Ajitjogi, Chhatisgarh News, Ajit Jogi Son, Ajit Jogi Passed Away, Ajit Jogi Party, Ajit Jogi Latest News, Ajit Jogi Kaun Hain, Ajit Jogi Family, Ajit Jogi Died, Ajit Jogi Death News, Ajit Jogi Death, Chhattisgarh News, Chhattisgarh News İn Hindi, Chhattisgarh Latest News, Chhattisgarh Headlines, छत्तीसगढ़ समाचार

Ajitjogi, Chhatisgarh News

Ajit Jogi Passed Away: अजीत जोगी के चलते टूटी सगाई, ढाई घंटे में बने कलेक्टर से नेता...जानें 3 रोचक किस्से

अजीत जोगी के चलते टूटी सगाई, ढाई घंटे में बने कलेक्टर से नेता...जानें 3 रोचक किस्से #AjitJogi

29-05-2020 14:15:00

अजीत जोगी के चलते टूटी सगाई, ढाई घंटे में बने कलेक्टर से नेता...जानें 3 रोचक किस्से AjitJogi

छत्तीसगढ़ न्यूज़: Ajit Jogi Passed Away : छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी (Ajit Jogi) का लंबी बीमारी के बाद निधन हो गया। करीब 15 दिन पहले कार्डियक अरेस्ट के बाद उन्हें रायपुर के एक निजी अस्पताल में भर्ती किया गया था। रेकॉर्ड 14 साल जिलाधिकारी रहे अजीत जोगी गांधी परिवार के बेहद करीबी रहे।

Edited By Ruchir Shukla |नवभारतटाइम्स.कॉम | Updated:29 May 2020, 04:22:00 PM ISTfacebookemailहाइलाइट्सछत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी का निधन, बेटे अमित जोगी ने दी जानकारी74 साल के अजीत जोगी लंबे समय से चल रहे थे बीमार14 साल जिलाधिकारी रहे अजीत जोगी गांधी परिवार के बेहद करीबी रहे

नेपाल के प्रधानमंत्री ओली का बेतुका बयान, बोले- भारत ने बनाई नकली अयोध्या समर्थकों के साथ सचिन पायलट, सामने आया वीडियो राजस्थान: सुलह के मूड में नहीं सचिन पायलट, बोले- समझौते की कोई शर्त नहीं रखी

कलेक्टर पद से इस्तीफा देने और कांग्रेस की सदस्यता लेने में जोगी को करीब ढाई घंटे का वक्त लगारायपुरAjit Jogi Passed Away) का निधन हो गया है। उनके बेटे अमित जोगी (Amit Jogi) ने ट्वीट करके इस बात जानकारी दी है। छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी (Ex Chhattisgarh CM Ajit Jogi) इस दुनिया से चल बसे हैं, लेकिन उन्होंने राजनीति में ऐसी छाप छोड़ी है जो सदियों तक याद की जाती रहेगी। अजीत जोगी के पूरे जीवन के सफर में अनेकों ऐसे किस्से हैं जो किसी चौंकाते हैं। आदिवासी समाज से आने वाले अजीत जोगी गांव की गलियों में नंगे पांव पले बढ़े और मिशनरी की मदद से शिक्षा पूरी कर पहले इंजीनियरिंग फिर यूपीएससी की परीक्षा पास कर कलेक्टर बने। जोगी ने एक ही जिंदगी में इतने उतार-चढ़ाव देखे जिसपर पहली नजर में भरोसा करना मुश्किल लगता है। आइए उनसे जुड़े 3 ऐसे किस्सों पर नजर डालते हैं जिनसे उनकी जिंदगी को समझा जा सकता है।

जोगी ने यूं की गांधी फैमिली में एंट्रीरेकॉर्ड 14 साल जिलाधिकारी रहे अजीत जोगी गांधी परिवार के बेहद करीबी रहे। बताया जाता है कि अजीत जोगी जब रायपुर के जिला कलेक्टर थे तब राजीव गांधी पायलट हुआ करते थे। राजीव गांधी की फ्लाइट जब कभी रायुपर में लैंड होती तो तत्कालीन जिला कलेक्टर अजीत जोगी खुद उन्हें रिसीव करने एयरपोर्ट जाया करते थे। उस वक्त राजीव भी यंग थे और जोगी भी। इस वजह से दोनों के बीच काफी अच्छी दोस्ती जैसा रिश्ता बन गया था। इस तरह एक जिले के कलेक्टर अजीत जोगी की पहुंच तत्कालीन प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी के आवास तक हो चुकी थी।

