली रखो लोकसभा में बीजेपी 50-70 से सीट नहीं जीत पाएगी बीजेपी पतन का नजदीक है गुजरात बिहार केरल उत्तराखंड हिमाचल तमिलनाडु वेस्ट बंगाल चुनाव बीजेपी हारेगी INCIndia RahulGandhi

राजस्थान में राजनीतिक संकट, सचिन पायलट के नोटिस ने बढ़ाई गहलोत सरकार की मुसीबतनई दिल्ली। राजस्थान सरकार में सत्ता के लिए जारी रस्साकशी के बीच पार्टी के नेता सचिन पायलट के करीबी सूत्रों ने रविवार को कहा कि अपनी ही सरकार को अस्थिर करने की कथित कोशिश की जांच में पूछताछ के लिए पेश होने का उप मुख्यमंत्री को पत्र भेजे जाने से सारी हदें पार हो गई हैं। इससे, पायलट समर्थक विधायकों का मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के तहत काम करना मुश्किल हो गया।

राजस्थान का सियासी संकट: गहलोत सरकार गिराए बिना नहीं बनेगी सचिन पायलट की बातराजस्थान में कांग्रेस में अंतर्कलह के चरम पर पहुंचने के बावजूद भाजपा जल्दबाजी में नहीं है। SachinPilot ashokgehlot51 JM_Scindia BJP4Rajasthan RahulGandhi INCIndia RajasthanPoliticalCrisis SachinPilot ashokgehlot51 JM_Scindia BJP4Rajasthan RahulGandhi INCIndia SachinPilot ashokgehlot51 JM_Scindia BJP4Rajasthan RahulGandhi INCIndia SachinPilot ashokgehlot51 JM_Scindia BJP4Rajasthan RahulGandhi INCIndia इस राजनीतिक उठापटक के पीछे तो कोई और ही लगता है जो पर्दे के पीछे से सचिन पायलट जी को आगे कर के खेल रहा हैं ,क्यों कि 'जादूगर' जी की जादूगरी ने उसे भी 'दौड़' से पीछे कर खुद को आगे किया हैं।

Video: सरकार पर संकट के बादल, राजस्थान के मंत्री ने ठोका ये दावा?राजस्थान में सियासी ड्रामा जारी है. जहां गहलोत सरकार के सामने सत्ता बचाने की चुनौती है. सचिन पायलट के बगावती सुर तेज हो चुके हैं और राजस्थान अब मध्य प्रदेश की राह पर चलता नजर आ रहा है. युवा और अनुभव के जिस बिगड़े तालमेल ने मध्यप्रदेश में कमलनाथ सरकार को सत्ता से बाहर कर कमल खिलाया था, राजस्थान भी अब उसी ट्रैक पर जाता दिख रहा है. सीएम अशोक गहलोत और डिप्टी सीएम सचिन पायलट के मतभेद के बीच कांग्रेस में सियासी संकट खड़ा हो गया है. इसी बीच राजस्थान सरकार के मंत्री प्रताप सिंह ने बड़ा दावा किया. देखिए वीडियो. BjpMLA_dalal_hai BjpMLA_dalal_hai BjpMLA_dalal_hai BjpMLA_dalal_hai BjpMLA_dalal_hai BjpMLA_dalal_hai BjpMLA_dalal_hai BjpMLA_dalal_hai BjpMLA_dalal_hai BjpMLA_dalal_hai BjpMLA_dalal_hai BjpMLA_dalal_hai BjpMLA_dalal_hai BjpMLA_dalal_hai पर टविट किजीये SachinPilot abhi bhi propaganda sor nehi pa raha. Studio mey rahulkanwal beitha hua hey sayad.

VIDEO: गहलोत के बेटे के करीबी के यहां IT का छापा, क्या है सीएम से कनेक्शन? राजस्थान में सियासी संकट के बीच मुख्यमंत्री अशोक गहलोत के करीबियों पर आयकर विभाग का शिकंजा कसना शुरू हो गया है. आयकर विभाग के 200 से अधिक अधिकारियों और कर्मचारियों ने दिल्ली और राजस्थान के कई जगहों पर छापेमारी की है. यह छापेमारी अशोक गहलोत के करीबी धर्मेंद्र राठौड़ और राजीव अरोड़ा के ठिकानों पर की गई है. सीएम अशोक गहलोत के करीबी और ज्वैलरी फर्म के मालिक राजीव अरोड़ा के ठिकानों पर सोमवार सुबह आयकर विभाग की टीम पहुंची. देखिए वीडियो. बहोत बढिया 😅👌 सरकार गिराने के लिए दलाली गिरी चालू वैसे उससे कुछ फर्क नही पड़ने वाला सरकार तो फिर भी उन्ही की रहेगी😀😁😁😂😁