Locust Attack, Madhya Pradesh, Locust Attack İn Madhya Pradesh, Farmers, टिड्डी दल का हमला, मध्य प्रदेश, मध्य प्रदेश किसान, Locusts Attack İndia

Locust Attack, Madhya Pradesh

35 हजार लोगों के हिस्से का अनाज चट कर सकता 4 करोड़ टिड्डियों का दल, कई राज्यों में फैला है आतंक

35 हजार लोगों के हिस्से का अनाज खा सकता 4 करोड़ टिड्डियों का दल, कई राज्यों में फैला है आतंक

27-05-2020 19:50:00

35 हजार लोगों के हिस्से का अनाज खा सकता 4 करोड़ टिड्डियों का दल, कई राज्यों में फैला है आतंक

टिड्डी अपने वजन से कहीं अधिक भोजन एक दिन में खाती है. ये एक दिन में 100 से 200 किलोमीटर तक का सफर तय कर सकती है फिलहाल मध्यप्रदेश में 8000 करोड़ रू की मूंग की फसल को इनसे खतरा है, बाकी राज्यों में ये कपास और मिर्ची को निशाना बना सकते हैं.

 राजस्थान से सबसे पहले मध्यप्रदेश के नीमच और मंदसौर में #टिड्डी दल ने हमला बोला. उन्हें भगाने कहीं डीजे बजाए गए, कहीं ढोल तो कहीं थाली दमकल की गाड़ी से केमिकल का भी छिड़काव हुआ.@ndtvindia#Locustsattack#टिड्डी_दलpic.twitter.com/iHQBRLQJR2— Anurag Dwary (@Anurag_Dwary) May 27, 2020यह भी पढ़ें

राजस्‍थान में 'सत्‍ता संकट' के बीच राहुल गांधी ने दार्शनिक अंदाज में यूं कही 'मन की बात'.. MP में विभागों के बंटवारे को लेकर दिग्विजय सिंह का ज्योतिरादित्य सिंधिया पर तंज, 'समझदार लोग समझते हैं' नेपाल के प्रधानमंत्री ओली का बेतुका बयान, बोले- भारत ने बनाई नकली अयोध्या

फायर ब्रिगेड व दवाई छिड़कने वाले पंप मैदान में रतलाम के कई गांव में टिड्डी दल का झुंड उड़ता हुआ नजर आया. किसान परेशान थे अपने स्तर पर उन्हें भगाने की कोशिश की, वहीं प्रशासन 4 फायर ब्रिगेड, 5 दवाई छिड़कने वाले ट्रैक्टर पंप के साथ मैदान में उतरा. आगर मालवा जिले में टिड्डी दल ने रतलाम से प्रवेश किया. गुडभेली, ढाबला क्षत्री, गुदरावन गांव में बबूल, नीम, आम, संतरा  के पेड़ों पर बैठे तीन किलोमीटर लंबे और दो किलोमीटर चौड़ा टिड्डी दल बैठा था, जिसे भगाने डीजे बजा, थालियां बजीं..पम्प की मदद से मेलाथियानऔर क्लोरो पाइरिफास का छिड़काव हुआ.

टिड्डी दल ने गोभी की फसल की चौपटआगर मालवा से टिड्डी दल उज्जैन जिले के रना हेड़ा गांव में दिखा. दिल्ली से आई टीम ने टैंकरों से उनपर दवाई का स्प्रेकिया. उज्जैन से धार के कई गांवों में टिड्डी उड़ते पहुंचे किसान जब तक खेत में पहुंचे उनकी फसल वो चट कर चुके थे. राजेश पटेल के खेतों में टिड्डी दल ने हमला किया था वो बताते हैं रात में अचानक टिड्डी दल हमारे खेतों में उड़ते हुए पहुंच गया सूचना मिलते ही हम अपने खेतों को देखने पहुंच गए जब देखा तो गोभी की फसल पूरी तरह टिड्डी दल चौपट कर चुका था, 2 लाख का नुकसान हो गया.

    ढोल-पटाखों से भगाया गयाधार से टिड्डी दल इंदौर के सांतेर, भिडोता, काछी बड़ोदा जैसे गांवों में फसल को नुकसान पहुंचाते हुआ आगे बढ़ा. किसानों ने अपने स्तर पर इन्हें भगाने पटाखे चलाए,थाली बजाई. लॉकडॉउन और बीज नहीं मिलने से किसान खासे परेशान हैं. ऐसे में खरगोन जिले में टिड्डी गैंग की दस्तक उनकी और मुश्किलें बढ़ाने वाला है.

