Kotkapura Polling Date, Kotkapura Voting Date, Kharar, Kotkapura Election Result, Kotkapura Assembly Election 2022, Punjab Assembly Election 2022, Punjab Assembly Election Results 2022, Kotkapura Assembly Election Result 2022, Kotkapura Assembly Election, कोटकापुरा चुनाव नतीजे, कोटकापुरा चुनाव नतीजे 2022, कोटकापुरा चुनाव नतीजे, Punjab Assembly Election 2022, Punjab Election 2022, Punjab Vidhan Sabha Election 2022, पंजाब विधानसभा चुनाव 2022, पंजाब विधानसभा चुनाव 2022

Kotkapura Polling Date, Kotkapura Voting Date

Kotkapura Assembly Seat: क्या 41 साल पुराने इतिहास को दोहरा पाएगी AAP?

कोटकापुरा विधानसभा सीट पर आम आदमी पार्टी का कब्जा

17-10-2021 09:17:00

कोटकापुरा विधानसभा सीट पर आम आदमी पार्टी का कब्जा

कोटकापुरा विधानसभा सीट पर 1980 से लेकर अब तक किसी भी दल को लगातार जीत नसीब नहीं हुई है. अब 2017 में एक नई पार्टी की एंट्री हुई और आम आदमी पार्टी के खाते में जीत गई.

स्टोरी हाइलाइट्सकोटकापुरा विधानसभा सीट पर आम आदमी पार्टी का कब्जा2017 में अपने पहले ही प्रयास में जीत गए कुलतार सिंह संधवांAAP MLA कुलतार संधवां पूर्व राष्ट्रपति ज्ञानी जैल सिंह के पोतेऐतिहासिक रूप से पंजाब के लिए अहम माने जाने वाले फरीदकोट जिले की अपनी राजनीतिक महत्ता है और कोटकापुरा विधानसभा सीट की क्रम संख्या 88 है. पिछले 41 सालों से यहां पर किसी भी दल ने लगातार जीत हासिल नहीं की है. फिलहाल इस समय आम आदमी पार्टी का कब्जा है. यह सीट फरीदकोट संसदीय सीट के तहत आती है.

Katrina Kaif Vicky Kaushal Wedding: सलमान खान के बॉडीगार्ड शेरा देंगे कटरीना-विक्की की शादी में सिक्योरिटी, फोन ले जाने पर भी लगाई गई है पाबंदी '30 दिनों के अंदर दोषी आर्मी मैन को करें अरेस्ट, AFSPA तुरंत हटाएं', नगा जनजाति समूह ने सौंपे 5 सूत्रीय ज्ञापन धर्म परिवर्तन के बाद रिजवी बोले: इस्लाम का दूसरा नाम ही आतंक है, जिसकी शुरुआत 1400 साल पहले अरब के रेगिस्तान में हुई

पंजाब के जिला फरीदकोट में तीन विधानसभा सीटें आतीं हैं. कोटकापुरा (88) के अलावा फरीदकोट (87) और जैतो (89) शामिल हैं.सामाजिक तानाबानाफरीदकोट कभी रियासत हुआ करता था. यहां करीब 12वीं सदी तक फरीदकोट का नाम मोकल हर था मगर 12वीं सदी के अंत में एक सूफी संत बाबा बाबा शेख फरीद जी इस नगरी में पहुंचे. कहा जाता है कि उस समय इस नगरी के राजा मोहकल देव थे. तब वह अपने यहां किला बनवा रहे थे. सिपाहियों ने सूफी संत बाबा सेख फरीद को भी काम पर लगा दिया.

लेकिन बाबा के ऊपर सिर पर मिट्टी की टोकरी टिक ना पाई और हवा में ऊपर रुक गई. यह चमत्कार देख सिपाहियों ने राजा को सारी बात बताई. तब राजा नंगे पांव दौड़े आए और बाबा जी से क्षमा मांगी और यहां रहने को कहा मगर बाबा जी ने रहने से इनकार कर दिया. उन्होंने कहा कि मैं फरीक आदमी हूं. यहां नहीं रुक सकता. बाद में राजा ने उन्हीं के नाम पर शहर का नाम फरीदकोट रख दिया. headtopics.com

इसे भी क्लिक करें ---Firozpur Rural Assembly Seat: क्या यहां की त्रिकोणीय चुनौती से पार पा सकेगी कांग्रेस?राजनीतिक पृष्ठभूमिकोटकापुरा विधानसभा की तो यहां पर करीब 91,978 आबादी है जिसमें 48,598 पुरुष और 43,381 महिलाएं शामिल हैं. 2012 के चुनाव में शिरोमणि अकाली दल के विधयाक मनतार सिंह बराड़ करीब ने कांग्रेस के रिपजीत सिंह बराड़ को हराया था.

