Modirajya, Verdict 2019withnews 18, Lok Sabha Election Result 2019, लोकसभा चुनाव परिणाम 2019, Amit Shah, लोकसभा चुनाव परिणाम 2019, इलेक्शन रिजल्ट 2019 लाइव टुडे, इलेक्शन रिजल्ट 2019, चुनाव परिणाम 2019, लोकसभा चुनाव परिणाम 2019, लोकसभा चुनाव परिणाम, Election Result 2019, Election Result, Lok Sabha Election Result Live, Lok Sabha Election Result, Rohtak, Sonipat, रोहतक, सोनीपत, Jat Versus Non-Jat Politics, जाट बनाम गैर जाट की राजनीति, Haryana Politics, हरियाणा की राजनीति, Congress, Jjp, Inld, Indian National Lok Dal, कांग्रेस, जेजेपी, इनेलो, Digvijay Chautala, Dushyant Chautala, Jannayak Janata Party, Manohar Lal Khatter, दिग्विजय चौटाला, दुष्यंत चौटाला, जननायक जनता पार्टी, मनोहर लाल खट्टर, Bhupinder Singh Hooda, Deepender Hooda, भूपेंद्र सिंह हुड्डा, दीपेंद्र हुड्डा, Randeep Surjewala Kiran Chaudhary, Kumari Shailja, Ashok Tanwar, रणदीप सुरजेवाला, किरण चौधरी, कुमारी शैलजा, किरण चौधरी

Modirajya, Verdict 2019withnews 18

Lok Sabha Election Result 2019: हरियाणा में पांच साल से कांग्रेस की जिला कमेटियां हैं भंग, फिर वो कैसे जीत जाती बीजेपी से जंग?– News18 हिंदी

हरियाणा में पांच साल से कांग्रेस का न कोई जिलाध्यक्ष है और न ब्लॉक अध्यक्ष, आखिर बीजेपी का मुकाबला कैसे कर पाती गुटों में बंटी कांग्रेस? #ModiRajya #Verdict2019WithNews18 @Prakashnw18

23.5.2019

हरियाणा में पांच साल से कांग्रेस का न कोई जिलाध्यक्ष है और न ब्लॉक अध्यक्ष, आखिर बीजेपी का मुकाबला कैसे कर पाती गुटों में बंटी कांग्रेस ? ModiRajya Verdict2019WithNews18 Prakashnw18

Haryana Lok Sabha Election Result 2019 , Internal conflict within haryana Congress ,हरियाणा कांग्रेस के भीतर आंतरिक संघर्ष, indian national congress situation in Haryana हरियाणा में भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस की स्थिति. पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा और प्रदेश अध्यक्ष अशोक तंवर गुट की जंग में उलझी कांग्रेस की हरियाणा इकाई में 2014 के बाद से जिला अध्यक्षों की नियुक्ति तक नहीं हुई है

