370 हटने का एक साल, फारुख़ अब्दुल्लाह ने अपने घर बुलाई बैठक

370 हटने का एक साल, फारुख़ अब्दुल्लाह ने अपने घर बुलाई बैठक - प्रेस रिव्यू

05-08-2020 07:14:00

370 हटने का एक साल, फारुख़ अब्दुल्लाह ने अपने घर बुलाई बैठक - प्रेस रिव्यू

अनुच्छेद 370 हटने के एक साल पूरा होने पर जम्मू-कश्मीर में सख़्त सुरक्षा. अख़बारों की सुर्ख़ियां.

शेयर पैनल को बंद करेंइमेज कॉपीरइटGetty Imagesजम्मू-कश्मीर को विशेष दर्जा देने वाले अनुच्छेद 370 हटने के एक साल पूरा होने के मौक़े पर सुरक्षा बढ़ाई गई है, इसके बावजूद मंगलवार को कुलगाम ज़िले में हुए एक चरमपंथी हमले में एक सरपंच गंभीर रूप से घायल हो गए हैं.

IPL में पहली बार 200+ रन बनाने के बावजूद मैच टाई हुआ, रन चेज करते हुए मुंबई इंडियंस ने आखिरी 5 ओवर में रिकॉर्ड 89 रन बनाए IPL 2020: RCBvsMI- सुपर ओवर में जीती आरसीबी, मुंबई के ईशान ने जीता दिल - BBC News हिंदी IPL 2020: RCBvsMI- विराट फिर फेल, बैंगलोर ने मुंबई को दी 202 की चुनौती - BBC News हिंदी

इंडियन एक्सप्रेसअख़बार के मुताबिक़, वहीं पुलवामा में हुए एक अलग हमले में दो पुलिसकर्मी भी ज़ख्मी हुए हैं.पुलिस ने बताया, चरमपंथी मंगलवार शाम कुलगाम ज़िले के अखरान गांव के सरपंच आरिफ़ अहमद के घर में घुस आए और उन्हें नज़दीक से गोली मार दी.अहमद को अनंतनाग के सरकारी मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया है. जहां के मेडिकल सुप्रिटेंडेंट डॉ मोहम्मद इक़बाल ने कहा,"उनकी छाती में गोली लगी है. उनकी हालत गंभीर है."

बीजेपी के प्रवक्ता अल्ताफ़ ठाकुर ने अख़बार से बातचीत में पुष्टि की है कि अहमद उनकी पार्टी से जुड़े थे. उन्होंने इसे 'बर्बर हमला' बताते हुए निंदा की है.2018 में हुए पंचायत चुनाव के बाद से दक्षिण कश्मीर में चरमपंथी हमलों में अबतक दो सरपंचों की हत्या हो चुकी है.

इस बीच नेशनल कॉन्फ्रेंस के अध्यक्ष फ़ारुख़ अब्दुल्ला ने घोषणा की कि वो बुधवार को अपने घर पर मुख्यधारा की राजनीतिक पार्टियों के नेताओं की बैठक बुला रहे हैं. अख़बार ने सूत्रों के हवाले से लिखा है कि उन्होंने पीडीपी, पीपुल्स कॉन्फ्रेंस, कांग्रेस और कुछ छोटे दलों के नेताओं को बुलाया है.

हालांकि अब्दुल्ला ने अख़बार से कहा,"लेकिन देखिए, उन्होंने पहले ही हमारे घरों के सामने सुरक्षा वाहन तैनात कर दिए हैं. क्या ये सरकार है?"ये बैठक शायद ही हो, क्योंकि अधिकतर राजनीतिक नेता अब भी घर में नज़रबंद हैं.इमेज कॉपीरइटएच-1बी वीज़ाधारकों को नहीं मिलेगी

संघीयद हिंदूअख़बार के मुताबिक़, राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप ने एक सरकारी आदेश पास किया है, जिसके तहत संघीय एजेंसियां को विदेशी नागरिकों, ख़ासकर एच-1बी वीज़ाधारकों के साथ कॉन्ट्रैक्ट या सब-कॉन्ट्रैक्ट करने से बचने के लिए कहा गया है.ये कदम तब उठाया गया है जब एक महीने पहले 23 जून को ट्रंप प्रशासन ने एच-1बी वीज़ा समेत दूसरे तरह के विदेशी वर्क वीज़ा 2020 के अंत तक स्थगित कर दिए थे, ताकि अहम चुनावी साल में अमरीकी वर्करों के हितों की रक्षा की जा सके. नए प्रतिबंध 24 जून से लागू कर दिए गए थे.

ट्रंप के नए आदेश से पहले ही संघ के स्वामित्व वाली टेनसी वेली अथॉरिटी (टीवीए) ने घोषणा की थी कि वो अपनी 20% तकनीकी नौकरियां विदेशी कंपनियों को आउटसोर्स कर देंगें.सोमवार को आदेश पर हस्ताक्षर करने के बाद राष्ट्रपति ट्रंप ने पत्रकारों से कहा कि टीवीए के कदम की वजह से 200 से ज़्यादा अति-कुशल अमरीकी तकनीकी कामगारों को टेनसी में नौकरी से हाथ धोने पड़ सकते थे या उनकी तनख़्वा में कटौती की जाती.

