Sports, Tokyoolympics, Olympic Rings, Report, Japan Privately Concludes, Tokyo Olympics, Should Be Cancelled, Due To Coronavirus

Sports, Tokyoolympics

... तो स्थगित हो चुके टोक्यो ओलंपिक को रद्द कर दिया जाएगा?

इन खेलों पर एक बार फिर खतरा मंडरा रहा है...#Sports #TokyoOlympics

22-01-2021 08:55:00

इन खेलों पर एक बार फिर खतरा मंडरा रहा है... Sports TokyoOlympics

अंतरराष्ट्रीय ओलंपिक समिति (IOC) के अध्यक्ष थॉमस बाक और स्थानीय आयोजकों को इन खबरों से जूझना पड़ रहा है कि स्थगित हो चुके टोक्यो ओलंपिक को रद्द कर दिया जाएगा.

द टाइम्स ऑफ लंदन ने सरकारी सूत्रों के हवाले से खबर दी है कि खेलों को रद्द किया जाएगा. इसने सत्ताधारी गठबंधन के वरिष्ठ सदस्य के हवाले से यह खबर दी है.सूत्र ने कहा, ‘कोई भी सबसे पहले इस बात को नहीं कहना चाहता, लेकिन सहमति यह है कि इसका आयोजन बेहद मुश्किल है.’ उन्होंने कहा, ‘निजी तौर पर मुझे नहीं लगता कि इसका आयोजन होगा.’

भारत-इंग्लैंड टेस्ट: पिच की किच-किच से जीत हुई बेस्वाद - BBC News हिंदी बीजेपी नेता के बयान पर नेपाल और श्रीलंका क्यों हुए नाराज़? - BBC News हिंदी गुजरात: दलित व्यक्ति की बारात में शामिल लोगों पर पथराव, नौ के ख़िलाफ़ प्राथमिकी

देखें- आजतक LIVE TVशुक्रवार को हालांकि स्थानीय आयोजन समिति ने प्रत्यक्ष रूप से द टाइम्स की खबर का हवाला दिए बगैर कहा कि ओलंपिक के आयोजन की तैयारी आगे बढ़ रही है और उन्हें प्रधानमंत्री योशिहिदे सुगा का समर्थन हासिल है.बयान में कहा गया, ‘राष्ट्रीय सरकार, टोक्यो राज्य सरकार, टोक्यो 2020 आयोजन समिति, आईओसी और आईपीसी (अंतरराष्ट्रीय पैरालंपिक समिति) सहित हमारे सभी साझेदारों का ध्यान इन गर्मियों में खेलों की मेजबानी पर है.’

इसके अनुसार, ‘हमें उम्मीद है कि जितना जल्दी संभव हो दैनिक जीवन सामान्य होगा और हम सुरक्षित खेलों के आयोजन के लिए प्रयास जारी रखेंगे.’ और पढो: आज तक »

'एक लड़की को पिलाना चाहता था जहर', देखें उन्नाव केस के बड़े खुलासे

उन्नाव में दलित परिवार की दो लड़कियों की संदिग्ध मौत के मामले में यूपी पुलिस ने बड़ा खुलासा किया है. उन्होंने बताया कि शुक्रवार को दो लोगों को गिरफ्तार किया गया है. मुख्य आरोपी का नाम विनय उर्फ लंबू है. वहीं दूसरा आरोपी विनय का दोस्त है जो नाबालिग है. पुलिस ने बताया कि विनय एक लड़की से प्रेम करता था. उसने उसके सामने प्रस्ताव भी रखा था. लेकिन उसने ठुकरा दिया.

राकेश टिकैत भूल गया है आंदोलन खत्म कर के उसे कभी न कभी वापस अपने घर UP के बागपत में आना है फिर बाबाजी कायदे से धनिया बोयेंगे