Delhi Violence: शाहीन बाग में धरना और दिल्ली में हुई हिंसा पर ऐसे चली बहस

Delhiviolence, Delhi, Delhi Violence, Shaheen Bagh, Delhi High Court, Supreme Court, Police, Delhi Violence, High Court Hearing, Live Update, 1984 Sikh Riots, Delhi Police, Delhi Violence, High Court Hearing, Live Update, 1984 Sikh Riots, Delhi Police

#DelhiViolence | #Delhi में भड़की हिंसा पर हाई कोर्ट में हुई सुनवाई, कपिल मिश्रा, प्रवेश वर्मा की गिरफ्तारी की उठी मांग (@mewatisanjoo )

Delhiviolence, Delhi

2/26/2020

DelhiViolence | Delhi में भड़की हिंसा पर हाई कोर्ट में हुई सुनवाई, कपिल मिश्रा, प्रवेश वर्मा की गिरफ्तारी की उठी मांग (mewatisanjoo )

दिल्ली में भड़की हिंसा पर हाई कोर्ट में बुधवार को सुनवाई हुई. इस दौरान दिल्ली हाई कोर्ट में कुछ महत्वपूर्ण सवाल भी उठाए गए. सुनवाई के दौरान याचिकाकर्ता हर्ष मंदर की ओर से उत्तर-पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा के मामलों की जांच के लिए एक विशेष जांच दल गठित करने की मांग की गई है.

