कोरोना से मौत, कोरोना वायरस, Death Due To Coronavirus, Coronavirus İn Up, Corona Cases İn İndia, Others News, Others News İn Hindi, Latest Others News, Others Headlines, अन्य Samachar

कोरोना से मौत, कोरोना वायरस

Coronavirus in UP: बुखार, सांस लेने में तकलीफ... 24 घंटे के अंदर तीन भाइयों ने एक-एक कर तोड़ा दम, कोरोना रिपोर्ट आई थी निगेटिव

बुखार, सांस लेने में तकलीफ... 24 घंटे के अंदर तीन भाइयों ने एक-एक कर तोड़ा दम, कोरोना रिपोर्ट आई थी निगेटिव via @NavbharatTimes

18-04-2021 11:12:00

बुखार, सांस लेने में तकलीफ... 24 घंटे के अंदर तीन भाइयों ने एक-एक कर तोड़ा दम, कोरोना रिपोर्ट आई थी निगेटिव via NavbharatTimes

अन्य न्यूज़: लखीमपुर खीरी में एक ही परिवार के तीन भाइयों की मौत हो जाने से हड़कंप मच गया। तीनों भाई पिछले 1 सप्ताह से बुखार से पीड़ित थे। उन्हें सांस लेने में तकलीफ हुई और 24 घंटे के अंदर ही एक-एक कर उन्होंने दम तोड़ दिया।

Subscribeलखीमपुर खीरी में एक ही परिवार के तीन भाइयों की मौत हो जाने से हड़कंप मच गया। तीनों भाई पिछले 1 सप्ताह से बुखार से पीड़ित थे। उन्हें सांस लेने में तकलीफ हुई और 24 घंटे के अंदर ही एक-एक कर उन्होंने दम तोड़ दिया।कोरोना से जिंदगी की जंग हार गए लेकिन दे गए बड़ी सीख...झकझोर देगा यह आखिरी पैगाम

Kohli, Dhoni और Ganguly में तुलना क‍रना क‍ितना सही? व‍िक्रांत गुप्ता ने बताया Lucknow Rain: चंद घंटों की बारिश में शहर में सैलाब सा नजारा! देखें क्या हैं हालात सोनू सूद से हर्ष मंदर तक- इन कार्रवाइयों का क्या मतलब है?

Subscribeहाइलाइट्स:यूपी के लखीमपुर खीरी में तीन सगे भाइयों की मौत से हड़कंपसांस लेने में तकलीफ हुई और 24 घंटे के अंदर तीनों की मौतएक सप्ताह से बुखार पीड़ित थे तीनों, कोरोना रिपोर्ट भी निगेटिवलखीमपुर खीरीउत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी में एक ही परिवार के तीन भाइयों की मौत हो जाने से हड़कंप मच गया। तीनों भाई पिछले 1 सप्ताह से बुखार से पीड़ित थे। उन्हें सांस लेने में तकलीफ हुई और 24 घंटे के अंदर ही एक-एक कर उन्होंने दम तोड़ दिया। पूरे परिवार को आइसोलेट करने के साथ ही इलाके को सील कर दिया गया है।

डॉक्टर्स ने बताया कि तीनों भाइयों की उम्र 53, 50 और 45 साल की थी। उन्हें न्यूमोनिया की शिकायत थी और सभी की हालत तेजी से बिगड़ती चली गई। उन्होंने सांस लेने में तकलीफ होने का जिक्र किया और फिर 24 घंटे के दौरान ही सबकी मौत हो गई। सबसे बड़े भाई की मौत घर पर हुई, जबकि बाकी दोनों भाइयों ने अस्पताल में अंतिम सांस लिया। headtopics.com

कोरोना रिपोर्ट आई थी निगेटिवप्राप्त जानकारी के अनुसार बिजनेस करने वाले इन भाइयों की कोविड रिपोर्ट निगेटिव आई थी। लखीमपुर खीरी के CMO मनोज अग्रवाल ने कहा, 'शुरुआती जांच कोविड से मौत की तरफ इशारा नहीं कर रहे हैं। हमें आगे और रिपोर्ट का इंतजार है। पिछले 24 घंटे में जिले में कोरोना से केवल दो लोगों की मौत हुई है।'

जाकर मर जाओ ना...कोविड हेल्पलाइन कर्मी का जवाब, लखनऊ में संवेदनाओं की जली 'चिता'वहीं प्राइवेट हॉस्पिटल में दो भाइयों का इलाज करने वाले डॉक्टर ने बताया, 'जब उन्हें हॉस्पिटल में लाया गया तो हालत गंभीर थी। हमने फौरन उन्हें ऑक्सिजन सपॉर्ट पर रखा। एक हफ्ते से उनकी तबीयत खराब थी और वे घरेलू उपचार के साथ ही अपना काम कर रहे थे। हमारी यही सलाह है कि तबीयत खराब होने पर उचित इलाज कराएं।'

सांकेतिक तस्वीरNavbharat Times News App: और पढो: NBT Hindi News »

एज-गैप का फंडा: पार्टनर्स के बीच उम्र का फर्क सेक्शुअल रिलेशनशिप को कैसे बिगाड़ता है, जानें एक्सपर्ट की राय

जिन कपल्स के बीच 5 साल का एज-गैप है, उनके अलग होने की संभावना 18%,पुरुष आमतौर पर उम्र में अपने से छोटी महिलाओं को पसंद करते हैं, और महिलाएं खुद से उम्र में बड़े पुरुषों को। | पुरुष आमतौर पर उम्र में अपने से छोटी महिलाओं को पसंद करते हैं, और महिलाएं खुद से उम्र में बड़े पुरुषों को।