Updated: May 23, 2019, 9:17 PM IST लोकसभा चुनाव में नरेंद्र मोदी की आंधी चली है. इसका असर इतना है कि हरियाणा में दस की दस सीटों पर बीजेपी ने कब्जा कर लिया है. यहां तक कि यहां कांग्रेस के सबसे बड़े नेता भूपेंद्र सिंह हुड्डा और उनके पुत्र दीपेंद्र सिंह हुड्डा को भी हार का मुंह देखना पड़ा है. रोहतक जैसा कांग्रेस का गढ़ उसके हाथ से चला गया है. कांग्रेस का सूपड़ा साफ हो गया उसकी एक बड़ी वजह और भी है. वो वजह खुद कांग्रेस है. उसके पीछे पार्टी की गुटबाजी और जमीन पर संगठन की गैर मौजूदगी है. 2014 में विधानसभा चुनाव हारने के बाद से ही पार्टी बिखरी हुई है. सभी जिला और ब्लॉक कमेटियां भंग हैं. जिसकी वजह से किसी भी जिले में न पार्टी की मासिक बैठक हो रही है न तो सामूहिक रूप से सरकार के खिलाफ कोई धरना-प्रदर्शन हो पा रहा है. सवाल ये है कि जब संगठन की ये स्थिति है तो कांग्रेस बीजेपी का मुकाबला कैसे कर पाती? इस समय हरियाणा में कांग्रेस कम से कम पांच गुटों में बंटी हुई है. ये गुट हैं पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा, प्रदेश अध्यक्ष अशोक तंवर, पूर्व केंद्रीय मंत्री कुमारी शैलजा, पार्टी के राष्ट्रीय प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला और भजनलाल के पुत्र कुलदीप बिश्नोई के समर्थकों के. जिसमें से हुड्डा और तंवर गुट तो लंबे समय से प्रदेश में एक दूसरे के खिलाफ ही शक्ति प्रदर्शन कर रहे हैं. कांग्रेस की रैलियों में भी दोनों गुटों के कार्यकर्ता अलग-अलग रंग की पगड़ी पहनकर शक्ति प्रदर्शन करते हैं. ऐसे में इस हार ने यह साबित कर दिया है कि कांग्रेस का संगठन ऐसे ही चला तो भविष्य में और बड़ा नुकसान हो सकता है. कुछ ही माह बाद हरियाणा का विधानसभा चुनाव होने वाला है. (ये भी पढ़ें: PHOTOS: लोकसभा चुनाव 2019 की वो तस्वीरें जिन्हें भुला नहीं पाएंगे आप! ) हरियाणा के पूर्व सीएम भूपेंद्र सिंह हुड्डा भी हार गए हैं (file photo) कांग्रेस अध्यक्ष बनने के बाद राहुल गांधी ने कई प्रदेशों में कांग्रेस को चुस्त-दुरुस्त करने का काम किया. फ्रंटल संगठनों में भी फेरबदल किया. लेकिन हरियाणा में कोई बदलाव नहीं किया. हालात ये हैं कि हुड्डा और तंवर गुट की जंग में उलझी पार्टी में पांच साल से जिला अध्यक्षों की नियुक्ति तक नहीं हुई है. प्रदेश अध्यक्ष अशोक तंवर ने कमेटियां भंग कर दी थीं. पिछले चार साल से पार्टी में ब्लॉक स्तर पर भी कोई अध्यक्ष नहीं है. विधानसभा, लाेकसभा और स्थानीय निकाय चुनाव बिना संगठन के हुए और परिणाम ये है कि बीजेपी इतनी बड़ी हो गई है कि अब कांग्रेस कार्यकर्ताओं में जोश भरना पहले जैसा आसान नहीं होगा. सूत्रों का कहना है कि एक-दो बार जिलाध्यक्षों की नियुक्ति को लेकर कवायद शुरू हुई लेकिन वह पूरी नहीं हुई. पिछले पांच साल में जितने भी स्थानीय निकाय चुनाव हुए हैं उनमें किसी में भी पार्टी अच्छा प्रदर्शन नहीं कर पाई. यहां तक कि मुस्लिम बहुल जिला मेवात में भी बीजेपी ने कांग्रेस को बैकफुट पर कर रखा है. हरियाणा के वरिष्ठ पत्रकार नवीन धमीजा का कहना है कि कांग्रेस की इतनी बुरी स्थिति अपनी गुटबाजी और संगठन न होने की वजह से हुई है. इतनी कमजोर कांग्रेस का सीधा फायदा बीजेपी को मिला है. पिछले साल हुए पांच नगर निगमों के चुनाव में भी पार्टी ने सिंबल पर उम्मीदवार नहीं उतारे. अशोक तंवर चाह रहे थे कि सिंबल पर चुनाव लड़ा जाए लेकिन भूपेंद्र सिंह हुड्डा इसके विरोध में थे. पार्टी समर्थकों को समझ नहीं आया कि किसे वोट किया जाए. नतीजतन बीजेपी ने पांचों निगमों पर कब्जा कर लिया था. हरियाणा कांग्रेस के अध्यक्ष अशोक तंवर भी हार गए (file photo) यही हाल लोकसभा चुनाव में भी हुआ. क्या बिना जिलाध्यक्ष और संगठन के कोई पार्टी चुनाव लड़ती है? लेकिन कांग्रेस ने लड़ा. धमीजा का कहना है कि इस चुनाव में कई कांग्रेस नेता एक दूसरे को निपटाने में लगे रहे, ताकि दिल्ली दरबार में उनका अपना वजूद कायम रह सके. इसका बड़ा नुकसान हुआ. कांग्रेस में भूपेंद्र सिंह हुड्डा, कुमारी शैलजा, रणदीप सुरजेवाला, अशोक तंवर, किरण चौधरी, दीपेंद्र हुड्डा व कुलदीप विश्नोई जैसे चेहरे हैं लेकिन ये सब संगठन को जमीनी स्तर पर मजबूत करने की जगह अपने-अपने गुट को मजबूत बनाने में जुटे हुए हैं. हरियाणा कांग्रेस का गढ़ रहा है. बीजेपी ने पहली बार यहां पूर्ण बहुमत से सरकार बनाई है और अब लोकसभा की सभी सीटों पर कब्जा कर लिया है. ये भी पढ़ें: और पढो: News18 India