इस सीट पर 1980 से लेकर अब तक किसी भी दल को लगातार जीत नसीब नहीं हुई है. 1980 में कांग्रेस को जीत मिली तो 1985 में अकाली दल को जीत मिली. 1992 में कांग्रेस, 1997 में निर्दलीय, 2002 में अकाली दल, 2007 में कांग्रेस और 2012 में अकाली दल को जीत मिली थी. 2017 में आम आदमी पार्टी के खाते में जीत गई.

हालांकि 1997 में मंतर सिंह ने निर्दलीय प्रत्याशी के रूप में जीत हासिल की लेकिन 2002 में वह अकाली दल के टिकट पर उतरे और जीत गए.2017 का जनादेश5 साल पहले 2017 में चुनाव पर नजर डालें तो यहां बड़ा फेरबदल हो गया. कांग्रेस और अकाली दल के अलावा पहली बार किसी तीसरी पार्टी ने कब्जा जमाया. पिछले चुनाव में यहां से कुलतार सिंह संधवां ने आम आदमी पार्टी के टिकट पर बाजी मारी.

कुलतार सिंह को 47401 वोट मिले जबकि अकाली दल के मनतार बराड़ को 33895 वोट मिले और कांग्रेस के भाई हर्निपाल सिंह कुकू को 37326 वोट मिले थे और वह दूसरे स्थान पर रहे थे. कुलतार संधवां पूर्व राष्ट्रपति ज्ञानी जैल सिंह के पोते हैं.रिपोर्ट कार्डकोटकपुरा के विधायक कुलतार सिंह संधवां आम आदमी पार्टी से विधयाक हैं. कुलतार का परिवार भी सियासत से जुड़ा हुआ है. फरीदकोट के ही रहने वाले भारत के पूर्व राष्ट्रपति ज्ञानी जैल सिंह उनके दादा हैं और 2017 में पहली बार सियासत में कदम रखा. headtopics.com

वैज्ञानिक बना रहे ऐसा Chewing Gum, चबाते ही मुंह में खत्म हो जाएगा कोरोना वायरस Omicron भारत के लिए कितना बड़ा खतरा, इन 5 राज्यों के हालात से समझिए India Russia 2+2 dialogue: भारत-रूस के बीच AK Deal, देश में इंसास राइफल की लेंगी जगह AK 203

कुलतार सिंह ने आम आदमी पार्टी के टिकट पर चुनाव लड़ा और विजयी हुए. यह चुनाव इसलिए खास रहा क्योंकि पहली बार यहां से किसी तीसरी पार्टी ने कब्जा जमाया.Live TV और पढो: आज तक »

गलत पहचान, गई 14 जान... Nagaland Firing पर सियासी उबाल, देखें हल्ला बोल

नगालैंड में एक गलत पहचान की वजह से 14 लोगों की मौत हो गई. गृह मंत्री अमित शाह ने संसद में जो बयान दिया उसके मुताबिक सुरक्षाबलों को एक गाड़ी में उग्रवादियों के होने की सूचना मिली थी. गाड़ी आई तो रुकने के लिए कहा गया, नहीं रुकी तो जवानों ने फायरिंग की और 6 लोगों की मौत हो गई. उसके बाद लोगों का गुस्सा भड़का तो बेकाबू भीड़ को कंट्रोल करने की कोशिश में 8 और की जान चली गई. अब नगालैंड को लेकर सियासत तेज है और एक बार फिर से AFSPA को हटाने की मांग शुरु हो गई है. हल्ला बोल में देखें अहम बहस.

