Pro Kabaddi League: भारत के दो कबड्डी खिलाड़ियों की सैलरी पाक कप्तान बाबर आजम से ज्यादा, 40 मिनट के लिए लेते हैं करोड़ों रुपये

Pro Kabaddi League 2021: भारत के दो कबड्डी खिलाड़ियों की फीस पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम से ज्यादा है। पाकिस्तान सुपर लीग में खेलने

Prokabaddi, Babarazam

06-12-2021 18:41:00

Pro Kabaddi League: भारत के दो कबड्डी खिलाड़ियों की सैलरी पाक कप्तान बाबर आजम से ज्यादा, 40 मिनट के लिए लेते हैं करोड़ों रुपये ProKabaddi BabarAzam PardeepNarwal pakistansuperleague the PSL t20 BCCI ProKabaddi

Pro Kabaddi League 2021: भारत के दो कबड्डी खिलाड़ियों की फीस पाकिस्तान के कप्तान बाबर आजम से ज्यादा है। पाकिस्तान सुपर लीग में खेलने

स्पोर्ट्स डेस्क, अमर उजाला, नई दिल्लीPublished by:शक्तिराज सिंहUpdated Mon, 06 Dec 2021 06:14 PM ISTसारPro Kabaddi League 2021: भारत के दो कबड्डी खिलाड़ियों की सैलरी पाकिस्तान के क्रिकेट कप्तान बाबर आजम से ज्यादा है। पाकिस्तान सुपर लीग में खेलने वाले बाबर को 1.24 करोड़ रुपये मिलते हैं, जबकि भारत के कबड्डी खिलाड़ी प्रदीप नरवाल 1.65 करोड़ में बिके थे।

बाबर आजम, प्रदीप नरवाल और सिद्धार्थ देसाई- फोटो : सोशल मीडियाविज्ञापनख़बर सुनेंख़बर सुनेंपाकिस्तान के खिलाड़ी भले ही पाकिस्तान सुपर लीग की कितनी ही तारीफ कर लें, लेकिन यह लीग भारत की प्रो कबड्डी लीग से भी कहीं पीछे है। पाकिस्तान सुपर लीग में बाबर आजम को 1.24 करोड़ रुपये मिलते हैं, जबकि भारत की प्रो कबड्डी लीग के स्टार प्रदीप नरवाल और सिद्धार्थ देसाई को उनसे कहीं ज्यादा सैलरी मिलती है। प्रो कबड्डी लीग में खिलाड़ी 40 मिनट तक खेलते हैं, वहीं पाकिस्तान सुपर लीग में एक मैच लगभग चार घंटे का होता है। इसके बावजूद बाबर आजम जैसे अहम खिलाड़ियों को बहुत कम सैलरी मिलती है।

यूपी योद्धा के रेडर प्रदीप नरवाल की सैलरी 1.65 करोड़ रुपये है। वो इस लीग के सबसे महंगे खिलाड़ी हैं। वहीं उनके बाद सिद्धार्थ देसाई का नाम आता है। देसाई को एक सीजन के लिए 1.30 करोड़ रुपये मिलते हैं। बाबर को इन दोनों खिलाड़ियों से कर 1.24 करोड़ रुपये मिलते हैं। बाबर पाकिस्तान सुपर लीग में प्लैटिनम कैटेगरी के खिलाड़ी हैं। हाल ही में उन्हें कराची किंग्स टीम का कप्तान बनाया गया है। headtopics.com

केएल राहुल के नाम दर्ज हुआ शर्मनाक रिकार्ड, पहले तीन वनडे मैच हारने वाले पहले भारतीय कप्तान बने

22 दिसंबर से शुरू होगा पीकेएल का आठवां सीजनपीकेएल का पिछला सीजन कोरोना की वजह से नहीं खेला जा सका था, लेकिन इस साल यह टूर्नामेंट 22 दिसंबर से शुरु हो रहा है। खिलाड़ी पहले ही बैंगलोर के मैदान में पहंच चुके हैं और क्वारंटीन पीरियड खत्म होने के बाद वो मैदान में उतरेंगे। इस साल दर्शकों को मैदान में जाकर मैच देखने की अनुमति नहीं होगी। सभी फैंस टीवी के जरिए कबड्डी के मैच का लुत्फ उठा सकेंगे। इस लीग के अब तक सात सीजन हो चुके हैं।