IPL: सुपर ओवर में RCB ने मारी बाजी, मुंबई के काम न आई पोलार्ड-किशन की तूफानी पारियां बिहार चुनाव: तेजस्वी यादव हो सकते हैं महागठबंधन का CM चेहरा, साथ खड़ी है कांग्रेस बिहार चुनावः पप्पू यादव और चंद्रशेखर आज़ाद रावण का गठबंधन - BBC News हिंदी

उन्होंने कहा कि उनका प्रशासन ये बर्दाश्त नहीं करेगा कि सस्ते विदेशी लेबर की वजह से मेहनती अमरीकियों को नौकरी से निकाल दिया जाए.वहीं व्हाइट हाउस ने एक बयान में कहा, महामारी के बीच सैंकड़ों कर्मचारियों को आउटसोर्स करना बहुत नुक़सान पहुंचाने वाला है, जिसके वजह से पहले ही लाखों अमरीकियों की नौकरी जा चुकी है.

और पढो: BBC News Hindi »

सुंदरकांड की सीख, जब तक काम पूरा न हो, हमें विश्राम नहीं करना चाहिए, समय कम हो तो बुद्धि का उपयोग करते हुए बाधाएं दूर करनी चाहिए

हनुमानजी से सीख सकते हैं लक्ष्य कैसे हासिल करना चाहिए | Learning of the Sundarkand, moral of sundarkand, ramcharit manas story, sundarkand story, life management tips according to sundrakand

BabriZindaHai BabriZindaHai BabriZindaHai BabriZindaHai BabriZindaHai BabriZindaHai BabriZindaHai BabriZindaHai BabriZindaHai BabriZindaHai BabriZindaHai BabriZindaHai BabriZindaHai BabriZindaHai BabriZindaHai BabriZindaHai BabriZindaHai

'विशेष दर्जा' हटने का एक साल: कश्मीर में कर्फ्यू | DW | 04.08.2020बुधवार को जम्मू और कश्मीर के विशेष राज्य के दर्जे को हटा लिए जाने की पहली वर्षगांठ है. पिछले साल पांच अगस्त को ही केंद्र सरकार ने विशेष राज्य का दर्जा निरस्त कर उसे दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित कर दिया था.

Jammu Kashmir Article 370: विकास की वैक्सीन से खत्‍म होगा जम्‍मू-कश्‍मीर में आतंक, नहीं चाहिए आजादी या स्वायत्तताजम्‍मू कश्‍मीर के केंद्र शासित प्रदेश बनने के बाद इटली से उच्च उत्पादकता वाले सेव के पौधों को यहीं विकसित कर सब्सिडी पर इन्हें किसानों को उपलब्ध कराने की योजना परवान चढ़ी है।

कहानी अनुच्छेद 370 की: पीडीपी के साथ सरकार बनाई, ताकि कश्मीर में भाजपा की पकड़ मजबूत हो, भरोसेमंद अफसर कश्म...कहानी अनुच्छेद 370 की: पीडीपी के साथ सरकार बनाई, ताकि कश्मीर में भाजपा की पकड़ मजबूत हो, भरोसेमंद अफसर कश्मीर भेजे, सत्यपाल मलिक को राज्यपाल बनाया Article370 MehboobaMufti jkpdp OmarAbdullah JKNC_ AmitShah BJP4India narendramodi RahulGandhi

370 की बरसी: अलगाववादी नहीं मना पाएंगे ब्लैक डे, श्रीनगर में 4 और 5 अगस्त को लगा कर्फ्यूश्रीनगर न्यूज़: जम्‍मू कश्‍मीर में पिछले साल 5 अगस्त को आर्टिकल 370 हटाया गया था। इस बार पहली बरसी पर अलगावादियों की तरफ से बंद का ऐलान किया गया है। इस दिन को ब्लैक डे मनाने के लिए जोर लगाया जा रहा है, जिससे कश्मीर में माहौल खराब हो सकता है। Black day Miss jai Mata di Srinagar problem buy shopping Amarnath Yatra? Baap baitha hai delhi me....gulam nvi azad,pappu,obgulla,mufti jaisa jija na h tmhara

'विशेष दर्जा' हटने का एक साल: कश्मीर में कर्फ्यू | DW | 04.08.2020बुधवार को जम्मू और कश्मीर के विशेष राज्य के दर्जे को हटा लिए जाने की पहली वर्षगांठ है. पिछले साल पांच अगस्त को ही केंद्र सरकार ने विशेष राज्य का दर्जा निरस्त कर उसे दो केंद्र शासित प्रदेशों में विभाजित कर दिया था.

नए जम्मू-कश्मीर का एक सालः आतंक पर जबरदस्त प्रहार, दहशतगर्दों का सफायानए जम्मू-कश्मीर का एक सालः आतंक पर जबरदस्त प्रहार, दहशतगर्दों का सफाया JammuAndKashmir Article370 PMOIndia DefenceMinIndia HMOIndia adgpi PMOIndia DefenceMinIndia HMOIndia adgpi