टिड्डी दल रतलाम, मंदसौर, बड़नगर, इंदौर देपालपुर महू से होता हुआ खरगोन जिले के बड़वाह तहसील के बलवाड़ा , थरवर ,गव्लु पंचायत में घुस गया. इसके बाद टिड्डी दल सीधे वीआईपी इलाके पहुंचा. मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के जिले, पटत्तलाई, झोलियापुर, बारदा, नरेला, कोठरा ,चक्लदी जैसे गांवों में मूंग को नुकसान पहुंचाया. टिड्डियों का दल ढोल, पटाखों से आगे भागा.

35 हजार लोगों के हिस्सा का अनाज खा सकता हैमालवा-निमाड़, नर्मदा अंचल और बुंदेलखंड के बाद विंध्य क्षेत्र में भी टिड्डी घुसे, लेकिन सतना में घेराबंदी कर उनका सफाया कर दिया गया. सतना कलेक्टर अजय कटेसरिया ने कहा दो टिड्डी दल आए थे, मूंग के एरिया में नहीं गये, आम

यूकिलिप्टस को टारगेट बना रहे हैं एक है एक रीवा के रास्ते निकल गया है लेकिन उसको डैमेज हुआ है.अलग-अलग राज्यों में टिड्डियों के हमले से 1 लाख 25 हजार एकड़ खेतों को नुकसान पहुंचा है. 4 करोड़ टिड्डियों का दल 35 हजार लोगों के हिस्सा का अनाज खा सकता है. मध्यप्रदेश के कृषि मंत्री कमल पटेल ने कहा हमने मीटिंग की हाई अलर्ट किया, भारत सरकार ने भी हाई अलर्ट किया, फायर गाड़ियों से स्प्रे करके 70 परसेंट का सफाया कर दिया है, जिन किसानों को नुकसान हुआ है, उन्हें आरबीसी 6 (4 ) के अंतर्गत मुआवजा देकर क्षतिपूर्ति की जाएगी.

राजस्थान: सुलह के मूड में नहीं सचिन पायलट, बोले- समझौते की कोई शर्त नहीं रखी दिल्ली में कोरोना के रिकवरी रेट में तेजी से हो रहा सुधार, 10 में से 8 मरीज हो चुके हैं ठीक अठावले ने शरद पवार को महाराष्ट्र में सरकार बनाने का सुझाया नया फॉर्मूला, 'BJP में शामिल हो जाएं और...'

मालवा-निमाड़, नर्मदा अंचल और बुंदेलखंड के बाद विंध्य क्षेत्र में भी #टिड्डी_दल घुसा . लेकिन सतना में घेराबंदी कर उनका सफाया कर दिया गया.@ndtvindia#Locustsattackpic.twitter.com/webkDUaoI5— Anurag Dwary (@Anurag_Dwary) May 27, 2020एक दिन में 100 से 200 किलोमीटर तक का सफर तय

टिडि्डयों का जीवन सामान्यतया 3 से 6 माह का होता है. नमी वाले इलाकों में ये एक बार में 20 से 200 तक अंडे देती हैं, जो 10 से 20 दिन में फूटते हैं. शिशु टिड्डी का पेड़-पौधे खाती है, 5-6 हफ्ते में बड़ी हो जाती है. इन्हें मारने का सबसे अच्छा उपाय अंडों के फूटते ही उन पर रसायन का छिड़काव है.

VIDEO: टिड्डी दल के हमले की आफतLocust Attackmadhya pradeshLocust attack in Madhya PradeshFarmerslocusts attack indiaटिप्पणियां भारत में कोरोनावायरस महामारी के फैलाव पर नज़र रखें, और NDTV.in पर पाएं दुनियाभर से COVID-19 से जुड़ी ताज़ातरीन ख़बरें.लाइव खबर देखें:

फॉलो करे: और पढो: NDTVIndia »

इन पर NRC,NPR,CAA जल्दी से लागू करो फिर भी गोदी मीडिया चुप हैं इस मुद्दे पर क्योंकि टिड्डी महकमा केंद्र के अधीन हैं और उन्हें पता ही नही के ऐसा नेहरू ने किया। क्या बात है NDTV ने तो गिनती भी कर लिया 4 करोड़ 🧐🤓 Bahut dukh 2020 me Surgical strike k मै तो हूं , १-२ लाख चाइनीज बुला लाओ, उनका पेट भी भर जायेगा , और किसान लोगो का अनाज भी बच जायेगा । 😜😜😜😜