कार्टून: अबकी बार... दीवार के पार



पाँच दिन झारखंड में क्या करेंगे डॉ. मोहन भागवत?

CAA प्रदर्शनकारियों की मौत पर बोले CM योगी- 'अगर कोई मरने के लिए आ रहा है तो...'



राज्यसभा में विपक्ष और होने जा रहा कमज़ोर?

राम मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष होंगे नृत्यगोपाल, नृपेंद्र मिश्रा को निर्माण समिति की कमान



आज तक @aajtak

पीएम मोदी के लोकसभा में जोरदार भाषण के दौरान ZEE NEWS रहा नंबर-1



देशतक: भक्ति में रमे मोदी, उस गुफा में Wi-Fi समेत हैं ये इंतजाम Deshtak: Cave where Modi is meditating, have Wifi and bed - Desh Tak AajTakचुनावी गर्मी के बीच प्रधानमंत्री मोदी दिल्ली की सियासत से दूर भगवान की शरण में आ गए हैं. किसकी सरकार बनेगी, किसकी नहीं, इस सवालों की परवाह को पीछे छोड़कर मोदी भक्ति में रम गए हैं. केदारनाथ धाम में 12 हजार फीट की ऊंचाई पर बनी एक गुफा में उन्होंने शिव की साधना की. इससे पहले उन्होंने बाबा केदार की पूजा अर्चना भी की. बता दें कि 12 हजार फीट की उंचाई पर गुफा में वाई-फाई, फोन और बेड का भी इंतजाम है. k_navjyot सबसे बड़ी गलती तो उन अफ्रीकन से हुई थी, जिन्होंने सो काल्ड महात्मा को प्लेटफॉर्म पर फेंका, ट्रेन की पटरियों पर नहीं..... k_navjyot 🤣🤣🤣 k_navjyot क्यों नाटक कर रही है बगदीदी

पंजाब में कांग्रेस कार्यकर्ता की हत्या, मतदान केंद्र के बाहर फायरिंग; बंगाल में भी हिंसक घटनाएंपंजाब के खडूर साहिब में कांग्रेस कार्यकर्ता की धारदार हथियार से हमले में मौत पटना में तेजप्रताप के बाउंसरों पर पत्रकार की पिटाई का आरोप तेजप्रताप बोले- मुझ पर हमला हुआ, चुनाव आयोग ने डीएम से रिपोर्ट मांगी बंगाल में भाजपा-तृणमूल कार्यकर्ता भिड़े, फर्जी मतदान का आरोप | violence in lok sabha election phase seven in punjab bengal & bihar election live updates INCPunjab 'गोडसे' ज़िंदाबाद😏😏😏😏 DrKumarVishwas

कर्नाटक में कांग्रेस-जेडीएस गठबंधन में रार, JDS नेता बोले-भंग की जाए विधानसभाजद (एस) के वरिष्ठ नेता की टिप्‍पणी के बाद मुख्यमंत्री एच डी कुमारस्वामी ने मामले में सफाई देते हुए गठबंधन के नेताओं को सार्वजनिक रूप से ‘विरोधाभासी’ और ‘विवादास्पद’ बयान देने से बचने का अनुरोध किया. मतलब की लोकसभा की भव्य जीत के साथ साथ कर्नाटक, एमपी में भी भगवा लहराने वाला है। 23 May koh Modiji kii sarkar aayaegii aur mahamilawati aur thgbndhn kii sarkar jayaegi Har Har Mahadev Har Har Modii ghr ghr Modiii BJP 480+

