BJP का राहुल पर पलटवार...पेगासस मामले में केंद्र सरकार के हलफनामे की तर्ज पर SC का फैसला

पेगासस: BJP का राहुल पर पलटवार, सरकार के हलफनामे की तर्ज पर SC का फैसला #Pegasus via @NavbharatTimes

Pegasus, सुप्रीम कोर्ट का पेगासस पर फैसला

27-10-2021 18:47:00

पेगासस: BJP का राहुल पर पलटवार, सरकार के हलफनामे की तर्ज पर SC का फैसला Pegasus via NavbharatTimes

पेगासस मामले में राहुल गांधी के आरोपों के कुछ समय बाद ही बीजेपी ने पलटवार किया। पार्टी प्रवक्‍ता संबित पात्रा ने राहुल पर झूठ बोलने और भ्रम फैलाने का आरोप लगाया।

पेगासस जासूसी प्रकरण की जांच के लिए तीन सदस्यीय समिति बनाने का सुप्रीम कोर्ट का फैसला केंद्र सरकार की ओर से शीर्ष अदालत में दिए गए हलफनामे के अनुरूप है। बुधवार को भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने यह बात कही।भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने एक संवाददाता सम्मेलन में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की ओर से पेगासस के जरिये भारतीय लोकतंत्र को कुचलने और देश की राजनीति व संस्थाओं को नियंत्रण में लेने का प्रयास के आरोपों पर पलटवार किया। उन्‍होंने कहा कि झूठ बोलना और भ्रम फैलाना राहुल गांधी की आदत रही है।

सुप्रीम कोर्ट ने इजरायली स्पाईवेयर ‘पेगासस’ के जरिये भारत में कुछ लोगों की कथित जासूसी के मामले की जांच के लिए बुधवार को विशेषज्ञों की तीन सदस्यीय समिति का गठन किया। शीर्ष अदालत ने कहा कि प्रत्येक नागरिक को निजता के उल्लघंन से सुरक्षा प्रदान करना जरूरी है। ‘सरकार की ओर से राष्ट्रीय सुरक्षा’ की दुहाई देने मात्र से न्यायालय ‘मूक दर्शक’ बना नहीं रह सकता।

न्यायालय के इस निर्णय पर प्रतिक्रिया देते हुए राहुल गांधी ने कहा कि देश की सर्वोच्च अदालत ने इस प्रकरण में विपक्ष के रुख का समर्थन किया है। संसद के आगामी सत्र में इस पर चर्चा होनी चाहिए।उन्होंने केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि पेगासस के जरिये भारतीय लोकतंत्र को कुचलने और देश की राजनीति व संस्थाओं को नियंत्रण में लेने का प्रयास किया गया। headtopics.com

रेलवे की नौकरी को लेकर कैंडिडेट्स का बवाल, परीक्षा स्थगित...समिति गठित, अब मंत्री ने छात्रों से की शांति की अपील

पात्रा ने कहा, ‘आज सुप्रीम कोर्ट के एक निर्णय को लेकर राहुल गांधी ने फिर उन्हीं शब्दों का उच्चारण किया, जो वो हमेशा करते हैं। राहुल गांधी के पास कुछ भी नया नहीं है। वही बातें, वही शब्दावली...राहुल गांधी कहते हैं कि लोकतंत्र खतरे में है, लोकतंत्र पर हमला हो रहा है, लोकतंत्र को बचाना है और भाजपा भारत के संविधान पर भाजपा हमले कर रही है। यही राहुल गांधी के शब्दकोश में है।’

उन्होंने कहा कि न ही राहुल गांधी और न ही कांग्रेस इस विषय को लेकर शीर्ष अदालत में गए थे।पेगासस के जरिये लोकतंत्र कुचलने, संस्थाओं को काबू में लेने का हुआ प्रयास, SC का जिक्र कर मोदी-शाह पर बिफरे राहुलउन्होंने कहा कि पेगासस मामले में एक महत्वपूर्ण बात यह है कि सरकार ने न्यायालय में जो हलफनामा दिया था, उसमें स्पष्ट रूप से कहा गया है कि निहित स्वार्थ के लिए एक समूह के लोग एक गलत धारणा पूरे देश में बनाने की कोशिश कर रहे हैं और इसे ध्वस्त करने के लिए यह आवश्यक है कि विशेषज्ञों की समिति गठित की जाए।

