Earthquakeindelhincr, Earthquake, Delhiearthquake, Earthquake Tremors Felt İn Delhi, Earthquake Tremors Felt İn Delhi 5Th Time, Earthquake Update News, Earthquake Latest News, Earthquake Today News, Earthquake Delhi Ncr News, Delhi Top News, Earthquake Tremors, Earthquake Punjab, Earthquake Ncr, Earthquake In Haryana, Earthquake In Delhi, भूकंप के झटके

Earthquakeindelhincr, Earthquake

Earthquake in Delhi-NCR: फिर भूकंप का झटका, डेढ़ माह में पांचवीं बार हिली दिल्ली, जानें- किस भूकंप जोन में है दिल्ली

सिस्मिक जोन चार में शामिल दिल्ली में डेढ़ माह के दौरान जो चार भूकंप पहले आए थे वे 12 13 अप्रैल और 10 15 मई को आए थे।

29-05-2020 23:46:00

EarthquakeinDelhiNCR: फिर भूकंप का झटका, डेढ़ माह में पांचवीं बार हिली दिल्ली, जानें- किस भूकंप जोन में है दिल्ली earthquake delhiearthquake

सिस्मिक जोन चार में शामिल दिल्ली में डेढ़ माह के दौरान जो चार भूकंप पहले आए थे वे 12 13 अप्रैल और 10 15 मई को आए थे।

राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केंद्र (एनसीएस) के निदेशक (ऑपरेशन) जेएल गौतम ने बताया कि भूकंप रात बजकर 9 बजकर 8 मिनट पर आया। भूकंप का अधिकेंद्र हरियाणा में रोहतक का अटायल गांव था। सिस्मिक जोन चार में शामिल दिल्ली में डेढ़ माह के दौरान जो चार भूकंप पहले आए थे, वे 12, 13 अप्रैल और 10, 15 मई को आए थे। इनकी तीव्रता रिक्टर स्केल पर 2.2 से 3.5 तक रही। खास बात यह कि इन सभी भूकंपों का केंद्र उत्तर-पूर्वी दिल्ली में वजीराबाद और उत्तरी दिल्ली का वजीरपुर था।

Amitabh Bachchan Covid 19 Positive: अमिताभ बच्चन को कोरोना, मुंबई के नानावटी अस्पताल में किया गया एडमिट अमिताभ बच्चन कोरोना पॉज़िटिव पाए गए, अस्पताल में हुए भर्ती अमिताभ बच्चन और अभिषेक बच्चन कोरोना पॉज़िटिव पाए गए

इस बार थोड़ा तेज झटकाबड़ी बात यह है कि कोरोना संकट से निपटने के लिए 25 मार्च को देशव्यापी लॉकडाउन घोषित होने के बाद से लगातार कई बार भूकंप आ चुका है। पिछली बार तो भूकंप का केंद्र दिल्ली में ही था। दरअसल, दिल्ली के आसपास से टेक्टॉनिक प्लेट के तीन फॉल्ट गुजर रहे हैं। इस कारण से दिल्ली और आसपास में लगातार भूकंप आ रहे हैं। हालत यह है कि 1 महीने के अंदर चौथा भूकंप आ चुका है। इससे पहले रिक्टर स्केल पर 2.5 से 3.5 तीव्रता के भूकंप आए थे। यानी, हाल के भूकंपों के मुकाबले शुक्रवार का भूकंप सबसे ज्यादा तीव्रता वाला था।

यह भी पढ़ेंदिल्ली रिस्क जोन मेंवैसे तो दिल्ली जोन 4 में आता है जो काफी रिस्की जोन है लेकिन राहत की बात यह है कि ये फॉल्ट ज्यादा ऐक्टिव नहीं हैं। एक्सपर्ट के मुताबिक, हिंदू कुश से अरुणाचल प्रदेश तक जो हिमालय का जोड़ है, इसमें इंडियन और यूरेशियन प्लेट एक-दूसरे के विपरीत दिशा में गतिमान हैं। इस कारण से उत्तराखंड और आसपास के क्षेत्र में ज्यादा तीव्रता के भूकंप आ सकते हैं। ऐसे में दिल्ली को इतना ज्यादा खतरा फिलहाल नहीं है।