इसे भी पढ़ें:-छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी का निधनढाई घंटे में कलेक्टर से राजनेता बने अजीत जोगीबतौर इंदौर के कलेक्टर अजीत जोगी ग्रामीण इलाके के दौरे पर गए थे। रात में जब वह घर लौटे तो पत्नी रेणु ने बताया कि प्रधानमंत्री कार्यालय से फोन आया था। पहले तो जोगी को लगा कि भला पीएमओ से किसी कलेक्टर को क्यों कॉल आएगा। लेकिन अगली सुबह तत्कालीन प्रधानमंत्री राजीव गांधी के पीए ने उनसे संपर्क किया। उन्होंने जोगी से कहा कि प्रधानमंत्री चाहते हैं कि आप तत्काल कलेक्टर पद से इस्तीफा दे दें। यह सुनते ही जोगी थोड़े घबरा गए। लेकिन अगले ही वाक्य में पीएम के पीए ने कहा कि प्रधानमंत्री चाहते हैं आप मध्य प्रदेश से राज्यसभा के लिए नॉमिनेशन करें। उनसे कहा कि रात 12 बजे तक दिग्विजय सिंह उन्हें लेने इंदौर पहुंचेंगे। सुबह 11 बजे तक इस्तीफे की सारी औपचारिकता पूरी कर ली जाएगी। कलेक्टर पद से इस्तीफा देने और कांग्रेस की सदस्यता लेने में करीब ढाई घंटे का वक्त लगा। इस तरह अजीत जोगी कलेक्टर से राजनेता बने।

इसे भी पढ़ें:-अजित जोगी के निधन पर बेटे अमित बोले- मैंने ही नहीं बल्कि छत्तीसगढ़ ने अपना पिता खोयाजोगी की वजह से टूटी सगाईयूं तो अजीत जोगी जनाधार वाले नेता नहीं माने जाते रहे, लेकिन कुछ समाज के बीच उनकी अच्छी पकड़ रही। इसकी बानगी 2004 के लोकसभा चुनाव के दौरान अखबारों में प्रकाशित एक रिपोर्ट से होती है। अजीत जोगी थे तो आदिवासी समाज से थे, लेकिन अनूसुचित श्रेणी में आने वाला सतनामी समाज भी उन्हें अपना नेता मानता था। उस दौर के अखबारों में एक खबर छपी थी कि अजीत जोगी पर बहस के चलते लड़का-लड़की की सगाई टूट गई थी। दरअसल, बात यह थी कि छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव हारने के बाद अजीत जोगी महासमुंद लोकसभा सीट से चुनाव मैदान में थे। इस सीट पर उनके विपरीत बीजेपी के वरिष्ठ नेता विद्याचरण शुक्ल थे।

दोनों परिवारों के बीच सगाई की रस्म चल रही थी। भोजन का दौर चल रहा था। इसी दौरान लड़की पक्ष के लोगों ने नॉर्मल बातचीत में लड़के वालों से पूछ लिया कि इस बार के चुनाव में महासमुंद लोकसभा सीट से किसका पलड़ा भारी है। लड़के वालों ने कहा कि अजीत जोगी महासमुंद से चुनाव हार रहे हैं। यह बात लड़की वालों को नागवार गुजरी। देखते ही देखते बात इतनी बढ़ गई कि लड़की वालों ने कहा कि जो परिवार अजीत जोगी का विरोधी है वे उनके साथ रिश्ता नहीं करेंगे। गांव वालों के बीच-बचाव से दोनों परिवारों का झगड़ा तो टल गया, लेकिन सगाई टूट गई। हालांकि अजीत जोगी यह चुनाव जीत गए थे। दिलचस्प बात यह है कि इस लोकसभा चुनाव प्रचार के दौरान अजीत जोगी की कार दुर्घटनाग्रस्त हो गई थी, जिसमें उनके शरीर के कमर के नीचे का हिस्सा काम करना बंद कर दिया था। दुर्घटना की वजह से अजीत जोगी प्रचार नहीं कर सके लेकिन फिर भी वह जीते थे।

Web Titlechhatisgarh ex cm ajit jogi passed away: know about intrestings facts. और पढो: NBT Hindi News »

छत्तीसगढ़ के प्रथम मुख्यमंत्री श्री अजीत जोगी जी का निधन छत्तीसगढ़ प्रदेश के लिए एक बड़ी राजनीतिक क्षति है भगवान छत्तीसगढ़ के प्रथम मुख्यमंत्री श्री अजीत जोगी जी की आत्मा को शांति प्रदान करे। विनम्र श्रद्धांजलि। ॐ शांतिः 🙏🙏