उत्तर-पूर्वी दिल्ली में भड़की हिंसा पर बुधवार को सबसे पहले बुधवार को सुबह 10 बजे दिल्ली हाई कोर्ट में सुनवाई शुरू हुई. जस्टिस मुरलीधर और जस्टिस तलवंत सिंह की बेंच ने दिल्ली पुलिस को नोटिस जारी कर साढ़े बारह बजे सुनवाई का समय तय किया. हाई कोर्ट ने साफ कहा कि सुनवाई के दौरान दिल्ली पुलिस के वरिष्ठ अफसर मौजूद रहें. इस सुनवाई के दौरान याचिकाकर्ता हर्ष मंदर की ओर से उत्तर-पूर्वी जिले में हुई हिंसा के मामलों की जांच के लिए एक विशेष जांच दल गठित करने की मांग की गई. याचिका में मारे गए और घायल लोगों के लिए मुआवजे, सीसीटीवी फुटेज को सुरक्षित रखने, महिलाओं और बच्चों की सुरक्षा, हिरासत में लिए गए लोगों को कानूनी सहायता, इलाके में सेना की तैनाती आदि की भी मांग की गई है. याचिका में बीजेपी नेता कपिल मिश्रा, अनुराग ठाकुर, परवेश वर्मा और अन्य दंगाइयों के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज करने और उनकी तत्काल गिरफ्तारी की भी मांग की है. इस सुनवाई के दौरान दिल्ली में हिंसा को लेकर हाईकोर्ट ने सीबीएसई से सवाल किया कि छात्र रोजाना परीक्षा का इंतजार करेंगे क्या? कोर्ट ने सीबीएसई से इस बाबत जवाब भी तलब किया. हाईकोर्ट में हुई इस सुनवाई के लगभग एक घंटा बाद यानी सवा ग्यारह बजे कोर्ट में शाहीन बाग मामले की सुनवाई शुरू हुई. यह भी पढ़ें: Delhi Violence Live: केजरीवाल का ऐलान- रतन लाल के परिवार को 1 करोड़, एक सदस्य को नौकरी सुप्रीम कोर्ट में भी हुई सुनवाई सुप्रीम कोर्ट में जस्टिस संजय किशन कौल और जस्टिस के. एम. जोसफ की बेंच ने कहा कि उन्होंने वार्ताकारों की रिपोर्ट देख ली है, लेकिन पिछली सुनवाई के बाद से अब तक दिल्ली में कई दुर्भाग्यपूर्ण चीजें हुई हैं, जो नहीं होनी चाहिए थी. सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा कि इन हिंसक घटनाओं पर हाई कोर्ट सुनवाई कर रहा है. अगली सुनवाई साढ़े बारह बजे तय है. इस पर कोर्ट ने कहा कि हाई कोर्ट सुनवाई करता रहे. हमें इससे कोई ऐतराज नहीं है, लेकिन चीजें जिस दिशा में आगे बढी हैं, वो कतई उचित नहीं हैं. आप पुलिस को डेमोरलाइज नहीं कर सकते. इस समय हमारे कॉन्स्टेबल की मौत हुई है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा- दिल्ली में माहौल ठीक नहीं सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अभी मामले की सुनवाई के लिए वातावरण ठीक नहीं है. लिहाजा फिलहाल हम इस मामले को 23 मार्च तक टालते हैं. तुषार मेहता ने कहा कि इस माहौल में हम पुलिस को हतोत्साहित नहीं कर सकते. हमारे एक हेड कॉस्टेबल की गोली लगने से मौत हुई है. डीसीपी बुरी तरह घायल है. सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि इस हिंसा में कई लोगों की मौत हुई है, ये बेहद गंभीर विषय है. समय रहते एक्शन लेकर इन मौत और हिंसा को टाला जा सकता था, लेकिन कुछ नहीं किया गया. ये सच है कि सार्वजनिक स्थल प्रदर्शन की जगह नहीं होते. इसका भी ध्यान रखना चाहिए. 'पुलिस करे अपना काम' सुनवाई के दौरान जस्टिस के. एम. जोसफ ने जस्टिस कौल से कुछ बात की. इसके बाद सवाल किया कि जिस पल एक भड़काऊ टिप्पणी की गई, पुलिस ने कार्रवाई क्यों नहीं की? पुलिस को उसी वक्त सख्त कार्रवाई करनी चाहिए थी. पुलिस अपना काम करे. कभी-कभी परिस्थिति ऐसी आ जाती है कि आउट ऑफ द बॉक्स जा कर भी काम करना पड़ता है. राज्य चाहे दिल्ली हो या कोई और, यही दिक्कत है कि पुलिस में प्रोफेशनलिज्म की कमी है. यह भी पढ़ें: Delhi Violence: जब घोंडा की गलियों में पहुंचे NSA डोभाल, लोग करने लगे अमित शाह की शिकायत सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि अभी तो सभी ओर गरमागरमी का माहौल है. 23 मार्च को मामले की अगली सुनवाई करेंगे, जिससे मामला शांत हो सके. सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने ये भी कहा कि प्रकाश सिंह मामले में पुलिस रिफॉर्म के आदेश अब तक लागू नहीं हुए. यूके और अन्य पश्चिमी देशों में तो हेलीकॉप्टर से भी निगरानी रखते हुए ऐसी स्थितियों से निपटा जाता है. हालांकि यहां तो कुछ भी ऐसा नहीं है. 'हिंसा के जरिए समाज में बहस का तरीका गलत' सुप्रीम कोर्ट ने कहा कि सभी राजनीतिक पार्टियों और सभी हितधारकों को तनाव कम करना चाहिए. हिंसा के जरिए समाज में बहस का तरीका उचित नहीं है. स्वस्थ बहस होनी चाहिए, लेकिन हिंसक बहस नहीं होनी चाहिए. सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई खत्म हुई, तो इसके आधा घंटा बाद हाईकोर्ट फिर सुनवाई के लिए बैठा. यह भी पढ़ें: Delhi Violence: हिंसाग्रस्त इलाकों की गलियों में NSA डोभाल, लोगों से कहा- सबको मिलकर रहना है सुनवाई शुरू होते ही तुषार मेहता ने कहा कि सुप्रीम कोर्ट शाहीन बाग मामले पर सुनवाई कर रहा है. रास्ता खुलवाने पर सुनवाई है. इस कोर्ट ने पुलिस से कहा था की स्थिति को देखते हुए अपना काम करे, लेकिन लोग कुछ सुनने तक को तैयार नहीं है. हालांकि हर्ष मंदर की इस याचिका में बात तीन लोगों की हो रही है, जबकि ये दिल्ली विधानसभा चुनाव के समय दिए गये बयान हैं. अब इस मामले की सुनवाई कल की जाए, क्योंकि याचिकाकर्ता ने एमएचए को पक्षकार नहीं बनाया है. लिहाजा अब इस मामले में केंद्र सरकार को भी पार्टी बनाया जाए. कोर्ट ने पुलिस से पूछा- क्या देखें हैं आपने वीडियो? दिल्ली हाई कोर्ट ने पुलिस से पूछा कि क्या आरोपियों के खिलाफ FIR दर्ज की गई है? तुषार मेहता ने कहा कि में दिल्ली पुलिस कमिश्नर की तरफ से पेश हो रहा हूं और ये दरख्वास्त करता हूं कि इस मामले की सुनवाई कल तक के लिए टाल दी जाए. कोर्ट ने पूछा क्यों, तो तुषार मेहता ने कहा कि जो बयान अनुराग ठाकुर आदि की तरफ से दिए गए थे, वो बयान पुराने है. अभी मुख्य विषय पर सुनवाई की जाए. कोर्ट ने पुलिस से पूछा कि क्या आपने इन तीनों लोगों के वीडियो देखें हैं? पुलिस ने नहीं देखा कपिल मिश्रा का वीडियो पुलिस की ओर से