Positiveındia, Coronavirus, Coronavirusinındia, Covıd 2019india, Lockdown 21, Agra-City-Jagran-Special, Coronavirus, Covıd-19, Uttar Pradesh Kasganj Harshita, Positive News, Good News, Lockdown India, कासगंज, उत्तर प्रदेश Coronavirus İn India, Lockdown, Corona World Epidemic, Coronavirus İn World, Un On Coronavirus, Coronavirus Symptoms, Coronavirus News, कोरोना वायरस, लॉकडाउन, कोरोना संक्रमण, Uttar Pradesh News

Positiveındia, Coronavirus

Lockdown India: सुबह-शाम करती है सावधान, देती है देश-दुनिया की जानकारी

Lockdown India: सुबह-शाम करती है सावधान, देती है देश-दुनिया की जानकारी #PositiveIndia #Coronavirus #CoronavirusinIndia #COVID2019india #Lockdown21

09-04-2020 08:26:00

Lockdown India : सुबह-शाम करती है सावधान, देती है देश-दुनिया की जानकारी PositiveIndia Coronavirus Coronavirus inIndia COVID2019india Lockdown21

Lockdown India कोरोना से जंग को गांव की कमान संभाल रही आठवीं की छात्रा दोनों वक्त करती है अनाउंसमेंट बिटिया के कहने पर प्रधान ने गांव में लगवाया पब्लिक एड्रेस सिस्टम

मैं हर्षिता बोल रही हूं, आप सभी से अपील करती हूं कि घर से अकारण बाहर न निकलें। कोरोना वायरस का संक्रमण आपको अपना शिकार बना सकता है। मोदी जी ने सभी को घरों से बाहर न निकलने यानी लॉकडाउन का पालन करने को कहा है ताकि लोग इस बीमारी से बचे रहें...।कासगंज, उत्तर प्रदेश के सोरों क्षेत्र से करीब 15 किलोमीटर दूर ग्राम पंचायत कैंडी में हर सुबह और शाम को लाउडस्पीकर पर यह आवाज गूंजती है। ग्रामीणजन अपनेअपने घरों में ही एकाग्रचित होकर इसे सुनते हैं और अलर्ट हो जाते हैं। गांव में यह सिलसिला लॉकडाउन के साथ ही शुरू हुआ है। ठेठ देहात में बसे लोगों को यह भी जानकारी दी जाती है कि कोरोना देश और दुनिया में किस कदर महामारी मचाए हुए है। सरकार क्या इंतजाम कर रही है। लोगों को किस-किस बात का ध्यान रखना है। सरकार का क्या निर्देश है। हर दिन सुबह-शाम नियम से यह जानकारी सुन लोगों को राहत तो मिलती ही है, साथ ही एकजुटता की भावना भी उत्पन्न होती है। प्रधान के जरिये गांव में सभी का हाल भी पता चल जाता है।

कोविड-19: तीन ख़तरनाक चरमपंथी संगठनों पर कितना असर? युद्ध की तैयारी में चीन! राष्ट्रपति शी जिनपिंग ने सेना को तैयार रहने के दिए आदेश दरभंगा में ज्योति का घर बना पीपली लाइव, नींद अधूरी-खाना पीना छूटा

यह भी पढ़ेंआठवीं की छात्रा हर्षिता की मां सरोज देवी गांव की प्रधान हैं। पिता शैलेंद्र सिंह विद्युत विभाग में कार्यरत हैं। कोरोना वायरस से बचाव के लिए सरकार ने जब सतर्कता की अपील की तो हर्षिता ने ही ग्रामीणों को जागरूक करने की यह पहल की। बेटी के कहने पर माता-पिता ने पब्लिक एड्रेस सिस्टम लगवाया। घर पर कंट्रोल रूम बनाया। गांव में ऊंची छतों पर चार लाउडस्पीकर रखवाए हैं, जिनकी जद में पूरा गांव आ जाता है। हर्षिता हर सुबह-शाम इसी सिस्टम से ग्रामीणों को बीमारी से बचने को आगाह करती है। बचाव के उपायों के अलावा देश-दुनिया में कोरोना के कहर के बारे में भी बताती है। कोई नई जानकारी होने पर दिन में भी अक्सर एनाउंस करती है।