पहला सीजन जयपुर पिंक पैंथर्स ने जीता था, जबकि इसके बाद दूसरा सीजन यू मुंबा के नाम रहा था। तीसरा, चौथा और पांचवां सीजन पटना पायरेट्स ने जीता। वहीं 2018 में बेंगलुरू बुल्स और 2019 में बंगाल वारियर्स की टीम विजेता बनी थी। पटना इस लीग की एकमात्र टीम है, जिसने एक से ज्यादा खिताब जीते हैं।

विस्तारपाकिस्तान के खिलाड़ी भले ही पाकिस्तान सुपर लीग की कितनी ही तारीफ कर लें, लेकिन यह लीग भारत की प्रो कबड्डी लीग से भी कहीं पीछे है। पाकिस्तान सुपर लीग में बाबर आजम को 1.24 करोड़ रुपये मिलते हैं, जबकि भारत की प्रो कबड्डी लीग के स्टार प्रदीप नरवाल और सिद्धार्थ देसाई को उनसे कहीं ज्यादा सैलरी मिलती है। प्रो कबड्डी लीग में खिलाड़ी 40 मिनट तक खेलते हैं, वहीं पाकिस्तान सुपर लीग में एक मैच लगभग चार घंटे का होता है। इसके बावजूद बाबर आजम जैसे अहम खिलाड़ियों को बहुत कम सैलरी मिलती है।

जानें- अभी किन सीटों पर कांग्रेस ने प्रत्याशी नहीं किए घोषित, कुछ में फंसा पेच; कुछ रणनीति के तहत रोकी

विज्ञापनयूपी योद्धा के रेडर प्रदीप नरवाल की सैलरी 1.65 करोड़ रुपये है। वो इस लीग के सबसे महंगे खिलाड़ी हैं। वहीं उनके बाद सिद्धार्थ देसाई का नाम आता है। देसाई को एक सीजन के लिए 1.30 करोड़ रुपये मिलते हैं। बाबर को इन दोनों खिलाड़ियों से कर 1.24 करोड़ रुपये मिलते हैं। बाबर पाकिस्तान सुपर लीग में प्लैटिनम कैटेगरी के खिलाड़ी हैं। हाल ही में उन्हें कराची किंग्स टीम का कप्तान बनाया गया है। headtopics.com

22 दिसंबर से शुरू होगा पीकेएल का आठवां सीजनपीकेएल का पिछला सीजन कोरोना की वजह से नहीं खेला जा सका था, लेकिन इस साल यह टूर्नामेंट 22 दिसंबर से शुरु हो रहा है। खिलाड़ी पहले ही बैंगलोर के मैदान में पहंच चुके हैं और क्वारंटीन पीरियड खत्म होने के बाद वो मैदान में उतरेंगे। इस साल दर्शकों को मैदान में जाकर मैच देखने की अनुमति नहीं होगी। सभी फैंस टीवी के जरिए कबड्डी के मैच का लुत्फ उठा सकेंगे। इस लीग के अब तक सात सीजन हो चुके हैं।

पहला सीजन जयपुर पिंक पैंथर्स ने जीता था, जबकि इसके बाद दूसरा सीजन यू मुंबा के नाम रहा था। तीसरा, चौथा और पांचवां सीजन पटना पायरेट्स ने जीता। वहीं 2018 में बेंगलुरू बुल्स और 2019 में बंगाल वारियर्स की टीम विजेता बनी थी। पटना इस लीग की एकमात्र टीम है, जिसने एक से ज्यादा खिताब जीते हैं।

UP Election 2022: सपा अध्यक्ष अखिलेश यादव बोले- भाजपा नफरत फैलाती है, समाजवादी जो कहते हैं; वही करते हैं

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है?