डीसीपी राजेश देव ने कहा कि हमने दो वीडियो तो देखे हैं, लेकिन कपिल मिश्रा का वीडियो नहीं देखा. कोर्ट ने कहा कि ये वीडियो तो हर चैनल पर कई बार चले हैं और आप कह रहे हैं मैंने नहीं देखा. मेहता ने कहा कि मैं टीवी नहीं देखता. इसके बाद कपिल मिश्रा का वीडियो कोर्ट में चलाया गया. सबने देखा. इसके बाद कोर्ट ने पुलिस ऑफिसर से कहा कि हम मानें कि ये वीडियो आप पहली बार देख रहे हैं. इसमें नॉर्थ ईस्ट के डीसीपी भी कपिल मिश्रा के साथ खड़े दिख रहे हैं. कोर्ट में इसी के साथ अनुराग ठाकुर, प्रवेश वर्मा और अभय वर्मा के वीडियो भी चलाए गए. कोर्ट ने पूछा कि ये अनुराग ठाकुर तो हिमाचल प्रदेश से हैं. उनका चुनाव क्षेत्र क्या है? कोर्ट ने पूछा कि प्रवेश वर्मा किस विधानसभा से सांसद हैं? ओवैसी के वीडियो भी कोर्ट में चलाए जाएं? जब वीडियो चल रहे थे, तो इसी बीच एक वकील ने कहा कि ओवैसी के वीडियो भी कोर्ट में चलाए जाएं. कोर्ट ने इस पर साफ इनकार करते हुए कहा कि जब जरूरत होगी तब देखेंगे. कोर्ट ने कहा कि अभी हालात देखने दीजिए. इस पर तुषार मेहता ने कहा कि पुलिसकर्मी ड्यूटी पर मर रहे हैं और एसिड हमलों की खबरें भी हैं. पुलिस फोर्स को लिंच किया जा रहा है. पुलिस अस्पताल में भर्ती है. आज वो दिन नहीं है कि हम पुलिस पर सवाल उठाएं और कोर्ट पाबंदी लगाए. केवल कुछ सेलेक्टिव वीडियो देखकर फैसला न लिया जाए. कपिल मिश्रा के बयान पर केंद्र और दिल्ली सरकार आमने-सामने तुषार मेहता ने कहा कि कपिल मिश्रा ने जो स्पीच में कहा कि उसका उसके बाद हुई हिंसा की घटनाओं से कोई सीधा वास्ता नहीं है. FIR दर्ज करना अलग मसला है. उस पर फैसला लेने के लिए बाकी तथ्य को देखना होगा. इसके लिए और वक्त चाहिए. इस दौरान दिल्ली सरकार के वकील राहुल मेहरा ने तुषार मेहता की दलील का विरोध किया. उन्होंने काह कि कपिल मिश्रा के खिलाफ FIR दर्ज न करने का कोई औचित्य नजर नहीं आता है. FIR हर संदिग्ध स्थिति में दर्ज होनी चाहिए. अगर बाद में एफआईआर गलत पाई जाए, तो FIR रद्द हो सकती है. हाई कोर्ट ने पूछा कौन सा डीसीपी वीडियो में कपिल मिश्रा के साथ खड़ा है? उसका क्या नाम है? कोर्ट में मौजूद कई वकील बोल पड़े- डीसीपी सूर्या. विवादित बयानों पर होती कार्रवाई तो नहीं भड़कती हिंसा इस पर वकील कोलिन गोंजाल्विस ने कहा कि अगर विवादित बयान पर दिल्ली पुलिस नेताओं के खिलाफ करवाई करती, तो दिल्ली में हिंसा नहीं होती. याचिकाकर्ता ने दिल्ली हिंसा कंट्रोल के लिए आर्मी बुलाने का भी आग्रह किया. वीडियो चलने के बाद जस्टिस मुरलीधर ने कहा कि आप ये क्लिप लेकर दिल्ली पुलिस कमिश्नर से मिलें और आरोपी नेताओं के खिलाफ कानूनी कार्रवाई सुनिश्चित कराएं. कोर्ट ने कहा कि आप इस बात को भी ध्यान में रखें कि फिर हमें आदेश जारी न करना पड़े. इस आदेश के बाद कोर्ट ढाई बजे फिर सुनवाई जारी रहने की बात कहकर भोजनावकाश के लिए उठ गई. दिल्ली में न दोहराई जाए 1984 जैसी घटना ढाई बजे सुनवाई घायलों को मुआवजे और हालात सामान्य करने के लिए उठाए जाने वाले कदमों पर फोकस रही. जस्टिस मुरलीधर ने कहा जो घायल हुए है, उनके इलाज के लिए सरकार क्या कदम उठा रही है? क्योंकि हम नहीं चाहते कि दिल्ली में 1984 जैसी घटना रिपीट हो. दिल्ली सरकार ने कोर्ट को बताया कि वो इस मामले की लेकर गम्भीर है. स्थिति सामान्य करने के लिए सभी प्रयास किए जा रहे हैं. कोर्ट ने कहा कि हमनें सुना कि आईबी के ऑफिसर पर भी हमला हुआ है, इसे तुरंत देखने की जरूरत है. कोर्ट ने दिल्ली सरकार से पूछा कि क्या कोई हेल्पलाइन नंबर जारी किया जा सकता है? ये सब तत्काल प्रभाव से हो ताकि लोगों की समस्याओं का जल्द से जल्द निदान हो सके. कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को कहा कि जिन लोगों की दंगो में मौत हुई है, उनके अंतिम संस्कार के लिए सेफ पैसेज मुहैया कराया जाए. दंगों में घायल हुए लोगों को तत्काल मेडिकल सुविधा मुहैया कराई जाए. कोर्ट ने इस मामले में वकील जुबैदा बेगम को न्यायमित्र यानी अमाइकस क्यूरी नियुक्त किया. कोर्ट ने कहा कि घायलों और पीड़ितों के पुनर्वास के लिए आश्रयों के साथ-साथ कंबल, दवाइयां, भोजन और स्वच्छता जैसी मूलभूत सुविधाएं भी मुहैया कराई जाए. कोर्ट ने दिल्ली पुलिस से कहा कि वो संबंधित डिस्ट्रिक्ट मजिस्ट्रेट के समक्ष एक अर्जी दाखिल करे और दो हफ्ते के लिए रात में मजिस्ट्रेट नियुक्त करने की मांग करे. पीड़ितों के लिए हो बेहतर व्यवस्था पीड़ितों के सुरक्षित मार्ग के लिए निजी एंबुलेंस उपलब्ध कराए जाएं. स्वास्थ्य और सुविधा के लिए हेल्पलाइन स्थापित हो और जनता में इसका व्यापक प्रचार भी किया जाए. तुषार मेहता ने कहा कि इस मामले में एफआईआर दर्ज करने को लेकर उचित समय पर फैसला लेंगे. अर्जी में जो मांग की गई है, उस पर तुरंत फैसला लेने की अभी जरूरत नहीं है. अभी संबंधित अधिकारियों के जवाब का इंतजार करना होगा. याचिकाकर्ता ने कहा कि ये बेहद गंभीर विषय है, जो कोर्ट के समक्ष आया है. ये चौकाने वाला है कि अभी भी FIR रजिस्ट्रेशन के लिए इंतजार करने के लिए कहा जा रहा है. केंद्र और दिल्ली सरकार के वकील भिड़े केंद्र और दिल्ली सरकार के वकीलों के बीच मतभेद देखने को मिला. दिल्ली पुलिस की तरफ से पेश हो रहे सॉलिसिटर जनरल तुषार मेहता ने कहा कि अभी कोई आदेश न दिया जाए. जबकि दिल्ली सरकार की तरफ से पेश हो रहे वकील राहुल मेहरा ने कहा कि तुरंत गिरफ्तारी का आदेश दिया जाए. दिल्ली सरकार के वकील राहुल मेहरा ने कहा कि इस मामले में तुरंत FIR दर्ज होनी चहिए. वीडियो क्लिप के हिसाब से FIR का मामला बनता है. इस पर कोर्ट ने सॉलिसिटर जनरल से नाराजगी जताते हुए कहा कि आपकी दलीलों से तो लगता है कि कोई एफआईआर दर्ज करने को तैयार नहीं है. इससे पुलिस की स्थिति और खराब होगी. हमारा गुस्सा और नाराजगी के बारे में पुलिस कमिश्नर को बता दीजिए. हम इस मामले में कल गुरुवार को फिर सुनवाई करेंगे. और पढो: आज तक

