Captainamrindersingh, सिद्धू Vs कैप्टन, पंजाब राजनीतिक संकट, कैप्टन सरकार का कामकाज, कैप्टन अमरिंदर का इस्तीफा, Sidhu Vs Captain, Sidhu Vs Amrinder Singh, Punjab Congress Crisis, Captain Amrinder Singh Government, Captain Amrinder Resigns, Chandigarh News, Chandigarh News İn Hindi, Latest Chandigarh News, Chandigarh Headlines, चंडीगढ़ Samachar

Captainamrindersingh, सिद्धू Vs कैप्टन

Captain Amrinder Resigns: सिर्फ विधायक ही नहीं जनता भी कैप्टन अमरिंदर सिंह से कुछ खास खुश नहीं, आंकड़े तो यही कहते हैं

सिर्फ विधायक ही नहीं जनता भी कैप्टन से कुछ खास खुश नहीं, आंकड़े तो यही कहते हैं #CaptainAmrinderSingh

19-09-2021 04:59:00

सिर्फ विधायक ही नहीं जनता भी कैप्टन से कुछ खास खुश नहीं, आंकड़े तो यही कहते हैं CaptainAmrinderSingh

Punjab Congress Crisis : लोकल सर्कल ने पिछले 2 हफ्तों में अमरिंदर सिंह की अगुआई वाली पंजाब सरकार के 4.5 साल के कार्यकाल का विस्तार से अध्ययन किया है। बाकी राज्यों की तरह पंजाब सरकार के लिए भी पिछले 1.5 साल का समय उतार-चढ़ाव से भरे रहे हैं।

पंजाब में विधानसभा चुनाव के लिए अब 5 महीने से भी कम का समय बचा है। इस बीच कैप्टन अमरिंदर सिंह ने मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा दे दिया। राज्य के 50 से अधिक पार्टी विधायकों ने अमरिंदर को हटाने की मांग की थी। कैप्टन के इस्तीफे के बाद अब कांग्रेस पार्टी में नए सीएम की तलाश शुरू हो गई है। हालांकि जानकारों का मानना है कि पंजाब कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष रहे सुनील जाखड़ को पंजाब का नया सीएम बनाया जा सकता है। जाखड़ कांग्रेस का हिन्दू चेहरा हैं जो जाट समुदाय से ताल्लुक रखते हैं। ऐसा नहीं है कि पंजाब में कैप्टन से सिर्फ विधायक ही नाराज चल रहे थे, अगर आम लोगों की राय देखेंगे तो पता चलेगा कि वे भी कैप्टन सरकार के कामकाज के कुछ खास खुश नहीं थे।

आर्यन खान केस में ट्विस्ट: एक गवाह का दावा- '18 करोड़ में तय हुई थी डील', NCB का इनकार इमरान ख़ान दिल्ली में जलसा करें तो मोदी से बड़ा जलसा होगा: पाकिस्तानी मंत्री - BBC News हिंदी सऊदी अरब के क्राऊन प्रिंस का यह लक्ष्य क्या भारत के बिना पूरा होगा? - BBC News हिंदी

लोकल सर्कल ने पिछले 2 हफ्तों में अमरिंदर सिंह की अगुआई वाली पंजाब सरकार के 4.5 साल के कार्यकाल का विस्तार से अध्ययन किया है। बाकी राज्यों की तरह पंजाब सरकार के लिए भी पिछले 1.5 साल का समय उतार-चढ़ाव से भरे रहे हैं। खासकर कोविड महामारी और उसके बाद लॉकडाउन की वजहों से। सरकार ने कुछ साहसिक कदम उठाए। इनमें कुछ की अन्य राजनीतिक दलों ने काफी आलोचना की। देश के अहम कम्युनिटी सोशल मीडिया प्लैटफॉर्म लोकल सर्कल के जरिए पंजाब के लोगों ने राज्य सरकार के कामकाज के 12 प्रमुख क्षेत्रों को देखा। पिछले 4.5 वर्षों में अमरिंदर सिंह सरकार के प्रदर्शन का आकलन किया। यह रिपोर्ट बताती है कि पंजाब के लोगों ने पिछले 4.5 वर्षों में अमरिंदर सिंह के नेतृत्व वाली पंजाब सरकार के प्रदर्शन का मूल्यांकन कैसे किया है। पंजाब के 18 जिलों में 4000 से अधिक खास निवासियों से 15,000 से ज्यादा प्रतिक्रियाएं मिलीं। इनमें 69% पुरुष और 31 % महिलाएं थीं।

Punjab Congress Crisis: 'सोनिया जी ने कहा-आई एम सॉरी अमरिंदर', कैप्टन ने बताया कि फोन पर क्या हुई बातकेवल 7% ने माना भ्रष्टाचार में कमी आईपंजाब विभिन्न स्तरों पर हो रहे भ्रष्टाचार और भाई-भतीजावाद से अछूता नहीं है। पिछले कुछ वर्षों में विपक्ष ने राज्य के शीर्ष मंत्रियों के खिलाफ भ्रष्टाचार के आरोपों पर जोरदार हमला बोला है। जब लोगों से पूछा गया कि क्या पिछले 4.5 वर्षों में राज्य में भ्रष्टाचार कम हुआ है। तो सिर्फ 7% ने कहा कि 'काफी कमी' हुई है। अधिकांश 57% लोगों ने कहा कि इसमें कोई कमी नहीं हुई है। headtopics.com