और पढो: Amar Ujala »

भास्कर इंटरव्यू: फिल्ममेकर तिग्मांशु धूलिया बोले- 'द ग्रेट इंडियन मर्डर' में प्रतीक का किरदार इंडिया के नए पावर एलीट को रिप्रेजेंट कर रहा है

वेब सीरीज के मैदान में लगातार बड़े नाम शुमार हो रहे हैं। अजय देवगन और प्रीति सिन्हा के को-प्रोडक्शन में चार फरवरी को 'द ग्रेट इंडियन मर्डर' नामक सीरीज OTT प्लेटफॉर्म पर रिलीज हो रही है। इसे तिग्मांशु धूलिया ने डायरेक्ट किया है। 'स्कैम' के बाद से लगातार सुर्खियों में रहे प्रतीक गांधी इसमें सीबीआई अफसर सूरज यादव के रोल में हैं। ऋचा चड्ढा इसमें डीसीपी सुधा भारद्वाज की भूमिका में हैं। | Tigmanshu Dhulia Interview; The Great Indian Murder Director On Ajay Devgn And Preeti Sinha Role और पढो >>

thePSLt20 BCCI ProKabaddi 😂🤣😂😂🤣🤣🇮🇳💪

अमेरिकी विदेश विभाग के अधिकारियों के आईफोन पेगासस के ज़रिये हैक किए गए: रिपोर्टसमाचार एजेंसी रॉयटर्स की रिपोर्ट के अनुसार, इज़रायली कंपनी एनएसओ के पेगासस स्पायवेयर के ज़रिये युगांडा स्थित या युगांडा से संबंधित मामले देख रहे अमेरिकी विदेश विभाग के अधिकारियों के आईफोन में सेंधमारी की गई है. इस घटना को एनएसओ के माध्यम से अमेरिकी अधिकारियों पर की गई सबसे बड़ी हैकिंग बताया जा रहा है. America's Frankenstein.

6 दिसंबर के लिए मुस्तैद यूपी पुलिस, ADG बोले- अयोध्या, मथुरा, काशी के लिए विशेष इंतजाम6 दिसंबर के लिए अयोध्या, मथुरा और काशी समेत पूरे उत्तर प्रदेश में हाई अलर्ट है। उत्तर प्रदेश के इतिहास के महत्वपूर्ण दिनों में से एक इस दिन कोई गड़बड़ी न होने पाए इसके लिए चाक-चौबंद इंतजाम किए गए हैं। एडीजी कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार ने अपने बयान में कहा कि प्रदेश में पीएसी की 150 कंपनी और सीएपीएफ की 6 कंपनियों को तैनात किया गया है। अयोध्या, मथुरा और काशी के लिए इससे अलग इंतजाम किए गए हैं। 666

नगालैंड में सुरक्षा बलों के उग्रवाद विरोधी अभियान के दौरान 13 आम लोगों की मौतनगालैंड के मोन ज़िले के ओटिंग और तिरु गांवों के बीच यह घटना उस समय हुई, जब कुछ दिहाड़ी मज़दूर शनिवार शाम पिकअप वैन से एक कोयला खदान से घर लौट रहे थे. पुलिस ने बताया कि प्रतिबंधित संगठन ‘एनएससीएन-के’ के युंग ओंग धड़े के उग्रवादियों की सूचना मिलने के बाद इलाके में अभियान चला रहे सैन्यकर्मियों ने वैन पर कथित रूप से गोलीबारी की थी. मामले की एसआईटी जांच के आदेश दे दिए गए हैं.

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने सीएए-एनआरसी के छह प्रदर्शनकारियों के हिरासत आदेश को ख़ारिज कियामामला उत्तर प्रदेश के मऊ ज़िले का है, जहां प्रशासन ने 16 दिसंबर 2019 को कथित रूप से एक हिंसक प्रदर्शन में शामिल होने के कारण छह लोगों के ख़िलाफ़ एनएसए के तहत हिरासत आदेश जारी किया था. कोर्ट ने इसे ग़ैरक़ानूनी क़रार दिया है.

केजरीवाल के घर के बाहर धरने पर बैठे नवजोत सिंह सिद्धू, जानिए क्या है मामलानई दिल्ली। पंजाब कांग्रेस अध्यक्ष नवजोतसिंह सिद्धू रविवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के आवास के सामने दिल्ली के सरकारी स्कूलों के अतिथि शिक्षकों के विरोध प्रदर्शन में शामिल हुए।

प्रदूषित हवा के कारण तेज़ी से बढ़ रहे हैं COPD के मामले, जान लें लक्षणडॉक्टर और पल्मोनोलोजिस्ट का कहना है कि जिन लोगों ने कभी धूम्रपान नहीं किया है आजकल उन्हें भी आजकल COPD होना आम बात हो गई है। उनका कहना है कि पिछले 2-3 सालों में ऐसे कई मामले सामने आए हैं।