बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया, बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया रिलीज़, बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया लॉन्च, बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया लॉन्च डेट, Battlegrounds Mobile İndia, Battlegrounds Mobile İndia Ban, Battlegrounds Mobile İndia Launch Date

बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया, बैटलग्राउंड मोबाइल इंडिया रिलीज़

Battlegrounds Mobile India के ऊपर फिर से मुसीबत के बादल, मंत्रालय को लिखा गया पत्र

Battlegrounds Mobile India के ऊपर फिर से मुसीबत के बादल, मंत्रालय को लिखा गया पत्र

08-06-2021 10:13:00

Battlegrounds Mobile India के ऊपर फिर से मुसीबत के बादल, मंत्रालय को लिखा गया पत्र

पिछले महीने के आखिर में, Battlegrounds Mobile India को लेकर अरुणाचल प्रदेश विधान सभा के सदस्य निनॉन्ग एरिंग (Ninong Ering) ने भी प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को एक पत्र लिखा था।

,अपडेटेड: 8 जून 2021 12:43 ISTBattlegrounds Mobile India को Google Play Store पर प्री-रजिस्टर किया जा सकता हैख़ास बातेंBattlegrounds Mobile India के नाम से आएगा PUBG Mobile IndiaBJP MLA ने IT मंत्री रवि शंकर प्रसाद को लिखा पत्रकुछ मुद्दों पर गंभीरता से विचार करने का अनुरोध किया

भारत को ओलंपिक सेमी फ़ाइनल में अपने दम पर हराने वाले खिलाड़ी कौन हैं? - BBC News हिंदी दिल्ली में विधायकों की सैलरी में बंपर बढ़ोतरी, 54 की जगह 90 हजार करने का प्रस्ताव अमेरिका के पूर्व राजनयिक का दावा- भारत 2030 तक दुनिया के हर क्षेत्र में होगा आगे

सैंकड़ों मुश्किलों से गुज़र के Battlegrounds Mobile India घोषित हुआ था और अब, जब लॉन्च  की तारीख नज़दीक है, तो खबर आई कि गेम के डेवलपर KRAFTON को भारत सरकार के अधिकारियों द्वारा जांच का सामना करना पड़ रहा है। घोषणा के बाद हाल ही में अरुणाचल प्रदेश विधान सभा के सदस्य निनॉन्ग एरिंग (Ninong Ering) ने प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) को एक पत्र लिखा था, जिसमें उन्होंने गेम को बैन करने की मांग की थी। अब, भारतीय संसद सदस्य अरविंद धरमपुरी (Arvind Dharampuri) ने बैटलग्राउंड्स मोबाइल इंडिया के रिलीज़ को लेकर MeitY(इलेक्ट्रॉनिकी और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय) को पत्र लिख दिया है।

ZeeNews ने अपनीरिपोर्टमें भारतीय संसद सदस्य अरविंद धरमपुरी द्वारा Battlegrounds Mobile India को लेकर आईटी मंत्री रवि शंकर प्रसाद (Ravi Shankar Prasad) को लिखे पत्र को साझा किया है। पिछले हफ्ते के आखिर में भेजे गए इस पत्र में धरमपुरी ने गेम को बैन करने की मांग तो नहीं की, लेकिन उन्होंने कुछ मुद्दों की ओर इशारा किया है। दरअसल एक सामाजिक कार्यकर्ता साई कुमार (Sai Kumar) ने धरमपुरी को बैटलग्राउंड्स मोबाइल इंडिया को लेकर कुछ समस्याएं बताई, जिसे उन्होंने पत्र के जरिए मंत्रालय तक पहुंचाया है। धरमपुरी का कहना है कि ये मुद्दे काफी गंभीर है और सरकार को इनपर विचार करना चाहिए। headtopics.com

नए गेम के बारे में साई कुमार द्वारा बताया गया है कि जहां एक ओर KRAFTON द्वारा सभी डेटा को केवल भारत और सिंगापुर में संग्रहीत करने का वादा किया गया है, वहीं कंपनी अंतरराष्ट्रीय डेटा ट्रांसफर की भी अनुमति देगा। इसके अलावा, गेम की टर्म्स ऑफ सर्विस भी दक्षिण कोरिया के कानूनों द्वारा कंट्रोल की जाएंगी, जहां Krafton Inc. आधारित है। इतना ही नहीं, धरमपुरी ने केंद्रीय मंत्री से सुरक्षा चिंताओं को लेकर क्राफ्टॉन के निवेश और चीनी गेम कंपनी Tencent के साथ समझौतों पर बारीकी से विचार करने को भी कहा।

