Reet, Rajasthan, Reet 2021 Paper Leak, Reet 2021 Paper Leak Case, Reet 2021 Paper Leak Rajasthan, Reet 2021 Paper Leak Probe, Reet 2021 Latest Update, Reet Case

Reet, Rajasthan

REET Paper Leak: रीट पेपर लीक केस में बुधवार को सुनवाई, जानिए- क्या है मामला

राजस्थान हाईकोर्ट में याचिका लगाई गई है कि परीक्षा रद्द की जाए और अगर परीक्षा रद्द नहीं होती है तो कम से कम जांच पूरी होने तक रिजल्ट रोका जाए #REET #Rajasthan (@sharatjpr)

26-10-2021 09:35:00

राजस्थान हाईकोर्ट में याचिका लगाई गई है कि परीक्षा रद्द की जाए और अगर परीक्षा रद्द नहीं होती है तो कम से कम जांच पूरी होने तक रिजल्ट रोका जाए REET Rajasthan (sharatjpr)

REET Paper Leak Case: याचिकाकर्ता की तरफ़ से पेपर लीक मामले की जांच CBI से कराने की मांग की गई है. इस मामले पर मधु कुमारी नागर बनाम राज्य सरकार की याचिका पर कल सुनवाई होनी है

REET Paper Leak Case:रीट परीक्षा पेपर लीक मामले में 27 अक्टूबर को राजस्थान हाईकोर्ट में सुनवाई होगी. राजस्थान हाईकोर्ट में याचिका लगाई गई है कि परीक्षा रद्द की जाए और अगर परीक्षा रद्द नहीं होती है तो कम से कम जांच पूरी होने तक रिजल्ट रोका जाए.याचिकाकर्ता की तरफ़ से पेपर लीक मामले की जांच CBI से कराने की मांग की गई है. इस मामले पर मधु कुमारी नागर बनाम राज्य सरकार की याचिका पर सुनवाई होनी है, मगर इससे पहले सिंगल बेंच में भागचंद ने भी परीक्षा रद्द करने की याचिका लगाई. भाग चांद की याचिका पहले हाईकोर्ट के डबल बेंच में ख़ारिज हो गई थी. मगर डबल बेंच ने सुनवाई करते हुए कहा था कि वो सिंगल बेंच में जा सकते हैं.

इस मामले पर सुनवाई सोमवार को हुई जिसमें राज्य सरकार की तरफ से महाधिवक्ता ने कहा कि रीट परीक्षा पेपर लीक को लेकर पहले से ही 27 अक्टूबर को सुनवाई होनी है. इसलिए, दोनों ही याचिकाओं को एक साथ सुना जाए लिहाज़ा राजस्थान हाईकोर्ट ने दोनों याचिकाओं पर सुनवाई के लिए 27 अक्टूबर की तारीख तय की है.

क्या है पूरा मामला, याचिका में क्या है?याचिकाकर्ताओं की तरफ़ से कहा गया है कि रीट परीक्षा पेपर लीक मामले में जांच पूरी नहीं हो पाई है और यह भी पता नहीं है कि कहां- कहां, किस-किस तरह पेपर लीक किया है. ऐसे मामले में बड़े स्तर पर पेपर लीक को देखते हुए एग्जाम रद्द किए जाएं और इसकी जांच CBI से कराई जाए. headtopics.com

राजस्थान की जांच एजेंसियां जांच करने में सक्षम नहीं है. दूसरी याचिका में भी परीक्षा रद्द करने की मांग और परिणाम रोकने की मांग की गई है. दूसरी तरफ़ से राजस्थान सरकार ने कहा है कि नीट यूजी परीक्षा में सुप्रीम कोर्ट ने कहा है कि एक-दो जगह की गड़बड़ियों की वजह से पूरी परीक्षा रद्द नहीं की जा सकती.

