Lıve, Uttrakhand, Uttarakhanddisaster, Dehradun-City-Common-Man-İssues, Alaknanda Glacier Bursted İn Chamoli Central Water Commission İssued Alert For All Checkpoints, Chamoli Disaster, Chamoli Tragedy, Uttarakhand Commonmanıssues, Dehradun-City-Common-Man-İssues, उत्तराखंड न्यूज, चमोली न्यूज, अलकनंदा ग्लेशियर, चमोली में अलकनंदा ग्लेशियर फटने की खबर, केंद्रीय जल आयोग ने सभी चौकियों पर जारी किया अलर्ट, Uttarakhand News

Lıve, Uttrakhand

LIVE Uttarakhand Disaster News: चमोली में तबाह हुआ ऋषिगंगा हाइड्रो पावर प्रोजेक्‍ट, 150 लोगों के मरने की आशंका; टनल में फंसे 15 लोगों का किया रेस्क्यू

#LIVE | चमोली में तबाह हुआ ऋषिगंगा हाइड्रो पावर प्रोजेक्‍ट, 150 लोगों के मरने की आशंका; टनल में फंसे 15 लोगों का किया रेस्क्यू #Uttrakhand #UttarakhandDisaster

07-02-2021 13:30:00

LIVE | चमोली में तबाह हुआ ऋषिगंगा हाइड्रो पावर प्रोजेक्‍ट, 150 लोगों के मरने की आशंका; टनल में फंसे 15 लोगों का किया रेस्क्यू Uttrakhand UttarakhandDisaster

LIVE Glacier Outburst News चमोली जनपद में ऋषिगंगा नदी पर बन रहे हाइड्रो प्रोजेक्‍ट का बांध टूट गया है। इसमें कई मजदूरों के बहने की आशंका है। यहां 24 मेगावाट का प्रोजेक्‍ट निर्माणाधीन था। हिमखंड टूटने के बाद नदी में बाढ जैसे हालात पैदा हो गए हैं।

 LIVE Uttarakhand Glacier Outburst Newsचमोली जिले में एवलांच के बाद ऋषिगंगा हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट पूरी तरह से तबाह हो गया है, जबकि धौलीगंगा पर बने हाइड्रो प्रोजेक्ट का बांध टूट गया, जिससे गंगा और उसकी सहायक नदियों में बाढ़ का खतरा पैदा हो गया है। इसे देखते हुए राज्य में चमोली से लेकर हरिद्वार तक रेड अलर्ट जारी कर दिया गया है। जब यह हादसा हुआ, तब दोनों प्रोजेक्ट पर काफी संख्या में मजदूर कार्य कर रहे थे। इस हादसे में करीब 150 लोगों के मरने की आशंका है, जबकि आठ के शव बरामद किए गए हैं। मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत लगातार इस घटनाक्रम पर निगरानी रखे हुए हैं। वे त्रिवेंद्र सिंह रावत जोशीमठ पहुंच गए हैं। उन्होंने यहां घटनास्थल का मुआयना किया और पूरी जानकारी ली। वहीं, पानी कर्णप्रयाग तक पहुंच गया है।

नीतीश कुमार ने लल्लन सिंह को बनाया जदयू का राष्ट्रीय अध्यक्ष - BBC News हिंदी जंगल की आग, झुलसाती गर्मी और बाढ़ से डूबते शहर- दुनिया में ये क्या हो रहा है? - BBC News हिंदी देश में महंगाई और इकॉनमी की बदहाली नेहरू के 1947 के भाषण से शुरू हुई : MP के मंत्री ने कहा

LIVE UPDATES - ऋषिगंगा परियोजना स्थल की टनल में 15-16 लोग फंसे हुए थे, जिनका रेस्क्यू कर लिया गया है।  - तपोवन के हाइड्रो प्रोजेक्ट की टनल में कुछ लोगों के फंसे होने की खबर है। उनका रेस्क्यू किया जा रहा है।- बीआरओ शिवालिक परियोजना के चीफ इंजीनियर आशू सिंह राठौड़ ने बताया कि घटनास्थल पर उनकी टीम मौजूद है और रेस्क्यू के काम में जुटी हुई है।  