AIIMS के डॉक्टर दंपति को हुआ कोरोनावायरस, सुबह पति और शाम में आई 9 महीने की प्रेग्नेंट पत्नी की रिपोर्ट



कोरोना की जांच टीम में शामिल महिला डॉक्टरों और टीम पर हमला करने वालों पर रासुका के तहत कार्रवाई करेगी सरकार

गाजियाबाद: आइसोलेशन वार्ड में बिना पैंट घूम रहे तबलीगी जमात के मरीज, DM-SSP से शिकायत



Coronavirus: इंदौर में डॉक्टरों पर हमला करने वालों पर NSA के तहत कार्रवाई

Coronavirus: नई दिल्ली में कोविड पेट्रोलिंग शुरू, लॉकडाउन के नियम तोड़ने वालों की होगी धरपकड़



तबलीगी जमात के कोरोना संदिग्धों ने पार कीं जाहिलियत की हदें, नर्सों के सामने उतारे कपड़े

चौथी पारी में बदले-बदले से शिवराज, कामकाज में दिखाए तेवर; ऑन स्पॉट ले रहे फैसले



mewatisanjoo Girfhtar hona chahiye mewatisanjoo औवेसी और वारिस पठान को अवार्ड दिया जाए। और सोनिया मैडम उसकी बेटीऔर बेटा को पद्म भूषण दिया जाए जिन्होंने जनता का आवाह्न किया कि वो घरों से निकले, विरोध करें mewatisanjoo Tahir Hussen or amatulla jese jihadiyo ke bare me suprim kotthe ne kuch nahi bola mewatisanjoo Baki jo dusre kutte bhok rhe hai wo kya