VIDEO: नहीं रहे अजीत जोगी, छत्तीसगढ़ के गठन में थी बड़ी भूमिकाछत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी का शुक्रवार को निधन हो गया. अजीत जोगी को दिल का दौरा पड़ने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था. वह 20 दिन से रायपुर के अस्पताल में भर्ती थे. उनके निधन की जानकारी उनके बेटे अमित जोगी ने ट्वीट कर दी. उन्होंने लिखा कि 20 वर्षीय युवा छत्तीसगढ़ राज्य के सिर से आज उसके पिता का साया उठ गया. केवल मैंने ही नहीं बल्कि छत्तीसगढ़ ने नेता नहीं,अपना पिता खोया है. देखें वीडियो. दुखद। आईएएस से मुख्यमन्त्री बनने वाले शख्स। ईश्वर उनकी आत्मा को शांति प्रदान करे,🌹🙏🌹

छत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी का निधन, लंबे समय से थे बीमारछत्तीसगढ़ के पूर्व मुख्यमंत्री अजीत जोगी को दिल का दौरा पड़ने के बाद अस्पताल में भर्ती कराया गया था. वह 20 दिन से रायपुर के अस्पताल में भर्ती थे. उनके निधन की जानकारी उनके बेटे अमित जोगी ने ट्वीट कर दी. RIP Rip Bye bye.

सीमा विवाद: भारत के बाद अब चीन ने ट्रंप के मध्यस्थता के प्रस्ताव को ठुकरायाचीनी विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता ने कहा कि चीन और भारत विचार-विमर्श से समस्या का उचित समाधान निकालने में सक्षम हैं। China PMOIndia narendramodi DrSJaishankar MEAIndia

असम : ऑयल इंडिया लिमिटेड के गैस के कुंए में विस्फोट, खाली कराए गए आसपास के इलाकेअसम : ऑयल इंडिया लिमिटेड के गैस के कुंए में विस्फोट, सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाए गए लोग Assam OIL sarbanandsonwal

चीन के साथ सीमा विवाद के शांतिपूर्ण समाधान के लिए बातचीत जारी: विदेश मंत्रालयभारत-चीन के सीमा विवाद को लेकर अमेरिका के राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप की ओर से मध्‍यस्‍थता की पेशकश के बाद भारतीय विदेश मंत्रालय ने इस मामले में रुख साफ किया है. विदेश मं‍त्रालय ने कहा है कि चीन के साथ सीमा विवाद के शांतिपूर्ण समाधान के लिए बातचीत जारी है. वो लाल आँख का क्या हुआ मिञो? Where is red eyes? China dara nhe humre modi ji k laal ankh se?🤔 आंखे लाल कभी हुई ही नहीं थीं। यह तो बस अंधभक्तों के लिए एक जुमला था जो अक्सर कह दिए जाते हैं।

LIVE: गुजरात में कोरोना के केस 15 हजार के पार, 938 लोगों की मौतगुजरात में कोरोना के केस 15 हजार के पार, 938 लोगों की मौत पढ़ें ताज़ा अपडेट्स: Gujarat लेकिन एक बार भी नहीं कहना कि... नमस्ते ट्रम्प 'क्रियाकर्म' जिम्मेदार है किसके कारण ये भी बता देते अच्छा प्रोटोकॉल से बाहर की बात है टीआरपी और सरकारी सहायता के कारण मौन है हां और राज्य की जरा खास तौर पे हम लोगो को ब्रेकिंग न्यूज देते रहिए ताकि हम सतर्क रहे जी, क्योंकि गुजरात भारत का सबसे बड़ा मॉडल राज्य है और यहां इतना तो हमे भी अति सतर्क रहना होगा

राहुल गांधी का हमला, कहा- PM मोदी के रहते भारत की जमीन को चीन ने कैसे छीन लिया सचिन पायलट BJP के संपर्क में, 30 MLA भी छोड़ सकते हैं कांग्रेस का दामन सचिन पायलट बोले- 25 MLA मेरे साथ बैठे हैं, 102 का गलत दावा कर रहे हैं अशोक गहलोत LIVE: खतरे में गहलोत सरकार, पायलट खेमे के विधायक आज देर रात दे सकते हैं इस्तीफा Coronavirus Vaccine News: कोरोना वैक्‍सीन पर रूस ने मारी बाजी, सेचेनोव विश्वविद्यालय का दावा सभी परीक्षण रहे सफल कर्फ्यू के दौरान बिना मास्क घूम रहे थे मंत्री के समर्थक, रोकने वाली पुलिसकर्मी ने दिया इस्तीफा कांग्रेस के सचिन अब क्या बीजेपी के लिए 'बल्लेबाज़ी' करेंगे? सचिन पायलट थाम सकते हैं BJP का हाथ, 30 विधायकों के भी कांग्रेस छोड़ने के कयास पायलट की बगावत पर संजय निरूपम बोले- सभी चले जाएंगे तो बचेगा कौन? ज्योतिरादित्य सिंधिया की राह पर पायलट! 40 मिनट की मुलाकात पर लगीं अटकलें सचिन के पिता राजेश पायलट ने भी की थी बगावत, लेकिन नहीं छोड़ी थी कांग्रेस