Ebrahimraisi, ईरान राष्‍ट्रपति चुनाव इब्राहिम रायसी, ईरान राष्‍ट्रपति चुनाव अपडेट, इब्राहिम रायसी ईरान राष्‍ट्रपति, इब्राहिम रायसी, Iran Presidential Election Update, Iran Presidential Election Result, İran Next President Ebrahim Raisi, Ebrahim Raisi İran Presidential Election, Ebrahim Raisi İran Next President, Ebrahim Raisi, Uae News, Uae News İn Hindi, Latest Uae News, Uae Headlines, यूएई Samachar

Ebrahimraisi, ईरान राष्‍ट्रपति चुनाव इब्राहिम रायसी

Ebrahim Raisi: ईरान के नए राष्‍ट्रपति बन सकते हैं कट्टरपंथी इब्राहिम रायसी, अमेरिका लगा चुका है बैन

ईरान के नए राष्‍ट्रपति बन सकते हैं कट्टरपंथी इब्राहिम रायसी, अमेरिका लगा चुका है बैन #EbrahimRaisi

19-06-2021 09:57:00

ईरान के नए राष्‍ट्रपति बन सकते हैं कट्टरपंथी इब्राहिम रायसी , अमेरिका लगा चुका है बैन EbrahimRaisi

यूएई न्यूज़: Ebrahim Raisi Iran Presidential Election: ईरान में हुए राष्‍ट्रपति चुनाव में इब्राहिम रायसी के देश का अगला राष्‍ट्रपति बनने के आसार तेज हो गए हैं। इब्राहिम रायसी देश के कट्टरपंथी धड़े ताल्‍लुक रखते हैं और अमेरिका उनके खिलाफ प्रतिबंध लगा चुका है।

SubscribeEbrahim Raisi Iran Presidential Election: ईरान में हुए राष्‍ट्रपति चुनाव में इब्राहिम रायसी के देश का अगला राष्‍ट्रपति बनने के आसार तेज हो गए हैं। इब्राहिम रायसी देश के कट्टरपंथी धड़े ताल्‍लुक रखते हैं और अमेरिका उनके खिलाफ प्रतिबंध लगा चुका है।

India vs Germany Bronze: भारतीय हॉकी टीम ने जीता कांस्य पदक, जर्मनी को 5-4 से हराया, ओलिंपिक में 41 साल बाद पदक भारतीय हॉकी टीम ने इतिहास रचा: पुरुष हॉकी में टीम इंडिया ने 41 साल बाद मेडल जीता, जर्मनी को ब्रॉन्ज मेडल मैच में 5-4 से हराया टोक्यो ओलंपिक: कांस्य पदक के लिए भारत और जर्मनी का हॉकी मुक़ाबला, भारत 5-3 से आगे - BBC Hindi

इब्राहिम रायसी के ईरान का नया राष्‍ट्रपति बनने के आसारहाइलाइट्स:ईरान में शुक्रवार को लाखों की तादाद में मतदाताओं ने राष्‍ट्रपति पद के चुनाव में हिस्‍सा लियाईरान में हुआ यह आम चुनाव फीका रहा और बहुत कम तादाद में मतदाताओं ने हिस्‍सा लियाचुनाव में अयातुल्ला अली खामनेई के समर्थक इब्राहिम रायसी को जीत हासिल हो सकती है

तेहरानईरान में शुक्रवार को लाखों की तादाद में मतदाताओं ने राष्‍ट्रपति पद के चुनाव में हिस्‍सा लिया। इस बीच विश्‍लेषकों का कहना है कि ईरान में हुआ यह आम चुनाव फीका रहा और बहुत कम तादाद में मतदाताओं ने हिस्‍सा लिया। माना जा रहा है कि चुनाव में ईरान के सर्वोच्च नेता अयातुल्ला अली खामनेई के कट्टर समर्थक headtopics.com