सुखबीर सिंह बादल बोले-अमरिंदर का इस्तीफा पंजाब में कांग्रेस के प्रदर्शन में नाकामी की तस्दीक22% का कहा कि कानून-व्यवस्था में सुधार हुआहाल ही में अमृतसर में हथियारों और विस्फोटकों का पता चला। इससे विपक्ष को पंजाब में बिगड़ती कानून व्यवस्था की स्थिति पर सवाल उठाए। वहीं, सर्वे में पंजाब के 11% लोगों ने भी कि पिछले 4.5 वर्षों में कानून-व्यवस्था में महत्वपूर्ण सुधार हुआ है। 11% का कहना है कि 'कुछ सुधार' हुआ है। इसी तरह ईज ऑफ डूइंग बिजनेस को लेकर बस 9 फीसदी ने माना कि काफी सुधार हुआ, जबकि 36 फीसदी ने कहा कि हालात बदतर हुए हैं। सांप्रदायिक सौहार्द्र के मोर्चे पर 34 फीसदी ने सरकार को अच्छी रेटिंग दी, जबकि 7 फीसदी ने ही कहा कि स्थिति खराब हुई है।

Captain Amarinder Singh: पंजाब में कांग्रेस को सत्ता में वापस लाने से लेकर कुर्सी छोड़ने तक, पढ़ें कैप्‍टन अमरिंदर का पूरा सफरनामापार्टी के विधायकों ने ही अमरिंदर को घेरापंजाब में बेअदबी की घटनाएं न तो बादल सरकार में बंद हुई और न ही अमरिंदर सरकार में। अमरिंदर द्वारा बरगाड़ी कांड के आरोपियों पर कार्रवाई नहीं करने और बार-बार जांच कमिटियों का गठन करने को लेकर कांग्रेस के कई विधायक-मंत्री लंबे समय से उन्हें घेर रहे हैं। पंजाब में पिछले चुनाव के दौरान खनन का मुद्दा अहम रहा है। अकालियों को इस मुद्दे पर घेरने वाले अमरिंदर भी खनन से मुक्ति नहीं दिला सके। अलबत्ता पिछले साढ़े चार साल के दौरान अमरिंदर गुट के कई विधायकों पर भी अवैध खनन के आरोप लगते रहे हैं।

क्‍या कैप्‍टन पर नहीं रह गया था भरोसा? इस्‍तीफा देने के बाद छलका अमर‍िंदर का दर्दअफसरों से ज्यादा नजदीकी कैप्टन को पड़ी भारी और पढो: NBT Hindi News »

Kashmir दौर के पहले दिन गृहमंत्री Amit Shah ने क्या-क्या किया? खबरदार में देखें विश्लेषण

जम्मू-कश्मीर दौरे के आज पहले दिन गृहमंत्री अमित शाह ने एक ही संबोधन में सरकार और देश के विरोधियों को कड़ा संदेश दे दिया. उन्होंने साफ कर दिया कि सरकार कश्मीर के लोगों के लिए सोच रही है. अपने राजनीतिक विरोधियों को उन्होंने बता दिया कि 370 हटाया जाना जम्मू कश्मीर के विकास के लिए जरूरी था. उन्होंने देश के दुश्मनों को भी बता दिया कि आतंकी घटनाओं से भारत डरने वाला नहीं है और आतंक की हर नई चुनौती को वो अपने अंदाज में जवाब देगा और करार जवाब देगा. अमित शाह अपने इस दौरे में सबसे पहले शहीद परवेज़ अहमद के घर गए और उनके परिवार को सांत्वना दी. उनके इस कदम की सराहना हर वो परिवार कर रहा है, जिसका कोई अपना देश की सुरक्षा के लिए सीमाओं पर तैनात है. ये कदम एक संदेश है कि देश सबसे पहले अपने सीमा रक्षकों की परवाह करता है. देखिए खबरदार का ये एपिसोड.

This memo from 10 janpath.. once outside of 10 janpath umbrella... Congress support media will hit him... Yesterday Rajdeep also explaining same thing ...' AmarinderSinghResign

मुंबई मेट्रो: उद्धव ठाकरे के बयान से भाजपा-शिवसेना के साथ आने के कयास तेजमहाविकास आघाड़ी सरकार को बने दो साल होने को आ रहे हैं. पर शायद ही कोई महीना ऐसा बीतता हो जब शिवसेना और बीजेपी के साथ आने की अटकलें ना लगी हों. आज तो खुद मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के बयान ने फिर से इन अटकलों को जिंदा कर दिया. ठाकरे ने कहा- मेरे पूर्व मित्र और यदि हम फिर से एक साथ आते हैं, तो भविष्य के मित्र हो सकते हैं. ठाकरे ने यह बात औरंगाबाद में आयोजित एक सार्वजनिक समारोह में कहा है. देखें वीडियो. BJP should never join hands with S. S.

