National Voters Day, National Voters Day 2020, First Election Commissioner Of İndia, First Time Election, History Of Election, Cec Kumar Sen, Know About Voters Day

National Voters Day, National Voters Day 2020

National Voters Day: लाखों महिलाओं को वोट देने से रोका था! पढ़ें पहले CEC सुकुमार सेन के बारे में

भारतीय चुनाव आयोग की स्थापना 25 जनवरी 1950 को हुई थी

24.1.2020

भारतीय चुनाव आयोग की स्थापना 25 जनवरी 1950 को हुई थी

National Voters Day 2020: 25 जनवरी 1950 को भारतीय चुनाव आयोग की स्थापना हुई थी. इसलिए इस ऐतिहासिक दिन को साल 2011 से राष्ट्रीय मतदाता दिवस के रूप में मनाया जाता है. सुकुमार सेन भारत के पहले निर्वाचन आयुक्त थे.

भारत में 25 जनवरी को राष्ट्रीय मतदाता दिवस यानी नेशनल वोटर्स डे मनाया जाता है. दरअसल, 25 जनवरी 1950 को भारतीय चुनाव आयोग की स्थापना हुई थी. इसलिए इस ऐतिहासिक दिन को साल 2011 से राष्ट्रीय मतदाता दिवस के रूप में मनाया जाता है. मतदाता दिवस के मौके पर हम आपको बता रहे हैं कि भारत में पहली बार कैसे चुनाव प्रक्रिया को पूरा किया गया. भारत में 1951-52 में हुआ पहला चुनाव भारत 15 अगस्त 1947 को आजाद हुआ लेकिन 1951-52 में आजाद भारत का पहला चुनाव हुआ. बंगाल के मुख्य सचिव के रूप में काम करने वाले आईसीएस अधिकारी सुकुमार सेन ने प्रधानमंत्री पंडित जवाहर लाल नेहरू के सामने भारत में चुनाव कराने का प्रस्ताव रखा. सुकुमार सेन को भारत का पहला मुख्य निर्वाचन आयुक्त (CEC) नियुक्त किया गया. यह भी पढ़ें- National Voters Day: वोट देते हैं तो जानें- मतदाताओं के लिए ये जरूरी नियम वोटर लिस्ट बनाना सबसे बड़ी चुनौती सुकुमार सेन ने चुनाव की पूरी रूपरेखा तैयार की और देश में चुनाव करवाने में सफल हुए. हालांकि देश में चुनाव कराने के लिए सुकुमार सेन को कई चुनौतियों का सामना करना पड़ा. जिसमें सबसे बड़ी चुनौती महिलाओं के नामों को लेकर सामने आई. दरअसल, उस दौर में महिलाएं अनजान लोगों को अपना नाम बताने से बचती थीं. वोटर लिस्ट तैयार करने पहुंचे अधिकारियों को इन महिलाओं ने अपने नाम 'फलां की पत्नी' या 'फलां की मां' के तौर पर दर्ज कराए. इसके बाद, सुकुमार सेन की अगुआई वाले चुनाव आयोग ने फैसला किया कि जो महिलाएं अपना नाम और पहचान नहीं बताएंगी उन्हें मतदाता लिस्ट में शामिल नहीं किया जाएगा. यह भी पढ़ें- भारत में मतदाताओं के लिए हैं ये नियम, क्या आप जानते हैं? करीब 28 लाख महिलाएं नहीं दे सकीं वोट इसका नतीजा ये हुआ कि 1951-52 में जब देश में पहली बार चुनाव हुए तो करीब 28 लाख महिलाओं को वोट देने की इजाजत नहीं मिली. जानकारी के मुताबिक 1951 में जब पहली बार चुनाव हुआ तो भारत में मतदाताओं की संख्या करीब 17 करोड़ थी. इसके बाद सुकुमार सेन ने 1957 का दूसरा लोकसभा चुनाव भी करवाया. सुकुमार सेन 21 मार्च 1950 से 19 दिसंबर 1958 तक देश के मुख्य चुनाव आयुक्त के पद पर रहे. बता दें कि देश में पहली बार बैलेट पेपर के माध्यम से ही मतदान हुआ था. राष्ट्रीय मतदाता दिवस (National Voters Day) मनाने का उद्देश्य देश के वोटर्स को उनके अधिकारों और लोकतंत्र के प्रति कर्तव्य की याद दिलाना है. जिससे ज्यादा से ज्यादा संख्या में युवा अपने मतदान का प्रयोग करें. और पढो: आज तक

वाराणसी से PM मोदी के निर्वाचन के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंचे पूर्व जवान तेज बहादुर