लिहाज़ा सुप्रीम कोर्ट के फ़ैसले को देखते हुए इस परीक्षा को रद्द ना की जाए. इसके जवाब में याचिकाकर्ताओं की तरफ़ से कहा गया है कि नीट यूजी परीक्षा में गड़बड़ी सीमित थे, इसलिए है सुप्रीम कोर्ट ने यह बात कही थी मगर यहां तो पूरे राजस्थान में पेपर लीक हुआ है. सुप्रीम कोर्ट ने पहले भी कहा है कि पेपर लीक मामले में परीक्षाएं रद्द हो.

कहां है रीट एग्जाम का सरगना?दूसरी तरफ बेरोजगार महासंघ की अगुवाई में राजस्थान के बेरोजगार जयपुर के शहीद स्मारक पर धरने पर बैठे हुए हैं और उन्होंने सरकार को चेतावनी दी है कि अगर जांच ठीक ढंग से नहीं कराई गई तो वह दिवाली तक इसी तरह से बैठे रहेंगे और भूखे प्यासे काली दिवाली मनाएंगे. बड़ी संख्या में बेरोजगार महासंघ के अध्यक्ष उपेन यादव की अगुवाई में छात्र धरने पर बैठे हैं तो यह मांग कर रहे हैं कि पिछली भर्तियों को भी सरकार जल्दी से जल्दी पूरी करे.

इस बीच रीट परीक्षा पेपर लीक के सरगना भजन लाल विश्नोई का अब तक कोई पता नहीं चल पाया है इसलिए स्पेशल ऑपरेशन ग्रुप की जांच पिछले एक महीने से आगे नहीं बढ़ पा रही है. 26 सितंबर को रीट की परीक्षा हुई थी और उस दिन पेपर लीक हुआ था. तब से लेकर राजस्थान सरकार ने 100 से ज़्यादा लोगों को गिरफ़्तार किया है. मगर अभी पता नहीं चल पाया है रीट परीक्षा का पेपर कैसे लीक हुआ था. headtopics.com

Live TV और पढो: आज तक »

दंगल: क्या अब्बाजान और चिलमजीवी ही यूपी चुनाव के मुद्दे हैं?

उत्तर प्रदेश में चुनाव का माहौल जैसे-जैसे गर्माता जा रहा है, नेताओं की जुबान तीखी होती जा रही है. समाजवादी पार्टी के प्रमुख अखिलेश यादव ने योगी सरकार को एक बार फिर चिलमजीवी कह के घेरा है. अखिलेश अक्सर चिलम फूंकने का आरोप लगाकर योगी आदित्यनाथ को घेरते रहे हैं. लेकिन चिलम के नाम पर अखिलेश को जवाब संत समाज की ओर से मिला है. कुछ साधु संतों ने इसे संतों का अपमान बताकर अखिलेश से माफी की मांग की है. आज दंगल में देखें क्या चिलम वाले बयान पर अखिलेश ने संतों की नाराजगी मोल ले ली है? और क्या 2022 के चुनाव में इसका असर पड़ेगा? देखें वीडियो.

एक दिसंबर से माचिस की डिब्बी की कीमत एक रुपये से बढ़कर दो रुपये हो जाएगीउपभोक्ताओं को दो रुपये में मिलने वाली डिब्बी में 36 की जगह 50 तीलियां होंगी. SuriendeR_HML वेसे ही देश मैं मंहगाई की आग लगी हुई है तुम माचिस महंगी करके क्या दिखाना चाहते हो! फैक्ट्री किस मित्र की है Congratulations only for Bhakts

क्या किसान आंदोलन को ‘आहत भावनाओं’ की सियासत कर कमज़ोर करने की कोशिश चल रही हैक्या सिंघू बॉर्डर पर हुई हत्या का समूचा प्रसंग निहित स्वार्थी तबकों की बड़ी साज़िश का हिस्सा था ताकि काले कृषि क़ानूनों के ख़िलाफ़ खड़े हुए ऐतिहासिक किसान आंदोलन को बदनाम किया जा सके या तोड़ा जा सके? क्या निहंग नेता का केंद्रीय मंत्री से पूर्व पुलिस अधिकारियों की मौजूदगी में मिलना इस उद्देश्य के लिए चल रही क़वायद का इशारा तो नहीं है?