Respective authorities jai hind kindly guide me whom I approach for my mercy appeal. Kindly help for future of my 05 daughters. Nine years past. My daughters regards you till alive. Bhagwaan ke liye meri madad kijiye. Kindly help to reinstate me in service. logon kaa ..log hi naa khaa paaye ..tiddi tou khaa levein...koi tou shaanti se soyegaa

सबसे बड़ी चिन्ता का विषय तो सवा सौ करोड़ लोगों का हिस्सा खानेवाले नेता रूपी टिड्डियों का है ! एक और आतंक... सरकारी गोदाम में जो अनाज हैं उस पर नजर रखना नही नता गरीबो का माल बेच कर बोलग टीडी खागी अनाज को Jald iska samadhaan karna hoga ..agar ye aapka favourite country China hota to kabka log paka ke kha jaate

होकर बैटा किसान का क्यों दुध लजाए मां का करे खिजमत नेता की क्यों सर झुकाए बाप का किसान_कर्जा_मुक्ति अब असली समय है ताली थाली ढोल नगाड़ा बजाने का... नई नर्सिंग भर्ती पॉलिसी के अनुसार 80% गर्ल्स को रिज़र्वेशन के खिलाफ समस्त नर्सिंग एसोसिएशन ने IndianNurseshub के साथ मिलकर कल 28 मई को कॉमन tag का फैसला लिया है साथी चाहे किसी भी प्रोफेशन से हो सहयोग करे Save_male_nurses कल सुबह से विशेष आग्रह

Please reply diddiyon ki counting kisne ki hai गरीबों को नहीं बाटोगे तो ऐसा ही होगा । ऐसी दवाई बनाए की टीड्डियों की पैदाइश पर ही खत्म कर दे छिड़काव पर। इस के लिए कोई सुझाव हो तो सरकार कोntdv

चीन का इरादा भारत से टकराने का नहीं, दुनिया का बीजिंग से ध्यान भटकाने का हैभारत और चीन के रिश्तों की केमिस्ट्री काफी बदली है। अंतरराष्ट्रीय परिदृश्य भी बदले हैं। प्राग्मैटिज्म बढ़ा है। भारत-चीन खड़े रहो बहाने मत बनाओ Wuhan virus मैं देश का जिम्मेदार नागरिक 20 वर्षों से आयकर चुका रहा हू PSPCL Punjab ने हमारे व्यवसायिक परिसर की Electricity हमारी ग़लती के बिना काट दी और हमारा Reg MSME व्यवसाय जो 9 लोगों की आय का एकमात्र स्रोत है वह बिना बिजली के बंद हो जायेगा सरकारों को ट्वीट किये, कोर्ट बंद हैNeed help🙏

जारी है प्रवासी मजदूरों का लौटना, देखें क्या है क्वारनटीन सेंटरों का हालकोरोना की सीधी मार किसी पर पड़ी है तो वो प्रवासी मजदूर हैं. उत्तर प्रदेश और बिहार के वो मजदूर बड़े-बड़े शहरों में मजदूरी करते थे. वो घर लौट आए तो भी दुर्भाग्य उनका पीछा नहीं छोड़ रहा. आज 10तक में हम आपको 27 साल की एक महिला की त्रासदी के बारे में बताएंगे, जिसके पति को कोरोना निगल गया और दिल्ली से अपने गांव पहुंची तो वहां भी जिंदगी बहुत मुश्किलों से भरी है. अपने पति राजकुमार के साथ आशा दिल्ली में रहती थी. लेकिन कोरोना ने एक झटके में इसकी दुनिया बदल दी. 21 मई को इसके पति की दिल्ली में मौत हो गई. जिंदगी का आसरा चला गया. जैसे तैसे अयोध्या जिले के अपने गांव धुरेहटा लौटी तो अभी 21 दिन के लिए क्वैरंटाइन का वनवास काट रही है. देखें ये रिपोर्ट. Bhut bura ho rha h desh m garib log ke sath 😞😞😞❤

लॉकडाउन: राजस्थान में ग्रेजुएट और MA पास कर रहे मनरेगा में मिट्टी ढोने का कामRajasthan में बड़ी संख्या में MA, B.A और B.Ed करने वाले लोग मनरेगा में काम के लिए रजिस्ट्रेशन करा रहे हैं और कड़ी धूप में मिट्टी ढो रहे हैं (sharatjpr) RE sharatjpr Work from home. 🇮🇳 sign up code 283781 Contact 7814192713 sharatjpr सिर्फ राजस्थान में नही हर प्रदेश ऐसा ही है sharatjpr जिम्मेदार कौन है?