''उद्धव को मुख्यमंत्री बनाने के लिए मैंने जोर दिया था'', शरद पवार का फडणवीस को जवाबदेवेंद्र फडणवीस कहा, “मुझे लगता है कि आदरणीय उद्धव जी को अब यह मान लेना चाहिए कि मुख्यमंत्री बनने की उनकी महत्वाकांक्षा थी, जो उन्होंने पूरी की. अनिल देशमुख को भी तो पवार ने ही गृहमंत्री बनाने पर जोर दिया था 😅😅 आज वही उद्धव बचकाना बयान दे रहा है और कह रहा है कि ड्रग लेने वाले बालीवुड के सुपरस्टार को अरेस्ट कर लोग फेमस होना चाह रहे हैं। महाराष्ट्र को ड्रग के मामले में बदनाम किया जा रहा है जबकि गुजरात में करोड़ों का ड्रग सीज किया गया है 🤔 Faddu ki kitni fatti hai

IPL चैम्पियन CSK को मिले 20 करोड़ रुपये, फाइनल में हारी KKR को मिला ये इनामकोलकाता नाइट राइडर्स (KKR) को IPL-14 के फाइनल में मात देकर चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) ने आईपीएल ट्रॉफी पर कब्जा जमाया. उसने आईपीएल का चौथा खिताब जीता. 2010..2011..2018..2021 🏆 CSK CSKvKKR 🏆🏆🏆🏆 लगातार तीन दिनों से पेट्रोल डीजल में सरकार मूल्य वृद्धि कर रही हैं। और आज तक, हमें ऊल जलूल मुद्दे दिखा रहीं हैं।

छत्तीसगढ़: जशपुर में हुई घटना को लेकर भाजपा ने बघेल को घेरा, आज बंद का एलानभाजपा ने प्रदेश सरकार को घटना के लिए जिम्मेदार ठहराया और मरने वालों के स्वजन को 75-75 लाख रुपये मुआवजा देने की मांग की है। इसके साथ ही जशपुर में भाजपा के स्थानीय नेताओं ने आज जिला बंद का एलान किया है। भाजपा अगर बंद की घोषणा करती है तो वो देश हित में होता है दैनिक जागरण भी रमन सरकार से कम हिन्दू विरोधी नहीं हैं।कार्टुन में पवित्र स्वास्तिक चिन्ह का अपमान नहीं सहेगा हिन्दू समाज BJP4India there must be huge protest against this barbaric act.

CWC Meeting: सोनिया-राहुल पर हमले का मकसद कांग्रेस को कमजोर और मोदी को मजबूत करना है, सुरजेवाला ने सिब्बल-आजाद को लपेटाCWC Meeting Updates: कांग्रेस कार्यसमिति की बैठक में राहुल गांधी के करीब माने जाने वाले कुछ नेताओं ने ‘G-23’ को निशाने पर भी लिया। कांग्रेस सूत्रों ने बताया कि पार्टी महासचिव रणदीप सुरजेवाला ‘G-23’ के नेताओं पर हमला करने में सबसे आगे रहे।

ब्रिटेन: बोरिस जॉनसन की पार्टी के सांसद की चाकू से गोदकर हत्याब्रिटेन सांसद डेवेड अमेज की शुक्रवार को उस समय हत्या कर दी गई है जब वे अपने संसदीय क्षेत्र में मतदाताओं संग बातचीत कर रहे थे, उनकी समस्याओं को सुन रहे थे. तभी एक शख्स ने उन पर चाकू से जानलेवा हमला कर दिया और उनकी मौके पर ही मौत हो गई. दुखद🇮🇳😞😞 नीचे गोल घेरे में देख कर अपने आप को तस्सली देते रहे की चलो कम से कम हम सेक्यूलर तो है 👍 Very sad 😥

अध्यक्ष तलाश रही कांग्रेस पर शिवराज सिंह चौहान का तंज, बोले- पार्टी बन चुकी है सर्कसमध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कांग्रेस पर निशाना साधा है। बीते दिन कांग्रेस द्वारा कार्यसमिति की बैठक के दौरान कई मुद्दों पर चर्चा की गई है। हालांकि एक बार फिर से पार्टी ने राष्ट्रीय अध्यक्ष चुनाव अगले साल सितंबर-अक्टूबर के लिए टाल दिया। ChouhanShivraj कभी तो महंगाई पर बात करो जागरण सरकारी अखबार बना रखा है ChouhanShivraj सर्कस party ended ChouhanShivraj म०प्र० के मामाजी, सर्कस नहीं फ़ंगस कहो। कांग्रेस की दुकान में ख़ाली बॉक्स लगे हैं, शो में।