Rajasthan: प्रत्येक वर्ग के लिए न्यूनतम मजदूरी में 27 रुपये प्रतिदिन की बढ़ोतरी

प्रत्येक वर्ग के लिए न्यूनतम मजदूरी में 27 रुपये प्रतिदिन की बढ़ोतरी #Rajasthan #AshokGehlot

Rajasthan, Ashokgehlot

30-07-2021 15:48:00

प्रत्येक वर्ग के लिए न्यूनतम मजदूरी में 27 रुपये प्रतिदिन की बढ़ोतरी Rajasthan AshokGehlot

Rajasthan राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने प्रत्येक वर्ग के लिए न्यूनतम मजदूरी की दरों में 27 रुपये प्रतिदिन की बढ़ोतरी करने के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। बढ़ी हुई दरें एक जुलाई 2020 से लागू होंगी।

गौरतलब है कि राजस्थान सरकार और केंद्र सरकार के बीच कई मुद्दों पर चल रहे टकराव का असर अब सरकारी फैसलों पर होता नजर आ रहा है। राज्य सरकार ने कुछ समय पहले केंद्र सरकार की विभिन्न एजेंसियों और सार्वजनिक उपक्रमों के लिए जमीन महंगी कर दी है। केंद्रीय एजेंसियों को अब राज्य सरकार के विभागों की तरफ सस्ती दर पर जमीन नहीं मिलेगी। शहरी क्षेत्रों में जमीन आवंटन नीति में बदलाव करते हुए नगरीय विकास और आवासन विभाग ने नए नियम लागू किए हैं। नई नीति के अनुसार केंद्र सरकार के लिए जमीन महंगी होगी। केंद्र सरकार के विभागों को रिजर्व प्राइस के साथ 20 प्रतिशत अतिरिक्त देना होगा। केंद्र सरकार के विभिन्न विभाग यहां अलग-अलग तरह प्रोजेक्ट्स के लिए राज्य सरकार से जमीन लेते रहते हैं। उधर, केंद्र सरकार द्वारा राजस्थान के लिए मंजूर बड़े प्राजेक्ट रद होने से टकराव बढ़ा है। राज्य के भीलवाड़ा जिले में मेमू कोच फैक्ट्री का शिलान्यास कई साल पहले हुआ, लेकिन केंद्र सरकार ने इस प्रोजेक्ट को रद कर दिया। इसी तरह डूंगरपुर-बांसवाड़ा-रतलाम रेल प्रोजेक्ट का काम भी रुका हुआ है। मुख्यमंत्री अशोक गहलोत कई बार ईस्टर्न राजस्थान कैनाल को राष्ट्रीय परियोजना घोषत करने की मांग कर चुके हैं, लेकिन केंद्र सरकार ने इस बारे में अब तक कोई निर्णय नहीं लिया है।

गंगा किनारे जहां सैकड़ों शव दफ़न किए गए थे, वहां क्या है कोरोना की तैयारी? - BBC News हिंदी

और पढो: Dainik jagran »

कोरोना में जमकर लूट: प्राइवेट अस्पतालों ने 3 गुना ज्यादा बिल बनाए तो बीमा कंपनियों ने एक महीने में 1287 करोड़ ज्यादा वसूले

परिवार के सदस्य को खोने के बाद उसकी लाश के साथ यदि आपको लाखों का बिल थमा दिया जाए तो आप कैसा महसूस करेंगे? यह सोचने भर से रूह कांप जाती है। पर क्या आप जानते हैं कि जब आप अस्पतालों में बेड ढूंढ रहे थे और ऑक्सीजन सिलेंडर के लिए लाइन में लगे थे, तो प्राइवेट अस्पताल और इंश्योरेंस कंपनियां कितना मुनाफा कमा रही थीं। | Coronavirus disease (COVID-19) Treatment How Many Indians Do Not Have Health Insurance? Know People With Health Insurance 2022 IRDAI के मुताबिक, महामारी के दौरान अस्पतालों ने इंश्योरेंस कंपनियों से तीन गुना ज्यादा हेल्थ क्लेम का पैसा वसूला

वाह कांग्रेसियों वाह इतने पैसे बढ़ा दीया कुछ ज्यादा नि बढ़ा दीया🙄🖐️ बहुत ही ज्यादा बढ़ोतरी कर दी आपने अपना वेतन कितना बड़ा लिया ashokgehlot51 INCIndia SachinPilot