उन्होंने कहा, ‘...और आज अदालत ने विशेषज्ञों की समिति बनाई है। जो सरकार ने अपने हलफनामे में कहा था, वही हुआ।’पात्रा ने कहा कि भाजपा लोकतांत्रिक मूल्यों में विश्वास करती है और कथित जासूसी का यह मामला एक ‘निर्मित’ विवाद है जो अनुमानों और अप्रमाणित रिपोर्टों पर अधारित है।

'अफगानिस्तान में ISIL की लगातार मौजूदगी चिंता का विषय', संयुक्त राष्ट्र सुरक्षा परिषद की बैठक में बोला भारत

उन्होंने कहा, ‘देश में और देश के बाहर निहित स्वार्थ वाले कुछ समूह हैं जो देश को बदनाम करना चाहते हैं। विशेषज्ञ अब इस मामले को देखेंगे। हम इसका स्वागत करते हैं।पेगासस जासूसी प्रकरण की जांच के लिए तीन सदस्यीय समिति बनाने का सुप्रीम कोर्ट का फैसला केंद्र सरकार की ओर से शीर्ष अदालत में दिए गए हलफनामे के अनुरूप है। बुधवार को भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने यह बात कही। headtopics.com

भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने एक संवाददाता सम्मेलन में कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी की ओर से पेगासस के जरिये भारतीय लोकतंत्र को कुचलने और देश की राजनीति व संस्थाओं को नियंत्रण में लेने का प्रयास के आरोपों पर पलटवार किया। उन्‍होंने कहा कि झूठ बोलना और भ्रम फैलाना राहुल गांधी की आदत रही है।

सुप्रीम कोर्ट ने इजरायली स्पाईवेयर ‘पेगासस’ के जरिये भारत में कुछ लोगों की कथित जासूसी के मामले की जांच के लिए बुधवार को विशेषज्ञों की तीन सदस्यीय समिति का गठन किया। शीर्ष अदालत ने कहा कि प्रत्येक नागरिक को निजता के उल्लघंन से सुरक्षा प्रदान करना जरूरी है। ‘सरकार की ओर से राष्ट्रीय सुरक्षा’ की दुहाई देने मात्र से न्यायालय ‘मूक दर्शक’ बना नहीं रह सकता।

कोरोना वायरस: कनाडा में मिले ऑमिक्रॉन बीए.2 के 51 नए मामले, जानिए कितना हो सकता है खतरनाक

न्यायालय के इस निर्णय पर प्रतिक्रिया देते हुए राहुल गांधी ने कहा कि देश की सर्वोच्च अदालत ने इस प्रकरण में विपक्ष के रुख का समर्थन किया है। संसद के आगामी सत्र में इस पर चर्चा होनी चाहिए।उन्होंने केंद्र सरकार और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पर निशाना साधते हुए आरोप लगाया कि पेगासस के जरिये भारतीय लोकतंत्र को कुचलने और देश की राजनीति व संस्थाओं को नियंत्रण में लेने का प्रयास किया गया।

Pegasus Spy Case: राहुल गांधी ने पेगासस जासूसी मामले में सरकार को घेरा, पूछे 3 सवालपात्रा ने कहा, ‘आज सुप्रीम कोर्ट के एक निर्णय को लेकर राहुल गांधी ने फिर उन्हीं शब्दों का उच्चारण किया, जो वो हमेशा करते हैं। राहुल गांधी के पास कुछ भी नया नहीं है। वही बातें, वही शब्दावली...राहुल गांधी कहते हैं कि लोकतंत्र खतरे में है, लोकतंत्र पर हमला हो रहा है, लोकतंत्र को बचाना है और भाजपा भारत के संविधान पर भाजपा हमले कर रही है। यही राहुल गांधी के शब्दकोश में है।’ headtopics.com

उन्होंने कहा कि न ही राहुल गांधी और न ही कांग्रेस इस विषय को लेकर शीर्ष अदालत में गए थे।उन्होंने कहा कि पेगासस मामले में एक महत्वपूर्ण बात यह है कि सरकार ने न्यायालय में जो हलफनामा दिया था, उसमें स्पष्ट रूप से कहा गया है कि निहित स्वार्थ के लिए एक समूह के लोग एक गलत धारणा पूरे देश में बनाने की कोशिश कर रहे हैं और इसे ध्वस्त करने के लिए यह आवश्यक है कि विशेषज्ञों की समिति गठित की जाए।

पेगासस मामला: क्‍या है ‘ऑरवेलियन चिंता’ जिसका जिक्र सुप्रीम कोर्ट ने अपने आदेश में किया?उन्होंने कहा, ‘...और आज अदालत ने विशेषज्ञों की समिति बनाई है। जो सरकार ने अपने हलफनामे में कहा था, वही हुआ।’पात्रा ने कहा कि भाजपा लोकतांत्रिक मूल्यों में विश्वास करती है और कथित जासूसी का यह मामला एक ‘निर्मित’ विवाद है जो अनुमानों और अप्रमाणित रिपोर्टों पर अधारित है।

और पढो: NBT Hindi News »

क्या है अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी के छात्र की सोच?