स्पेशल रिपोर्ट: Aryan Khan की गिरफ्तारी, Ananya Pandey से पूछताछ के बीच सवालों से घिरी NCBसमीर वानखेड़े, IRS अफसर हैं, मौजूदा तैनाती जोनल डायरेक्टर एनसीबी मुंबई. शाहरुख खान के बेटे आर्यन की गिरफ्तारी के बाद अचानक राष्ट्रीय स्तर पर सुर्खियों में आ गए. वैसे तो तेज तर्रार अफसर माने जाते हैं लेकिन वानखेड़े की वर्किंग स्टाइल को लेकर गंभीर और सनसनीखेज आरोप लगे हैं. नए इल्जाम आर्यन खान केस में स्वतंत्र गवाह प्रभाकर सेल द्वारा लगाए गए हैं जबकि महाराष्ट्र सरकार में वरिष्ठ कैबिनेट मंत्री नवाब मलिक लगातार आरोपों की बौछार करते आए हैं. आज जिस आरोप की वजह से समीर वानखड़े को लेकर बवाल मचा हुआ है, उसका सार यही है कि NCB के नाम पर वानखेड़े वसूली करते हैं. देखें स्पेशल रिपोर्ट. Hahahahaha देन तो आप लोगों की है ये यह सब तुम्हारा ही किया धरा है। ऐसा बेहूदा कवरेज किया और दिखाया मानो भारत जीता हुआ ही है ।

Mumbai Drugs Case: अब एनसीबी करेगी समीर वानखेड़े से पूछताछ, जा सकती है कुर्सी |क्रूज ड्रग्‍स केस में अब खुद नारकोटिक्‍स कंट्रोल ब्‍यूरो (NCB) की जांच पर सवाल उठने लगे हैं। NCB मुंबई के जोनल डायरेक्‍टर समीर वानखेड़े (Sameer Wankhede) आरो...

आज का जीवन मंत्र: ईर्ष्या की वजह से हमारी उन्नति रुक जाती है, इस बुराई से बचेंकहानी - रामायण के सुंदरकांड का प्रसंग है। हनुमान जी लंका की ओर उड़ रहे थे। तब अचानक उन्हें लगा कि कोई उनकी उड़ान को रोक रहा है। हनुमान जी ने पूरी ताकत लगाई, लेकिन उनकी गति रुकने लगी। हनुमान जी ने सोचा कि यहां कोई दिख भी नहीं रहा है तो मेरी गति रुक क्यों रही है? मैं थका हुआ भी नहीं हूं, बिना थकान के मेरी गति कौन रोक रहा है? | aaj ka jeevan mantra by pandit vijayshankar mehta, sunderkand and life management tips, ramayana, hanuman ji and sinhika, Envy stops our progress, avoid this bad habits स्पर्धा, वैर सब एक दूसरे के पूरक। कौन लिखे किस भाव में गाथा। उस पे ही सब शोषक🧬

किसान नेता योगेंद्र यादव बोले: लखबीर की हत्या पर मुझे दुख है, लेकिन निहंग प्रमुख के साथ केंद्रीय मंत्री की फोटो आना षडयंत्र है, इसकी जांच होनी चाहिएमैं लखीमपुर खीरी में भाजपा कार्यकर्ता के घर शोक जताने गया, इस बात का मुझे कोई खेद नहीं है। यह सब करना तो हमारी संस्कृति का हिस्सा है। मेरी गलती ये थी कि मुझे वहां जाने से पहले अपने साथियों से बात करनी चाहिए थी। मैंने सिर्फ इस बात के लिए माफी मांगी है। मैं मोर्चे के फैसले को स्वीकार करता हूं। किसान नेता योगेंद्र यादव ने भास्कर के साथ बातचीत में यह बात कही। उन्होंने सिंघु बॉर्डर पर निहंगों द्वारा लख... | Dainik Bhaskar Interview : Farmer's Leader Yogendra Yadav remarks on His suspension