4 हिस्सों में बंटा है भारत का भूकंप जोनभारतीय मानक ब्यूरो ने विभिन्न एजेंसियों से प्राप्त वैज्ञानिक जानकारियों के आधार पर पूरे भारत को चार भूकंपीय जोनों में बांटा है। इसमें सबसे ज्यादा खतरनाक जोन 5 है। वैज्ञानिकों के अनुसार, इस क्षेत्र में रिक्टर स्केल पर 9 तीव्रता का भूकंप आ सकता है। जानिए भारत का कौन सा क्षेत्र किस जोन में स्थित है।

जोन 5जोन-5 में पूरा पूर्वोत्तर भारत, जम्मू-कश्मीर के कुछ हिस्से, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड गुजरात में कच्छ का रन, उत्तर बिहार का कुछ हिस्सा और अंडमान निकोबार द्वीप समूह शामिल है। इस क्षेत्र में अक्सर भूकंप आते रहते हैं।जोन-4जोन-4 में जम्मू-कश्मीर और हिमाचल प्रदेश के बाकी हिस्से, दिल्ली, सिक्किम, उत्तर प्रदेश के उत्तरी भाग, सिंधु-गंगा थाला, बिहार और पश्चिम बंगाल, गुजरात के कुछ हिस्से और पश्चिमी तट के समीप महाराष्ट्र का कुछ हिस्सा और राजस्थान शामिल है।

जोन-3जोन-3 में केरल, गोवा, लक्षद्वीप द्वीपसमूह, उत्तर प्रदेश के बाकी हिस्से, गुजरात और पश्चिम बंगाल, पंजाब के हिस्से, राजस्थान, मध्यप्रदेश, बिहार, झारखंड, छत्तीसगढ़, महाराष्ट्र, ओडिशा, आंध्र प्रदेश, तमिलनाडु और कर्नाटक शामिल हैं।जोन-2जोन-2 भूकंप की दृष्टि से सबसे कम सक्रिय क्षेत्र है। इसे सबसे कम तबाही के खतरे वाले क्षेत्र की श्रेणी में रखा गया है। जोन-2 में देश का बाकी हिस्से शामिल हैं।

और पढो: Dainik jagran »

Kuch bada aanewaala hai

दिल्ली-NCR में भूकंप के झटकों से दहशत, 47 दिनों में पांचवीं बार दिल्ली भूकंप से हिलीनई दिल्ली। शुक्रवार रात 9.08 मिनट पर दिल्ली-NCR में भूकंप के झटके महसूस किए, जिसके कारण दहशत का माहौल बन गया। राष्ट्रीय भूकंप विज्ञान केन्द्र (NCS) के अनुसार रिक्टर स्कैल पर भूकंप की तीव्रता 4.5 मापी गई।

10 सेकेंड तक थर्राती रही धरती, दिल्ली-NCR में 4.6 तीव्रता का आया भूकंपदिल्ली वालों के लिए भूकंप अब ज़िंदगी का हिस्सा बन गया है 😐 देश के लिए यह बुरा संकेत हैं।

Earthquake In Delhi-NCR: दिल्ली-NCR में फिर हिली धरती, महसूस किए गए भूकंप के झटके Earthquake In Delhi- NCR जैसे भूकंप के झटके आए लोग घरों और दफ्तरों से बाहर निकल गए। बताया जा रहा है कि तीव्रता काफी अधिक थी। 'Delhi Janakpuri- Pankha Road' par Bhukamp ke Jhatke.

लॉकडाउन में 7 बार हिली दिल्ली, आखिर बार-बार क्यों आ रहा है भूकंप?Delhi Samachar: दिल्ली-एनसीआर समेत देश के कई इलाकों में भूकंप (Delhi me bhukamp) के झटके महसूस किए गए हैं। यह झटका रिक्टर पैमाने पर 4.6 डिग्री मापा गया। जब से लॉकडाउन शुरू हुआ है, तब से अब तक ये दिल्ली में आया सातवां भूकंप (7 times earthquake in delhi during lockdown) है। पनौती लगी है बहूत जुल्म किए हो तुम संघीयो ने इसलिए आ रहा है मस्जिद तोड़ी थी भूल गए सब कितने जुल्म किए थे मुसलमानो पे Pakistan ka hath hoga.......

