Mahantnarendragiri, नरेंद्र गिरि का निधन, नरेंद्र गिरि आत्महत्या, Narendra Giri Suicide News, Narendra Giri Prayagraj, Narendra Giri Maharaj Suicide, Narendra Giri Maharaj Allahabad, Narendra Giri Death News, Narendra Giri Anand Giri, Narendra Giri Akhara Parishad, Mahant Narendra Giri News, Allahabad News, Allahabad News İn Hindi, Latest Allahabad News, Allahabad Headlines, प्रयागराज Samachar

Mahantnarendragiri, नरेंद्र गिरि का निधन

Narendra Giri Death: फांसी पर लटके मिले महंत नरेंद्र गिरि, 7 पेज का मिला सूइसाइड नोट, संत बोले-हो उच्चस्तरीय जांच

मठ की संपत्ति, शिष्यों से विवाद... महंत नरेंद्र गिरि के 7 पेज वाले सूइसाइड नोट में क्या-क्या लिखा है #MahantNarendraGiri

21-09-2021 03:50:00

मठ की संपत्ति, शिष्यों से विवाद... महंत नरेंद्र गिरि के 7 पेज वाले सूइसाइड नोट में क्या-क्या लिखा है MahantNarendraGiri

Mahant Narendra Giri: फरेंसिक टीम ने कमरे में मौजूद 7 पेज के सूइसाइड नोट की जांच की और उसे भी कब्जे में ले लिया है। सtइसाइड नोट हाथ से लिखा गया है। आईजी ने बताया कि सूइसाइड नोट में महंत ने मठ की संपत्ति को लेकर विवाद के चलते अपनी छवि धूमिल होने को घटना का कारण बताया है। यह नोट बहुत मार्मिक तरीके से लिखा गया है।

प्रयागराज स्थित मठ बाघमबारी गद्दी के महंत और अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि का शव सोमवार को उनके बेडरूम में पंखे से लटकता मिला। पुलिस इसे आत्महत्या बता रही है। कमरे से 7 पेज का एक हाथ से लिखा सूइसाइड नोट भी मिला है। जिसमें शिष्यों पर कई आरोप लगाए गए हैं। इनमें प्रमुख शिष्य आनंद गिरी का भी नाम है। सूइसाइड नोट में मठ की संपत्ति को लेकर विवाद और आरोपों को कारण बताया गया है।

आर्यन ख़ान मामला: नवाब मलिक के आरोपों पर समीर वानखेड़े ने दी सफ़ाई, दुबई जाने से किया इनकार - BBC Hindi क्रूज ड्रग्स केस : दो घंटे की पूछताछ के बाद अनन्या पांडे NCB दफ्तर से निकलीं भारत को टी-20 वर्ल्ड कप में कौन मान रहे हैं ख़िताब का प्रबल दावेदार - BBC News हिंदी

कहा गया है कि, शिष्यों ने उन पर दबाव बनाया और उनकी छवि को धूमिल करने का प्रयास किया जिससे वे दुखी थे। सूचना के बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने शव और सूइसाइड नोट को अपने कब्जे में ले लिया है। यूपी के एडीजी ने बताया कि शिष्य आनंद गिरि को हिरासत में ले लिया गया है। शव का पोस्टमार्टम अखाड़ा परिषद के पदाधिकारियों की सहमति के बाद कराया जाएगा।

दरवाजा नहीं खुला तो शिष्यों ने पुलिस को किया फोनआईजी के पी सिंह ने सोमवार को जानकारी दी, 'शाम लगभग 5:25 पर उन्हें महंत नरेंद्र गिरि के शिष्य बबलू से फोन पर सूचना मिली कि उन्होंने फांसी लगा ली है। गिरी दोपहर में भोजन के बाद कुछ देर आराम करते थे। जब काफी समय बीतने के बाद भी दरवाजा नहीं खुला तो शिष्यों ने पहले फोन किया। headtopics.com

Narendra Giri Death News: महंत नरेंद्र गिरि के श‍िष्‍य आनंद ग‍िर‍ि और बड़े हनुमान मंदिर के पुजारी आद्या तिवारी भी गिरफ्तारपंखे से रस्सी के सहारे झूलता मिला महंत का शवफोन नहीं उठने के बाद उन्होंने दरवाजा तोड़ा तो उन्हें घटना की जानकारी हुई। महंत का शव उनके कमरे में पंखे से रस्सी के सहारे झूलता मिला। सूचना के बाद मौके पर पहुंचे अधिकारियों की मौजूदगी में पुलिस ने शव को कब्जे में ले लिया। फरेंसिक टीम ने कमरे में मौजूद 7 पेज के सूइसाइड नोट की जांच की और उसे भी कब्जे में ले लिया है। सूइसाइड नोट हाथ से लिखा गया है।

