Oxygenshortage, Oxygencrisis, Uttarpradesh, Meerut-City-Common-Man-İssues, Meerut Oxygen Crisis News, Aryavart Hospital Of Meerut, No Oxygen Crisis İn This Hospital Of Meerut, Hpcommonmanıssue, Up Commonmanıssue, Meerut News, Uttar Pradesh News

Oxygenshortage, Oxygencrisis

Oxygen Crisis In Meerut: प्राण वायु के संकट के बीच मिसाल बनकर उभरा मेरठ का यह अस्‍पताल, यहां लबालब है ऑक्‍सीजन

प्राण वायु के संकट के बीच मिसाल बनकर उभरा मेरठ का यह अस्‍पताल, यहां लबालब है ऑक्‍सीजन #OxygenShortage #OxygenCrisis #UttarPradesh

01-05-2021 09:30:00

प्राण वायु के संकट के बीच मिसाल बनकर उभरा मेरठ का यह अस्‍पताल, यहां लबालब है ऑक्‍सीजन OxygenShortage OxygenCrisis UttarPradesh

कोरोना के हाहाकार के बीच ऑक्‍सीजन ही संजीवनी है। प्रदेश सरकार के तमाम प्रयासों और प्रशासन की ताबड़तोड़ भागदौड़ के बावजूद अस्पतालों में ऑक्‍सीजन नहीं है। वहीं दौराला में बना एक ऐसा अस्‍पताल है जहां ऑक्‍सीजन की कोई कमी नहीं है।

कोरोना के हाहाकार के बीच ऑक्‍सीजन ही संजीवनी है। प्रदेश सरकार के तमाम प्रयासों और प्रशासन की ताबड़तोड़ भागदौड़ के बावजूद अस्पतालों में ऑक्‍सीजन नहीं है। वहीं, दौराला में बना एक ऐसा अस्‍पताल है, जहां ऑक्‍सीजन की कोई कमी नहीं है। यह अस्‍पताल अस्पताल अपने आप में एक मिसाल बनकर सामने उभरा है। कैंपस में दस हजार लीटर क्षमता का लिक्विड ऑक्‍सीजन प्लांट है, जहां से सभी बेडों तक सेंट्रल ऑक्‍सीजन सप्लाई पहुंच रही है। अकेला अस्पताल है, जहां एक भी मिनट के लिए ऑक्‍सीजन संकट नहीं खड़ा हुआ। साथ ही, मरीजों को हाई फ्लो ऑक्‍सीजन देने के लिए 22 उपकरण उपलब्ध हैं। आपातस्थिति को देखते हुए 160 मरीजों का इलाज किया जा रहा है। हम बात कर रहे हैं दौराला में बने आर्यावर्त अस्‍पताल की।

प्रशांत किशोर की सर्वे टीम का आरोप, 'त्रिपुरा में होटल से बाहर निकलने की इजाजत नहीं दी गई' असम-मिजोरम सीमा पर फायरिंग की खबर, अमित शाह के दौरे के कुछ दिन बाद स्थानीय लोगों की बीच बढ़ा तनाव किसान नेता टिकैत की चेतावनी- दिल्ली की तरह लखनऊ को भी सील करेंगे - BBC Hindi

प्रबंधक डा. मलय शर्मा ने बताया कि कोरोना संक्रमण के गंभीर मरीजों के लिए 16 लीटर की गति से ऑक्‍सीजन देने से स्थिति रिकवर होती है। अस्पताल के कैंपस में दस हजार लिक्वड ऑक्‍सीजन का कैप्सूल खड़ा है, जिसमें रुड़की की एक कंपनी से रोजाना टैंकर पहुचता है। एक लीटर लिक्विड ऑक्‍सीजन से 22 लीटर गैस बनती है। यहां ऑक्‍सीजन की शुद्धता 99 फीसद से ज्यादा आंकी गई है, जबकि आटोमैटिक जनरेशन प्लांट में कम होती है। वर्तमान में जिले में संचालित सभी कोविड केंद्रों में आक्सीजन की बड़ी कमी है।

यह भी पढ़ेंरेजीडेंट डाक्टर मिलें तो और होगी मरीजों की सेवा और पढो: Dainik jagran »

Coronavirus Curfew Live Updates: कोरोना कर्फ्यू के बीच आज निकलेगी जगन्नाथ रथ यात्रा, गृह मंत्री अमित शाह ने की आरती

कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में उतार-चढ़ाव का दौर जारी है। 5 दिनों के बाद एक बार फिर कोरोना के नए मामलों की संख्या 40 हजार से नीचे रही। इस दौरान मौतों की संख्या में भी थोड़ी कमी देखी गई। https://www.covid19india.org/ के मुताबिक, पिछले 24 घंटे में कोरोना के चलते 720 लोगों की जान गई है। अहमदाबाद में भगवान जगन्नाथ की वार्षिक रथयात्रा, इस बार कोरोना वायरस महामारी के कारण आज कर्फ्यू के बीच निकाली जाएगी ताकि लोग इसमें शामिल न हो सकें। इससे पहले गृह मंत्री अमित शाह ने जगन्नाथ मंदिर में आरती की। दूसरी तरफ कोरोना वायरस के डेल्टा वेरिएंट ने रूस में कहर मचाया हुआ है। रूस में लगातार तीसरे दिन कोविड-19 के 25 हजार से अधिक नये मामले सामने आए हैं। पल-पल के अपडेट के लिए बने रहिए हमारे साथ...