26/11 हमले को 'हिंदू आतंक' का रंग देने की थी साजिश, मुंबई पुलिस के पूर्व आयुक्त का खुलासा

आतंकी कसाब को लेकर मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर का बड़ा खुलासा, भाजपा ने कांग्रेस को घेरा



वाराणसी से PM मोदी के निर्वाचन के खिलाफ पूर्व BSF जवान तेज बहादुर यादव पहुंचा सुप्रीम कोर्ट

कांग्रेस में छिड़ गया 'गृह युद्ध', सिंघवी ने कर दिया मोदी सरकार का 'समर्थन'



अब बंगाल का मतदाता भी डाल सकेगा दिल्ली में वोट, नई तकनीक लागू करने में जुटा चुनाव आयोग

सुप्रीम कोर्ट के फ़ैसले में क्यों आया इन महिला सैन्य अधिकारियों का नाम



भारतीय चुनाव आयोग की भूमिका बहुत बड़ी है इसमें भूतपूर्व चुनाव आयोग स्वर्गीय सेशन महत्वपूर्ण भूमिका निभाई थी उन्होंने बड़े पैमाने पर देशभर में चुनाव कराने के तौर तरीके बदलें थे और बहुत ही सराहनीय कार्य किया था उनका इतिहास में नाम सदा अमर रहेगा स्थापना की बात छोड़िए अब भाजपा अमितशाहजी और मोदीजी के राज में आयोग से पहले चुनाव की तारीख बताता है आयोग असफल

और बिकना 2014 से

पाकिस्तान, बांग्लादेश के मुस्लिम घुसपैठियों को निकालने के लिए केंद्र सरकार को समर्थन देंगे : राज ठाकरेमहाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (MNS) के प्रमुख राज ठाकरे (Raj Thackeray) ने गुरुवार को मुंबई में पार्टी के कार्यकर्ताओं को संबोधित किया. उन्होंने कहा कि वे पाकिस्तान, बांग्लादेश से आए मुस्लिम घुसपैठियों को देश से बाहर करने के लिए केंद्र सरकार का समर्थन करेंगे. उन्होंने कहा कि इस देश में आए हुए बांग्लादेशी और पाकिस्तानी मुसलमानों को निकालने की जरूरत है. गृहमंत्री से मांग करेंगे, हम बम पर बैठे हैं. उन्होंने कहा कि वे बांग्लादेशी और पाकिस्तानी मुसलमानों को देश से बाहर निकालने के लिए 9 फरवरी को मोर्चा निकालेंगे. Lo bhai apni jagah dhoondhne lage Trend RailwayNTPCExam देर आए दूरुसत आए

कोरोनावायरस के प्रकोप के बीच चीन के वुहान में स्थानीय लोगों के यात्रा करने पर प्रतिबंधकोरोनावायरस के प्रकोप के बीच चीन के वुहान में स्थानीय लोगों के यात्रा करने पर प्रतिबंध coronavirus China WuhanCoronavirus Wuhan

'मुस्लिम भाइयों के कहने पर बीजेपी को रोकने के लिए सरकार में शामिल हुए'महाराष्ट्र के मंत्री अशोक चव्हाण का कबूलनामा- मुस्लिम भाइयों के कहने पर बीजेपी को रोकने के लिए सरकार में शामिल हुए

महारानी की हरी झंडी के बाद ब्रिटेन के ‘ब्रेग्जिट’ को मंजूरीकई वर्षों तक चली लंबी बहस के बाद अंतत: ब्रिटिश संसद ने यूरोपीय संघ (ईयू) से ब्रिटेन के अलग होने वाले ब्रेग्जिट विधेयक को मंजूरी दे दी। BrexitBritain BorisJohnson Britain BrexitJohnson Brexit

एफएटीएफ बैठक : फिर पाकिस्तान के साथ खड़ा दिखा चीन, आतंकी फंडिंग के खिलाफ प्रयासों को सराहाकश्मीर समेत तमाम मुद्दों पर पाकिस्तान के पक्ष में खड़े होने वाले चीन ने एक बार फिर उसका साथ दिया है। Pakistan China FATF Terrorism TerrorFunding

CAA के समर्थन में उतरे राज ठाकरे, बोले- PAK और बांग्लादेश के घुसपैठियों को फेंको बाहरमहा नवनिर्माण सेना (मनसे) प्रमुख राज ठाकरे कई बार पीएम मोदी की आलोचना भी कर चुके हैं. इसपर उन्होंने कहा कि मुझे जब लगता है कि उन्होंने जो कहा वो सही नहीं है, तो मैं उनकी आलोचना करता हूं, लेकिन जब वो अच्छा काम किए तो मैंने तारीफ भी की. Jisko khud ke raajy me koi seats nahi mili..gundagardi uttar bhartiyo par...or ab bhakt bankar gyaan de raha he..🤔🙄😂 👌👌👌 Ab aaye hindu badi neta maidan me ab ye aaj tak balo ki bolti band hone bali h...



