Mahantnarendragiri, Akharaparishadpresident, Mahantnarendragirideath, Allahabad-City-Jagran-Special, Mahant Narendra Giri, Narendra Giri Suspected Death, Sant Gyaneshwar, Sant Gyaneshwar Murdere Case, Prayagraj Jagran Special, Prayagraj Kumbh 2006, महंत नरेंद्र गिरि, नरेंद्र गिरि की संदिग्‍ध मौत, संत ज्ञानेश्‍वर हत्‍याकांड, प्रयगाराज कुंभ मेला 2006, Uttar Pradesh News

Mahantnarendragiri, Akharaparishadpresident

Mahant Narendra Giri: 14 वर्ष पहले प्रयागराज में संत ज्ञानेश्‍वर की हुई थी हत्‍या, अब नरेंद्र गिरि की मौत

#MahantNarendraGiri: 14 वर्ष पहले प्रयागराज में संत ज्ञानेश्‍वर की हुई थी हत्‍या, अब नरेंद्र गिरि की मौत #AkharaParishadPresident #MahantNarendraGiriDeath

22-09-2021 12:00:00

MahantNarendraGiri: 14 वर्ष पहले प्रयागराज में संत ज्ञानेश्‍वर की हुई थी हत्‍या, अब नरेंद्र गिरि की मौत AkharaParishadPresident MahantNarendraGiriDeath

Mahant Narendra Giri 10 फरवरी 2006 को प्रयागराज के कुंभ मेला में अंतिम प्रमुख स्नान कर वाराणसी जाने के लिए संत ज्ञानेश्वर अपने पूरे काफिले के साथ निकले थे। हंडिया क्षेत्र में उनके वाहनों को घेर कर स्वचालित असलहों से गोलियां बरसाकर संत उनके सात शिष्यों की हत्‍या हुई थी।

संगमनगरी यानी प्रयागराज में किसी बड़े संत की मौत का यह दूसरा वाकया है, जब लोग दहल गए हैं। इसके 14 वर्ष पहले भी संत ज्ञानेश्वर की मौत हुई थी। हालांकि, उनको बीच सड़क गोलियों से मौत के घाट उतार दिया गया था। इस हमले में संत ज्ञानेश्वर और उनके सात शिष्यों की मौत हो गई थी। अब अखिल भारतीय अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध मौत से 14 वर्ष पहले हुई घटना की याद लोगों के जेहन में ताजा हो गई है।

राजस्थान: पाकिस्तान की जीत पर खुशी मनाने वाली शिक्षिका को नौकरी से निकाला, FIR दर्ज - BBC Hindi टूलकिट केस: दिशा रवि के ख़िलाफ़ जांच में कुछ मिला नहीं, पुलिस फाइल कर सकती है क्लोज़र रिपोर्ट यूपी में छीनी जा रही दलितों की ज़मीन, भू-माफ़िया को रोकने में नाकाम दिखती योगी सरकार

प्रयागराज कुंभ स्‍नान कर वापस लौट रहा था संत ज्ञानेश्‍वर का काफिला10 फरवरी 2006 को प्रयागराज के कुंभ मेला में अंतिम प्रमुख स्नान कर वाराणसी जाने के लिए संत ज्ञानेश्वर अपने पूरे काफिले के साथ निकले थे। हंडिया क्षेत्र में रास्ते में घात लगाकर बैठे हमलावरों ने उनके वाहनों को घेर कर स्वचालित असलहों से गोलियां बरसाई थीं। इसमें संत ज्ञानेश्वर, पुष्पा, पूजा, नीलम, गंगा, ओमप्रकाश, रामचंद्र, मिथिलेश की मौत हो गई थी। वहीं दिव्या, मीरा, संतोषी, अनीता, मीनू गंभीर रूप से घायल हो गई थीं।

यह भी पढ़ेंसंत ज्ञानेश्‍वर के भाई ने भूमि विवाद में लगाया था हत्‍या का आरोपसंत ज्ञानेश्वर के भाई इंद्रदेव तिवारी निवासी देवरिया ने इसौली के पूर्व विधायक चंद्रभद्र सिंह सोनू, उनके ब्लाक प्रमुख भाई यशभद्र सिंह मोनू समेत अन्य लोगों के खिलाफ हत्या का केस दर्ज कराया था। जमीन के झगड़े में इस पूरी वारदात का होना बताया गया था। headtopics.com

महंत नरेंद्र गिरि की मौत के पीछे संपत्ति का विवाद बताया जा रहायह भी पढ़ें और पढो: Dainik jagran »

MP में मामा का नया अंदाज, VIDEO: बीच सड़क पर गाड़ी से उतरे शिवराज और वर्चुअली भाषण दिया, ट्रैफिक क्लियर करने को भी कहा