mewatisanjoo Arrest Congress top leadership also mewatisanjoo Kapil misra ne galat keya boli hai mewatisanjoo DelhiRiots2020 delhivoilence DelhiBurns DelhiHighCourt सख्ती क्यों की? INCIndia Congress mewatisanjoo लगता है आज तक को गोदी मीडिया इतना चुभ रहा है कि वे इतना भी नही देख पा रहे हैं कि भड़काऊ बयान किसने दिया था। हिंदुओं की कब्र खुदेगी, 15 करोड़ बनाम100 करोड़ ये तो शांति संदेश है इनके लिए। आखिर में सत्य की ही जीत होगी हिन्दू सहिष्णु था है और रहेगा। श्री राम ही सत्य रहेगा अनंतकाल तक।

mewatisanjoo तो फिर वारिस पठाण? mewatisanjoo Yes. Arrest them but to be honest, arrest others too. So much evidence is available as to what all has been committed and by whom. Then why only these two? mewatisanjoo जज साहब एक आदेश आज देंगे फिर अगली सुनवाई अगले महीने .....😢

Delhi CAA Clash: दिल्ली में कैसे हुई हिंसा की शुरूआत, जानिए इसके बारे में सब कुछशनिवार रात सैकड़ों महिलाएं जाफराबाद मेट्रो स्टेशन के पास CAA के खिलाफ धरने पर बैठ गईं. धरना प्रदर्शन की वजह से सड़क बाधित हो गई. पुलिस ने प्रदर्शनकारियों से हटने की अपील की, लेकिन वह नहीं माने. जिसके बाद बीजेपी नेता कपिल मिश्रा (Kapil Mishra) ने रोड ब्लॉक किए जाने के खिलाफ एक वीडियो पोस्ट कर CAA समर्थकों से रविवार दोपहर तीन बजे मौजपुर चौक आने को कहा. urban naxali ka janch hona chahiye delhi ko aaj hinsha ki muh pe dhakalne walle PFI SIMI URBAN NAXALI GANG he Blame d orange flags....Arghhhhh those r Carets 😭😭😭😭 जे भूतनी के तू बोल रहा है ऐसी खबरों से ही तो तेरी ये भांड की दुकान चलती है नही तो कुत्ता भी तूने ना पूछे🕵️😎

mewatisanjoo अपने खसम हाजी ताहिर हुसैन के बारे में नहीं लिखोगी। mewatisanjoo आप, मीम, कांग्रेस,वामपंथी नेता जो शाहीन_बाग आए उकसाए उनपर अलगाववादी की कार्यवाही की जाए। हिन्दूमहासभा mewatisanjoo वारिस पठान और उन मौलवियों का क्या Jo खुलेआम देश के संविधान को चुनौती दे रहे हैं हजारों वीडियो है सोशल मीडिया पर जिसमें मौलवी खुलेआम भड़काऊ भाषण दे रहे हैं उनकी किसी ने बात नहीं की, हमारे किसी भी धर्म गुरु ने भड़काऊ भाषण दिया हो तो बता दो कब छोड़ोगे दोगलापन,

mewatisanjoo Aur baki mulle sahi bol rahe they? mewatisanjoo माँग कोई नही दोगले न्यूज़ चैनल कर रहे हैं , KapilMishra_IND ने बस इतना प्रयास किया कि दिल्ली के जाम रास्ते खोले जाए, शाहीन बाग से विभिन्न क्षेत्रों में सड़के अचानक 65 दिनों बाद जैम करने के पीछे मुसलमान का इरादा क्या था ?इस पे एक शब्द कोई दोगला क्यो नही बोलता ?

mewatisanjoo mewatisanjoo Fir waris pathan aur akber uddin owassi jo maulana fatba nikalbatey hai unpe bhi karbai honi chaye ektarfa karbai q hoga hoga to fir dono ke sath ho nahi to kishi ke sath nahi hona chahye fir to kanoon ko andha manna pasand karegi bhartye janta dogli soch hogi kannon ki jai hind.

mewatisanjoo तो मैं भी आजतक को बेन करने की मांग उठाता हूँ mewatisanjoo mewatisanjoo वारिस पठान, ओवैसी, प्रियंका गांधी, अरविंद केजरीवाल, ताहिर हुसैन को भी कटघरे में खड़ा करना चाहिए।

दिल्ली: मौजपुर में जिस शख्स ने की थी 8 राउंड फायरिंग, उसकी हुई पहचानMunishPandeyy ट्रम्प ने आज जिस इस्लामिक आतंकवाद का जिक्र मोटेरा स्टेडियम में किया उसका जीता जागता सबूत दिल्ली में देख सकते हो फिलहाल MunishPandeyy Mulla hi hai MunishPandeyy NRC lagu nahi hua toh aise he fake documents se Hindu ban jayenge sab

mewatisanjoo देश विरोध में मुस्लिम नेताओं के इतने वीडियो हैं किसको गिरफ्तार किया आजतक.. mewatisanjoo AamAadmiParty aur Congress k politicians ki kyo nhi? mewatisanjoo औवैसी, उसका भाई व पठान की गिरफ्तारी पहले हो , पूरे शडयंत्र के तीनों मुखिया है , किसी का ध्यान उन पर क्यों नहु जाता। किसी पता है कितने हिन्दुओं को मार दिया गया ः