'योगी सरकार में न संत सुरक्षित आम आदमी'...AAP ने महंत नरेंद्र गिरि मौत मामले में की CBI जांच की मांगमार्मिक तरीके से लिखा गयासूइसाइड नोटआईजी ने बताया कि सूइसाइड नोट में महंत ने मठ की संपत्ति को लेकर विवाद के चलते अपनी छवि धूमिल होने को घटना का कारण बताया है। यह नोट बहुत मार्मिक तरीके से लिखा गया है। उसमें लिखा गया है कि, उन्होंने अपने सम्मान को लेकर कभी समझौता नहीं किया।

Narendra Giri Death: अयोध्या के संतों ने कहा, महंत नरेंद्र गिरि‍ की मौत की हो उच्च स्तरीय जांचसूइसाइड नोट में शिष्य आनंद गिरि का भी नाममठ को आगे बढ़ाने में उन्होंने अपनी पूरी ताकत लगा दी और मठ की संपत्ति को बचाने और उसे बढ़ाने में अपना जीवन लगा दिया। लेकिन इसके बावजूद उनके ऊपर इल्जाम लगाए गए। पत्र में प्रमुख शिष्य आनंद गिरि का भी नाम है।

Narendra Giri Death: अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की मौत, केशव प्रसाद मौर्य बोले- मैं स्तब्ध, निःशब्द और आहत हूंअपने बयानों को लेकर सुर्खियों में रहे नरेंद्र गिरीआनंद गिरि को कुछ दिन पहले ही नरेंद्र गिरी ने मठ से बाहर कर दिया था। हालांकि बाद में अखाड़ा परिषद की मध्यस्थता के बाद उन्हें वापस मठ में ले लिया गया। नरेंद्र गिरी और आनंद गिरि दोनों ही निरंजनी अखाड़े से जुड़े रहे हैं। नरेंद्र गिरी अपने बयानों को लेकर भी सुर्खियों में रहे हैं। विवादित संतो को फर्जी संत घोषित करने का मामला रहा हो या संतों की हत्या और उत्पीड़न का मामला। ऐसे मामलों में वह हमेशा मुखर रहे। headtopics.com

जब पत्नी की हत्या के लिए ज़हरीले कोबरा को बनाया गया हथियार - BBC News हिंदी COP26: भारत ने कह दिया- कोयले का इस्तेमाल जारी रहेगा, लीक रिपोर्ट से सामने आई बात - BBC News हिंदी क्रूज ड्रग्स केस : अनन्या पांडे का लैपटॉप-फोन जब्‍त, पिता के साथ पूछताछ के लिए NCB ऑफिस पहुंचीं एक्ट्रेस

Narendra Giri Death: महंत नरेन्द्र गिरि और आनंद गिरि के बीच क्या था वो विवाद, जब गुरु से शिष्य ने पैर पकड़कर मांगी थी माफीअयोध्या के संतों ने कहा, मौत की हो उच्च स्तरीय जांचअखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरी की मौत की उच्च स्तरीय जांच की मांग करते हुए अयोध्या के संतों ने कहा कि वे आत्महत्या नहीं कर सकते। संतों ने कहा उनकी मौत को उच्च स्तरीय जांच होनी चाहिए। मंदिर आंदोलन से जुड़े डॉ. राम विलास वेदांती ने महंत नरेंद्र गिरी की मौत के पीछे साजिश की आशंका जताई है। उन्होंने कहा वे आत्महत्या कर ही नहीं सकते। मंदिर आंदोलन में वे हमारे साथ थे। इसके पीछे भारी साजिश हो सकती है।

Narendra Giri: महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, सूइसाइड नोट में शिष्य आनंद गिरि का नामदेश ने एक शीर्ष संत को दिया है-महंत कन्हैया दासअयोध्या संत समिति के अध्यक्ष महंत कन्हैया दास ने कहा कि जांच होनी चाहिए कि किन परिस्थितियों में उन्होंने आत्महत्या की। देश ने एक शीर्ष संत को दिया है। उन्होंने कहा कि संत समाज में घुसपैठ करने वाले अराजक तत्वों के खिलाफ, उन्होंने अभियान शुरू कर उन्हें बाहर का रास्ता दिखाया था।