बनारस में कांग्रेस और एसपी में नंबर दो की लड़ाई!-Navbharat Timesलोकसभा चुनाव 2019 न्यूज़: बनारस के चुनाव परिणाम क्या रहेंगे, इसको लेकर भले ही लगभग सभी लोग आश्‍वस्‍त हों, मगर दिलचस्‍पी है तो इस बात पर कि दूसरे नम्‍बर पर कौन रहेगा। नंबर दो की लड़ाई में बूथों पर कहीं कांग्रेस तो कहीं एसपी-बीएसपी गठबंधन आगे दिखा। ग्रामीण क्षेत्रों के अधिकतर बूथों के साथ ही शहर में मुस्लिम बहुल इलाके में लड़ाई जबरदस्‍त रही। दोनो पार्टी मिलाकर जमानत बचा पाएंगी 🤔

लोकसभा चुनाव: आखिरी चरण में पीएम मोदी समेत इन दिग्गजों की किस्मत का होगा फैसला-Navbharat Timesलोकसभा चुनाव के आखिरी रण में 8 राज्यों की 59 सीटों पर वोट डाले जा रहे हैं। सातवें चरण के चुनाव में यूपी की 13 सीटों के अलावा हिंसाग्रस्त पश्चिम बंगाल की 9, बिहार की 8, पंजाब की 13, हिमाचल प्रदेश की 4, मध्य प्रदेश की 8, झारखंड की 3 सीटों सहित चंडीगढ़ संसदीय सीट पर कई उम्मीदवार अपना दांव आजमा रहे हैं। आखिरी चरण के मतदान में कई दिग्गजों की किस्मत का फैसला होना है, जिसमें प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के अलावा शत्रुघ्न सिन्हा, सनी देओल, मीसा भारती और किरण खेर जैसी शख्सियतें शामिल हैं। सातवें चरण का चुनाव बीजेपी, कांग्रेस समेत बाकी दलों के लिए लिटमस पेपर टेस्ट की तरह है। इसके लिए सभी पार्टियों के नेताओं ने चुनाव प्रचार में सारी ताकत झोंक दी तो वहीं पश्चिम बंगाल में अमित शाह के रोड शो में बवाल के बाद चुनाव आयोग ने सख्ती बरतते हुए चुनाव प्रचार का समय कम कर दिया था। एक नजर आखिरी चरण के चुनाव की चर्चित सीटें और दिग्गज उम्मीदवारों पर-

शुरुआती रुझानों में बंगाल में तृणमूल कांग्रेस और ओडिशा में भाजपा आगेपश्चिम बंगाल की आसनसोल सीट से भाजपा के बाबुल सुप्रियो तृणमूल की मुनमुन सेन से आगे कोलकाता दक्षिण से तृणमूल की माला रॉय भाजपा के चंद्र कुमार बोस से आगे | West Bengal, Odisha Lok Sabha Election Result s 2019 Live Updates, Lok Sabha Chunav Results leads, trails of all 63 seats

Exit Poll में मोदी सरकार की वापसी की उम्मीद में शेयर बाजार ने भरी उड़ानमुंबई। एग्जिट पोल में मोदी सरकार की पूर्ण बहुमत के साथ सत्ता में वापसी के संकेतों से उत्साहित निवेशकों की जबर्दस्त लिवाली से बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स सोमवार को कारोबार के दौरान 1,341.00 अंक यानी 3.54 प्रतिशत की तेज छलांग लगाकर 39,000 अंक के मनोवैज्ञानिक स्तर के पार 39,271.77 अंक पर पहुंच गया। इस दौरान नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 381.25 अंक यानी 3.34 प्रतिशत उछलकर 11,788.40 अंक पर पहुंच गया।