NBT Bhagwan itna Dukh Kisi ko bhi Na dho plz don't publish news like that..... आदमी तन से नही मन से मर जायेगा। क्या हो रहा है Yaar aesi khabre mat chalo aadmi aesi khbre dekhkar hi mentally haar jata hai

दिल्ली के एक अस्पताल में 80 से ज्यादा स्टाफ कोरोना संक्रमित, एक डॉक्टर की मौतदिल्ली के सरोज सुपर स्पेशिलिटी अस्पताल के करीब 80 स्वास्थ्य कर्मी की कोरोना रिपोर्ट पॉजिटिव आ चुकी है. जबकि एक डॉक्टर एके रावत का शनिवार का निधन हो चुका है. उन्होंने कोरोना रोधी टीके की डोज भी ली थी. वह 58 साल के थे. अस्पताल की चीफ मेडिकल ऑफिसर डॉ पीके भारद्वाज ने एनडीटीवी को बताया कि अप्रैल से मई महीने के बीच करीब 80 मेडिकल स्टाफ की रिपोर्ट पॉजिटिव आ चुकी है. Sir I want to help shardha who is suffering in Hydearbad with 2000 rs main itna hi kar skta hun pls share her account number Mere known me bohot log hai.. Jinko dono lagne ke 2 machine baad mar gaye इस महान लापारवाही के लिए सरकार को श्री केजरीवाल को पद्मा पुरस्कार से सम्मानित करना चाहिए। साथ ही सभी टीवी चैनलों को केजरीवाल से प्रश्न न पुछने के लिए जनता चंदा इकट्ठा कर पत्रकारिता को आर्थिक सहयोग प्रदान करें।

पुणे में कोरोना से एक ही परिवार के 4 सदस्यों की 15 दिनों में मौतमहाराष्ट्र में कोरोना महामारी की मौजूदा लहर कितनी घातक है, इसमें अपनों को खोने का दर्द क्या है ये कोई अरुण गायकवाड़ से पूछे. गायकवाड़ ने 15 दिन में कोरोना संक्रमण की वजह से अपने परिवार के चार सदस्यों को खो दिया.

बिहार के बक्सर के बाद अब यूपी के गाजीपुर में नदी में तैरते दिखे शवबिहार के बक्सर के बाद अब उत्तर प्रदेश के गाजीपुर में गंगा के किनारे शव नजर आए. मंगलवार को गाजीपुर के गंगा तट पर कुछ शव दिखाए दिए. गाजीपुर और बक्सर के बीच करीब 55 किलोमीटर की दूरी है. बक्सर में सोमवार को करीब 100 शव पानी में तैरते हुए दिखाई दिए थे. इन लाशों को देखने के बाद बिहार के अधिकारियों ने तर्क दिया था कि यह उत्तर प्रदेश से आई हैं. अधिकारियों के अनुसार बिहार में शवों को पानी में डालने की परंपरा नहीं है. देश के हालात खराब कर दिए मोदी सरकार ने bycotmodgoverment मैली होती गंगा, रोती हुई जनता, मौत के सौदागर और तमाशेबाज प्रधान लाशों पर महल बनाने में व्यस्त! गंगा_मे_बहतीं_लाशें मोदी_है_तो_मातम_है मोदीजी_इस्तीफा_दो

ओडिशा: साप्ताहिक बाजार में लस्सी पीने से एक ही गांव के 100 से ज्यादा लोग बीमारओडिशा: साप्ताहिक बाजार में लस्सी पीने से एक ही गांव के 100 से ज्यादा लोग बीमार Odisha Lassi KurtiVillage ill Malkangiri मनहुसो तो कोई अच्छी खबर भी सुना दो सर विचार करें ' जानिये करोना काल में अपने विधायक को '

कोरोना संकट: एनसीपी ने कहा, महामारी से निपटने के लिए हो 'एक देश-एक नीति'कोरोना संकट: एनसीपी ने कहा, महामारी से निपटने के लिए हो 'एक देश-एक नीति' LadengeCoronaSe Coronavirus Covid19 CoronaVaccine OxygenCrisis OxygenShortage PMOIndia MoHFW_INDIA ICMRDELHI PMOIndia MoHFW_INDIA ICMRDELHI एनसीपी का बयान स्वागत योग्य है!

कानपुर: खराब सिलेंडर में ऑक्सीजन भरना पड़ा भारी, सिलेंडर फटने से एक की मौत-एक घायलदेशभर में कोरोना के मरीज़ों को ऑक्सीजन की काफी जरूरत पड़ रही है. ऑक्सीजन की कमी के चलते कई लोग सांसों से जूझ रहे हैं, जबकि कई लोग ऑक्सीजन न मिलने पर दम तोड़ चुके हैं. आक्सीजन की कमी को लेकर हर तरफ हाहाकार मचा हुआ है. तो वहीं कुछ लोग इस मुश्किल दौर में अपना मुनाफा करने के चक्कर में लोगों की जान के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं. जानकारी के मुताबिक, ज्यादा मुनाफा कमाने के चक्कर में कुछ सिलेंडर कारोबारी खराब सिलेंडर का इस्तेमाल कर रहे हैं, जिससे जान का खतरा बड़ गया है. navy_chancedo Ab uske liye kon jimmedar yogi ji ModiResign FarmLaws_NextPandemic