mewatisanjoo सबसे पहले सोनिया गांधी, राहुल गांधी और प्रियंका गांधी की गिरफ्तारी होनी चाहिए क्यूंकि दंगों की जिम्मेदार यही है। mewatisanjoo ZeeNewsHindi ZeeNews sudhirchaudhary AmitShahOffice AmitShah HMOIndia VasundharaBJP RamcharanBohra AshokLahotyBJP mewatisanjoo शाहीनबाग खाली कराओ फिर कोर्ट की कार्रवाई आगे चले।भड़काऊ बयान देने की बाते करने वाले इन नारो पर गौर करे हिन्दू तेरी कब्र खुदेगी 100करोड़ पर 15करोड़ भारी फ्री कश्मीर अमातुल्ला खान इमरान हुसैन ओवैसी वारिस औऱ कई vdo जिसमे मुल्ला मौलवी भड़का रहे है।

mewatisanjoo ये हाल है.. दिल्ली पुलिस के वकील का... हंसी आ रही है.. ये कोर्ट को सोशल मीडिया समझ रहे हैं कि जो भी कहेंगे मान लिया जाएगा.. कोई तथ्य नहीं परखेगा... mewatisanjoo शाहीनबाग में जितने लिम्ब्राण्ड दीपिका कन्हया प्रियंका खालिद जो भी वहां गए भड़काऊ बयान दिए उनका भी पोस्टमार्टम होना चाहिए।कोर्ट को संज्ञान लेना चाहिए।

mewatisanjoo Excellent decision by court... Mishra ji ke speech ne shantidooto ko bhadka diya.... Fir unhone Ratanlal Amit Deepak Sameer Ajay. Etc sabko mara.... Apne desh ka cort bhi mast he... Jo kaam karne ka he wo nai karta bas tareekh deta he... Jo nai karne ka........ mewatisanjoo शाहीनबाग खाली कराओ फिर कोर्ट की कार्रवाई आगे चले।भड़काऊ बयान देने की बाते करने वाले इन नारो पर गौर करे हिन्दू तेरी कब्र खुदेगी 100करोड़ पर 15करोड़ भारी फ्री कश्मीर अमातुल्ला खान इमरान हुसैन ओवैसी वारिस औऱ कई vdo जिसमे मुल्ला मौलवी भड़का रहे है।एक्शन लो

दिल्ली में आज हालात सामान्य, सभी मेट्रो स्टेशन खुले, मृतकों की संख्या बढ़कर 17 हुईदिल्ली में आज हालात सामान्य, सभी मेट्रो स्टेशन खुले, मृतकों की संख्या बढ़कर 17 हुई DelhiViolence Delhi Police HMOIndia ArvindKejriwal Rajatdelhi12 DelhiPolice HMOIndia ArvindKejriwal करोड़ो का फ्लैट बेचकर लंगर खिलाया था,और कमाल की बात है जिन्हे खिलाया था, उन्होने ही उन्हे बर्बाद करके पाई पाई का मोहताज बना दिया DelhiPolice HMOIndia ArvindKejriwal Breaking: Scrap market set on fire at Gokul puri by peaceful protesters

mewatisanjoo सबसे पहले.. JNU को बंद कराओ.. सबसे पहले हिंसा वही से शुरू हुई थी.. कपिल मिश्रा तो last मे आयेंगे mewatisanjoo Hindu ko mar dalo aur aatankwadi ko nagrikta do yahi muslman chahta hai. mewatisanjoo कइयों को कुर्सी मिलेगी, कइयों को सत्ता मिलेगी, कइयों को मुआवजा मिलेगा और जो निर्दोष है उनको केवल इस दंगों का दुःख मिलेगा जो उनको जिन्दगी भर सहना पङेगा।

mewatisanjoo बेहस नहीं हकीकत निकाल कर लाओ मिडिया वालो कब तक इन टोपी वालो को बचाते फिरोगे आप सब हिंदू हिंसक नहीं होता उसको मजबुर किया जा रहा हैं। mewatisanjoo Waris pathan,,congress leader kaha gaye..ye sab ki shuruaat unhone hi ki thi mewatisanjoo Wow ... Waris pathan was giving lecture on communal harmony .. MirchiSayema ReallySwara RanaAyyub khanumarfa _sabanaqvi rahatindori munvvar rana are giving love speeches .... Simply WOW ....

mewatisanjoo यदि आप समझते हैं कि आतंकियों ने सिर्फ बंदूके उठाई है तो आप गलत हैं, कुछ ने कलम , कैमरे , और न्यूज एंकरिंग सीट भी उठा रखी है mewatisanjoo सोनिया गांधी राहुल गांधी की भी गिरफ्तारी होनी चाइये उन्होंने ही रामलीला मैदान से ,,आग फैलाई mewatisanjoo सोनिया , राहुल व प्रियंका की भी होनी चाहिए ।। सर्वप्रथम इन्होने ने ही भड़काऊ भाषण दिया था

mewatisanjoo काहे ? जो खूलेआम आग लगा रहे हैं,,,,, भड़का रहे हैं उनपर सब चुप है,,,,,, कपिल जी ने क्या गलत बोला

