Jammu-Politics, Lan Law İn Jammu Kashmir, Centre Notifies Land Law İn Jammu Kashmir, जम्मू-कश्मीर में काेई भी बना सकेगा अपने सपनों का घर, Jammu Kashmir Reorganisation, Union Territory Jammu Kashmir, Jammu And Kashmir Politics, Jammu Politics, Jammu And Kashmir News

Jammu-Politics, Lan Law İn Jammu Kashmir

Jammu Kashmir: अब जम्मू-कश्मीर में काेई भी बना सकेगा अपने सपनों का घर, नया कानून लागू

Jammu Kashmir: अब जम्मू-कश्मीर में काेई भी बना सकेगा अपने सपनों का घर, नया कानून लागू

27-10-2020 11:26:00

Jammu Kashmir: अब जम्मू-कश्मीर में काेई भी बना सकेगा अपने सपनों का घर , नया कानून लागू

केंद्र सरकार का यह फैसला जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन अधिनियम के तहत जम्मू-कश्मीर राज्य के केंद्र शासित प्रदेश के रूप में पुनर्गठित होने की पहली सालगिरह से करीब चार दिन पहले आया है। उल्लेखनीय है कि पांच अगस्त 2019 से पूर्व जम्मू-कश्मीर राज्य की अपनी एक अलग संवैधानिक व्यवस्था थी।

देश के विभिन्न हिस्सों में रहने वाले नागरिक अक्सर साेचते थे कि काश स्वर्ग जैसे खूबसूरत कश्मीर में उनका भी अपना घर होता। उनका यह सपना अब सच होने का वक्त आ चुका है। वे अब जब चाहें केंद्र शासित जम्मू-कश्मीर में अपने सपनों का घर बना सकते हैं, क्योंकि केंद्र सरकार ने जम्मू-कश्मीर में भूमि स्वामित्व अधिनियम संबंधी कानूनों में संशोधन कर दिया है। देश का कोई भी नागरिक अब जम्मू कश्मीर में अपने मकान, दुकान और काराेबार के लिए जमीन खरीद सकता है। उस पर काेई पाबंदी नहीं होगी। 

कंगना रनौत और उनकी बहन 8 जनवरी को मुंबई पुलिस के सामने पेश हों : कोर्ट नाम छिपाकर शादी करने पर मिलेगी 10 साल की सजा, UP कैबिनेट में पास हुआ 'लव जिहाद अध्यादेश' Love Jihad in UP: लव जिहाद कानून पर मुहर लगाने को तैयार योगी आदित्यनाथ सरकार, कैबिनेट की बैठक आज

केंद्र सरकार का यह फैसला जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन अधिनियम के तहत जम्मू-कश्मीर राज्य के केंद्र शासित प्रदेश के रुप में पुनर्गठित होने की पहली सालगिरह से करीब चार दिन पहले आया है। उल्लेखनीय है कि पांच अगस्त 2019 से पूर्व जम्मू-कश्मीर राज्य की अपनी एक अलग संवैधानिक व्यवस्था थी। उस व्यवस्था में सिर्फ जम्मू-कश्मीर के स्थायी नागरिक जिनके पास राज्य का स्थायी नागरिकता प्रमाण पत्र जिसे स्टेट सब्जैक्ट कहा जाता है, हो, वहीं जमीन खरीद सकते थे। देश के किसी अन्य भाग का कोई भी नागरिक जम्मू-कश्मीर में अपने मकान, दुकान, कारोबार या खेतीबाड़ी के लिए जमीन नहीं खरीद सकता था। वह सिर्फ कुछ कानूनी औपचारिकताओं को पूरा कर पट्टे के आधार पर जमीन प्राप्त कर सकता था या किराए पर ले सकता था।

और पढो: Dainik jagran »