छतीसगढ के मुख्यमंत्री जी ने प्रदेश में कोरना टीका लगाने का आदेश दिया है है ओर प्रधानमंत्री जी को चिट्ठी भी लिखा आरक्षण देने के लिए आप निवेदन है कि भुपेश बधेल जी को सलाह दे कि एक चिट्ठी कोरोना को भी लिख दे कि आरक्षण वाले को पहले आये

Oxygen Crisis In India: मेडिकल आक्सीजन के कारोबार का सच, राष्ट्रीय इच्छाशक्ति की आवश्यकताएक उन्नत आक्सीजन प्लांट स्थापित करने के लिए करीब 50 लाख रुपये का खर्च आता है जिसे अस्पताल डेढ़ साल में वसूल सकते हैं। दिल्ली का प्रत्येक अस्पताल इसे वहन कर सकता था। लेकिन कोई भी आक्सीजन संयंत्र लगाने के लिए कीमती जगह आवंटित करने को तैयार नहीं था। sgurumurthy उन्हे ऐसा करने की छूट और संरक्षण भी तो सरकारों ने दिया। सरकारों की कॉर्पोरेटप्रस्त नीतियां ही जिम्मेदार है नागरिकों की हत्याओं की

Oxygen संकट से बेहाल Delhi, HC के आदेश के खिलाफ SC पहुंचा केंद्रदिल्ली के बेकाबू हो चले ऑक्सीजन संकट पर दिल्ली हाईकोर्ट में सुनवाई जारी है. ऑक्सीजन सप्लाई का जिम्मा देख रहे अफसरों को कोर्ट में पेश होकर पूरा लेखा जोखा बताना होगा. कोर्ट ने दिल्ली को 700 मीट्रिक टन ऑक्सीजन रोजाना आपूर्ति ना करने पर केंद्र को अवमानना का नोटिस थमा दिया है. दिल्ली सरकार ने कोर्ट में कहा, हमें 550 टन ऑक्सीजन मिली है जबकि रोज 700 टन ऑक्सीजन की जरूरत है. तो केंद्र इस फैसले पर सुप्रीम कोर्ट पहुंच गई. देखें केंद्र मत बोलिये, मोदी सरकार बोलिये.. अमितशाह से सवाल कीजिये मोदी का इंटरव्यू कीजिये, न दे तो आलोचना कीजिये. ये सेवा के पद पर कार्यरत है, उन्हें महामानव मत बनाइये. सेवक समझ के उन की खामियां बताइये.

First Oxygen express arrives in Bengaluru this morning carrying 120 tonnes of oxygenThe first Oxygen Express to Karnataka arrived in Bengaluru this morning carrying 120 tonnes of oxygen. The containers were sent from Tatanagar in Jamshedpur in Jharkhand yesterday. Big amounting volumes may fullfiled the all of requirements

Ola घर तक डिलीवर करेगी फ्री Oxygen Concentrators, Give India के साथ शुरू की पहलOla ने इस मुहीम के लिए GiveIndia फाउंडेशन के साथ साझेदारी की है, ताकि वह 'O2forIndia' पहल के जरिए जरूरतमंद लोगों तक ऑक्सिज़न कॉन्सन्ट्रेटर की फ्री डिलीवरी कर सकें। कुम्भ की भीड़

Bihar में Corona का कहर, मरीज को मौत के बाद मिला Oxygen, क्यों बदहाल हैं अस्पताल?बिहार के सुपौल में अस्पताल प्रशासन का दिल दहला देने वाला रवैया सामने आया है. त्रिवेणीगंज अनुमंडल के एक सरकारी अस्पताल में पहले तो मरीज को ऑक्सीजन के बगैर तडप-तड़पकर मरने को छोड दिया गया और फिर अपनी नाकामी पर परदा डालने के लिए दम तोड़ चुके मरीज को ऑक्सीजन सिलेडर लगा दिया. वहीं शनिवार को छपरा में जंग खा रहे एंबुलेंस का पता चला जिस पर जबरदस्त राजनीतिक विवाद हुआ. आज डिप्टी सीएम तारकिशोर प्रसाद से इस बारे में पूछा गया तो वो जवाब टाल गए. देखें खास कार्यक्रम, इस वीडियो में.

Delhi में Corona के केस हुए कम, Oxygen की खपत में भी ग‍िरावटकोरोना की भयावहता के बीच अच्छी खबरें भी आ रही हैं. कोरोना के केस कम हो रहे हैं तो संक्रमण की दरें भी कम हो रही हैं. कोरोना संक्रमण की दिल दहला देने वाली तमाम खबरों के बीच राजधानी दिल्ली से भी राहत भरी खबर आई हैं. अब इसे लॉकडाउन का असर कहें या कुछ और, दिल्ली में कोरोना संक्रमण की रफ्तार नीचे आ गई है. सबसे राहत की खबर ये है कि दिल्ली में पॉजिटिविटी रेट भी तेजी से कम हो रहा है. देखें वीडियो. All Requested to do Mahdev Pooja side by side,but alone,to create peace of Mahakal-Mahadev Ji who seems to be in Rudra Roop as sins got increased- relation of children to father or vice versa,wife to husband or vice versa,non care of old parents,exploitation of woman in society Fake आँकड़ों के हिसाब से आप ही बेठे बेठे क़ोरोना ख़त्म कर दो ना .!! Vaccine, treatment की क्या ज़रूरत है .!!!जैसे last year किया था , उसी तरह आँकड़ों को manipulate कर सकते हो .!! नया कुछ नहि है .!anjanaomkashyap SwetaSinghAT chitraaum