पिछले महीने के आखिर में, Battlegrounds Mobile India को लेकर अरुणाचल प्रदेश विधान सभा के सदस्य निनॉन्ग एरिंग (Ninong Ering) ने भी प्रधान मंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) कोएक पत्र लिखाथा। हालांकि इस पत्र में गेम को बैन करने की मांग की गई थी। उनका कहना था कि इस गेम का उद्देश्य सरकार और नागरिकों को धोखा देना है और इसे देश में प्रतिबंधित किया जाना चाहिए। उन्होंने आरोप लगाया था कि नया गेम लॉन्च कर गेम डेवलपर KRAFTON भारतीय कानूनों को दरकिनार कर रहा है।

और पढो: NDTVIndia »

मंडे मेगा स्टोरी: कोरोना के 15 महीने और राजस्थान-मध्यप्रदेश के रोजगार-कारोबार का हाल, सीधे सड़क से

ये सफर ट्रक का था। ड्राइवर लखन थे और हम उनके बाजू में बैठे। काली सड़क, आस-पास के जंगल-पठार, कहीं सूखा-कहीं बारिश और सफर करीब छह सौ किमी का। दिन आए और रात गई। | We completed the 600 km journey by truck and explored the different sectors falling on the way. Introducing Ground Reality of Transport, Kota Coaching, Kota Stone, Tourism, Jewelry and Small Industries...

यह तो अच्छी खबर है। हमारे देश में अंधभगतों की एक ऐसी प्रजाति पाई जाती है जिसे अपने भविष्य की चिंता 2% और राजा के भविष्य की चिंता 98% होती है! 😀😀😀

‘आपको दिग्गजों के खिलाफ कड़े फैसले लेने होंगे,’ धोनी के संन्यास को लेकर बोले पूर्व सेलेक्टरआपको और आपकी समिति को भारतीय क्रिकेट टीम में योगदान के लिए पर्याप्त प्रशंसा और मान्यता नहीं मिली। पूर्व चयनकर्ता एमएसके प्रसाद से जब इस बारे में सवाल किया गया तो एमएसके प्रसाद ने कहा, ‘हमारा काम पूरी दुनिया के सामने है।’

UP: फांसी के फंदे के साथ सेल्फी ली, घरवालों को तस्वीर भेजकर की खुदकुशीहमीरपुर के एक युवक ने फांसी का फंदा गले मे डाल के पहले सेल्फी ली और अपने घर वालों और दोस्तों को भेज दी. इसके बाद फांसी के फंदे पर झूल कर अपनी जान दे दी. फांसी की सेल्फी देख कर परिवार में कोहराम मच गया. कई घंटों की मशक्कत के बाद परिजन और पुलिस, बबूल के पेड़ से लटके इस युवक के शव को ढूंढ पायी.

देश के गांवों को मौजूदा महामारी व भविष्य के स्वास्थ्य संकटों से बचाना एक बड़ी चुनौतीमौजूदा महामारी से पहले भी भारत में महिला संरपचों ने विशेष तौर पर आम आदमी को चिकित्सीय सेवाएं मुहैया कराने में मदद की और उन पर देखभाल करने का जो भरोसा कायम हुआ उस भरोसे का आज अधिक से अधिक इस्तेमाल करना चाहिए।

लक्षद्वीप: प्रशासक प्रफुल्ल पटेल को हटाने की मांग को लेकर 12 घंटे पानी के नीचे अनशनलक्षद्वीप के स्थानीय लोगों ने प्रशासक प्रफुल्ल पटेल को हटाने की मांग तेज कर दी है. स्थानीय लोगों ने सोमवार को पानी के भीतर विरोध प्रदर्शन किया, जबकि अन्य ने अपने घरों के बाहर 12 घंटे का अनशन किया. 😂😂😂kuch likhne se pehle soch liya kro jo likh rahe ho vo practically possible hai bhi ya nahi😂😂janta bevkuf nahi hai😂

कश्मीर: 2006 के एक हादसे पर वॉट्सऐप स्टेटस लगाने के चलते पत्रकार के ख़िलाफ़ केस दर्जकश्मीर घाटी के बांदीपोरा क़स्बे के रहने वाले पत्रकार साजिद रैना ने साल 2006 में एक नाव हादसे में मारे गए 22 बच्चों की तस्वीर अपने वॉट्सऐप पर लगाते हुए उन्हें ‘वुलर झील के शहीद’ कहा था, जिसे लेकर उनके ख़िलाफ़ मामला दर्ज किया गया है.

सबको फ्री वैक्सीन के पीएम मोदी के ऐलान के क्या हैं मायने, पांच प्वाइंट में समझेंप्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि देश की किसी भी राज्य सरकार को वैक्सीन पर कुछ भी खर्च नहीं करना होगा. अब तक देश के करोड़ों लोगों को मुफ्त वैक्सीन मिली है, अब 18 वर्ष की आयु के लोग भी इसमें जुड़ जाएंगे. Right sir Lock down kb khatam hoga modi ji फिर पांच झूठ