Anand Giri: युवा साधुओं की मौत को बताया था हत्या, नरेंद्र गिरि से था संपत्ति पर विवाद, जानिए कौन है आनंद गिरिबेहद गंभीर मामला है-महंत कमल नयन दासमणिराम छावनी के उत्तराधिकारी महंत कमल नयन दास ने भी महंत नरेंद्र गिरी की मौत को संदिग्ध मानते हुए उच्च स्तरीय जांच की मांग की है। उन्होंने कहा कि योगी आदित्यनाथ की सरकार मे शीर्ष संत आत्म हत्या कर लें यह गंभीर मामला है।

महंत नरेंद्र गिरि का निधन, सूइसाइड नोट में लिखी शिष्य से दुखी होने की बात और पढो: NBT Hindi News »

दैनिक भास्कर से बोलीं कश्मीर की बेटी श्रद्धा बिंद्रू: मैं दुनिया को बताना चाहती हूं कि कश्मीर हमारा है, कोई डरा-धमकाकर हमारे हौसले को पस्त नहीं कर सकता

‘तुम सिर्फ शरीर को मार सकते हो, मेरे पिता की आत्मा को नहीं। अगर हिम्मत है तो सामने आओ, तुम लोग केवल पत्थर फेंक सकते हो या पीछे से गोली चला सकते हो। मैंने हिंदू होते हुए भी कुरान पढ़ी है। कुरान कहती है कि शरीर का जो चोला है, यह तो बदल जाएगा, लेकिन इंसान का जो जज्बा है, वह कहीं नहीं जाएगा। माखनलाल बिंद्रू इसी जज्बे में हमेशा जिंदा रहेंगे।’ यह कहना है आतंकियों को सरेआम ललकारने वालीं श्रीनगर में कश्मीर... | वुमन भास्कर ने श्रद्धा बिंद्रू से बात की। उन्होंने कश्मीर और कश्मीरियत का हवाला देते हुए कहा-हम इसी मिट्‌टी में पैदा हुए हैं, हमें इससे प्यार है। हमारे पिता ने भी इसी के लिए जान दी।

मै शपथ पत्र दे सकती मोदी राज मे मुझे लगता वैदिक संत परिवार ज्यादा दुखी आज भी भागवत शायद महाश्रमण हाजरी मे हैं इतना समय अखाड़ो को सम्भाल मे दे तो वैदिक संत कल्याण /सुरक्षा हो! मै कल भी कही निर्वाण दो हमे पर ऐनकाऊंटर या ऐसा नही UP मे राष्ट्रपति शासन हो मठाधिकारीCM और ये व्यवस्था छी

Narendra Giri: महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, सूइसाइड नोट में शिष्य आनंद गिरि का नाममहंत नरेंद्र गिरि (Narendra Giri news) के अचानक निधन की खबर से उनके समर्थकों और शिष्यों में तनाव फैल गया। नरेंद्र गिरि का बीते दिनों उनके शिष्य आनंद गिरि से विवाद हुआ था, एनबीटी ऑनलाइन से बातचीत में आनंद ने गुरु की मौत को साजिश करार दिया है।

नरेंद्र गिरि की संदिग्ध हालत में मौत, मौके से सुसाइड नोट बरामद, शिष्य से दुखी थे अखाड़ा परिषद के अध्यक्षअखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष नरेंद्र गिरी की सोमवार को संदिग्ध हालात में मौत हो गई है. उनका शव प्रयागराज के श्री मठ बाघंबरी गद्दी में लटकता मिला है. पुलिस को शव वाले कमरे से एक सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है. नाइलोन की रस्सी से महंत पंखे ले लटके हुए थे. सुसाइड नोट में ज्यादातर शिष्य आनंद गिरि का जिक्र है. सुसाइड नोट में मानसिक तौर पर परेशान होने का भी बात कही गई है. हालांकि, सुसाइड की वजह क्या है, ये पुलिस अभी तफ्तीश करेगी. देखें वीडियो. इतनी बडी़ सुसाइड नोट कौन लिखकर मरता हैं? असल में यह हत्या का मामला नज़र आ रहा हैं, और इसमें बीजेपी के बडे़ नेता शामिल हैं