मोदी सरकार के लिए अच्छी खबर, ब्रिटेन-फ्रांस को पीछे छोड़ दुनिया की 5वीं बड़ी इकोनॉमी बना भारत

सपा का आरोप- अखिलेश यादव की हत्या कराना चाहती है बीजेपी सरकार

महाकाल एक्सप्रेस में शिव मंदिर पर सवाल, ओवैसी ने ट्वीट की संविधान की प्रस्तावना

CAA, NPR और NRC के समर्थन में 154 प्रतिष्ठित नागरिक, याचिका पर किया हस्ताक्षर

महात्मा गांधी के परपोते तुषार गांधी बोले- CAA और NRC देश के लिए खतरनाक

महात्मा गांधी ने कई बार कहा कि वो कट्टर हिन्दू हैं: मोहन भागवत

ब्रितानी सांसद डेबी को दिल्ली एयरपोर्ट पर रोका गया

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

24 जनवरी 2020, शुक्रवार समाचार

पिछली खबर

UP: जमीन धोखाधड़ी मामले में नाहिद हसन की जमानत याचिका खारिज, हुए गिरफ्तार

अगली खबर

भारत की आर्थिक सुस्‍ती अस्‍थायी, आगे सुधार की उम्‍मीद: IMF चीफ
वाराणसी से PM मोदी के निर्वाचन के खिलाफ सुप्रीम कोर्ट पहुंचे पूर्व जवान तेज बहादुर 26/11 हमले को 'हिंदू आतंक' का रंग देने की थी साजिश, मुंबई पुलिस के पूर्व आयुक्त का खुलासा आतंकी कसाब को लेकर मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर का बड़ा खुलासा, भाजपा ने कांग्रेस को घेरा वाराणसी से PM मोदी के निर्वाचन के खिलाफ पूर्व BSF जवान तेज बहादुर यादव पहुंचा सुप्रीम कोर्ट कांग्रेस में छिड़ गया 'गृह युद्ध', सिंघवी ने कर दिया मोदी सरकार का 'समर्थन' अब बंगाल का मतदाता भी डाल सकेगा दिल्ली में वोट, नई तकनीक लागू करने में जुटा चुनाव आयोग सुप्रीम कोर्ट के फ़ैसले में क्यों आया इन महिला सैन्य अधिकारियों का नाम ट्रंप का भारत दौरा: भारतीय मूल के वोट, व्यापार और रक्षा सौदे वैन इफ़्रा के SDMA अवॉर्ड्स में बीबीसी को चार मेडल जामिया हिंसा केसः DCP राजेश देव की अगुवाई में यूनिवर्सिटी पहुंची SIT यूपी में बजट पर CM योगी आदित्यनाथ और अखिलेश यादव आमने-सामने आज तक @aajtak
मोदी सरकार के लिए अच्छी खबर, ब्रिटेन-फ्रांस को पीछे छोड़ दुनिया की 5वीं बड़ी इकोनॉमी बना भारत सपा का आरोप- अखिलेश यादव की हत्या कराना चाहती है बीजेपी सरकार महाकाल एक्सप्रेस में शिव मंदिर पर सवाल, ओवैसी ने ट्वीट की संविधान की प्रस्तावना CAA, NPR और NRC के समर्थन में 154 प्रतिष्ठित नागरिक, याचिका पर किया हस्ताक्षर महात्मा गांधी के परपोते तुषार गांधी बोले- CAA और NRC देश के लिए खतरनाक महात्मा गांधी ने कई बार कहा कि वो कट्टर हिन्दू हैं: मोहन भागवत ब्रितानी सांसद डेबी को दिल्ली एयरपोर्ट पर रोका गया J&K से अनुच्छेद 370 हटाने की आलोचना करने वाली ब्रिटिश सांसद को नहीं मिली भारत आने की मंजूरी, कहा- मेरा वीजा रिजेक्ट हो गया J&K: अनुच्छेद 370 हटाने की आलोचना करने वाली ब्रिटिश सांसद का आरोप, 'नहीं मिली भारत आने की मंजूरी' शाहीन बाग़ पर सुप्रीम कोर्ट: संजय हेगड़े प्रदर्शनकारियों से बात करें दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में सुंदरकांड का पाठ करवाएगी AAP, ट्वीट में ऐलान अमित शाह ने मिलने का वादा किया है तो पुलिस ने रोका क्यों?