इब्राहिम रायसीको जीत हासिल हो सकती है। न्‍यायपालिका के प्रमुख इब्राहिम रायसी देश के कट्टरपंथी धड़े से आते हैं और अमेरिका ने उनके खिलाफ प्रतिबंध लगा रखा है।इब्राहिम रायसी ने लोगों से भारी तादाद में वोट देने की अपील की लेकिन इसका कोई खास फर्क नहीं पड़ा। फार्स न्‍यूज एजेंसी के मुताबिक रात 7.30 बजे तक केवल 37 फीसदी लोगों ने ही मतदान किया था। ईरान में कुल 2.2 करोड़ मतदाता हैं। उधर, ईरान के गृह मंत्रालय ने कुल वोटिंग प्रतिशत का ऐलान न‍हीं किया है। सरकार से संबद्ध ओपिनियन पोल और विश्लेषकों ने कट्टरपंथी इब्राहिम रायसी को राष्‍ट्रपति पद के लिये दावेदारी जता रहे चार उम्मीदवारों में से सबसे मजबूत करार दिया है। अगर रायसी जीतते हैं तो अगस्‍त में वह ईरान के आठवें राष्‍ट्रपति पद की शपथ लेंगे।

इब्राहिम रायसी पर अमेरिका लगा चुका है प्रतिबंधवर्ष 2017 में हुए चुनाव में रायसी ने भी चुनाव लड़ा था लेकिन उदारवादी रुहानी ने उन्‍हें भारी मतों से हरा दिया था। रायसी को 38 फीसदी वोट मिले थे, वहीं रुहानी को 57 प्रतिशत वोट मिले थे। ‘सेंट्रल बैंक’ के पूर्व प्रमुख अब्दुलनासिर हेम्माती भी उदारवादी उम्मीदवार के तौर पर चुनाव लड़ रहे हैं लेकिन निवर्तमान राष्ट्रपति हसन रुहानी जैसा समर्थन उन्हें हासिल नहीं है। रायसी अगर निर्वाचित होते हैं तो वह पहले ईरानी राष्ट्रपति होंगे जिन पर पदभार संभालने से पहले ही अमेरिका प्रतिबंध लगा चुका है। उन पर यह प्रतिबंध 1988 में राजनीतिक कैदियों की सामूहिक हत्या के लिये तथा अंतरराष्ट्रीय स्तर पर आलोचना झेलने वाली ईरानी न्यायपालिका के मुखिया के तौर पर लगाया गया था।

रायसी की अगर जीत होती है तो इससे ईरानी सरकार पर कट्टरपंथियों की पकड़ और मजबूत होगी वह भी ऐसे समय में जब विश्व शक्तियों के साथ ईरान के पटरी से उतर चुके परमाणु करार को बचाने की कोशिश के तहत वियना में वार्ता जारी है। ईरान फिलहाल परमाणु हथियार बनाने की श्रेणी के बेहद करीबी स्तर पर यूरेनियम का संवर्धन कर रहा है। इसे लेकर अमेरिका और इजराइल के साथ उसका तनाव काफी बढ़ा हुआ है। माना जाता है कि इन दोनों देशों ने ईरानी परमाणु केंद्रों पर कई हमले किये और दशकों पहले उसके सैन्य परमाणु कार्यक्रम को बनाने वाले वैज्ञानिक की हत्या करवाई।

चुनाव को लेकर जनता में व्यापक रूप से उदासीनतामतदान की प्रक्रिया स्थानीय समयानुसार सुबह सात बजे शुरू हुई लेकिन खामनेई के तहत बनाई गई एक समिति द्वारा सुधारवादियों और रुहानी के साथ जुड़े सैकड़ों उम्मीदवारों को चुनाव लड़ने से रोके जाने के बाद चुनाव को लेकर जनता में व्यापक रूप से उदासीनता दिखी। खामनेई में तेहरान में औपचारिक रूप से वोट डाला और लोगों से भी मतदान में हिस्सा लेने का अनुरोध किया। खामनेई ने कहा, 'लोगों की भागीदारी से देश और इस्लामी शासन व्यवस्था को अंतरराष्ट्रीय परिदृश्य में महान स्थान मिलेगा, लेकिन जिन लोगों को इसका सबसे पहले फायदा होगा वो खुद ईरान के लोग होंगे।' headtopics.com