बेगूसराय में गिरिराज की बंपर जीत, पाटलिपुत्र और जहानाबाद में कांटे की टक्करगिरिराज सिंह ने सीपीआई प्रत्याशी कन्हैयार कुमार को साढ़े तीन लाख से ज्यादा वोटों से हराया किशनगंज में आगे चल रही है कांग्रेस | Bihar Lok Sabha Election Result s 2019 Live Updates: Latest Tally trends, leads, trails of all 40 seats BJP4India girirajsinghbjp kanhaiyakumar देश का गद्दार टुकड़े टुकड़े गैंग के आदमी को गिरिराज सिंह जी ने सही औकात दिखा दी,इसकी इतनी ही औकात थी जो आज बेगूसराय की जनता ने इस गद्दार को देखा दी। बेगूसराय की जनता को धन्यवाद 🙏 बधाई हो गिरिराज सिंह जी 🌷🌷 BJP4India girirajsinghbjp kanhaiyakumar Kanhiya ok apni aukat pta challenge gyi

Exit Poll में मोदी की वापसी से झूमा बाजार, सेंसेक्‍स में 1100 अंकों की तेजीलोकसभा चुनाव के नतीजे 23 मई को आने वाले हैं. इससे पहले एग्जिट पोल के नतीजे जारी हुए हैं. इन नतीजों के बाद भारतीय शेयर बाजार में जबरदस्‍त बढ़त दर्ज की गई है. मीडिया नेताओ को दिखाती रहेगी ओमकुंज दादरी उत्तर प्रदेश नियर दादरी सब्जीमंडी के पास भी विजिट करलो लोग अंधेरे में रहते है शायद कोई आपके द्वारा सुन ले आपका सफोट चाहिए वाह कमाल की मीडिया है एग्‍जिट पोल से शेयर बाजार का क्‍या लेना देना जो bjp की बढ़त देख बाजार मे तेजी आ गई। धन्‍य हो चैनल देवता इनको भी लग रहा हें फिर मोटा माल मिलने वाला हें !

तजाकिस्तान की जेल में कैद IS आतंकियों ने किया हमला, संघर्ष में 32 की मौत-Navbharat Timesतजाकिस्तान की राजधानी से कुछ किलोमीटर की दूरी पर जेल में आईएस के कैदियों ने जेल के 3 गार्ड और 5 अन्य कैदियों पर हमला बोल दिया। हालांकि, सुरक्षा बलों ने तत्कला कार्रवाई की और संघर्ष में 24 और कैदी भी मारे गए। आईएस के आतंकियों का जेल में बंद अन्य कैदियों पर हमले इससे पहले भी हुए हैं।

नायडू की सत्ता साधना: दिल्ली में राहुल-शरद के बाद लखनऊ में अखिलेश से की मुलाकातआखिरी चरण की वोटिंग बाकी है, मतगणना 23 मई को है, लेकिन दिल्ली से लेकर आंध्र प्रदेश, और उत्तर प्रदेश में सरकार बनाने के लिए सुगबुगाहटें तेज हो गई है. अगले पांच तक हिन्दुस्तान की सत्ता पर कौन राज करेगा, इसे लेकर समीकरण जोड़े-तोड़े जाने लगे हैं. इस पूरी कवायद में आंध्र प्रदेश के सीएम चंद्रबाबू नायडू एक मध्यस्थ बनकर उभरें हैं. वह केंद्र में गैर बीजेपी सरकार बनाने के लिए सारे संभावित परिदृश्यों पर विचार कर रहे हैं. सबसे ज्यादा इनकी जली पडी है इसके जैसे कितने नायडू फ़ायडू घुइंया छीलते रह जाएंगे चुनाव लड़ेंगे 10 सीट पर और ख्वाब PM का, ये रोडछाप लोग कुछ नही उखाड़ पाएंगे 23 मई को EVM EVM चिल्लायेंगे। इस चुनाव में सबसे ज़्यादा नुकसान बाबू का ही हो रहा है। जिस तरह से पिछवाड़े में पेट्रोल लगा कर घूम रहा साफ जाहिर है कि इस बार हाथी की जगह बाबू अंडा देंगे। खैर लखनऊ आये है तो टोंटी उखाड़ने की कला सीख लीजियेगा। अगले 5 साल काम आएगी।।😂😂😂