दिल्ली: 7 लोगों की हुई मौत, CAA पर हिंसा की सबसे DISTURBING फोटो - trending clicks AajTakनागरिकता संशोधन कानून (CAA) का विरोध और समर्थन को लेकर सोमवार को दिल्ली में हिंसा भड़क उठी. उत्तरी पूर्वी दिल्ली में हुई हिंसा में Ye disturbing ha Or jo puri dekhi me ho raha ha vo kya ha,,, jo kisi photo or video me nhi ha,,, Log darr k saye me jee rhe hain 😡😡 इसको दंगा बोलता हैं हिंसक झड़प नहीं दिल्ली में दंगाइयों ने पीटते और घरों में तोडफ़ोड़ करते वक्त General ,OBC, SC ST में कोई भेदभाव नहीं किया।

mewatisanjoo CAA से मुस्लिमों में नागरिकता चली जाने का भय पैदा करना भी क्या भड़काऊ की श्रेणी में आयेगा ? mewatisanjoo kattai nahi ho sakta mewatisanjoo अज्ञात लोगों ने पेट्रोल पंप जलाया अज्ञात लोगों ने पत्थरबाज़ी की अज्ञात, अज्ञात सुनकर पक चुके हैं.. ✒️ NRC लागू करो, अज्ञात लोगों को भगाओ🚩 mewatisanjoo ओर वारिस पठान ओवेसी प्रियंका पप्पू सोनिया अमातुला खान जैसे का क्या 😡😡

mewatisanjoo Sirf 2 Baki Media ne chupya Kyu Paisa nahi mila 😂 mewatisanjoo hardik patel, kafeel par deshdroh lg skta h to nsa k tehet waris pathan q ni arrest ho skta? qki vo bjp ka pilla h owaisi hinduo ko gaali deke polarise krne k paise leta h bjp se mewatisanjoo Where is wasim who is saying just give him 15 minutes

mewatisanjoo अबे माधरचोद 6राउंड फायर करेगा साहरुख आग लगायेगा साहरुख और तूम सब माधरचोद गिरफ्तारी करो कपिल मिश्रा को कहा से लाते जो बे माधरचोद इतनी घटिया सोच mewatisanjoo To varis pathan jese log shanti ka sandesh dete the kya🤔 mewatisanjoo

दिल्ली में तीसरे दिन उपद्रव जारी, ब्रह्मपुरी-मौजपुर में फिर हुई पत्थरबाजी, 45 जगह आगजनीदिल्ली में तीसरे दिन उपद्रव जारी, ब्रह्मपुरी-मौजपुर में फिर हुई पत्थरबाजी, 45 जगह आगजनी की खबर DelhiViolence Delhi Police Delhi Police AmitShah ArvindKejriwal DelhiPolice AmitShah ArvindKejriwal जलने दो और मरने दो, साले विधर्मियो को... भुखमंगो को फ्री का चाहिए था...थोड़ी अक्ल होती कि जब जान ही नहीं बचेगी तो फ्री का क्या करेंगे? अब दिल्ली वालो को इनकी हालत पर छोड़ दो ArvindKejriwal msisodia DelhiPolice AmitShah ArvindKejriwal पुलिस फेल गृहमंत्री जी सोए है क्या 🤔🙄 DelhiPolice AmitShah ArvindKejriwal Goli marne ka adesh kb jari hoga

mewatisanjoo प्रियंका और राहुल कि गिरफ्तारी भी होनी चाहिए। ये सब उन्होंने ही शुरू करवाया है। mewatisanjoo अमित शाह जी का इस्तीफा भी जरूरी mewatisanjoo जितने भी व्यक्ति है भड़काऊ भाषण दे रहे हैं जल्द से जल्द गिरफ्तार करना चाहिए

दिल्ली में दूसरा 1984 नहीं होने देंगे, हिंसा पर दिल्ली हाईकोर्ट की तल्ख टिप्पणीदिल्ली में दोबारा नहीं होने देंगे 1984, हिंसा पर दिल्ली हाईकोर्ट की तल्ख टिप्पणी DelhiViolence DelhiHighCourt HMOIndia HMOIndia SC is partly responsible for this. HMOIndia Illegal protest like shahin bagh must be stopped all over the country HMOIndia M..high cost vs hbbn Delhi nny ..mhds v.ip.uo indhgr to cantrol inpuelo steiuhy in..law to nnn.ccgccxgr nn..Hinhdd moret your s xx,x,nh wortd to ptgggr law,2+..!!!!8080..inchgd sprebb.in40..idr .mmh crtegyguh mm.nh.india..