सिर्फ माला पहनाने से ही शादी नहीं होती, सात फेरे लेना भी जरुरी: कोर्टमध्य प्रदेश हाई कोर्ट की ग्वालियर खंडपीठ ने आर्य समाज मंदिर में शादी के बाद सुरक्षा मांगने की याचिका खारिज कर दी. कोर्ट ने कहा- अग्नि के 7 फेरे लेने और विधि-विधान पूरा करने के बाद ही एक विवाह वैध माना जाता है. ReporterRavish Kya Dalal Anchors ko har mahine ke Dalali ka jo payment dena hai wo paisa bhi Sarkaar PETROL aur DIESEL ke jariye Janta se vasool kar rahi hai AMISHDEVGAN DChaurasia2312 anjanaomkashyap RubikaLiyaquat sudhirchaudhary RajatSharmaLive navikakumar rahulkanwal Arnab ReporterRavish Agar shadi ki bhavna se mala pahnai jae ya sindur bhara jae wo bhi vivah hi hota hai. Jab vivah ka vada karke sambandh banana balatkar hai to mala ya sindoor to poorna vivah hua hi. ReporterRavish Bilkul Sanatan dharma yahi kahata hai jai shree ram

अपनी सैलरी से निजी जरूरतें पूरी करते हैं मोदी, PMO से नहीं लेते एक रुपयाप्रधानमंत्री मोदी 71 साल के हो गए हैं। प्रधानमंत्री होने के बावजूद वह अपने निजी खर्च खुद की सैलरी से ही करते हैं। हालांकि किसी प्रधानमंत्री को कुछ खर्च के लिए पीएमओ से फंड भी दिया जाता है। लेकिन पीएम मोदी इस फंड से एक रुपया नहीं लेते।

कोरोना से बचाव के लिए हुआ नया अध्ययन- गंभीर संक्रमण से बचा सकता है विटामिन-डीकोरोना के गंभीर संक्रमण से बचा सकता है विटामिन- डी। कोरोना वायरस (कोविड-19) से बचाव को लेकर एक नया अध्ययन किया गया है। इसमें कोरोना के गंभीर संक्रमण की रोकथाम में विटामिन डी की भूमिका पाई गई है। शिक्षक_ट्रांसफर_पोर्टल_चालू_करो CMMadhyaPradesh वर्षों से हमारा ट्रांसफर नहीं होने के पीछे कारण सिर्फ इतना है कि हमारी कोई राजनीतिक पहचान नहींहै हमें कहां पता था कि ट्रांसफर करवाने के लिए भी मंत्री जी से पहचान होना जरुरी होताहै (मध्यप्रदेश की भेदभाव पूर्ण शिक्षक ट्रांसफर नीति)

ग्रे लाइन के एक्सटेंशन से नजफगढ़ के अंदर के हिस्सों में पहुंची मेट्रो, कल से लोगों के लिए होगी शुरूबाहरी दिल्ली के नजफगढ़ इलाके में मेट्रो की ग्रे लाइन पर बना नया ढांसा बस स्टैंड मेट्रो स्टेशन शनिवार से यात्रियों की आवाजाही के लिए खुल जाएगा। दोपहर 12:30 बजे उद्‌घाटन होगा। इसके बाद शाम 5 बजे से स्टेशन को यात्रियों के लिए शुरू कर दिया जाएगा।

पीएम मोदी गोवा के हेल्थकेयर वर्कर्स और कोविड वैक्सीन के लाभार्थियों से कर रहे बातचीतप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी गोवा के हेल्थकेयर वर्कर्स और कोविड वैक्सीन के लाभार्थियों से वीडियो कान्फ्रेंसिंग के जरिए बातचीत कर रहे हैं। गोवा के मुख्यमंत्री प्रमोद सावंत ने कहा कि हमने कोविड वैक्सीन की पहली डोज़ को 100 प्रतिशत पूरा कर दिया है। सीधा प्रसारण करेंगी। narendramodi फ़क़ीरमिया ने काफी पहले अपनी नाकामयाबी कुबूल किया उस वक्त$= 60₹ था आज 74 है इसकी आबरू कितनी गिरी वो समझने की बात है और आगे कितनी गिराएगा उसका पता उसको खुद को भी नही है narendramodi भाईओ और बहेनो वोह दुनिया भर की फेंके फेकता है मगर आसमान छूती महँगाई के बारे में कुछ बोलता ही नही चुनाव के वक्त वोट देने पर याद रखे साथ मे भी यह जरूर याद रखे कोरोना काल में हरेक को अपने हाल पर छोड़कर यह अपने आपको सुरक्षित रखने झोला उठाकर अंडर ग्राउंड हो गया था....