मध्यप्रदेश में उपचुनाव का प्रचार कर रहे मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान का नया अंदाज सामने आया है। वे सड़क पर ही खड़े होकर खंडवा में मोबाइल से वर्चुअली लोगों को संबोधित करने लगे। इस दौरान कुछ लोग भी जुट गए। सीएम मोबाइल के साथ उन्हें भी देखकर संबोधित करने लगे। पुनासा की सड़क पर खड़े शिवराज के इस अंदाज का लोगों ने हाथ उठाकर स्वागत किया और वीडियो भी बनाए। | Shivraj Singh Chouhan made the road an election platform in MP MP में शिवराज सिंह चौहान ने सड़क को ही बना दिया चुनावी मंच

प्रयागराज में अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत नरेंद्र गिरि की संदिग्ध हालात में मौतसोमवार को महंत नरेंद्र गिरी का निधन हो गया है. वो अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष थे. प्रयागराज के श्री मठ बाघंबरी गद्दी में हुआ निधन. किस वजह से नरेंद्र गिरी का निधन हुआ है ये स्पष्ट नहीं हुआ है. नरेंद्र गिरी का निधन संदेहास्पद है क्योंकि उनका शव लटकता मिला है. पुलिस इस मामले में तफ्तीश में जुटी है. नरेंद्र गिरी को बड़े सम्मान से देखा जाता था. तमाम जो अखाड़ा परिषद है उसमें सर्वोच्च जो भारतीय अखाड़ा परिषद है. उसके नरेंद्र गिरी अध्यक्ष थे. देखें वीडियो. 😥😥😥😥😥🙏🙏 अखाड़ा परिषद के अध्यक्ष महंत। नरेंद्र गिरि का निधन। सुन के दुःखी हूआ। महंत संत समाज के लिए बुलंद आवाज थे। भगवान महंत नरेंद्र गिरि को आत्मा को शान्ति प्रदान करे भावपूर्ण श्रध्दांजलि 😢😢😢😢

Live Updates : प्रयागराज में नरेंद्र गिरि को अंतिम विदाई, बाघम्बरी मठ में बड़ी संख्या में उमड़े संत...नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज अमेरिका यात्रा पर रवाना हो रहे हैं। प्रयागराज में नरेंद्र गिरि महाराज को आज दोपहर में अंतिम विदाई दी जाएगी। पल-पल की खबर...

भोपाल में गड्ढे में 'सरकार' का आदेश, प्रदेश की सबसे महंगी सड़क भी खस्ताहाल!मध्यप्रदेश में बारिश के चलते सड़कों की हालात खराब हो गई है। जिलों और ग्रामीण इलाकों की बात तो दूर राजधानी भोपाल में मुख्य सड़कों में गड्ढे ही गड्ढे नजर आ रहे है। यह हालात तब है कि जब मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने खुद सड़कों में गड्ढों पर नाराजगी जताते हुए तत्काल गड्ढों को भरने के निर्देश दिए थे।

मई 2022 से NDA की प्रवेश परीक्षा में शामिल होंगी महिलाएं : सुप्रीम कोर्ट में केंद्रकेंद्र के हलफनामे में यह स्पष्ट नहीं किया गया है कि पहले बैच में कितनी महिला कैडेटों को प्रशिक्षित किया जाएगा, लेकिन बताया गया है कि ये भर्ती कैडर अनुपात और वांछित कैडर संरचना, विशिष्ट सेवा अकादमी में कैडर रखने की क्षमता, रोजगार आदि सहित कई कारणों पर निर्भर करेगी. Bilkul sahi kiya hai

अफगानिस्तान में मुल्‍ला बरादर को बंधक बनाने और हैबतुल्लाह अखुनजादा की मौत की खबर: रिपोर्टAfghanistan Crisis इस महीने की शुरुआत में गठित सरकार के प्रमुख मुल्ला हसन अखुंद वास्तविक शक्ति नहीं रखता है। हक्कानी नेटवर्क पर लगाम लगाने वाला कोई नहीं है जो अपने सार्वजनिक बयानों में बहुत अधिक संदेश देता है। start_MP_teachers_transfer_portal narendramodi ChouhanShivraj JM_Scindia Indersinghsjp माननीय सिर्फ चहीतों और मंत्रियों को खुश करनेवालों को ट्रांसफर मिले सुना था मामाजी के लिये सभी भानजे समान हैं?ये कैसा अन्याय? विनती है कि सबके लिये पारदर्शिता सेपोर्टल पुनः चालू कीजिये

तालिबान सरकार में तेल कंपनियों की मनमानी, काबुल में बढ़ने लगे पेट्रोल-डीजल के दामकाबुल में पिछले एक हफ्ते में ईंधन की कीमतों में बेतहाशा वृद्धि हुई है। स्थानीय लोगों ने तालिबान सरकार से तेल कंपनियों और ईंधन के आयातकों से अधिक शुल्क को रोकने के लिए कदम उठाने का आग्रह किया है। Wo bhi gst mai laa re hai kya ? 😂😂😂😂😂😂😂😂 धन्यवाद आपका जो आपने काबुल की न्यूज दी,, अबे मूर्ख बनाने की भी सीमा है,, काबुल के न्यूज से क्या लेना देना बे,, यहां की भी न्यूज बता दो ,,और पूछ लो अपने आका से