खबरदार: दिल्ली-NCR, हरियाणा समेत देश के कई इलाकों में भूकंप के झटकेदिल्ली एक बार फिर भूकंप के झटकों से कांप उठी है. शुक्रवार को रात 9 बजकर आठ मिनट पर भूकंप के झटके महसूस किए गए. करीब 10 से 15 सेकेंड तक दिल्ली की धरती कांपती रही. रिक्टर स्केल पर भूकंप की तीव्रता 4.6 मापी गई. भूकंप का केंद्र हरियाणा का रोहतक जिला था. जहां जमीन के 5 किमी नीचे भूकंप का केंद्र था. इससे पहले 15 मई को दिल्ली में भूकंप के झटके महसूस किए गए थे. इस भूकंप का केंद्र दिल्ली के पीतमपुरा इलाके में था. इस भूकंप की तीव्रता 2.2 थी. 15 से पहले 10 मई को 3.4 तीव्रता वाली भूकंप आया था. वहीं 13 अप्रैल को 3.5 की तीव्रता वाला भूकंप आया था. जबकि 14 अप्रैल को आए भूकंप की तीव्रता रिएक्टर स्केल पर 2.7 मापी गई थी. भूकंप के लिहाज से दिल्ली को हमेशा संवेदनशील इलाका माना जाता है. देखिए खबरदार. SwetaSinghAT This person is responsible for the pendemic SwetaSinghAT UN realDonaldTrump SwetaSinghAT २००० के नोट में नैनोचिप नही दिखी मुझे

दिल्ली-एनसीआर में 4.6 तीव्रता का भूकंप, दो महीनों में पांचवीं बार भूकंप के झटके महसूस किए गएपिछले महीने 12 और 13 अप्रैल, इस महीने 10 और 15 मई को भूकंप आया थाहरियाणा के रोहतक में जमीन से 16 किलोमीटर नीचे था शुक्रवार को आए भूकंप का केंद्र | New Delhi News updates: Earthquake tremors felt in Delhi दिल्ली अब इतिहास के पन्ने में पढ़ाई जाएगी भारत 1947 में आजाद हुआ था और चीन 1948 में तो फिर आज चीन विश्व में 2 नंबर पर और भारत 138 नंबर पर क्यों? क्योंकि 70 वर्षों तक कांग्रेस ने देश को सिर्फ लूटा है?

विकास दुबे: 'मुठभेड़' में इतने इत्तेफ़ाक़! ऐसा कैसे? विकास दुबे 'मुठभेड़': उत्तर प्रदेश पुलिस की 'ठोक देंगे' परंपरा में क़ानून की जगह कहाँ है? कार नहीं पलटी, सरकार पलटने से बचाई गयी है: अखिलेश नेपाल के पीएम ओली को विलेन बनाकर भारतीय मीडिया बड़ी भूल कर रहा है? PM CARES फंड की जांच नहीं करेगी लोक लेखा समिति, BJP ने रोका रास्ता न टायरों के निशान-न शीशों को नुकसान... कैसे पलटी विकास दुबे की गाड़ी? हागिया सोफ़िया म्यूज़ियम को मस्जिद बनाने का रास्ता साफ़, कोर्ट का आया फ़ैसला कानपुर 'मुठभेड़' या हैदराबाद 'एनकाउंटर': सड़क पर इंसाफ़, जश्न और वही सवाल पाकिस्तान इंटरनेशनल एयरलाइंस की उड़ानों पर अमरीका ने लगाई रोक चीनी राजदूत ने कहा, भारत ऐसा कोई क़दम न उठाए जिससे उसे ही नुक़सान हो विकास दुबे मध्यप्रदेश किस व्यक्ति के भरोसे आया था? - दिग्विजय