Coronavirus: कोरोना कर्फ्यू के आगे लॉकडाउन है क्या? देखें दंगल

कोरोना फिर डराने लगा है. दिल्ली समेत देश भर में लगातार कोरोना गंभीर हो रहा है. जिसके बाद सुप्रीम कोर्ट ने राज्यों से स्टेटस रिपोर्ट मांगी है. वहीं गृह मंत्री अमित शाह ने दिल्ली में मोबाइल आरटी-पीसीआर टेस्टिंग लैब शुरू की है. कोविड मरीजों के लिए अस्पतालों के इंतजाम पर जनहित याचिका की सुनवाई के दौरान बढ़ रहे कोरोना मामलों का सवाल आया तो सुप्रीम कोर्ट गंभीर हो गया. कोर्ट ने कहा कि नवंबर में कोरोना मामलों में तेज बढ़ोत्तरी हुई है. सभी राज्यों को मरीजों के मैनेजमेंट पर ताजा स्टेटस रिपोर्ट देना होगा. अगर राज्य तैयार नहीं होंगे तो दिसंबर में हालात बद से बदतर हो सकते हैं. सुनवाई के दौरान दिल्ली सरकार की ओर से कोरोना पर नई व्यवस्थाओं की बातें गिनाई गई, लेकिन कोर्ट ने साफ कहा कि पिछले कुछ दिनों में दिल्ली में हालात खराब हुए हैं. देखिए दंगल, रोहित सरदाना के साथ.

अब यही तो परेशानी के कारण है मेहबूबा और अब्दुल्ला के ।पहले ही इनकी नौकरी गई अब ये।गुपकर के बड़े भाई के लिए और परेशानी। Great sir ji 🙏 Thank u so much हिंदुओ फिर से गुलशन कर दो भारत के ताज कश्मीर को Brilliant narendramodi AmitShah rajnathsingh rsprasad nitin_gadkari 🇮🇳 Vande Maataram 🙏 वो तो ठीक है पर जेहादी मानसिकता वाले पाकिस्तान प्रेमी उन्हें रहने देंगे क्या?

जम्मू-कश्मीर: लालचौक पर तिरंगा फहराने पहुंचे भाजपाई, कई गिरफ्तारश्रीनगर के लालचौक पर सोमवार को भाजपा कार्यकर्ताओं ने एक बार फिर तिरंगा फहराने की कोशिश की, लेकिन पुलिस ने उन्हें रोक BJP4India Why police is stopping them? AmitShah HMOIndia narendramodi_in What is the excuse now Mr PM AND HM? Now you are the power. So why not to welcome such ceremonies at wider scale? BJP4India झंडा तक नहीं फहरा सकते...बीजेपी नेता वहां जमीन खरीदने का दावा करते हैं BJP4India दुर्भाग्य क्या वहां की सच्चाई बदली नहीं क्या अभी जमीनी हकीकत कुछ और है क्या तिरंगा कोई भी भारत मे सम्मान पूर्बक फहराया जा सकता है तो कश्मीर क्यों नहीं

Jammu Kashmir: महबूबा मुफ्ती के बयान के बाद पीडीपी में दरार, जम्मू के 3 वरिष्ठ नेताओं ने दिया इस्तीफाइस्तीफा देने वालों में पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) के नेता व पूर्व सांसद टीएस बाजवा पूर्व एमएलसी वेद महाजन और हुसैन-ए-वफा शामिल हैं। पार्टी अध्यक्ष महबूबा मुफ्ती को लिखे पत्र में तीनों नेताओं ने कहा कि राष्ट्रीय ध्वज को लेकर उनके द्वारा की गई बयानबाजी सही नहीं है। MehboobaMufti अब तेरा भों.... फाड़ दिया जायेगा जिसे आतंकवादी इस्तेमाल करते हैं । भारतीय झंडा नहीं उठाना है तो अपनी बच्चों को भी भारतीय दूतावास से बुला ले सरकारी सुविधाएं जो करदाताओं के पैसे से मिलती है कृपया सारे लौटा दे यहां तक की सरकारी पेंशन और सभी सुविधाएं उसके बाद अपना पक्ष रखें Pakistani mahbooba mufti