नागरिकता संशोधन क़ानून के ख़िलाफ़ चेन्नई में बड़ा प्रदर्शन

महात्मा गांधी ने कई बार कहा कि वो कट्टर हिन्दू हैं: मोहन भागवत

मोदी सरकार के लिए अच्छी खबर, ब्रिटेन-फ्रांस को पीछे छोड़ दुनिया की 5वीं बड़ी इकोनॉमी बना भारत

भारत ने हमारे साथ बहुत अच्छा सलूक नहीं कियाः ट्रंप

गुजरात में ट्रंप के तीन घंटों पर खर्च होंगे 85 करोड़

DCW अध्यक्ष स्वाति मालीवाल का पति नवीन जयहिंद से तलाक, ट्वीट कर बोलीं- बहुत दर्दभरा एहसास

CAA, NPR और NRC के समर्थन में 154 प्रतिष्ठित नागरिक, याचिका पर किया हस्ताक्षर

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

23 मई 2019, गुरुवार समाचार

पिछली खबर

राहुल गांधी पर बयान देकर फंस गए सिद्धू, लोगों ने पूछा राजनीति से कब लेंगे संन्यास?– News18 हिंदी

अगली खबर

Lok Sabha Election Result 2019 : MP में ऐसी चली सुनामी कि कांग्रेस के किले भी नहीं बच पाए– News18 हिंदी
कार्टून: अबकी बार... दीवार के पार पाँच दिन झारखंड में क्या करेंगे डॉ. मोहन भागवत? CAA प्रदर्शनकारियों की मौत पर बोले CM योगी- 'अगर कोई मरने के लिए आ रहा है तो...' राज्यसभा में विपक्ष और होने जा रहा कमज़ोर? राम मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष होंगे नृत्यगोपाल, नृपेंद्र मिश्रा को निर्माण समिति की कमान आज तक @aajtak पीएम मोदी के लोकसभा में जोरदार भाषण के दौरान ZEE NEWS रहा नंबर-1 प्रियंका गांधी राज्यसभा जाएंगी या नहीं, सोनिया गांधी लेंगी फैसला आज तक @aajtak महंत नृत्य गोपाल दास बने राम मंदिर ट्रस्ट के अध्यक्ष, नृपेंद्र होंगे निर्माण समिति के चेयरमैन Man vs Wild: पीएम मोदी के बाद रजनीकांत का स्वैग, सामने आया फर्स्ट लुक GST पर BJP सांसद ने उठाए सवाल, बताया 21वीं सदी का सबसे बड़ा पागलपन
नागरिकता संशोधन क़ानून के ख़िलाफ़ चेन्नई में बड़ा प्रदर्शन महात्मा गांधी ने कई बार कहा कि वो कट्टर हिन्दू हैं: मोहन भागवत मोदी सरकार के लिए अच्छी खबर, ब्रिटेन-फ्रांस को पीछे छोड़ दुनिया की 5वीं बड़ी इकोनॉमी बना भारत भारत ने हमारे साथ बहुत अच्छा सलूक नहीं कियाः ट्रंप गुजरात में ट्रंप के तीन घंटों पर खर्च होंगे 85 करोड़ DCW अध्यक्ष स्वाति मालीवाल का पति नवीन जयहिंद से तलाक, ट्वीट कर बोलीं- बहुत दर्दभरा एहसास CAA, NPR और NRC के समर्थन में 154 प्रतिष्ठित नागरिक, याचिका पर किया हस्ताक्षर जब राजीव गांधी ने सोनिया के क़रीब आने के लिए दी थी रिश्वत उमर अब्दुल्ला को किस आधार पर बंद किया गया है? अर्दोआन ने कश्मीर की रट क्यों लगा रखी है दिल्ली के अलग-अलग इलाकों में सुंदरकांड का पाठ करवाएगी AAP, ट्वीट में ऐलान J&K: अनुच्छेद 370 हटाने की आलोचना करने वाली ब्रिटिश सांसद का आरोप, 'नहीं मिली भारत आने की मंजूरी'