Elon Musk Starlink Service: सरकार क्यों कर रही मस्क की कंपनी से दूर रहने की अपील, जानें वजह

सरकार के साथ साथ दूरसंचार विभाग की ओर से लोगों को आगाह किया गया है कि कंपनी से दूर रहने में ही अभी भलाई है। बयान में कहा

Elonmusk, Starlink

27-11-2021 09:20:00

Elon Musk Starlink Service: सरकार क्यों कर रही मस्क की कंपनी से दूर रहने की अपील, जानें वजह ElonMusk Starlink GoI ModiGovernment

सरकार के साथ साथ दूरसंचार विभाग की ओर से लोगों को आगाह किया गया है कि कंपनी से दूर रहने में ही अभी भलाई है। बयान में कहा

डॉट ने कही यह बड़ी बातडिपार्टमेंट ऑफ टेलिकॉम (Dot) ने कहा है कि स्टारलिंक को भारत में सेवाएं देने के लिए अभी तक लाइसेंस नहीं दिया गया है। विभाग की ओर से कहा गया है कि एलन मस्क की कंपनी को लोगों के लिए सब्सक्रिप्शन मुहैया कराने से पहले रेग्युलेटरी फ्रेमवर्क के तहत जरूरी मंजूरी लेना चाहिए। लेकिन कंपनी ने रेग्युलेटरी प्रक्रियाओं की अनदेखी की है और भारत में मंजूरी के बिना ही सैटेलाइट इंटरनेट सेवा के लिए बुकिंग शुरू कर दी है।

भारत से स्टालिंक को 5000 से ज्यादा प्रीऑर्डरगौरतलब है कि स्टारलिंक इंडिया की ओर से बीते दिनों दिए गए बयान में बताया गया था कि भारत में स्टारलिंक इंटरनेट सर्विस को लेकर खासा उत्साह है। इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि देश में प्रीऑर्डर बुकिंग का आंकड़ा 5000 को पार कर चुका है। बता दें कि एलन मस्क की कंपनी 2022 के अंत तक देश में इंटरनेट सेवा शुरू करना चाहती है।

विस्तारदुनिया के सबसे अमीर शख्स और स्पेसएक्स के मालिक भारत में अपनी सैटेलाइट इंटरनेट सेवा देने की पूरी तैयारी कर चुके हैं। इसके लिए सब्सक्रिप्शन प्रक्रिया भी शुरू कर दी गई है। लेकिन मस्क की इस योजना पर सरकार की ओर से सख्त रुख अख्तियार किया गया है। जी हां भारत सरकार ने जनता से मस्क की स्टारलिंक इंटरनेट सर्विस से दूर रहने की अपील की है। headtopics.com

वीडियो: RRB-NTPC अभ्यर्थियों का गया में बवाल, ट्रेन की बोगी में लगाई आग, रेल सेवा चरमराई

विज्ञापनसरकार ने जनता से की ये अपीलसरकार की तरफ से जारी एक बयान में कहा गया कि एलन मस्क की स्टारलिंक कंपनी को भारत में सैटेलाइट इंटरनेट सेवा मुहैया कराने के लिए अभी तक लाइसेंस जारी नहीं किया गया है। ऐसे में देश की जनता से यह अपील की जा रही है कि वे इस कंपनी की सर्विस के लिए सब्सक्रिप्शन नहीं खरीदें। इससे नुकसान उठाना पड़ सकता है।

कंपनी के झांसे बिल्कुल न आएं गया कि देश की जनता को कंपनी की तरफ से किए जा रहे प्रचार के झांसे में नहीं आना है। स्टारलिंक अपनी आधिकिरक वेबसाइट के जरिए यूजर को सब्सक्रिप्शन लेने की सुविधा दे रही है, इसको लेकर डॉट और भारत सरकार ने नाराजगी जताई है।डॉट ने कही यह बड़ी बात

डिपार्टमेंट ऑफ टेलिकॉम (Dot) ने कहा है कि स्टारलिंक को भारत में सेवाएं देने के लिए अभी तक लाइसेंस नहीं दिया गया है। विभाग की ओर से कहा गया है कि एलन मस्क की कंपनी को लोगों के लिए सब्सक्रिप्शन मुहैया कराने से पहले रेग्युलेटरी फ्रेमवर्क के तहत जरूरी मंजूरी लेना चाहिए। लेकिन कंपनी ने रेग्युलेटरी प्रक्रियाओं की अनदेखी की है और भारत में मंजूरी के बिना ही सैटेलाइट इंटरनेट सेवा के लिए बुकिंग शुरू कर दी है।

DU में स्थायी के बजाए गेस्ट टीचर्स रखने के आदेश पर भड़के शिक्षक, विश्वविद्यालय को डिसमेंटल करने का प्रयास बताया

भारत से स्टालिंक को 5000 से ज्यादा प्रीऑर्डरगौरतलब है कि स्टारलिंक इंडिया की ओर से बीते दिनों दिए गए बयान में बताया गया था कि भारत में स्टारलिंक इंटरनेट सर्विस को लेकर खासा उत्साह है। इसका अंदाजा इस बात से लगाया जा सकता है कि देश में प्रीऑर्डर बुकिंग का आंकड़ा 5000 को पार कर चुका है। बता दें कि एलन मस्क की कंपनी 2022 के अंत तक देश में इंटरनेट सेवा शुरू करना चाहती है। headtopics.com

आपकी राय हमारे लिए महत्वपूर्ण है। खबरों को बेहतर बनाने में हमारी मदद करें।खबर में दी गई जानकारी और सूचना से आप संतुष्ट हैं?हांखबर की भाषा और शीर्षक से आप संतुष्ट हैं?हांखबर के प्रस्तुतिकरण से आप संतुष्ट हैं?हांखबर में और अधिक सुधार की आवश्यकता है?