जितेंद्र सिंह ने कहा- जम्मू-कश्मीर का भारत में देरी से विलय के लिए पूर्व पीएम पंडित नेहरू जिम्मेदारजवाहर लाल नेहरू पर निशाना साधते हुए केंद्रीय मंत्री जितेंद्र सिंह ने कहा कि जम्मू-कश्मीर के विलय में देरी के लिए नेहरू ही जिम्मेदार थे। इसके साथ ही उन्होंने जम्मू-कश्मीर के भारत में विलय को अंतिम और पूर्ण बताया। DrJitendraSingh अधर्म पर धर्म की विजय असत्य पर सत्य की विजय अन्याय पर न्याय की विजय झूठ पर सत्य की विजय बुराई पर अच्छाई की विजय का त्योहार दशहरा की सभी देशवासियों को हार्दिक शुभकामनाएं और बधाई ।। सियावर राम चन्द्र की जय जय श्री राम दशहरा_की_हार्दिक_शुभकामनाएं PMOIndia DefenceMinIndia DrJitendraSingh क्या ऐसे लोग मंत्री बनने के लायक हैं? जब देखो नेहरू के नाम पर अपनी नाकामी और बैमानी को छिपाते रहते हैं। DrJitendraSingh ....क्यों जी नारंगी लाल...कितनी बार ये बात बताओगे जी ...आप कोचिंग खोल लो...थोड़ी तो मर्यादा रखिए😀😀

जम्मू-कश्मीर : 3 नेताओं ने महबूबा मुफ्ती की पार्टी छोड़ी, कहा - उनकी टिप्पणी से देशभक्त‍ि की भावनाएं आहत हुईंकेंद्रीय मंत्री रविशंकर प्रसाद ने इसके जवाब में कहा था कि जम्मू-कश्मीर में 370 की बहाली कभी नहीं होगी. पार्टी ने महबूबा पर राष्ट्रविरोधी बयान देने का आरोप लगाया था. पार्टी ने पीडीपी प्रमुख के तिरंगे को लेकर दिए गए बयान की कड़ी निंदा की थी. वो सब अब भाजपा मे जा कर देशभक्त बन जाएंगे अब तो ऐसा लगता है कि एक दिन खुद महबूबा मुफ्ती खुद की पार्टी छोड़ देंगी । Bilkul Aaj inki Aankh khuli h becharon ki ab Pakka BJP me join ho ke Desh bhakt banjayenge

कश्मीर पर महाराजा हरि सिंह ने लिया था बड़ा फैसला, नेहरू ने की थी सबसे बड़ी भूल!संसार का सबसे बड़ा अनसुलझा मुद्दा है जम्मू-कश्मीर का। 1947 में जिस विलय संधि के आधार पर जम्मू-कश्मीर भारत का हिस्सा बना, वह महज दो पेज का है और उसने विवाद का समाधान नहीं दिया बल्कि और उलझा दिया। | What Is The Significance Of Today? What Famous Thing Happened On This Day In history; कश्मीर पर राजा हरि सिंह ने लिया था बड़ा फैसला, नेहरू ने की थी सबसे बड़ी भूल? On Dainik Bhaskar (दैनिक भास्कर) - Bhaskar.com The history of kashmir is amazing. Lehru ,ki bhul&d,n,a, ne hi, original citizens, ko, presan kr rkha hai, Chinese ka hajaro km, sima pr kbja unhone hi Kraya, styamev jayte.

कश्मीर पर महाराजा हरि सिंह ने लिया था बड़ा फैसला, नेहरू ने की थी सबसे बड़ी भूल!संसार का सबसे बड़ा अनसुलझा मुद्दा है जम्मू-कश्मीर का। 1947 में जिस विलय संधि के आधार पर जम्मू-कश्मीर भारत का हिस्सा बना, वह महज दो पेज का है और उसने विवाद का समाधान नहीं दिया बल्कि और उलझा दिया। | What Is The Significance Of Today? What Famous Thing Happened On This Day In history; कश्मीर पर राजा हरि सिंह ने लिया था बड़ा फैसला, नेहरू ने की थी सबसे बड़ी भूल? On Dainik Bhaskar (दैनिक भास्कर) - Bhaskar.com The history of kashmir is amazing. Lehru ,ki bhul&d,n,a, ne hi, original citizens, ko, presan kr rkha hai, Chinese ka hajaro km, sima pr kbja unhone hi Kraya, styamev jayte.