यूपी में कोरोना के आंकड़े पर अखिलेश का ट्वीट- कुछ तो है जिसकी पर्दादारी है!अखिलेश यादव ने ट्वीट में लिखा है कि मुख्यमंत्री जी की दिव्य राजनीतिक गणित के हिसाब से यदि मुंबई-महाराष्ट्र से लौटे 75%, दिल्ली से लौटे 50%, अन्य राज्यों से लौटे 25% लोग कोरोना-संक्रमित हैं तो फिर पचीसों लाख लौटे लोगों को मिलाकर उप्र में कोरोना का प्रकाशित आंकड़ा कुछ हजार ही क्यों है. कुछ तो है जिसकी पर्दादारी है! ज़ाहिल है टोंटी कार्यकर्ता अपनी अंतरात्मा की आवाज़ सुने और पार्टी के साथ रह कर पार्टी को मजबूत करें। और इस वीडियो को ध्यान से सुनें भाजपा कैसी पार्टी है। Totichor bola🤣

नोएडाः अपार्टमेंट में रहने वाले सीलिंग का कर रहे विरोध, कहा- चली जाएगी नौकरीनोएडा और ग्रेटर नोएडा में सोसायटीज को सील करने के तौर-तरीके का विरोध शुरू हो गया है. नोएडा और ग्रेटर नोएडा में बनीं सोसाइटीज के लोगों ने सीलिंग का जोरादार तरीके से विरोध करना शुरू कर दिया है. Gyan Classes is organising SketchUp workshop. SketchUp - a tool which makes imaginator to creator. Used by leading architects and designers to make 2D and 3D drawings. To register: abhishekanandji Mera Sarkar se Anurodh hai ki is society Mein Rahane wale ki Naukari kahan per hai unhen Sarkar Bachaye rakhen aur UN company ko bol de ki society Ke Logon Ka Naukari aap Nahin kha sakte ho abhishekanandji Wrong

कोरोना: लॉकडाउन में छूट है लेकिन वायरस यहीं है, कैसे बचेंगे?लॉकडाउन-4 में सरकार की तरफ़ से पाबंदियों में कई तरह की छूट दी गई है. मगर लॉकडाउन में छूट का मतलब कोरोना वायरस से छूट नहीं है.

सचिन पायलट के साथ माने जा रहे तीन विधायकों का U-टर्न, कहा- 'हम कांग्रेस के सच्चे सिपाही' कांग्रेस के सचिन अब क्या बीजेपी के लिए 'बल्लेबाज़ी' करेंगे? सचिन पायलट के साथ दिल्ली गए राजस्थान के विधायकों ने कहा, 'हम कांग्रेस के साथ हैं, कोई विवाद नहीं है' राहुल गांधी का हमला, कहा- PM मोदी के रहते भारत की जमीन को चीन ने कैसे छीन लिया गुजरातः कर्फ्यू नियमों का उल्लंघन करने पर मंत्री के बेटे को रोकने वाले कॉन्स्टेबल का तबादला सचिन पायलट BJP के संपर्क में, 30 MLA भी छोड़ सकते हैं कांग्रेस का दामन सेना में इंजीनियरिंग के 9000 से अधिक पद समाप्त, युवाओं में उत्साह दिल्ली दंगा: दो शिकायतों में कपिल मिश्रा का नाम, अदालत ने पुलिस से जवाब मांगा अमिताभ बच्चन के बाद अभिषेक बच्चन भी कोरोना पॉजिटिव, बोले- हल्के लक्षण हैं... गहलोत को सीएम पद से हटाने से कम पर तैयार नहीं सचिन पायलट, कहा - अब आर या पार की लड़ाई : सूत्र सुशील मोदी ने RJD को बताया कमजोर छात्र, तो तेजस्वी यादव बोले - राजद के डर से 24 साल से नीतीश कुमार के पिछलग्गू बने हुए हो...