टाइमलाइनसुबह 10:40 बजे: चमोली जिले के ऋषिगंगा नदी में हिमखंड टूटने से नदी ने लिया रौद्र रूपसुबह 10:55 बजे: रेणी में ऋषिगंगा-2 हाइड्रो पावर प्रोजेक्ट का एक बड़ा हिस्सा तोड़कर आगे बढ़ा पानी का सैलाबसुबह 11:10 बजे: ऋषिगंगा-1 और देवडी बांध को क्षतिग्रस्त कर बहाव आगे बढ़ा। headtopics.com

सुबह 11:25 बजे: धौलीगंगा और ऋषिगंगा के संगम के बाद तपोवन पहुंचा अलकनंदा नदी का पानी, तपोवन-विष्णुगाड जल विद्युत परियोजना को भारी नुकसान कर सैलाब आगे बढ़ा।सुबह 11:45 बजे: जोशीमठ को पार कर विष्णुगाड-पिपलकोटी परियोजना तक पहुंचा बाढ़ का पानी।दोपहर 12.12 बजे: चमोली को पार कर नंदप्रयाग पहुंचा पानी।

दोपहर 1:00 बजे: चमोली जिले में कर्णप्रयाग पार करने के बाद पानी के बहाव में आई कुछ कमी।दोपर 1:20 बजे: रुद्रप्रयाग जनपद को पार कर श्रीनगर के करीब पहुंचा बाढ़ का पानी।(जोशीमठ में घटनास्थल का मुआयना और राहत-बचाव कार्यों की समीक्षा करते सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत।)  

पीएम मोदी ने किया ट्वीट, उत्तराखंड के साथ खड़े देश प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करते हुए लिखा, उत्तराखंड में आपात स्थिति की लगातार निगरानी कर रहे हैं। देश उत्तराखंड के साथ खड़ा है और राष्ट्र सभी की सुरक्षा के लिए प्रार्थना करता है। वरिष्ठ अधिकारियों से लगातार बात की जा रही है और एनडीआरएफ की तैनाती, बचाव कार्य और राहत कार्यों की लगातार जानकारी ली जा रही है। गृहमंत्री अमित शाह ने ट्वीट किया, 'इस संबंध में सीएम त्रिवेंद्र रावत से बात की गई है। डीजी आइटीबीपी और डीजी एनडीआरएफ से भी बात की गई है। सभी संबंधित अधिकारी लोगों को सुरक्षित करने के लिए युद्धस्तर पर काम कर रहे हैं। एनडीआरएफ बचाव कार्य के लिए निकल गई है। देवभूमि को हर संभव मदद दी जाएगी।' 

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा ने ट्वीट किया, उत्तराखंड के चमोली जिले में अकस्मात ग्लेशियर टूटने से उत्पन्न परिस्थितियों को लेकर प्रशासन सजग है। सीएम त्रिवेंद्र रावत खुद राहत और बचाव कार्य देख रहे हैं। भाजपा प्रदेश अध्यक्ष बंशीधर भगत से भाजपा कार्यकर्ताओं को पीड़ितों की मदद और प्रशासन के सहयोग में लगाने का आग्रह किया है।  वहीं, केंद्रीय मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने इस पूरे मामले पर रिपोर्ट मांगी है।  headtopics.com

पुलिस की छवि: पीएम मोदी ने पुलिस की छवि बदलने की जताई जरूरत, नकारात्मक छवि से मुक्ति पाकर बने जन हितैषी बीजेपी के मंत्री बोले- नेहरू के 15 अगस्त 1947 के भाषण के चलते बिगड़ी है इकोनॉमी, बढ़ी है महंगाई! Assam Mizoram dispute: सीमा पर शांति, गुवाहाटी ने नगालैंड और अरुणाचल से शांति वार्ता की