यह भी पढ़ेंहर्षिता कहती है कि अखबार और टीवी से जो जानकारी मिलती है, उसके बारे में भी ग्रामीणों को बताती हूं। इसके लिए पहले खुद समझती हूं और फिर आसान तरीके से गांव वालों को समझा देती हूं। खुशी है कि गांव के लोग मेरी बात को गौर से सुनते हैं और अमल भी कर रहे हैं। हर्षिता के कहने पर प्रधान ने गांव की दीवारों-सड़कों पर भी जागरूकता संबंधी संदेश लिखवाए हैं। हर्षिता की मम्मी ग्रामप्रधान सरोज बताती हैं कि प्रशासन के निर्देश पर हमने गांव के बाहर स्कूल में क्वारंटाइन सेंटर बनाया है। दूसरे शहरों से आने वाले लोगों को पहले यहीं रोका जाता है। शुक्रवार तक यहां पर पांच लोग थे, जो 14 दिनों तक रुके थे और परीक्षण में सब ठीक मिलने पर अपने-अपने घर चले गए। गांव की आबादी 2200 के करीब है।

यह भी पढ़ेंलॉकडाउन की घोषणा हुई तो बेटी हर्षिता ने कहा कि सुबह-शाम अगर हम अनाउंस करें तो ज्यादा ठीक रहेगा। लोगों को जरूरी जानकारी आसानी से समझाई जा सकेगी ताकि वे सरकार के निर्देशों को जल्द से जल्द समझ और अपना सकें। उन्हीं की भाषा में समझाएंगे तो हमारी बात को समझेंगे भी। रोज घोषणा होगी तो लोग जागरूक होंगे। इस सलाह पर ही हमने पब्लिक एड्रेस सिस्टम लगवाया।

-ग्रामप्रधान सरोज, हर्षिता की मम्मी और पढो: Dainik jagran »

कोरोना वायरस के संक्रमण में मलेरिया की दवाई की इतनी मांग क्यों है?मलेरिया की दवा की मांग पूरे विश्व में बढ़ गई है लेकिन यह किस हद तक प्रभावी है इसे लेकर कोई ठोस प्रमाण मौजूद नहीं हैं. Only two can tell this. One is India’s famous and another developed country’s famous person. आखिर DelhiPolice की ऐसी क्या माबूरी है जो उसके नाम से बेहद ख़तरनाक अफ़वाह फैलाने वालों (AMISHDEVGAN आदि) पर कोई कार्यवाई नहीं कर रही? Cc: CPDelhi, PIBHomeAffairs, LtGovDelhi, ArvindKejriwal अमेरिका जाये भाड़ में प्रधानमंत्री को अपना देशहित पहले देखना चाहिये औऱ अमेरिका तो बैसे भी चालक लोमड़ी है वोह खाता हमारी है लेक़िन ग़ुलामी चीन औऱ पाकिस्तान की करेगा नीचे नीचे😢

Corona virus | कोरोना वायरस के संक्रमण में मलेरिया की दवाई की इतनी मांग क्यों है?पूरी दुनिया में मलेरिया की दवा की मांग कोरोना वायरस से निपटने के काम में आने की वजह से बढ़ गई है जबकि विश्व स्वास्थ्य संगठन का यह कहना है कि यह कोरोना वायरस के इलाज में कितनी प्रभावी है, इसे लेकर कोई ठोस प्रमाण मौजूद नहीं है।