महंत नरेन्द्र गिरि ने शिष्य से परेशान होकर किया सुसाइड, पुलिस का दावा, सुसाइड नोट बरामदप्रयागराज। अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष और हनुमान मंदिर के महंत नरेन्द्र गिरि का शव फांसी पर झूलते हुए मिलने से हड़कंप मच गया है। नरेन्द्र गिरि की मौत की सूचना मिलते ही जिले के आलाधिकारी मौके पर पहुंच गए। महंत गिरि का शव प्रयागराज स्थित बाघंबरी मठ में ही फांसी के फंदे से झूलता मिला है। पुलिस की प्रारंभिक जांच में ये आत्महत्या है और पुलिस का दावा है कि उसने मौके से सुसाइड नोट भी बरामद किया है। जिसमें आत्महत्या का कारण एक शिष्य से दुखी होना बताया गया है।

नरेंद्र गिरि सुसाइड केस: कमरे में मिला छह पेज का सुसाइड नोट, सवाल- आखिर किस अपमान से आहत थे महंतनरेंद्र गिरि सुसाइड केस: कमरे में मिला छह पेज का सुसाइड नोट, सवाल- आखिर किस अपमान से आहत थे महंत NarendraGiri AnandGir Prayagraj Mahantnarendragiri NaredraGiriSuicide Uppolice Uppolice काहे का संत और काहे का महंत जो दुनियांदारी कि बातों से आहत हो जाये और आत्महत्या जैसा घृणित कार्य करे ! जो खुद सांसारिकता से विरक्त नहीं वो संत या महन्त कैसा? संत के लिए न मान महत्वपूर्ण है न अपमान। खैर ईश्वर उनकी आत्मा को शान्ति दें। विनम्र श्रद्धांजलि🙏🙏 Uppolice सुसाइड नोट की विश्वसनीयता की जानी चाहिए और अगर उसमें कोई तत्व पाए जाते हैं तो गंभीरता से जांच कराई जानी चाहिए बेशक सीबीआई से जांच कराई जाए दूध का दूध पानी का पानी जग जाहिर होना चाहिए इस तरह की हत्या है सरकार पर सवाल उठाते हैं Uppolice कहीं छह पेज, कहीं सात? ये एक पेज क्यों गायब?

महंत नरेंद्र गिरि के कमरे से मिला सुसाइड नोट, शिष्य की वजह से मानसिक तौर पर थे परेशानअखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की मौत के बाद उनके कमरे से एक तलाशी के दौरान एक सुसाइड बरामद हुआ है | UttarPradesh MahantNarendraGiri मै शपथ पत्र दे सकती मोदी राज मे मुझे लगता वैदिक संत परिवार ज्यादा दुखी आज भी भागवत शायद महाश्रमण हाजरी मे हैं इतना समय अखाड़ो को सम्भाल मे दे तो वैदिक संत कल्याण /सुरक्षा हो! मै कल भी कही निर्वाण दो हमे पर ऐनकाऊंटर या ऐसा नही UP मे राष्ट्रपति शासन हो मठाधिकारीCM और ये व्यवस्था छी JhalkoDelhiNews AAP Jasola खतरे में हिन्दू मंदिर, भू माफिया कर रहें भक्तों को परेशान, AAP विधायक पर लगें गंभीर आरोप ( Guru ji aap Kuchh madad kar sakte hain to Jarur kijiye) Jai ho Guru gorakhnath ji ki 🙏

नरेंद्र गिरि सुसाइड केस: कमरे में मिला छह पेज का सुसाइड नोट, सवाल- आखिर किस अपमान से आहत थे महंतनरेंद्र गिरि सुसाइड केस: कमरे में मिला छह पेज का सुसाइड नोट, सवाल- आखिर किस अपमान से आहत थे महंत NarendraGiri AnandGir Prayagraj Mahantnarendragiri NaredraGiriSuicide Uppolice Uppolice काहे का संत और काहे का महंत जो दुनियांदारी कि बातों से आहत हो जाये और आत्महत्या जैसा घृणित कार्य करे ! जो खुद सांसारिकता से विरक्त नहीं वो संत या महन्त कैसा? संत के लिए न मान महत्वपूर्ण है न अपमान। खैर ईश्वर उनकी आत्मा को शान्ति दें। विनम्र श्रद्धांजलि🙏🙏 Uppolice सुसाइड नोट की विश्वसनीयता की जानी चाहिए और अगर उसमें कोई तत्व पाए जाते हैं तो गंभीरता से जांच कराई जानी चाहिए बेशक सीबीआई से जांच कराई जाए दूध का दूध पानी का पानी जग जाहिर होना चाहिए इस तरह की हत्या है सरकार पर सवाल उठाते हैं Uppolice कहीं छह पेज, कहीं सात? ये एक पेज क्यों गायब?