हेल्पलाइन नंबर जारी मुख्य सचिव ओम प्रकाश ने बताया कि एनडीआरएफ भी प्रभावित इलाकों के लिए रवाना हो चुकी है। पानी का बहाव अब थोड़ा कम हुआ है। इस कारण निचले इलाकों में रहने वालों को घबराने की आवश्यकता नहीं है। वहीं, इस आपात स्थिति से निपटने के लिए एसडीआरएफ और उत्तराखंड पुलिस ने हेल्पलाइन नंबर जारी किए हैं। +911352410197, +9118001804375, +919456596190। इन नंबरों पर फोन कर मदद ली जा सकती है। 

आपको बता दें कि रविवार सुबह एवलांच के बाद चमोली जिले के अंर्तगत ऋषिगंगा नदी पर रैणी गांव में निर्माणाधीन 24 मेगावाट के हाइड्रो प्रोजेक्ट का बैराज टूट गया। इसके बाद मलबे और पानी का तेज बहाव धौलीगंगा की ओर बढ़ा। नतीजतन रैणी से करीब 10 किमी दूर तपोवन में धौलीगंगा नदी पर निर्माणाधीन 520 मेगावाट की विद्युत परियोजना का बैराज भी टूट गया। इसके बाद हालात बिगड़ गए। दोनों प्रोजेक्ट पर काम कर रहे बड़ी संख्या में मजदूरों के बहने की सूचना है।

और पढो: Dainik jagran »

कम नमक भी जानलेवा: अक्सर बिना नमक खाए व्रत रखते हैं या हैं फिटनेस फ्रीक, तो ध्यान रखें सोडियम की कमी से ये 6 तरह के जोखिम

व्रत रखना बॉडी को डिटॉक्स करने का सबसे अच्छा तरीका है। कुछ लोग धार्मिक होने की वजह से व्रत रखते हैं, तो वहीं कुछ लोग अपने फिटनेस गुरु के कहने पर हफ्ते में कई दिन व्रत रखते हैं। अगर आप भी ऐसा करते हैं और केवल मीठा खाकर ही व्रत रखते हैं या फिर नमक कुछ ज्यादा ही कम खाते हैं तो यह खतरनाक हो सकता है। | सावन महीने की शुरुआत हो चुकी है। धार्मिक दृष्टि से यह महीना काफी शुभ माना जाता है। सावन सोमवार के व्रत रखने की प्रथा सालों पुरानी है। कुछ लोग ये सोमवार का व्रत केवल मीठा खाकर रखते हैं. यानी पूरे दिन नमक नहीं खाते हैं। वैसे तो व्रत रखना शरीर के लिए फायदेमंद है लेकिन दिनभर नमक न खाने के कई नुकसान भी हो सकते हैं।

Chamoli में टूटा Glacier, Tunnel में फंसे लगो...देखें Uttarakhand में तबाही की 10 तस्वीरेंउत्तराखंड में आई हिम त्रासदी के बाद लोगों को बचाने की जद्दोजहद दिन-रात जारी है. चमोली में रविवार की सुबह ग्लेशियर टूटने के बाद आए सैलाब ने अब तक 14 लोगों की जान ले ली है जबकि अभी भी कई लोग मलबे और टनल में फंसे हुए हैं जिन्हें सुरक्षित बाहर निकालने के लिए एनडीआरएफ और वायुसेना की टीम दिन-रात काम कर रही है.रविवार को टनल से आईटीबीपी के जवानों ने 16 लोगों को सुरक्षित निकाला जिसके बाद दूसरे सुरंग में भी 30 लोगों के फंसे होने की सूचना मिली. इस पर देर रात से ही एनडीआरएफ के जवान टनल से लोगों को सुरक्षित बाहर निकालने की कोशिश में जुटे हुए हैं. इस वीडियो में देखें उत्तराखंड में तबाही की 10 तस्वीरें. बजट में सैनिकों की पेंशन में कटौती। ना जवान ना किसान मोदी सरकार के लिए 3-4 उद्योगपति मित्र ही भगवान! राहुल_गांधी