Tokyo Olympics में India ने रचा इतिहास, Men's Hockey Team ने जीता कांस्य पदक भारतीय हॉकी टीम ने कैसे रचा इतिहास - देखें तस्वीरों में - BBC News हिंदी VIDEO: बाढ़ पीड़ितों की मदद करने गए MP के मंत्री खुद ही फंस गए! हेलिकॉप्टर बुलाकर किया गया एयरलिफ्ट

खामनेई ने कहा, 'आगे बढ़िये, चुनिए और वोट कीजिए।' हालांकि आधा दिन बीतने तक 2017 के पिछले राष्ट्रपति चुनाव के मुकाबले मतदान का प्रतिशत काफी नीचे लग रहा है। सरकारी टीवी पर जो कुछ तस्वीरें दिखाई जा रही थीं उनमें मतदान के शुरुआती घंटों में कुछ ही मतदाता नजर आ रहे थे। जो लोग कुछ ऐसे ही कुछ और मतदान केंद्रों से गुजरे उन्होंने कहा कि हर जगह कमोबेश यही हालात थे। मतदान के लिये पहुंचे रयासी ने काली पगड़ी पहन रखी थी जिससे उनकी पहचान शिया परंपरा में पैगंबर मोहम्मद के प्रत्यक्ष वंशज के तौर पर होती है और उन्होंने दक्षिणी तेहरान की एक मस्जिद में मतदान किया।

कुल 42 प्रतिशत मतदान होने का अनुमानईरान के आठ करोड़ से अधिक लोगों में से 5.9 करोड़ लोगों को मताधिकार हासिल है। हालांकि सरकारी ‘ईरानियन स्टूडेंट पोलिंग एजेंसी’ ने कुल 42 प्रतिशत मतदान होने का अनुमान लगाया है, जो कि 1979 की इस्लामिक क्रांति के बाद से सबसे कम होगा। ईरान इस समय कोविड-19 महामारी, वैश्विक अलगाव, व्यापक अमेरिकी प्रतिबंधों और बढ़ती महंगाई जैसी समस्याओं से जूझ रहा है, इसलिए चुनाव को लेकर मतदाताओं के बीच कोई खास उत्साह नहीं दिखाई दे रहा।

Navbharat Times News App: और पढो: NBT Hindi News »

आज की पॉजिटिव खबर: गुजरात के किसान ने बंजर जमीन पर 10 साल पहले ऑर्गेनिक खजूर लगाए, अब हर साल 35 लाख रुपए की कमाई

जहां तापमान ज्यादा हो, पानी की कमी हो, दूसरी फसलों की खेती न के बराबर होती हो, उन जगहों पर ऑर्गेनिक खजूर की खेती की जा सकती है। इसमें लागत भी कम होगी और बढ़िया आमदनी भी होगी। गुजरात के पाटन जिले के रहने वाले एक किसान निर्मल सिंह वाघेला ने इसकी पहल की है। करीब 10 साल पहले उन्होंने अपनी जमीन के बड़े हिस्से में ऑर्गेनिक खजूर के प्लांट लगाए थे। अब वे प्लांट तैयार हो गए हैं और उनसे फल निकलने लगे हैं। इ... | Farmer of Gujarat started farming of organic dates on barren land, earning Rs 35 lakh in first year itself