और पढो >>

RahulGandhi biggest enemy of India spreading rumours targetting honest officers like SameerWakhende SameerWakhendeSir through his agents narcoticsbureau must raid nawabmalikncp PawarSpeaks all politicians should be banned from interfering investigation

अयोध्या दर्शन के अलावा दिल्ली के यात्रियों के रहने-खाने का भी खर्च उठाएगी केजरीवाल सरकारदिल्ली सरकार ने अपनी तीर्थ यात्रा योजना में अब अयोध्या को भी शामिल करने की मंजूरी दे दी है। इसके तहत अब वरिष्ठ नागरिक रामलला का भी दर्शन कर सकेंगे।

Antim Trailer: आयुष पर भारी पड़े सलमान, भाईजान के इस डायलॉग पर फिदा हुए फैंसAntim Trailer: फिल्म में सलमान खान और आयुष शर्मा एक दूसरे से कड़ा मुकाबला करते दिख रहे हैं। ऐसे में फैंस का कहना है कि आयुष पर सलमान खान भारी पड़ते नजर आ रहे हैं।

भारत-पाक मैच पर वकार युनूस के कमेंट पर भड़के फिल्ममेकर; अमिश देवगन भी बिफरेएक पाकिस्तानी न्यूज चैनल की डिबेट के दौरान पाकिस्तानी क्रिकेटर वकार युनूस और शोएब अख्तर भी शो पर पाकिस्तान जीत का जश्न मनाते दिखे। इस बीच वकार युनूस ने कुछ ऐसा कहा जिसे सुन कर फिल्ममेकर अशोक पंडित बेहद नाराज हो गए।

UP के चुनावी मौसम में अरविंद केजरीवाल के होर्डिंग पर पुती कालिख, सरयू तट पर आरती के बाद रामलला दर्शन को पहुंचे दिल्ली के सीएमदिल्ली सीएम अरविंद केजरीवाल ने मंगलवार को अयोध्या में रामलला के दर्शन किए। इस दौरान उन्होंने कहा कि सभी देशवासी खुशहाल रहें, यही प्रार्थना है मेरी।

Jammu Kashmir: Bandipora के टैक्सी स्टैंड पर धमाका, कई गाड़ियों के शीशे टूटेजम्मू कश्मीर में फिर एक बार आतंकी हमला हुआ है, जिसमें अबतक छह आम नागरिक घायल हो गए हैं. आतंकियों ने बांदीपोरा के टैक्सी स्टैंड के पास ग्रेनेड फेंका था. इनका निशाना सेना का काफिला बताया जा रहा है. जम्मू-कश्मीर में आतंकी संगठन उनके खात्मे के लिए चलाए जा रहे विभिन्न एंटी टेरर ऑपरेशन से बौखलाए हुए हैं. आतंकियों ने पिछले दिनों गैर-कश्मीरियों को भी निशाने पर लिया था. इसमें यूपी-बिहार से वहां जाकर काम करने वाले कुछ मजदूरों की जान ली गई थी. इससे पहले पुंछ में हमला हुआ था, जिसमें सेना के छह जवान शहीद हुए थे. ज्यादा जानकारी के लिए देखें वीडियो.

बांग्लादेश में मंदिरों पर हमले के बाद डर के साए में जीते हिंदू - BBC News हिंदीबांग्लादेश में सिलसिलेवार तरीक़े से अल्पसंख्यक हिंदू समुदाय के ख़िलाफ़ शुरू हुई हिंसा अब थम गई है लेकिन वहां पर हिंदू अभी भी डर के साए में जी रहे हैं. Why it is happening in Bangladesh and Pakistan, is there no human rights and other laws made for this. Only Hindustan have the regressed law to punish Hindus. Why not the same ther kaum. What about tripura Anti-Muslim violence across Tripura, a northeast Indian state following Bangladesh violence Series of violent attacks by large Hindutva groups continue to target different mosques, houses and shops of Muslims in Tripura. Here is what we know so far