Uttarakhand Glacier Burst Live Updates: टनल में फंसे लोगों को बचाने के लिए बचाव कार्य जारीउत्तराखंड के चमोली में रविवार को ग्लेशियर टूटने से बड़ा हादसा हो गया। इसमें कई लोगों की जान चली गई। अगर कोई दलित फसा हो तो प्रियंका गांधी खुद अपने हाथों से उसे बचाएंगी priyankagandhi

Uttarakhand : ऋषिगंगा में जलस्तर बढ़ा, तपोवन में बचाव कार्य रुकानई दिल्ली/ तपोवन। बचावकर्ताओं ने उत्तराखंड के चमोली जिले में रविवार को आई बाढ़ से क्षतिग्रस्त तपोवन-विष्णुगाड परियोजना की गाद से भरी तपोवन सुरंग में फंसे 30-35 लोगों तक पहुंचने के लिए गुरुवार को खुदाई अभियान शुरू कर दिया। इस बाढ़ के कारण 34 लोगों की मौत हो चुकी है और करीब 170 अन्य लोग लापता हैं।

Uttarakhand में फिर तबाही के संकेत, अब ऋषिगंगा के ऊपरी हिस्से में बनी झीलऑपरेशन ज़िंदगी के तहत देश के जवान उत्तराखंड के चमोली स्थित तपोवन टनल में दिन-रात जुटे हुए हैं, लेकिन अब यहां पीड़ित परिवारों का धैर्य जवाब देने लगा है. तो साथ ही उत्तराखंड में ग्लेशियर टूटने से ऋषिगंगा के ऊपरी हिस्से में एक नई झील का जन्म हुआ है और ये झील बड़े खतरे का संकेत दे रही हैं. बता दें क‍ि तपोवन टनल में पिछले 6 दिनों से ऑपरेशन चल रहा है. इसी बीच टनल के बाहर हलचल उस वक्त और बढ़ गई जब अंदर से दो शव और निकाले गए. फिलहाल, परिवारवालों में जबरदस्त आक्रोश हैं. देखें ये वीडियो. This time government should learn something from Odisha CM Naveen_Odisha . Excellent work since 2000, every year to save the life of common man.

Uttarakhand: आपदा में मरने वालों की संख्या 18 हुई, तपोवन टनल में रेस्क्यू जारीउत्तराखंड के चमोली में रविवार को ग्लेशियर टूटने से तबाही मच गई है. राहत कार्यों का काम जारी है. केंद्र सरकार और राज्य सरकार साथ मिलकर काम कर रहे हैं. और लोगों को मदद पहुंचाने का काम कर रहे हैं. आपदा में मरने वालों की संख्या 18 हो गई है. उत्तराखंड पुलिस के अनुसार 202 लोग अभी भी लापता हैं. तपोवन में बड़ी टनल में रेस्क्यू जारी है. देखें वीडियो. For BJP Supporter -- Rahul Vaidya For Congress Supporter -- Rubina Dilaik BJPRahuvadiya

मुंबई में मॉल में आग लगने के सिलसिले में छह लोगों के खिलाफ मामला दर्जमहानगर पुलिस ने यहां के भांडुप इलाके के एक मॉल में आग लगने की घटना के सिलसिले में छह लोगों के खिलाफ आईपीसी की धारा 304 (गैर इरादतन हत्या) और 34 (साझा मंशा) के तहत मामला दर्ज किया है. भीषण आग में वहां स्थित एक अस्पताल में इलाजरत कोरोना वायरस के नौ मरीजों की मौत हो गई. जानकारी के अनुसार हाउसिंग डेवलपमेंट एंड इंफ्रास्ट्रक्चर लिमिटेड (एचडीआईएल) के प्रमोटर राकेश वधावन और उनके बेटे एवं मॉल के सारंग को प्राथमिकी में नामजद किया हैं, अधिकारी ने बताया कि शुक्रवार को भांडुप थाना में प्राथमिकी दर्ज की गई, जिसमें ड्रीम्स मॉल और सनराइज अस्पताल के प्रबंधकों के नाम भी शामिल हैं.