भाजपाई रमन सिंह के करीबियों पर नरमी का आरोप, CM ने छीनी 'गुरु' की कुर्सी

Redirecting to full article in 0 second(s)...
पिछले साल दिसंबर में सीएम बनने के बाद भूपेश बघेल ने पहली बड़ी नियुक्ति के तौर पर कनक तिवारी को एडवोकेट जनरल बनाया था लेकिन छह महीने के अंदर ही उन्हें नाटकीय घटनाक्रम में पद से हटा दिया गया। तिवारी को सीएम बघेल का राजनीतिक गुरु भी कहा जाता है।