ईरान में राष्ट्रपति चुनाव आज: 4 कैंडिडेट दौड़ में, पिछली बार हारे 60 साल के कट्टरपंथी इब्राहिम रईसी सबसे आगे; एटमी प्रोग्राम जारी रखने के हिमायतीईरान में आज राष्ट्रपति चुनाव के लिए वोटिंग हो रही है। कुल चार कैंडिडेट मैदान में हैं। इनमें 60 साल के धर्मगुरु और चीफ जस्टिस इब्राहिम रईसी का पलड़ा भारी माना जा रहा है। नए राष्ट्रपति का कार्यकाल अगस्त में शुरू होगा। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, रईसी की जीत लगभग तय है। अगर ऐसा हुआ तो अमेरिका और पश्चिमी देशों से ईरान का टकराव बढ़ेगा, क्योंकि रईसी एटमी प्रोग्राम जारी रखने के हिमायती हैं। दूसरी तरफ, र... | Iran presidential election 2021 news and updates सर जी 🙏 प्लीज 69000 भर्ती के रिक्तपदों पर चयनसूची जारी करवा दीजिये हम सब बहुत परेशान हैं सर जी drdwivedisatish myogiadityanath RSOS_EXAM_Cancel_करे narendramodi GovindDotasra ashokgehlot51 aajtak RSOS_EXAM_Cancel_करे MOSTEXAM rpbreakingnews

झारखंड: बच्चों के यौन उत्पीड़न के आरोपी आश्रय गृह के निदेशक, वार्डन सहित चार लोग गिरफ़्तारएनजीओ ‘मदर टेरेसा वेलफेयर ट्रस्ट’ द्वारा संचालित जमशेदपुर ज़िले के एक बाल आश्रय गृह की दो नाबालिग आदिवासी लड़कियों ने संचालक समेत अन्य पर यौन उत्पीड़न सहित कई गंभीर आरोप लगाए हैं. आश्रय गृह से 40 बच्चों को जमशेदपुर के ही दूसरे आश्रय गृह में भेजे जाने के दौरान उनमें से दो बच्चियां लापता हो गई थीं. इनका अब तक पता नहीं लग सका है.

ईरान में राष्‍ट्रपति चुनाव के लिए मतदान जारी, जानें हसन रूहानी की जगह किसका पलड़ा भारीबाकी एशिया न्यूज़: Iran Presidential Elections Ebrahim Raisi : ईरान में राष्‍ट्रपति पद के लिए मतदान शुरू हो गया है। बताया जा रहा है क‍ि कट्टरपंथी नेता और न्‍यायपालिका के प्रमुख इब्राहिम रायसी चुनावी दौड़ में सबसे आगे चल रहे हैं।

अफ़ग़ानिस्तान के पत्रकार ने भारत के मुद्दे पर क़ुरैशी को यूं घेरा - BBC News हिंदीअफ़ग़ानिस्तान के न्यूज़ चैनल टोलो न्यूज़ के प्रमुख लोतफ़ुल्लाह नजफ़िज़ादा ने पाकिस्तानी विदेश मंत्री शाह महमूद क़ुरैशी से कई ऐसे सवाल पूछे जिनसे वो पूरी तरह से असहज दिखे. जब कभीभी अफगानिस्तान जलता है तो ISI और सेनाओं के बिच दीपावली मनाई जाती हैं। Afhganistan me terrorist Iran me terrorist India me terrorist

छत्तीसगढ़ में माओवादियों और डीआरजी के जवानों के बीच मुठभेड़, एक महिला नक्सली ढेरबस्तर के पुलिस महानिरीक्षक सुंदरराज पी ने बताया कि बस्तर और सुकमा जिले के सीमावर्ती इलाके में डीआरजी और माओवादियों के बीच एनकाउंटर हुआ. चांदामेटा और कुमाकोलेंगे की पहाड़ियों के बीच यह मुठभेड़ चल रही है. मुठभेड़ में एक महिला माओवादी को मार गिराया गया है.

यूपी कांग्रेस चीफ के खिलाफ उन्हीं की पार्टी के नेता ने खोला मोर्चा, बताया सवर्ण-विरोधीप्रदेश सचिव सुनील राय ने सोनिया गांधी को लिखे अपने पत्र में प्रदेश अध्यक्ष अजय कुमार लल्लू व उनके कार्यकर्ताओं से अपनी जान का खतरा बताते हुए सुरक्षा की भी मांग की है।