बड़ी सफलताः देश की इस कंपनी ने तैयार की कोरोना वायरस की एंटीबॉडी किट - Coronavirus AajTakपूरी दुनिया कोरोना संकट से जूझ रही है. इस महामारी की वजह से हजारों लोग प्रभावित हुए हैं. वहीं कई लोगों की जान भी जा चुकी है. इस Aapki news TV par kuch aur hoti hai aur Twitter par kuch aur.. एक बात तो पक्की है की सबसे पहले अगर कोई कोरोना का टीका बनाएगा तो वो भारत ही बनाएगा क्योंकि दुनिया कोरोना के आगे घुटने टेक चुकी है औऱ विश्वगुरू भारत से ही दुनिया के तमाम देश कोरोना की दवा मांग रहे हैं, वर्तमान में कोरोना से लड़ने की किसी के पास असरदार दवा नहीं है।

देश में बढ़ सकता है लॉकडाउन, कई राज्य सरकारों ने केंद्र से किया है आग्रह: सूत्रIndia News: देश में जारी 21 दिनों का लॉकडाउन बढ़ाया जा सकता है। सूत्रों के अनुसार, कई राज्य सरकारों ने केंद्र से इसका आग्रह किया है। बता दें कि देश में कोरोना फैलने के बाद कनाडा सरकार की तरह भारत सरकार भी अपने नागरिकों की finencily मदद करे 🤝 सही निर्णय नहीं तो सभी के जान का खतरा बढ़ जाए गा कुछ तब्लीगी लोगों के कारण पूरे देश क्यों सजा दी रही है जिन्होनें गुनाह किया उसे सजा दी जाय 2.3 हजार लोगों के लिऐ 130 करोड़ आम जनता को सजा दी जा रही है पहले 7दिन 144 फिर 21 दिन लाकडाउन से वैसे भी देश व व्यापार 10 साल पीछे चला गया है

Coronavirus: सुरक्षा कवच से कम नहीं है मास्क, जानें कैसे करता है कोरोना से बचाव Coronavirus Outbreak आइए इससे पहले यह जान लेते हैं कि वायरस आखिर संक्रमित किस तरह करता है और किस स्तर तक हमें इसके संपर्क में आने का खतरा रहता है।

Hydroxychloroquine: आखिर क्या है हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्विन, कितना सुरक्षित है इसका इस्तेमाल?What Is Hydroxychloroquine हाइड्रॉक्सीक्लोरोक्विन का इस्तेमाल आमतौर पर मलेरिया के इलाज में किया जाता है। साथ ही इसका प्रयोग आर्थराइटिस के उपचार में भी होता है।

योगी आदित्यनाथ का वो बयान जिस पर मच रहा है सियासी घमासान कोरोना अपटडेटः भारत में कोरोना संक्रमितों की संख्या डेढ़ लाख के क़रीब, अकेले महाराष्ट्र में 52 हज़ार से ज़्यादा मामले - BBC Hindi राहुल गांधी का वार- पीएम ने पहले फ्रंटफुट पर खेला, लेकिन अब बैकफुट पर हैं ‘कोरोना आपदा को बदला लेने का अवसर मान रही मोदी सरकार’: छात्र नेताओं ने लगाया आरोप मजदूरों की मदद के नाम पर पब्लिस्टी स्टंट के आरोप, सोनू सूद ने द‍िया जवाब नेपाल ने कहा, भारत के सेना प्रमुख ने हमारे इतिहास का अपमान किया OIC में पाकिस्तान को सऊदी और UAE से भी झटका, भारत को मिला समर्थन केंद्रीय मंत्री सदानंद गौड़ा ने क्वारंटाइन से किया किनारा, सफाई में बोले- छूट वाली कैटेगरी में आता हूं योगी आदित्यनाथ क्या प्रवासी मज़दूरों पर बयान देकर घिर गए हैं? अभिजीत बनर्जी की सलाह- प्रत्येक भारतीय को 1000 रुपये हर महीने दे सरकार ईद के दिन फिर दिल्ली की सड़कों पर निकले राहुल, टैक्सी ड्राइवर से जाना हाल