और पढो: Amar Ujala »
15 तस्वीरों में 15 कहानियां: नेहरू के न्योते पर परेड में RSS, राजपथ पर इंदिरा गांधी का डांस; गणतंत्र दिवस पर पहली बार और क्या हुआ बिहार-यूपी में प्रदर्शन के बाद बैकफुट पर रेलवे: ​​​​​​रेलवे ने NTPC और लेवल-1 परीक्षा पर लगाई रोक, हाईलेवल कमेटी बनाई जो छात्रों की शिकायत सुनेगी BSF के सबसे बड़े ट्रेनिंग सेंटर से रिपोर्ट: रोज 4km दौड़, 10 घंटे हार्डकोर ट्रेनिंग; तब जाकर 308 दिन में तैयार होते हैं जांबाज सैनिक 'कोहली अब पहले वाले किंग नहीं रहे, उन्हें आराम की जरूरत', पूर्व ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर का बयान Raja Bhaiya: कौन हैं गुलशन यादव जो कुंडा में राजा भैया के सियासी साम्राज्य के लिए बने सबसे बड़ी चुनौती? कश्मीर का गणतंत्र दिवस: आजादी के बाद पहली बार श्रीनगर लाल चौक के घंटाघर पर फहराया तिरंगा, आतंकियों और उनके आकाओं को चुनौती

26 जनवरी पर अंग्रेजी धुन हटी: देखिए #DNA LIVE Sudhir Chaudhary के साथ

और पढो >>

चीन: अमेरिकी सांसदों ने की ताइवान की यात्रा, राष्ट्रपति साइ इंग-वेन से भी की मुलाकातचीन के साथ तनावपूर्ण रिश्तों के बीच अमेरिका के पांच सांसद बृहस्पतिवार की रात अचानक ताइवान पहुंचे। उन्होंने ताइवान

फ्रांस : सरकार ने प्रवासियों की बैठक से ब्रिटिश गृहमंत्री प्रीति पटेल को हटायाइंग्लिश चैनल पार करते वक्त नौका डूबने से कई प्रवासियों की मौत के बाद फ्रांस और ब्रिटेन के बीच तनाव बढ़ गया है।

सऊदी अरब ने भारत की उड़ान से प्रतिबंध हटाया, 1 दिसंबर से शुरू होगी सीधी उड़ानसऊदी सरकार के इस फैसले के साथ ही भारत से सऊदी अरब की सीधी उड़ान का रास्ता साफ हो गया है. भारत से सऊदी अरब की सीधी उड़ान सेवा 1 दिसंबर से शुरू होगी. Welcome

भारतीय खगोलविदों ने की एक नए exoplanet और सूर्य से भी अधिक गर्म स्‍टार्स की खोजभारतीय खगोलविदों ने बड़ी उपलब्धि हासिल करते हुए दो महत्‍वपूर्ण खोज की हैं.  उन्‍होंने बृहस्पति ग्रह की तुलना में 1.4 गुणा बड़ा एक्सोप्लैनेटऔर सूर्य की भी अधिक गर्म, दुर्लभ श्रेणी का रेडियो स्‍टार खोज निकाला है. Wish Indian khgolvid New exoplanet

MSP को लेकर भी किसानों को संतुष्‍ट करे सरकार : NDTV से बोले योगेंद्र यादवNDTV से बात करते हुए योगेंद्र यादव ने कहा कि हम पीएम से आग्रह करते हैं क हम जो मांग रहे हैं ,कृपया वह हमें दे दीजिए. यादव ने साफ किया कि MSP की किसानों की मांग नई नहीं है. ऐसा नहीं है कि हमने यह कोई नई मांग निकाली है. अक्‍टूबर में हमने सरकार को जो मेमोरेंडम सौंपा था, उसमें भी MSP की बात थी. I strongly feel that _YogendraYadav is a parasite who’s life only motto is to live on protest! अबतो किसान करोड़पति बन गए अब क्यादिक्कत है, योगेंद्र यादव किस बात का किसान है!

भारत सरकार का बड़ा फैसला, अंतरराष्ट्रीय उड़ान 15 दिसंबर से फिर होंगी शुरूकोरोना के चलते बंद हुई इंटरनेशनल फ्लाइट्स अब फिर से शुरू होने वाली हैं. सरकार ने 15 दिसंबर से वाणिज्यिक अंतरराष्ट्रीय उड़ानों का परिचालन फिर शुरू करने का निर्णय किया है. पढ़े पूरी खबर... अमेरिका कोरोना की तीसरी लहर से अपने नागरिकों को बचाने के लिए अपनी अंतर्राष्ट्रीय उड़ाने कुछ देशों के लिए रोंक रहा है और एक भारत सरकार उड़ाने चालू कर कोरोना को आमंत्रित कर रही है। Jab khtra badne laga to bhai ka masterstroke aaya hai बहुत ही बेहतरीन निर्णय.... कोरोना के तीसरे वैरिएंट से पूरा दुनिया भयभीत है। लेकिन मोदी के इस निडर फैसले को 56 तोपों की सलामी रहेगा