कोरोना संकट के बीच कल सुबह 9 बजे देश को फिर संबोधित करेंगे PM मोदी

कोरोना वायरस: निज़ामुद्दीन मरकज़ के मरीज़ों की बाढ़ से कैसे निपटेगी दिल्ली

कोरोना संकट: मोदी सरकार नहीं बच सकती इन सवालों से

'अनियोजित लॉकडाउन' पर भड़कीं सोनिया, कहा- दुनिया के किसी देश ने ऐसा नहीं किया

तबलीग़ी जमात: पूछताछ करने गई पुलिस पर हमला

मरकज से क्वारैंटाइन सेंटर लाए गए लोगों ने डॉक्टरों और स्टाफ पर थूका, गालियां दीं; एक ने खुदकुशी की कोशिश की

दाढ़ी ट्रिम करवा कर नए लुक में दिखे उमर अब्दुल्ला, JK डोमिसाइल नीति पर उठाए सवाल

टिप्पणी लिखें

Thank you for your comment.
Please try again later.

ताज़ा खबर

समाचार

26 फरवरी 2020, बुधवार समाचार

पिछली खबर

दिल्ली हाईकोर्ट की पुलिस को फटकार, कपिल मिश्रा के वीडियो पर मांगा जवाब

अगली खबर

IPL से पहले ऑस्ट्रेलियाई ऑलराउंडर ग्लेन मैक्सवेल ने की सगाई, भारतीय गर्लफ्रेंड को पहनाई अंगूठी
AIIMS के डॉक्टर दंपति को हुआ कोरोनावायरस, सुबह पति और शाम में आई 9 महीने की प्रेग्नेंट पत्नी की रिपोर्ट कोरोना की जांच टीम में शामिल महिला डॉक्टरों और टीम पर हमला करने वालों पर रासुका के तहत कार्रवाई करेगी सरकार गाजियाबाद: आइसोलेशन वार्ड में बिना पैंट घूम रहे तबलीगी जमात के मरीज, DM-SSP से शिकायत Coronavirus: इंदौर में डॉक्टरों पर हमला करने वालों पर NSA के तहत कार्रवाई Coronavirus: नई दिल्ली में कोविड पेट्रोलिंग शुरू, लॉकडाउन के नियम तोड़ने वालों की होगी धरपकड़ तबलीगी जमात के कोरोना संदिग्धों ने पार कीं जाहिलियत की हदें, नर्सों के सामने उतारे कपड़े चौथी पारी में बदले-बदले से शिवराज, कामकाज में दिखाए तेवर; ऑन स्पॉट ले रहे फैसले Ramayana: दूरदर्शन ने रामनवमी के दिन दिखाया दशरथ निधन का एपीसोड, करोड़ों दर्शकों को हुई निराशा केजरीवाल का ऐलान- पब्लिक सर्विस वाहन चलाने वालों को मिलेंगे 5 हजार रुपये कोरोना के तीसरे फेज में पहुंचने की आशंका गहराई, ICMR कल जारी करेगी नई गाइडलाइंस तबलीगी जमात के 960 विदेशी सदस्यों का वीजा कैंसिल, क्वॉरंटीन में रखे गए करीब 9000 लोग महाराष्ट्र को केंद्र सरकार से मिली बड़े पैमाने पर कोरोना वायरस टेस्ट करने की मंजूरी, देश में मिले सबसे ज्‍यादा केस
कोरोना संकट के बीच कल सुबह 9 बजे देश को फिर संबोधित करेंगे PM मोदी कोरोना वायरस: निज़ामुद्दीन मरकज़ के मरीज़ों की बाढ़ से कैसे निपटेगी दिल्ली कोरोना संकट: मोदी सरकार नहीं बच सकती इन सवालों से 'अनियोजित लॉकडाउन' पर भड़कीं सोनिया, कहा- दुनिया के किसी देश ने ऐसा नहीं किया तबलीग़ी जमात: पूछताछ करने गई पुलिस पर हमला मरकज से क्वारैंटाइन सेंटर लाए गए लोगों ने डॉक्टरों और स्टाफ पर थूका, गालियां दीं; एक ने खुदकुशी की कोशिश की दाढ़ी ट्रिम करवा कर नए लुक में दिखे उमर अब्दुल्ला, JK डोमिसाइल नीति पर उठाए सवाल कोरोना वायरस: तबलीग़ी जमात, पुलिस, दिल्ली सरकार और केंद्र पर उठते सवाल एक छत पर समूह में नमाज पढ़ रहे लोगों का Video आया सामने, नोएडा पुलिस ने किया 11 लोगों के खिलाफ केस दर्ज कोरोना वायरस: 10 दिन ठेला चलाकर दिल्ली से बिहार पहुंचने वाला शख़्स इंदौर : PM मोदी की हिदायत के बावजूद COVID-19 की स्क्रीनिंग करने गए स्वास्थ्य योद्धाओं को दौड़ाकर मारा, देंखे VIDEO तबलीगी जमात का मौलाना अरशद मदनी ने किया बचाव, कहा- मरकज ने कोई गलती नहीं की