Madhya Pradesh, Pm Awas Yojana, मध्यप्रदेश समाचार, एमपी समाचार, प्रधानमंत्री आवास योजना, पीएम आवास योजना समाचार, Madhya Pradesh News, Shivraj Singh Chauhan, Pradhan Mantri Awas Yojana, Mp News

Madhya Pradesh, Pm Awas Yojana

Madhya Pradesh: प्रधानमंत्री आवास योजना की हकीकत.. ढांचा तैयार हुआ, छत के लिए इंतजार

Madhya Pradesh: प्रधानमंत्री आवास योजना की हकीकत.. ढांचा तैयार हुआ, छत के लिए इंतजार

30-07-2021 21:16:00

Madhya Pradesh : प्रधानमंत्री आवास योजना की हकीकत.. ढांचा तैयार हुआ, छत के लिए इंतजार

मध्य प्रदेश में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत मिलने वाली राशि के इंतजार में कई मकान बिना छत के खड़े हैं. इनमें रहने वाले लोगों का बुरा हाल है. बारिश के दिनों लोग खुले आसमान के नीचे रहने को मजबूर हैं.

भोपाल: पक्की दीवारों के बीच तिरपाल ताने आगर-मालवा के अर्जुन नगर में रहते हैं पूरा लाल. पक्की दीवारें प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत साल भर मिली पहली किश्त से बन गईं, दूसरी किश्त अटकी है. बैंड बजाते थे, कोरोना में बेरोजगार हैं. बरसात में ये बांस और प्लास्टिक इन दीवारों को जैसे चिढ़ा रहे हैं, पूरा लाल का घर अधूरा है."1 लाख मिले थे उससे बाहर भी पूरी दीवार नहीं बन पाई, कर्जा लेकर बनाया, किश्त का ठिकाना नहीं है.. हम दफ्तर जा जाकर परेशान हैं, कोई सुनता ही नहीं. उनकी पत्नी  दुर्गा बाई कहती हैं, दूसरी किश्त का इंतजार है मिल जाए तो छत डले, बिस्तर गीले हो जाते हैं छोटे बच्चे हैं लेकर कहां जाएं." मध्यप्रदेश में जिस समस्या से पूरा लाल जूझ रहे हैं.. उस समस्या के मारे अनगिनत हैं. आइये आपको इस रिपोर्ट के जरिये बताते हैं प्रधानमंत्री आवास योजना से लोगों को सपनों का घर मिला है, या उनके सपने चकनाचूर हो गए हैं...

भारत की ओवल टेस्ट में इंग्लैंड पर शानदार जीत, बुमराह ने दिखाई जीत की राह - BBC News हिंदी AAP सांसद संजय सिंह की मुश्किलें बढ़ीं, कोर्ट ने जारी किया अरेस्ट वॉरंट टीम इंडिया ने ओवल में रचा इतिहास, इंग्लैंड को 157 रनों से हराया, सीरीज में 2-1 से आगे

पक्की दीवारों के बीच तिरपाल ताने आगर-मालवा के अर्जुन नगर में रहते हैं पूरा लाल पक्की दीवारें @PMAYUrban से साल भर मिली पहली किश्त से बन गईं, दूसरी किश्त अटकी हैं.बरसात में ये बांस और प्लास्टिक इन दीवारों को जैसे चिढ़ा रहे हैं, पूरा लाल का घर अधूरा है! @narendramodi#pmaypic.twitter.com/IisAt0w9X7

— Anurag Dwary (@Anurag_Dwary) July 29, 2021यह भी पढ़ेंलक्ष्मणपुरा में अमीन शेख का भी घर अधूरा है. बरसात में गृहस्थी का सारा सामान भीग गया, पड़ोसी ने आसरा दिया. गीले चूल्हे में कहीं उज्जवला योजना की हकीकत भी दिख जाएगी. कोरोना में मजदूरी मिली तो चूल्हा जल जाता है, नहीं तो रोटी के लिये भी दूसरों के आसरे हैं. उनकी पत्नी शकीला ने घर की बदहाली दिखाते हुए कहा कि दीवार गिर गई थी, कर्ज लेकर बनाया था. आंगन में पानी भरा है... ये पूरा खुला है...पैसा मिल नहीं रहा, काम बंद करवा दिया. headtopics.com

हमारे साथी @jaffer_multani लक्ष्मणपुरा में अमीन शेख के घर गये, जिनका सीधा सा इतना पता है, ये घर जो है चारों तरफ से खुला है ... गाना नहीं हकीकत है, बरसात में गृहस्थी का सारा सामान भीग गया, गीले चूल्हे में कहीं उज्जवला योजना की हकीकत भी दिख जाएगी @narendramodipic.twitter.com/ckoI9r2d3R

