मुख्य अतिथि, पीएम मोदी, जायर बोल्सोनारो, गणतंत्र दिवस, Republic Day Chief Guest, Narendra Modi, Jair Bolsonaro, Brics, Brazil President, İndia Latest News

मुख्य अतिथि, पीएम मोदी

Republic Day chief guest: गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि होंगे ब्राजील के राष्ट्रपति बोल्सोनारो, पीएम मोदी का निमंत्रण स्वीकार किया - brazil president jair bolsonaro would be chief guest on republic day 2020 | Navbharat Times

गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि होंगे ब्राजील के राष्ट्रपति बोल्सोनारो, पीएम मोदी का निमंत्रण स्वीकार किया

13.11.2019

गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि होंगे ब्राजील के राष्ट्रपति बोल्सोनारो, पीएम मोदी का निमंत्रण स्वीकार किया

India News: प्रधानमंत्री मोदी ने ब्राजील के राष्ट्रपति जायर बोल्सोनारो को गणतंत्र दिवस पर मुख्य अतिथि के रूप में भारत आने का न्योता दिया और उन्होंने निमंत्रण स्वीकार कर लिया है। पीएम मोदी 11वें ब्रिक्स सम्मेलन में हिस्सा लेने ब्राजील पहुंचे हैं।

ब्रिक्स विश्व की पांच उभरती अर्थव्यवस्थाओं का समूह है जिसमें ब्राजील, रूस, भारत, चीन और दक्षिण अफ्रीका शामिल हैं। दोनों नेताओं ने द्विपक्षीय संबंधों को मजबूत करने के लिए सार्थक वार्ता की। आधिकारिक बयान के अनुसार, प्रधानमंत्री मोदी ने बोल्सोनारो को 2020 के गणतंत्र दिवस समारोह के लिए आमंत्रित किया। ब्राजील के राष्ट्रपति ने खुशी-खुशी यह निमंत्रण स्वीकार कर लिया।

बयान में कहा गया कि ब्राजील के राष्ट्रपति ने गणतंत्र दिवस समारोह में शामिल होने के लिए हामी भरी और प्रधानमंत्री मोदी को बताया कि उनके साथ एक बड़ा व्यापारिक प्रतिनिधिमंडल भी भारत आएगा। दोनों नेताओं ने अंतरिक्ष और रक्षा क्षेत्रों सहित सहयोग के अन्य क्षेत्रों पर भी चर्चा की। मोदी ने भारतीय नागरिकों को वीजा मुक्त यात्रा की सुविधा देने के राष्ट्रपति बोल्सोनारो के फैसले का स्वागत किया।

brazil president jair bolsonaro would be chief guest on republic day 2020

और पढो: NBT Hindi News

छठी बार ब्रिक्स सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए आज ब्राजील रवाना होंगे पीएम मोदीछठी बार ब्रिक्स सम्मेलन में हिस्सा लेने के लिए आज ब्राजील रवाना होंगे पीएम मोदी Brazil Brics 2019 BRICSSummit narendramodi narendramodi narendramodi जयहिंद

BJP-शिवसेना के रिश्ते पर बोली JDU, मोदी-शाह चर्चा के लिए बनाएं मंचशिवसेना के एनडीए से अलग होने को लेकर बीजेपी के दूसरे घटक दल जनता दल यूनाइटेड (जेडीयू) ने सवाल उठाया है. जेडीयू ने को-आर्डिनेशन कमेटी बनाए जाने की मांग की है. पार्टी का कहना है कि अटल-आडवाणी की तरह पीएम नरेंद्र मोदी और अमित शाह भी समन्वय समिति बनाएं ताकि आपसी मतभेदों को सुलझाया जा सके. ashokasinghal2 'पढ़ेगा इंडिया तो सवाल करेगा इंडिया'..... 'ना पढूंगा , पढ़ने दूँगा'........ 🙏 सारा सार इन 2 लाइनों में है jnuprotest JNUFreebies JNUFreeForAll umashankarsingh manakgupta AMISHDEVGAN awasthis anjanaomkashyap sardanarohit kanhaiyakumar Shehzad_Ind UmarKhalidJNU ashokasinghal2 शिवसेना के बाद अब JDU को लात मारने का समय है ashokasinghal2 During AtalJi, BJP didn't have full majority. That is the difference.

नारायण राणे बोले- सरकार BJP ही बनाएगी, 145 के आंकड़े के साथ जाएंगे राज्यपाल के पासjournovidya Lagta hai hi Narayan Rane purani party ke Sathiyon ke sath Sampark mein hai journovidya नारायण राणे मुख्यमंत्री बनने वाले हैं पिछले 10 सालों से यही सुनाई पड़ रहा है journovidya RRC DivyanG__RlyPeon and graduate and who have highly qualified and technique old COS &OS Pls give Responsibility after 3 years after Completed. Create New Post We want जिम्मेदारी Peons(OA) 6 महीने प्रशिक्षण दें और उन्हें जिम्मेदार पद दें। जिम्मेदारी से निर्वहन करेंगे

मोदी सरकार के पांच साल में सातवीं बार लगा राष्ट्रपति शासनमहाराष्ट्र में पहली बार नहीं बल्कि तीसरी बार राष्ट्रपति शासन तीसरी बार लागू हुआ है. जबकि, केंद्र में नरेंद्र मोदी सरकार के आने के बाद अब तक सात बार राष्ट्रपति शासन लगाया जा चुका है, जो कि देश के चार राज्यों में लगा है साहब विश्व के पहले शेर थे जिन्होंने गधे को पैदा किया 😜🤘😜 itni saf news pita ji k khilaf mat dikhao warna ajjtak k head quater pe bhi rashtrpati shasan lag jayega😂😂😂 तानाशाह सरकार के तानाशाही फैसलों का जनता जब तक समर्थन करती रहेगी और इनकी सरकारें बनाती रहेगी,तो परिणाम कुछ ऐसे ही होगे

मोदी सरकार के फैसले को चुनौती देंगे आतिश तासीर, रद्द हुआ था OCI कार्डराम राज्य आया है। हिन्दुस्तान में रहना है तो अब्दुल कलाम बन कर रहना होगा। Taashir lagta hai talibaniyon ki auladen hain क्यों मरे जा रहे हो भारत में रहने के लिए? खुद ही तो बोलते हो कि भारत मुसलमानों के लिए ठीक नहीं है। ये दोगलापन है, यहाँ की बुराई भी करो और यहाँ रहो भी।

कश्मीर,अयोध्या के बाद मोदी का अगला निशाना समान नागरिक संहिता?क्या विवादित मुद्दे मोदी सरकार की पहली प्राथमिकता है और अर्थव्यवस्था, शिक्षा, रोज़गार जैसे ज़रूरी मुद्दे पीछे छूटते जा रहे हैं? इसमें बुराई क्या है? होना भी चाहिए you have nothing to do with India. Please don't interfere India's internal matters.

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

14 नवम्बर 2019, गुरुवार समाचार

पिछली खबर

महाराष्ट्र : लिव-इन पार्टनर की गला घोट कर की हत्या फिर शव को लगाई आग, गिरफ्तार

अगली खबर

'ट्रंप को अपने प्रतिद्वंद्वी की जांच में ज़्यादा दिलचस्पी थी'