कंगना की मुश्किलें बढ़ीं: कंगना रनोट के खिलाफ राइटर आशीष कौल ने दायर की अवमानना याचिकाएक्ट्रेस कंगना रनोट के खिलाफ कुछ महीनों पहले राइटर आशीष कौल ने कॉपी राइट के उल्लंघन का आरोप लगाया था। अब इस मामले में आशीष कौल ने कंगना के खिलाफ बॉम्बे हाई कोर्ट में अवमानना याचिका दायर की है। इस मामले में आशी कौल के एडवोकेट अदनान शेख और योगिता जोशी ने कहा, 'हमने जावेद अख्तर को एक पत्र दिया और उनके जवाब से पता चला कि पासपोर्ट आवेदन के दौरान कंगना ने जो फैक्ट्स बताए हैं, वह गलत हैं और यह एक गंभीर अ... | Writer Ashish Kaul files contempt petition against Kangana Ranaut Bechari Bhakti Karti Rehgyi Shys Pegasus Ka Result hai 😂😂 Badiya hua 😂🤪🕺

एस्ट्राजेनेका: अमेरिका में अपने कोविड टीके की अनुमति के लिए साल के अंत में करेगी आवेदनएस्ट्राजेनेका: अमेरिका में अपने कोविड टीके की अनुमति के लिए साल के अंत में करेगी आवेदन LadengeCoronaSe Coronavirus Covid19 CoronaVaccine OxygenCrisis OxygenShortage PMOIndia MoHFW_INDIA ICMRDELHI

झारखंड के धनबाद में एक जज की मौत के मामले ने तूल पकड़ा - BBC News हिंदीधनबाद के ज़िला और सत्र न्यायाधीश उत्तम आनंद की मौत का मामला सीसीटीवी फुटेज सामने आने के बाद उलझ गया है. जज लोया के बारे में कभी सुप्रीम कोर्ट ने संज्ञान क्यो नही लिया 🤔🤔🏹 आप कितने न्यायप्रिय हैं - - - हत्या को मौत लिख रहे हैं और जहां मौत हुई वहां हत्या लिख रहे थे... शर्माजी पर एक जज स्पेश्यल कन्टम्ट लगाऐ!HC मे शायद 57 दिन का ऐक दूसरा सवा पाँच साल का बच्चा! सब छिना होते 3 दिन HC मे रजिस्ट्रार घुमाऐ! पर शर्माजी मे बदले की भावना मैने कभी नही पाई! सभी धर्म जाति उनसे नराज ऐक जैन बिना बताऐ उनकी स्थति समझ नोमिनी बना गऐ उनने न लिया! संयम मे सुख!

सफलता: गुजरात एटीएस की गिरफ्त में 2500 करोड़ की ड्रग्स के मामलों में वांछित आरोपीसफलता: गुजरात एटीएस की गिरफ्त में 2500 करोड़ की ड्रग्स के मामलों में वांछित आरोपी Gujarat ATS =CrimeNews Drugs

दिल्ली: कोविड लॉकडाउन के दौरान ज़रूरी उपकरणों के अभाव में 25 सफाईकर्मियों की मौतदिल्ली हाईकोर्ट की पीठ उस जनहित याचिका पर सुनवाई कर रही थी, जिसमें सफाईकर्मियों की लंबित तनख़्वाह जारी करने, उन्हें चिकित्सा सुविधा के साथ-साथ निजी सुरक्षा उपकरण भी उपलब्ध कराने का आग्रह किया गया है. याचिका में आरोप लगाया गया है कि इन सफाई कर्मचारियों और उनके परिवारों के इलाज और देखभाल के साथ-साथ चिकित्सा बीमा की कोई सुविधा प्रतिवादियों- केंद्र, दिल्ली सरकार और सफाई कर्मचारी आयोगों द्वारा उपलब्ध नहीं कराई गई है.

झारखंड हिट एंड रन केसः ज़िला जज की मौत की जांच के लिए एसआईटी का गठनझारखंड के धनबाद शहर में बुधवार को सुबह की सैर पर निकले झारखंड के एक जिला जज उत्तम आनंद को एक ऑटोवाले ने टक्कर मार दी, जिससे उनकी मौत हो गई. सीसीटीवी फुटेज में देखा जा सकता है कि ऑटोवाले ने उन्हें जान-बूझकर टक्कर मारी है. मृतक जज धनबाद में माफ़ियाओं से जुड़े कई मामलों की सुनवाई कर रहे थे और हाल ही में दो गैंगस्टरों की ज़मानत याचिका ख़ारिज कर दी थी. जजो को भी सुरक्षा मिलनी चाहिए। JUDGE LOYA DEATH PAR SIT KA GHATAN Q NAHI HUA THA उतनी सरल नहीं है जितनी सरलता से न्यायालय ले रही है धनबाद में कोल_माफिया के खूनी संघर्ष से जिला, उच्च और सुप्रीम कोर्ट तक मामले पटे हुए हैं। काले कोयले का खेल है,कितने मिट चुके हैं इतिहास साक्षी है।टस से मस नहीं होगा। निरसा थाने का प्रत्येक रात इस काले कोयले के काले खेल का गवाह