— Anurag Dwary (@Anurag_Dwary) July 29, 2021बालू भी इसी समस्या के मारे हैं. बरसात में खुद भीगने से बच पाएं या नहीं, भगवान की तस्वीर बचाने की जुगत में हैं, 13 लोगों के परिवार को पालने में शायद यहां भी उज्जवला का चूल्हा काम नहीं आया. कोरोना में मजदूरी मिल नहीं रही, बीजेपी की सरकार छत दिलवा पाये या नहीं, पोस्टर-बैनर छत की जुगत के काम आ रहे हैं. उनके बेटे शंकर लाल ने कहा कि एक किश्त आई, फिर किश्त नहीं आई, पूरा घर खुला पड़ा है. नगरपालिका में जाकर थक गये किश्त नहीं आई है.

बालू बरसात में खुद भीगने से बच पाएं या नहीं, भगवान की तस्वीर बचाने की जुगत में हैं,13 लोगों का परिवार है @BJP4India@narendramodi@ChouhanShivraj की सरकार छत दिलवा पाये या नहीं, पोस्टर-बैनर छत की जुगत के काम आ रहे हैं. pic.twitter.com/BeowrBF52k— Anurag Dwary (@Anurag_Dwary) July 29, 2021रशीदा बी बेवा हैं, 3 बच्चों की जिम्मेदारी कोरोना में काम नहीं, छत के जगह टीन लगाया है. सगुन बाई की भी यही तकलीफ है.

काश इलाके के घर @PMAYUrban योजना केविज्ञापन की तरह चटख रंग बिरंगे होते, वो तो सब एक जैसे बेरंग हैं, रशीदा बी बेवा हैं, 3 बच्चों की जिम्मेदारी कोरोना में काम नहीं, छत के जगह टीन लगाया है, सगुन बाई की तकलीफ भी एक जैसी तकलीफें खुले दरवाजे के बाहर खड़ी हैं! @narendramodipic.twitter.com/9S7ZCvlJij headtopics.com

किसान आंदोलन के चलते इंटरनेट बाध‍ित, कल होने वाली कुरुक्षेत्र विश्वविद्यालय की परीक्षाएं स्थगित भानुप्रताप बोले- Rakesh Tikait को Congress की फंड‍िंग, देखें Supriya Srinate का जवाब Team India ने England को 157 रनों से हराया, देखें इस जीत की 5 बड़ी बातें

— Anurag Dwary (@Anurag_Dwary) July 29, 2021शहर में नगरपालिका परिषद ने योजना के तहत दूसरी डीपीआर तैयार की जिसमें 1500 से अधिक लोगों का चयन हुआ, 732 हितग्राहियों को पहली किश्त के 1 लाख मिल गये, दूसरी का इंतजार है, अधिकारी बजट के लिये रो रहे हैं. आगर मालवा में सीएमओ बने सिंह सोलंकी कहते हैं, 7 माह पहले 7 करोड़ 29 लाख आये थे, 732 लोगों को दे चुका हूं, वीसी हुई थी आयुक्त महोदय से निवेदन किया था उन्होंने कहा था 8 दिन के अंदर आ जाएंगे संभावना आ जाए जैसे ही पैसे आएंगे, भुगतान कर दिया जाएगा.

Listen to the latest songs, only on JioSaavn.comशायद यही वजह है कि प्रधानमंत्री आवास योजना-ग्रामीण ओवरऑल रैंकिंग में मध्यप्रदेश 79.6 अंकों के साथ चौथे नंबर पर है. इस सूची में यूपी, राजस्थान और झारखंड भी मध्यप्रदेश से बेहतर हैं. मध्यप्रदेश में प्रधानमंत्री आवास ग्रामीण के तहत कुल लक्ष्य 32,27,131 घरों का है, स्वीकृति मिली है 26,26,943 यानी 81.4% को. अभी तक निर्माण हुआ है 19,37,812 यानी 60.05% घरों का. वहीं प्रधानमंत्री आवास शहरी में कुल स्वीकृति है 8,53,075 घरों की. निर्माण हुआ है  4,51,334 यानी 52.9% घरों का. कुल मिलाकर ग्रामीण-शहरी दोनों इलाकों में निर्माण आधे से थोड़ा ज्यादा है. ऐसे में क्या 2022 तक सबको पक्के मकान का ख्वाब हकीकत में बदल पाएगा. Madhya PradeshPM Awas Yojanaटिप्पणियां पढ़ें देश-विदेश की ख़बरें अब हिन्दी में (Hindi News) | कोरोनावायरस के लाइव अपडेट के लिए हमें फॉलो करें |

लाइव खबर देखें: और पढो: NDTVIndia »

मंडे मेगा स्टोरी: GDP में रिकॉर्ड बढ़ोतरी इकलौती अच्छी खबर नहीं, 10 ग्राफिक्स में देखिए कोरोना को पीछे छोड़ तरक्की पर लौटते भारत की तस्वीर

इस साल अप्रैल से जून की तिमाही में भारत की GDP में 20.1% का रिकॉर्ड उछाल आया। ये कोरोना की मार से बदहाल लोग और सरकार के लिए बड़ी खुशखबरी है। हालांकि ये इकलौती अच्छी खबर नहीं है। | Top Ten Factors Influencing Gross Domestic Product (Gdp) Growth Rate इस साल अप्रैल से जून के बीच भारत की GDP में 20.1% का रिकॉर्ड उछाल आया। ये कोरोना की मार से बदहाल अर्थव्यवस्था के लिए बड़ी खुशखबरी है।

Ye hai apka news report Garib ke jopere nahi kiya repoting ? narendramodi सर आपका कोन‌ सा काम ऐसा है जिसमें अगर मगर नहीं है सीधा जनता को लाभ हो ? आप केवल बातों के धनी हैं। Sachchar committee per bhi Kuchh gyan. Pm modi ji ki bato par ab desh me Vishvasniyta samapt ho rahi he......... True 🇮🇳🙏

Kindle यूजर्स के लिए अलर्ट: दिसंबर के बाद इन लोगों के किंडल में नहीं चलेगा इंटरनेटकंपनी ने ई-मेल के जरिए अपेन पुराने Kindle यूजर्स को इसे लेकर जानकारी दी है। यदि किसी पुराने Kindle में केवल सेलुलर डाटा का सपोर्ट,

अमेरिका: पढ़ाई के बाद विदेशी छात्रों के देश में रुकने के खिलाफ संसद में विधेयक पेशअमेरिका: पढ़ाई के बाद विदेशी छात्रों के देश में रुकने के खिलाफ संसद में विधेयक पेश America Parliament Student Visa ForeignStudent Study Follow back चाहिए तो तुरन्त फॉलो करें 👉gsbsingham10💯 follow 🔙

दिल्ली: राकेश अस्थाना के पुलिस कमिश्नर बनने पर बवाल, केजरीवाल बोले- SC के आदेश के खिलाफअब दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी ये मुद्दा उठाया है. उन्होंने भी सुप्रीम कोर्ट के फैसले को आधार बनाते हुए इस फैसले को गलत बताया है. PankajJainClick केजरू किसे बनवाना चाहता है कमिश्नर? राकेश अस्थाना से क्या डर है इस राष्ट्र द्रोही को? PankajJainClick यह इतना घबराया हुवा क्यू है। PankajJainClick ArvindKejriwal जी आप की फट क्यू रही है क्या कोई गोल माल किया है AAP ने

उत्तरकाशी-किन्नौर में पहाड़ दरका, दिल्ली में यमुना खतरे के निशान के पारWeather Forecast Today, Delhi, Himachal Pradesh, Uttar Pradesh, Dharamshala, Punjab, Haryana, Lucknow, Bihar Rains Latest News: इसी बीच, दिल्ली में यमुना नदी का जल स्तर भारी बारिश के बाद 203.37 मीटर तक बढ़ गया जो खतरे के निशान 204.50 मीटर के करीब है।

तोक्यो ओलिंपिक में मेडल पक्का करने के बाद लवलीना के इलाके में जश्नअसम: लवलीना बोर्गोहेन की तोक्यो ओलिंपिक में वेल्टरवेट (64-69 किलोग्राम) के क्वॉर्टर फाइनल में जीत के बाद उनके पड़ोसियों और गांव वालों ने जश्न मनाया। अपना पहला ओलिंपिक खेल रही लवलीना बोरगोहेन (69 किलो) ने पूर्व विश्व चैंपियन चीनी ताइपे की नियेन चिन चेन को हराकर सेमीफाइनल में प्रवेश के साथ तोक्यो ओलिंपिक की मुक्केबाजी स्पर्धा में भारत का पदक पक्का कर दिया। असम की 23 वर्ष की मुक्केबाज ने 4-1 से जीत दर्ज की। अब उसका सामना मौजूदा विश्व चैंपियन तुर्की की बुसानेज सुरमेनेली से होगा जिसने क्वॉर्टर फाइनल में उक्रेन की अन्ना लिसेंको को मात दी। Early celebration

सिर्फ UP में चार लाख के करीब बच्चे गंभीर कुपोषण के शिकार- RS में बोलीं स्मृतिस्मृति ने बताया कि आईसीडीएस-आरआरएस पोर्टल के अनुसार, 30 नवंबर 2020 तक देश में छह माह से छह साल की उम्र के, अत्यंत कुपोषित 9,27,606 बच्चों की पहचान की गई है।